Sonusood, Taxevasion, Itraid, Cbdt, सोनूसूद, करचोरी, आईटीछापेमारी, सीबीडीटी

Sonusood, Taxevasion

मेरे संगठन का एक-एक रुपया किसी जीवन को बचाने के लिए अपनी बारी का इंतज़ार कर रहा है: सोनू सूद

मेरे संगठन का एक-एक रुपया किसी जीवन को बचाने के लिए अपनी बारी का इंतज़ार कर रहा है: सोनू सूद #SonuSood #TaxEvasion #ITRaid #CBDT #सोनूसूद #करचोरी #आईटीछापेमारी #सीबीडीटी

20-09-2021 15:59:00

मेरे संगठन का एक-एक रुपया किसी जीवन को बचाने के लिए अपनी बारी का इंतज़ार कर रहा है: सोनू सूद SonuSood TaxEvasion ITRaid CBDT सोनूसूद करचोरी आईटीछापेमारी सीबीडीटी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड द्वारा अभिनेता सोनू सूद और उनके संगठन पर 20 करोड़ रुपये की कर चोरी का आरोप लगाए जाने के बाद उन्होंने यह बयान जारी किया है. अभिनेता और उनके लखनऊ स्थित रियल एस्टेट फर्म पर आयकर विभाग की छापेमारी के बाद बोर्ड ने दावा किया था कि यह पाया गया है कि सोनू सूद ने कई फ़र्ज़ी संस्थाओं से फ़ज़ी तरीके से ऋण के रूप में ‘बेनामी आय’ अर्जित की.

शनिवार को एक बयान में सीबीडीटी ने दावा किया कि उसे अभिनेता और उसके सहयोगियों के परिसरों की तलाशी के दौरान ‘कर चोरी से संबंधित आपत्तिजनक सबूत’ मिले हैं.बीते 15 सितंबर कोआयकर विभागने अभिनेता सोनू सूद और लखनऊ स्थित एक रियल एस्टेट फर्म के खिलाफ अपने मामले के की जांच के संबंध में मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली और गुड़गांव में 28 परिसरों की तलाशी ली थी.

चीन का अंतरिक्ष से हाइपरसोनिक मिसाइल परीक्षण, अमेरिकी ख़ुफ़िया एजेंसियाँ हैरान - BBC Hindi 20 साल तक चली चंदन तस्कर वीरप्पन की तलाश 20 मिनट में ख़त्म - BBC News हिंदी युवराज सिंह जातिगत टिप्पणी के लिए गिरफ़्तार, फिर अंतरिम ज़मानत पर छूटे - BBC Hindi

तलाशी 15 सितंबर को शुरू हुईऔर तीन दिनों तक जारी रही. बयान में कहा गया, ‘अभिनेता ने कई फर्जी संस्थाओं से फर्जी तरीके से ऋण के रूप में बेनामी आय अर्जित की.’इसमें कहा गया है कि अब तक 20 ऐसी प्रविष्टियां (एंट्री) मिली हैं और इन्हें उपलब्ध कराने वालों ने जांच के दौरान अभिनेता को ‘फर्जी’ तरीके से (खातों में लेन-देन की प्रविष्टियां) देने की बात ‘स्वीकार’ की है.

कर विभागके लिए नीति बनाने वाले निकाय ने कहा था, ‘उन्होंने (प्रविष्टयां मुहैया कराने वालों ने) नकद के बदले चेक जारी करने की बात स्वीकार की है. ऐसे कई उदाहरण हैं, जब कर चोरी के उद्देश्य से बहीखातों में ऋण के रूप में रसीदों को छिपाया गया है.’निकाय ने कहा था कि इन फर्जी ऋणों का इस्तेमाल निवेश करने और संपत्तियां खरीदने के लिए किया गया. बयान में बताया गया था, ‘अभी तक 20 करोड़ रुपये से अधिक राशि की कर चोरी का पता चला है. headtopics.com

बयान में कहा गया है कि अभिनेता ने लखनऊ स्थित रियल एस्टेट फर्म के साथ एक संयुक्त उपक्रम (जेवी) शुरू किया और इसमें काफी धन निवेश किया.बोर्ड ने कहा कि कर विभाग ने कर चोरी और बही खाते में अनियमितताओं से संबंधित सबूतों का पता लगाया है.कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए पिछले साल राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान कई प्रवासी कामगारों को उनके गृह राज्यों तक पहुंचने के लिए रेल, हवाई और सड़क के माध्यम से मुफ्त परिवहन की व्यवस्था करने के बाद सूद ने सुर्खियां बटोरी थीं.

सीबीडीटी ने कहा कि अभिनेता द्वारा स्थापित चैरिटी फाउंडेशन ने एक अप्रैल, 2021 से अब तक 18.94 करोड़ रुपये का चंदा एकत्र किया. इसमें से फाउंडेशन ने विभिन्न राहत कार्यों के लिए लगभग 1.9 करोड़ रुपये खर्च किए हैं और शेष 17 करोड़ रुपये संगठन के बैंक खाते में हैं जिसका इस्तेमाल नहीं हुआ है.

सीबीडीटी ने आरोप लगाया है कि चैरिटी फाउंडेशन ने विदेशी दानदाताओं से एफसीआरए नियमों का ‘उल्लंघन’ कर 2.1 करोड़ रुपये का चंदा भी जुटाया है.दिल्ली में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने हाल में अपने ‘देश का मेंटर्स’ कार्यक्रम के लिए सूद को एंबेसडर नियुक्त किया है, जिसके तहत छात्रों को अपने करियर के विकल्प बनाने में मार्गदर्शन दिया जाएगा.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

दैनिक भास्कर से बोलीं कश्मीर की बेटी श्रद्धा बिंद्रू: मैं दुनिया को बताना चाहती हूं कि कश्मीर हमारा है, कोई डरा-धमकाकर हमारे हौसले को पस्त नहीं कर सकता

‘तुम सिर्फ शरीर को मार सकते हो, मेरे पिता की आत्मा को नहीं। अगर हिम्मत है तो सामने आओ, तुम लोग केवल पत्थर फेंक सकते हो या पीछे से गोली चला सकते हो। मैंने हिंदू होते हुए भी कुरान पढ़ी है। कुरान कहती है कि शरीर का जो चोला है, यह तो बदल जाएगा, लेकिन इंसान का जो जज्बा है, वह कहीं नहीं जाएगा। माखनलाल बिंद्रू इसी जज्बे में हमेशा जिंदा रहेंगे।’ यह कहना है आतंकियों को सरेआम ललकारने वालीं श्रीनगर में कश्मीर... | वुमन भास्कर ने श्रद्धा बिंद्रू से बात की। उन्होंने कश्मीर और कश्मीरियत का हवाला देते हुए कहा-हम इसी मिट्‌टी में पैदा हुए हैं, हमें इससे प्यार है। हमारे पिता ने भी इसी के लिए जान दी।

nabijanansari12 तथाकथितमोदीसरकारजनताकाजीवनयापन खत्मकररहीहैदेशलूटकरदेशबेचरहीहै देशद्रोहीसरकारकेलोगदेशआजादहोनेकेपहलेसे देशद्रोहीगोडसेसावरकरअंग्रेजोंकीदलालीकरते थेऔरदेशभक्तोंकीमुखबिरीकरनेकाअंग्रेजोंसे तनख्वाहलेतेथेमोदीसरकारअंग्रेजोंकीतरहलूटहत्या दलालीलोगोंकोलड़ानाअपाहिजमूर्खबनानादेशबेच ना राजकरना चोर हमेशा यही कहता है में चोर नहीं हु,और द वायर तो खुद कई बार झुटी खबरे छाप देता है,किसी ने सच ही कहा है चोर चोर मोसेरे भाई

संघी मोदी सरकार लोककल्याणकारी राज्य की अवधारणा को खारिज करती है,उसका मानना है यदि सुविधा चाहिए तो भुगतान करो, हम करेगे तो दलाली लेंगे। यही चीज भक्तो की भीड़ खड़ा कर लोकतंत्र के समर्थकों को उल्टे सीधे तर्क से दबाया जाता है। यदि कोई जनता के हित में इस प्रकार का काम करे ,तो ये हाल Did you get money to defend from PR agency?

Real hero SonuSood 😍🇮🇳💐 salute

कैप्टन के इस्तीफे के बाद खट्टर के मंत्री का सिद्धू पर तंजइस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि मेरा फैसला आज सुबह हो गया था, मैं बातचीत के लहजे से अपमानित महसूस करता था। बार बार विधायकों की बैठक होती थी। ऐसा माना गया कि मैं सरकार नहीं चला पा रहा हूं।

अंबिका सोनी ने ठुकराया CM पद का ऑफर, कहा-पंजाब का मुख्यमंत्री एक सिख ही होकैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब के अगले मुख्यमंत्री के रूप में अंबिका सोनी का नाम सबसे आगे चल रहा था. कांग्रेस हाईकमान भी उनके हाथों में ही पंजाब की कमान सौंपना चाहता है. अंबिका सोनी करीब 50 सालों से राजनीति में हैं. हालांकि, बताया जा रहा है कि अंबिका सोनी ने मुख्यमंत्री बनने से इनकार कर दिया है. अंबिका सोनी ने कांग्रेस आलाकमान को मुख्यमंत्री बनने से ये कहते हुए इनकार कर दिया है कि वो इस वक्त मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहतीं. अंबिका सोनी खत्री हिंदू हैं और उन्होंने सिख को मुख्यमंत्री बनाने की बात कही है. उनका कहना है कि पंजाब में सिख नहीं होगा तो और कौन होगा. अंबिका सोनी ने ये भी कहा है कि वो पार्टी की लॉयल हैं और सम्मान करती हैं, लेकिन वो मुख्यमंत्री पद नहीं संभालना चाहतीं. आजतक के साथ हुई बातचीत में अंबिका सोनी ने बताया कि पंजाब का सीएम एक सिख ही होगा. देखें आगे क्या बोलीं अंबिका सोनी. कुछ मंदबुद्धि के लोग आपस में लड़ते है फिर अपने नेताओ को बेरोज़गार कर देते है और फिर बेरोज़गार दिवस मानते है , इसका अभी ताज़ा उदाहरण पंजाब के मुख्यमंत्री का है ,जो कई मंत्रियों सहित बेरोज़गार हुआ है ! लड़ाई बेरोज़गारी बढ़ती जा रही है और बेचोरो को बेरोज़गार दिवस मानना पड़ता है 😁😁 Commu al congress लेकिन हम जातिपाती मे विश्वास नहीं करते बशर्ते पद पाने वाला बाभन ठाकुर हो...ऐसा 1947से खाँग्रेस लगातार कहती आ रही है

धांधली के आरोपों के बीच एक बार फिर जीत की ओर पुतिन की पार्टी - BBC Hindiरूस के संसदीय चुनावों में पुतिन की पार्टी एक बार फिर बड़ी जीत हासिल करने की ओर है. हालाँकि इस बार पार्टी के वोट प्रतिशत में थोड़ी कमी आई है. ये तो पहले से तय नतीजा था,जो अंदर से होता है वह जल्दी दिखता नहीं है।नतीजा कुछ अलग हो कहा ही नहीं जा सकता था। बस कॉपी करने जैसा है जो दिखा भी। हम तो सोचते थे कि हमारे यहां ही धांधली होती है। भारत में नही लीख सकते ऐसा क्यू? सबके कर्मो का लीखा चीठ्ठा नोटबंदी के वक्त मोदी जी के जेब मे है टँक्स चोरो का कोई दूध का धूला नही है ईस देश मे सब टँक्स चोर है भरने वाले टँक्स गरीब जनता उनके हाल खराब है.

Inflation: खाद्य तेलों के बाद अब बढ़ने लगे दालों के दाम, रसोई का बिगड़ रहा बजटचने की दाल के भी दाम उछले अरहर व उरद दाल के दाम स्थिर। रसोई का बजट बिगड़ने से आम आदमी परेशान। खाद्य तेलों के दामों में हुई वृद्धि से पहले से ही चल रहा है परेशान। गृहिणियों को हो रही परेशानी। मोदी जान लेकर ही छोड़ेगा, गरीबों को कम होने के लिए तो जिंदगी है और बढ़ने के लिए दाम instead of reporting find the reason behind it.

UNESCO व UNICEF बोले- अफगान लड़कियों का स्कूल बंद होना शिक्षा के मौलिक अधिकार का उल्लंघनसंयुक्त राष्ट्र शैक्षिक वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (UNICEF) ने कहा कि अफगान लड़कियों के स्कूलों को बंद करना शिक्षा के मौलिक अधिकार का उल्लंघन है। स्कूल बंद होना लड़कियों और महिलाओं के शिक्षा के मौलिक अधिकार का उल्लंघन होगा। तुम लोग बार बार अफगानिस्तान क्यू phuch जाते हो क्या इतना सस्ता है अफगान जाना

आज का जीवन मंत्र: इंसान के शरीर का खून और इसका एक-एक अंग बहुत मूल्यवान है, इसलिए किसी को नुकसान न पहुंचाएंकहानी - गौतम बुद्ध से जुड़ी घटना है। उस समय शाक्यों और कोलियों के बीच पानी को लेकर विवाद चल रहा था। पानी रोहिणी नदी का था। दोनों ही राज्य खुद इस नदी के पानी का उपयोग करना चाहते थे, लेकिन दूसरे राज्य को पानी नहीं देना चाहते थे। | aaj ka jeevan mantra by pandit vijayshankar mehta, story of gautam buddha, prerak katha