Sameerwankhede, Mumbaidrugscase, Aryankhancase, Aryankhandrugcase, Aryankhancase, Drugs On Cruise Case, Team Led By Acp Milind Khetale, İnvestigate Allegations Levelled, Ncb Zonal Director Sameer Wankhede, Four Police Stations, Mumbai Received Complaints, Complaints Against Wankhede, Ncb Ddg Gyaneshwar Singh, Ncb, Ncb Ddg, Cruise Drug Case, Prabhakar Sail, Sameer Wankhede, Yasmeen Wankhede, Ncw, Mumbai Police, Curise Drugs Case, Aryan Khan

Sameerwankhede, Mumbaidrugscase

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामला : समीर वानखेड़े के खिलाफ मुंबई पुलिस ने भी शुरू की जांच, जानिए अब तक क्या-क्या हुआ

मुंबई पुलिस के एसीपी स्तर के एक अधिकारी ने भी बुधवार को एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के खिलाफ जबरन वसूली

28-10-2021 02:20:00

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामला : समीर वानखेड़े के खिलाफ मुंबई पुलिस ने भी शुरू की जांच, जानिए अब तक क्या-क्या हुआ SameerWankhede MumbaiDrugsCase AryanKhanCase AryanKhanDrugCase AryanKhanCase

मुंबई पुलिस के एसीपी स्तर के एक अधिकारी ने भी बुधवार को एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के खिलाफ जबरन वसूली

मलिक ने जारी किया निकाहनामा, वानखेड़े बोले, सही है पर धर्म नहीं बदलाक्रूज ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) मुंबई के जोनल निदेशक समीर वानखेडे़ हिंदू हैं या मुस्लिम इसको लेकर बुधवार को विवाद और गहरा गया। एनसीपी प्रवक्ता व मंत्री नवाब मलिक ने वानखेडे़ के जन्म प्रमाण पत्र के बाद अब उनका निकाहनामा जारी किया। निकाह कराने वाले काजी ने भी इसकी तस्दीक की है।

कृषि मंत्री तोमर MSP पर बोले और किसानों से भी की अपील - BBC Hindi भारत सरकार ने एलन मस्क की इंटरनेट कंपनी पर रोक लगाई - BBC Hindi चीन के भूटान में इमारत बनाने से क्या भारत को परेशान होना चाहिए? - BBC News हिंदी

जवाब में समीर वानखेड़े ने इसे स्वीकार तो किया लेकिन साथ ही दावा किया कि उन्होंने अपना धर्म कभी नहीं बदला, वह हमेशा से हिंदू हैं। समीर वानखेड़े का उनकी पहली पत्नी डॉ. शबाना कुरैशी से निकाह हुआ था। मलिक ने इस शादी का निकाहनामा ट्वीट कर उसमें लिखा, इस निकाहनामे में समीर का नाम समीर दाऊद वानखेडे़ लिखा है।

साल 2006 में 7 दिसंबर के दिन बृहस्पतिवार को रात 8 बजे समीर दाऊद वानखेड़े और शबाना कुरैशी के बीच मुंबई के अंधेरी (पश्चिम) के लोखंडवाला कॉम्पलेक्स में निकाह हुआ। दूसरे ट्वीट में मलिक ने लिखा, निकाह में 33 हजार मेहर के रूप में अदा की गई थी। इसमें गवाह नंबर दो अजीज खान थे जो वानखेडे़ की बहन यास्मीन के पति हैं। headtopics.com

मलिक ने इससे पहले वानखेडे़ का जन्म प्रमाणपत्र जारी कर फर्जी तरीके से नौकरी हासिल करने का आरोप लगाया था जिस पर वो अब भी कायम हैं। मलिक ने कहा, मैं वानखेडे़ के धर्म को नहीं बल्कि उनके कपटपूर्ण कृत्य को सामने लाना चाहता हूं जिसके जरिये उन्होंने आईआरएस की नौकरी हासिल की और एक अनुसूचित जाति के व्यक्ति का हक मारा।

मां की खुशी के लिए किया निकाह: वानखेड़ेमलिक और काजी के दावे के जवाब में समीर वानखेड़े ने कहा, उन्होंने अपनी दिवंगत मां की इच्छा के अनुसार (2006 में) मुस्लिम रीति-रिवाजों के अनुसार शादी की थी। धर्मनिरपेक्ष देश में अपनी मां की इच्छा को पूरा करना कोई अपराध नहीं है। मुझे अपने देश में धर्म निरपेक्षता पर गर्व है। मेरी मां मुस्लिम थीं और मेरे पिता हिंदू हैं। मैं उन दोनों से बहुत प्यार करता हूं। लेकिन मैंने कभी इस्लाम नहीं अपनाया था, मैं हिंदू ही हूं।

उन्होंने कहा, पहली शादी एक महीने के भीतर विशेष विवाह कानून के तहत पंजीकृत की गई थी। तलाक की प्रक्रिया भी विशेष विवाह कानून के तहत पूरी की गई थी। उनकी पत्नी क्रांति रेडकर ने भी यही दावा किया कि समीर ने कभी भी अपना धर्म नहीं बदला और उनका निकाह भी विशेष विवाह कानून के तहत पंजीकृत हुआ था।

काजी ने भी किया दावा- मुस्लिम हैं समीर वानखेडे़समीर वानखेडे़ का निकाह कराने वाले काजी मुजम्मिल अहमद भी सामने आए और दावा किया कि वानखेडे़ मुसलमान है। काजी ने कहा, उनके पिता ने मुंबई के लोखंडवाला परिसर इलाके में शादी कराने के लिए मुझसे संपर्क किया था। दूल्हे का नाम समीर दाऊद वानखेड़े था जिसने शबाना कुरैशी से शादी की थी। शरीयत के मुताबिक गैरमुस्लिम का निकाहनामा नहीं कराया जा सकता। headtopics.com

सऊदी अरब, ईरान, अमेरिका ने इन देशों से आने वाले लोगों पर लगाई रोक - BBC News हिंदी किसानों की एक और मांग के सामने झुकी सरकार, अब पराली जलाना क्राइम नहीं, मंत्री बोले- 'घर लौटें किसान' कृषि कानूनों को वापस लेने पर मोदी सरकार का बड़ा कदम, 29 नवंबर को लोकसभा में बिल पेश करेंगे तोमर

निकाह के दौरान समीर वानखेडे़ ने खुद और अपने पिता को मुसलमान बताया था। इसी वजह से मैने निकाह करवाया। गवाहों ने इस्लाम के रीति-रिवाज से निकाहनामा पर हस्ताक्षर भी किए थे। यही नहीं निकाहनामा में उर्दू भाषा में किए गए हस्ताक्षर भी वानखेडे़ के ही हैं। निकाह में 33 हजार की मेहर के रूप में अदा की गई थी।

पिता बोले- मैं दलित, मेरे पूर्वज हिंदू तो बेटा मुसलमान कैसे?धर्म को लेकर छिड़े विवाद में समीर वानखेडे़ के पिता ज्ञानदेव वानखेडे़ ने बेटे का बचाव करते हुए कहा, मैं दलित हूं, मेरे पूर्वज (दादा-परदादा) हिंदू, तो मेरा बेटा मुसलमान कैसे हो सकता है। हां मैंने अंतर्जातीय विवाह किया था लेकिन न मेरी पत्नी और न ही मैंने ही कभी अपना धर्म बदला। उन्होंने कहा, मैं उर्दू नहीं समझता इसलिए मुझे नहीं पता उनके दस्तावेज में क्या लिखा है। लेकिन मेरी पत्नी प्यार से दाऊद बुलाती थी। उन्होंने कहा, मेरा बेटा अभिमन्यु की तरह इस समय दुश्मनों से घिरा है, लेकिन हमें विश्वास है कि वह चक्रव्यूह को तोड़कर बाहर निकलेगा।

क्रूज पर अपनी पिस्टलधारी मंगेतर के साथ था वानखेडे़ का दाढ़ी वाला दोस्त: मलिकएनसीपी नेता नवाब मलिक ने क्रूज ड्रग्स पार्टी को लेकर भी वानखेड़े को घेरा। उन्होंने कहा, क्रूज पर वानखेडे़ का एक दाढ़ी वाला दोस्त भी था जो अपनी मंगेतर के साथ डांस कर रहा था। ये दाढ़ी वाला दोस्त अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया है। तिहाड़ और राजस्थान की जेल में भी रह चुका है। लेकिन समीर वानखेडे़ ने उसे गिरफ्तार नहीं किया। मलिक ने पूछा कि एनसीबी को बताना होगा कि आखिर यह दाढ़ी वाला शख्स कौन है।

किस देश का नागरिक है और उसके खिलाफ कितने मामले दर्ज हैं। क्रूज पार्टी का पूरा सीसीटीवी फुटेज है। एनसीबी की जो टीम यहां जांच करने आई है उसे यह फुटेज भी खंगालने चाहिए। अगर वानखेडे़ वीडियो नहीं देते हैं तो वह खुद इसका वीडियो मुहैया कराएंगे। मलिक ने यह भी दावा किया कि एनसीबी ने क्रूज पर छापामारी ही नहीं की थी। बस, ट्रैप लगाकर कुछ लोगों को फंसाया गया। अगर, क्रूज की सीसीटीवी फुटेज खंगाले जाएं तो सारी सच्चाई सामने आ जाएगी। headtopics.com

केंद्र से ली गई थी क्रूज पार्टी की इजाजतमलिक ने साथ ही यह भी दावा किया कि क्रूज पार्टी की इजाजत महाराष्ट्र सरकार से नहीं बल्कि सीधे जहाजरानी महानिदेशालय से ली गई थी। यह केंद्र के अधिकार क्षेत्र में आता है।वानखेड़े की बहन ने मलिक के खिलाफ महिला आयोग को लिखी चिट्ठी, पुलिस को भी दी शिकायत

क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर फिलहाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। एनसीपी नेता नवाब मलिक रोजाना नए खुलासे कर रहे हैं। मामला पारिवारिक सदस्यों को मामले में घसीटने तक पहुंच चुका है। अब समीर वानखेड़े की बहन यास्मीन वानखेड़े ने नवाब मलिक पर पलटवार किया है।

केंद्र ने किसानों की एक और मांग मानी, कृषि मंत्री बोले- आंदोलन का अब मतलब नहीं, घर जाएं किसान रिज़र्व भंडार से कच्चा तेल निकालने से भारत को क्या हासिल होगा? - BBC News हिंदी 'बैन हों फ्लाइट्स', Corona के New Variant पर CM Kejriwal ने PM Modi से की मांग

मामला दर्ज करने की मांगयास्मीन ने नवाब मलिक की बयानबाजी को लेकर उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत देकर मामला दर्ज करने की मांग की है। इसके साथ ही राष्ट्रीय महिला आयोग को चिट्ठी लिखकर अपने अधिकारों की रक्षा करने की अपील की है।हाईकोर्ट का तत्काल सुनवाई से इनकार

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बुधवार को उस जनहित याचिका पर तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया जिसमें नवाब मलिक को ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के खिलाफ कोई भी टिप्पणी नहीं करने का निर्देश देने की मांग की गई थी। मुंबई निवासी कौसर अली ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी। अली का दावा है कि वह नशेड़ियों के पुनर्वास के लिए काम करता है।

उन्होंने हाईकोर्ट से मलिक को एनसीबी या आर्यन खान मामले से जुड़ी किसी अन्य जांच एजेंसी के अधिकारियों के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं करने का निर्देश देने का आग्रह किया। याचिकाकर्ता के वकील अशोक सरोगी ने मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति एमएस कार्णिक की पीठ से तत्काल सुनवाई की मांग की। लेकिन हाईकोर्ट ने सरोगी को अवकाश पीठ से संपर्क करने के लिए कहा।

आर्यन की जमानत पर आज हो सकता है फैसलामुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तार आर्यन खान को बॉम्बे हाईकोर्ट में बुधवार को भी जमानत नहीं मिली। बुधवार को सुनवाई के दौरान आर्यन के वकील ने कहा, एनसीबी सिर्फ साजिश की बात कर रही है लेकिन अधिकारिक रूप से ऐसे आरोप कहीं नहीं लगाए। अब एनसीबी की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह अब बृहस्पतिवार को अपनी दलीलें रखेंगे।

जस्टिस एनडब्ल्यू सांबरे ने कहा कि वह कोशिश करेंगे कि बृहस्पतिवार को इस मामले में फैसला सुनाया जाए। बुधवार को करीब दो घंटे चली सुनवाई के दौरान आर्यन के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा, यह गिरफ्तारी सीधे तौर पर सांविधानिक प्रावधानों का उल्लंघन है क्योंकि गिरफ्तारी वारंट में सत्य और सही आधार नहीं दिया गया।

वहीं अरबाज मर्चेंट के वकील अमित देसाई ने कहा कि एनडीपीएस कोर्ट ने इस मामले में दो अन्य आरोपियों मनीष राजगड़िया और अविन साहू को जमानत दे दी है तो हमारे मुवक्किल को जमानत क्यों नहीं दी जा रही। जबकि दोनों पर समान आरोप हैं और रिहा किए गए एक के पास से तो 2.6 ग्राम गांजा भी बरामद हुआ था तो दूसरे ने स्वीकार किया है कि उसने गांजे का सेवन भी किया।

विस्तार के आरोपों और अन्य मुद्दों की स्वतंत्र जांच शुरू कर दी है। वानखेड़े के खिलाफ मुंबई के अलग-अलग थानों में चार शिकायतें दर्ज की गई हैं। एसीपी मिलिंद खेतले के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम गठित की गई है। एसीपी खेतले मामले की जांच कर रिपोर्ट तैयार करेंगे।

विज्ञापनमलिक ने जारी किया निकाहनामा, वानखेड़े बोले, सही है पर धर्म नहीं बदलाक्रूज ड्रग्स मामले की जांच कर रहे नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) मुंबई के जोनल निदेशक समीर वानखेडे़ हिंदू हैं या मुस्लिम इसको लेकर बुधवार को विवाद और गहरा गया। एनसीपी प्रवक्ता व मंत्री नवाब मलिक ने वानखेडे़ के जन्म प्रमाण पत्र के बाद अब उनका निकाहनामा जारी किया। निकाह कराने वाले काजी ने भी इसकी तस्दीक की है।

जवाब में समीर वानखेड़े ने इसे स्वीकार तो किया लेकिन साथ ही दावा किया कि उन्होंने अपना धर्म कभी नहीं बदला, वह हमेशा से हिंदू हैं। समीर वानखेड़े का उनकी पहली पत्नी डॉ. शबाना कुरैशी से निकाह हुआ था। मलिक ने इस शादी का निकाहनामा ट्वीट कर उसमें लिखा, इस निकाहनामे में समीर का नाम समीर दाऊद वानखेडे़ लिखा है।

साल 2006 में 7 दिसंबर के दिन बृहस्पतिवार को रात 8 बजे समीर दाऊद वानखेड़े और शबाना कुरैशी के बीच मुंबई के अंधेरी (पश्चिम) के लोखंडवाला कॉम्पलेक्स में निकाह हुआ। दूसरे ट्वीट में मलिक ने लिखा, निकाह में 33 हजार मेहर के रूप में अदा की गई थी। इसमें गवाह नंबर दो अजीज खान थे जो वानखेडे़ की बहन यास्मीन के पति हैं।

मलिक ने इससे पहले वानखेडे़ का जन्म प्रमाणपत्र जारी कर फर्जी तरीके से नौकरी हासिल करने का आरोप लगाया था जिस पर वो अब भी कायम हैं। मलिक ने कहा, मैं वानखेडे़ के धर्म को नहीं बल्कि उनके कपटपूर्ण कृत्य को सामने लाना चाहता हूं जिसके जरिये उन्होंने आईआरएस की नौकरी हासिल की और एक अनुसूचित जाति के व्यक्ति का हक मारा।

मां की खुशी के लिए किया निकाह: वानखेड़ेमलिक और काजी के दावे के जवाब में समीर वानखेड़े ने कहा, उन्होंने अपनी दिवंगत मां की इच्छा के अनुसार (2006 में) मुस्लिम रीति-रिवाजों के अनुसार शादी की थी। धर्मनिरपेक्ष देश में अपनी मां की इच्छा को पूरा करना कोई अपराध नहीं है। मुझे अपने देश में धर्म निरपेक्षता पर गर्व है। मेरी मां मुस्लिम थीं और मेरे पिता हिंदू हैं। मैं उन दोनों से बहुत प्यार करता हूं। लेकिन मैंने कभी इस्लाम नहीं अपनाया था, मैं हिंदू ही हूं।

उन्होंने कहा, पहली शादी एक महीने के भीतर विशेष विवाह कानून के तहत पंजीकृत की गई थी। तलाक की प्रक्रिया भी विशेष विवाह कानून के तहत पूरी की गई थी। उनकी पत्नी क्रांति रेडकर ने भी यही दावा किया कि समीर ने कभी भी अपना धर्म नहीं बदला और उनका निकाह भी विशेष विवाह कानून के तहत पंजीकृत हुआ था।

काजी ने भी किया दावा- मुस्लिम हैं समीर वानखेडे़समीर वानखेडे़ का निकाह कराने वाले काजी मुजम्मिल अहमद भी सामने आए और दावा किया कि वानखेडे़ मुसलमान है। काजी ने कहा, उनके पिता ने मुंबई के लोखंडवाला परिसर इलाके में शादी कराने के लिए मुझसे संपर्क किया था। दूल्हे का नाम समीर दाऊद वानखेड़े था जिसने शबाना कुरैशी से शादी की थी। शरीयत के मुताबिक गैरमुस्लिम का निकाहनामा नहीं कराया जा सकता।

निकाह के दौरान समीर वानखेडे़ ने खुद और अपने पिता को मुसलमान बताया था। इसी वजह से मैने निकाह करवाया। गवाहों ने इस्लाम के रीति-रिवाज से निकाहनामा पर हस्ताक्षर भी किए थे। यही नहीं निकाहनामा में उर्दू भाषा में किए गए हस्ताक्षर भी वानखेडे़ के ही हैं। निकाह में 33 हजार की मेहर के रूप में अदा की गई थी।

पिता बोले- मैं दलित, मेरे पूर्वज हिंदू तो बेटा मुसलमान कैसे?धर्म को लेकर छिड़े विवाद में समीर वानखेडे़ के पिता ज्ञानदेव वानखेडे़ ने बेटे का बचाव करते हुए कहा, मैं दलित हूं, मेरे पूर्वज (दादा-परदादा) हिंदू, तो मेरा बेटा मुसलमान कैसे हो सकता है। हां मैंने अंतर्जातीय विवाह किया था लेकिन न मेरी पत्नी और न ही मैंने ही कभी अपना धर्म बदला। उन्होंने कहा, मैं उर्दू नहीं समझता इसलिए मुझे नहीं पता उनके दस्तावेज में क्या लिखा है। लेकिन मेरी पत्नी प्यार से दाऊद बुलाती थी। उन्होंने कहा, मेरा बेटा अभिमन्यु की तरह इस समय दुश्मनों से घिरा है, लेकिन हमें विश्वास है कि वह चक्रव्यूह को तोड़कर बाहर निकलेगा।

क्रूज पर अपनी पिस्टलधारी मंगेतर के साथ था वानखेडे़ का दाढ़ी वाला दोस्त: मलिकएनसीपी नेता नवाब मलिक ने क्रूज ड्रग्स पार्टी को लेकर भी वानखेड़े को घेरा। उन्होंने कहा, क्रूज पर वानखेडे़ का एक दाढ़ी वाला दोस्त भी था जो अपनी मंगेतर के साथ डांस कर रहा था। ये दाढ़ी वाला दोस्त अंतरराष्ट्रीय ड्रग माफिया है। तिहाड़ और राजस्थान की जेल में भी रह चुका है। लेकिन समीर वानखेडे़ ने उसे गिरफ्तार नहीं किया। मलिक ने पूछा कि एनसीबी को बताना होगा कि आखिर यह दाढ़ी वाला शख्स कौन है।

किस देश का नागरिक है और उसके खिलाफ कितने मामले दर्ज हैं। क्रूज पार्टी का पूरा सीसीटीवी फुटेज है। एनसीबी की जो टीम यहां जांच करने आई है उसे यह फुटेज भी खंगालने चाहिए। अगर वानखेडे़ वीडियो नहीं देते हैं तो वह खुद इसका वीडियो मुहैया कराएंगे। मलिक ने यह भी दावा किया कि एनसीबी ने क्रूज पर छापामारी ही नहीं की थी। बस, ट्रैप लगाकर कुछ लोगों को फंसाया गया। अगर, क्रूज की सीसीटीवी फुटेज खंगाले जाएं तो सारी सच्चाई सामने आ जाएगी।

केंद्र से ली गई थी क्रूज पार्टी की इजाजतमलिक ने साथ ही यह भी दावा किया कि क्रूज पार्टी की इजाजत महाराष्ट्र सरकार से नहीं बल्कि सीधे जहाजरानी महानिदेशालय से ली गई थी। यह केंद्र के अधिकार क्षेत्र में आता है।वानखेड़े की बहन ने मलिक के खिलाफ महिला आयोग को लिखी चिट्ठी, पुलिस को भी दी शिकायत

क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर फिलहाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। एनसीपी नेता नवाब मलिक रोजाना नए खुलासे कर रहे हैं। मामला पारिवारिक सदस्यों को मामले में घसीटने तक पहुंच चुका है। अब समीर वानखेड़े की बहन यास्मीन वानखेड़े ने नवाब मलिक पर पलटवार किया है।

मामला दर्ज करने की मांगयास्मीन ने नवाब मलिक की बयानबाजी को लेकर उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत देकर मामला दर्ज करने की मांग की है। इसके साथ ही राष्ट्रीय महिला आयोग को चिट्ठी लिखकर अपने अधिकारों की रक्षा करने की अपील की है।हाईकोर्ट का तत्काल सुनवाई से इनकार

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बुधवार को उस जनहित याचिका पर तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया जिसमें नवाब मलिक को ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के खिलाफ कोई भी टिप्पणी नहीं करने का निर्देश देने की मांग की गई थी। मुंबई निवासी कौसर अली ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी। अली का दावा है कि वह नशेड़ियों के पुनर्वास के लिए काम करता है।

उन्होंने हाईकोर्ट से मलिक को एनसीबी या आर्यन खान मामले से जुड़ी किसी अन्य जांच एजेंसी के अधिकारियों के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं करने का निर्देश देने का आग्रह किया। याचिकाकर्ता के वकील अशोक सरोगी ने मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता और न्यायमूर्ति एमएस कार्णिक की पीठ से तत्काल सुनवाई की मांग की। लेकिन हाईकोर्ट ने सरोगी को अवकाश पीठ से संपर्क करने के लिए कहा।

आर्यन की जमानत पर आज हो सकता है फैसलामुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में गिरफ्तार आर्यन खान को बॉम्बे हाईकोर्ट में बुधवार को भी जमानत नहीं मिली। बुधवार को सुनवाई के दौरान आर्यन के वकील ने कहा, एनसीबी सिर्फ साजिश की बात कर रही है लेकिन अधिकारिक रूप से ऐसे आरोप कहीं नहीं लगाए। अब एनसीबी की ओर से एडिशनल सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह अब बृहस्पतिवार को अपनी दलीलें रखेंगे।

जस्टिस एनडब्ल्यू सांबरे ने कहा कि वह कोशिश करेंगे कि बृहस्पतिवार को इस मामले में फैसला सुनाया जाए। बुधवार को करीब दो घंटे चली सुनवाई के दौरान आर्यन के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा, यह गिरफ्तारी सीधे तौर पर सांविधानिक प्रावधानों का उल्लंघन है क्योंकि गिरफ्तारी वारंट में सत्य और सही आधार नहीं दिया गया।

वहीं अरबाज मर्चेंट के वकील अमित देसाई ने कहा कि एनडीपीएस कोर्ट ने इस मामले में दो अन्य आरोपियों मनीष राजगड़िया और अविन साहू को जमानत दे दी है तो हमारे मुवक्किल को जमानत क्यों नहीं दी जा रही। जबकि दोनों पर समान आरोप हैं और रिहा किए गए एक के पास से तो 2.6 ग्राम गांजा भी बरामद हुआ था तो दूसरे ने स्वीकार किया है कि उसने गांजे का सेवन भी किया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

क्या उत्तर प्रदेश में हिंदुत्व के नाम पर होगा संग्राम? दंगल में देखें बड़ी बहस

हिंदुत्व के मुद्दे पर आज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भी कूद गए हैं. उन्होंने कहा कि हिंदूवाद और हिंदुत्व अलग-अलग हैं. हिंदूवाद किसी का कत्ल नहीं करता, लेकिन हिंदुत्व ऐसा करता है. इससे पहले हिंदुत्व की तुलना ISIS और बोको हराम के साथ होने पर हंगामा मचा हुआ था. सलमान खुर्शीद की किताब के बहाने बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर थी लेकिन आज ना सिर्फ राहुल बल्कि कांग्रेस नेता राशिद अल्वी के बयान से भी राजनीति गर्माई है. राशिद अल्वी ने संजीवनी बूटी लाने के संदर्भ में कहा है कि राम नाम लगाने वाले सभी संत नहीं थे, राक्षस भी थे इसलिए आज का हमारा मुद्दा है, क्या उत्तर प्रदेश में हिंदुत्व पर संग्राम होगा? देखें दंगल

Hm jab 90's ki movie dekhte the to lgta tha ye sab hota hoga? Lekin ajj 2021 me bhi nautanki prasangik hai जिसका डर था वह शुरू दुसरा अर्बन गोस्वामी पार्ट ये तो वही मुंबई पुलिस है जो भारत के मोस्टवांटेड क्रिमिनल को यहाँ से सुरक्षित भगाने का काम किया था इसके ऊपर कैसे भरोसा किया जा सकता है Modi ji ne kaha tha ke “Apada ko Avsar me badalna hai” aur “aatmanirbhar” banna hai !! NCB ka ek officer ab wo dono kaam kar raha hai, kaam khud dhund raha hai aur kamai bhi kar raha hai. MakeInIndia bhi ho raha hai

Live Updates : समीर वानखेड़े दिल्ली में NCB दफ्तर पहुंचे, मुंबई पहुंचकर देंगे नवाब मलिक को जवाबनई दिल्ली। CRPF कैंप में अमित शाह ने बिताई रात, आर्यन खान की जमानत याचिका समेत इन खबरों पर मंगलवार को रहेगी सबकी नजर...

एनसीबी अफसर समीर वानखेड़े के पिता बोले,  मेरा नाम ज्ञानदेव है, दाऊद नहींNCP नेता पर पलटवार करते हुए समीर के पिता ने कहा कि वो बहुत निचले स्तर की राजनीति कर रहे हैं. मलिक ने दावा किया था कि समीर वानखेड़े जन्म से मुस्लिम हैं और उनका असली नाम ‘समीर दाऊद वानखेड़े’ है. मुम्बई पुलिस को चाहिए इसे जल्द से जल्द गिरफ्तार करो वरना ए दुबई भाग जाएगा धीरे धीरे अब आर्यन खान केस को दूसरी तरफ मोड़ दिया जाएगा इस केस में आर्यन खान को ये कहकर छोड़ देंगे कि वहां पार्टी में आर्यन खान ने कोई ड्रग नहीं लिया ना कोई ड्रग से वास्ता है आर्यन का। और सारा दोष समीर पर मढ दिया जाएगा।ये पैसे वाले होते है ना जेल कभी नहीं जाते। Aap ka beta koi acha kaam nahi kiya jo aap ko fakrr ho

समीर वानखेड़े के पिता दलित थे और मां मुस्लिम, फर्जी सर्टिफिकेट से पाई नौकरी : नवाब मलिकनवाब मलिक ने कहा कि ज्ञानेश्वर वानखेड़े अनुसूचित जाति के हैं और उन्होंने मुस्लिम महिला से शादी की तो उन्होंने मुस्लिम धर्म का ही पालन किया. मुझे लगता है कि यह फर्जी प्रमाण पत्र दिखाकर उन्होंने (वानखेड़े) योग्य अनुसूचित जाति के उम्मीदवार का अधिकार छीन लिया है. Charsi ka Sasra Dawood ka dost 1 no ka Bhangar mantri hai Malik मोदी जी का भी किसी ने ऐसे ही दावा किया था। उसकी जांच हुई क्या? OfficeofNM उस समय किसकी सरकार थी।

भास्कर LIVE अपडेट्स: समीर वानखेड़े NCB के दिल्ली ऑफिस पहुंचे; कहा- मुंबई पहुंचकर नवाब मलिक के आरोपों का जवाब दूंगामुंबई NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े दिल्ली पहुंच गए हैं। मंगलवार सुबह NCB के दिल्ली ऑफिस पहुंचे वानखेड़े ने कहा कि वे मुंबई पहुंचकर ही NCP नेता नवाब मलिक के आरोपों का जवाब देंगे। मलिक ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके वानखेड़े पर झूठे कास्ट सर्टिफिकेट से नौकरी हासिल करने का आरोप लगाया था। साथ ही मलिक ने वानखेड़े पर धर्म छिपाने का आरोप भी लगाया था। | Breaking News Headlines Today, Pictures, Videos and More From Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर), Lakhimpur News Today NCB accepts that there was a meeting between Gosavi and Pooja Dadlani, Manager of Shah Rukh Khan ? Doesn’t this merit an independent investigation instead of a departmental enquiry ? गोसावी⁉️⁉️⁉️⁉️ Iske gale me kiska patta he sab ko pta he

पेगासस के ज़रिये भारतीय नागरिकों की जासूसी के आरोपों की जांच के लिए विशेष समिति गठितसुप्रीम कोर्ट ने समिति का गठन करते हुए कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा की आड़ में निजता का हनन नहीं हो सकता. अदालत ने इस मामले में केंद्र सरकार द्वारा उचित हलफ़नामा दायर न करने को लेकर गहरी नाराज़गी जताई और कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा को ख़तरा होने का दावा करना पर्याप्त नहीं है, इसे साबित भी करना होता है. सबसे पहले तुम्हारे जैसे चरसी पत्रकार की भी जासूसी करवानी चाहिए

अयोध्या दर्शन के अलावा दिल्ली के यात्रियों के रहने-खाने का भी खर्च उठाएगी केजरीवाल सरकारदिल्ली सरकार ने अपनी तीर्थ यात्रा योजना में अब अयोध्या को भी शामिल करने की मंजूरी दे दी है। इसके तहत अब वरिष्ठ नागरिक रामलला का भी दर्शन कर सकेंगे।