Nepal, Mounteverest, Kathmandu, Dream, Kamiritasherpa, Nepal, Sherpa Kami Rita, Mount Everest, Kami Rita Stopped 26 Th Expedition, Kathmandu, Sherpa Said Nightmare Stopped Me, Nightmare, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Nepal, Mounteverest

माउंट एवरेस्ट: शेरपा ने रोका 26वीं बार शिखर फतह करने का अभियान, बोले- बुरा सपना देखा

विश्व की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर चढ़ने का कीर्तिमान बना चुके पर्वतारोही शेरपा ने एक बुरे सपने के कारण 26वीं बार माउंट

25-05-2021 13:40:00

माउंट एवरेस्ट: शेरपा ने रोका 26वीं बार शिखर फतह करने का अभियान, बोले- बुरा सपना देखा Nepal mounteverest Kathmandu Dream KamiRitaSherpa

विश्व की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर चढ़ने का कीर्तिमान बना चुके पर्वतारोही शेरपा ने एक बुरे सपने के कारण 26वीं बार माउंट

शेरपा कामी रीता ने 25वीं बार एवरेस्ट पर चढ़ने का कीर्तिमान इस महीने बनाया था। 26वीं कोशिश में वह आधे से अधिक ऊंचाई पर चढ़ चुके थे, तभी उन्हें चढ़ाई अभियान रद्द करना पड़ा।हेलिकॉप्टर से लौटे काठमांडो, फिर यह कहाएवरेस्ट पर्वत से हेलिकॉप्टर के जरिये मंगलवार को काठमांडू लौटकर रीता ने कहा, 'मैं (26वीं बार) प्रयास कर रहा था और कैंप तीन तक पहुंच चुका था लेकिन मौसम खराब हो गया और मैंने एक बहुत बुरा सपना देखा।' उन्होंने कहा, 'भगवान मुझे आगे नहीं जाने के लिए कह रहे थे और क्योंकि मैं भगवान में विश्वास रखता हूं, इसलिए मैंने वापस लौटने का निर्णय लिया।'

राजस्व में कमी की भरपाई के लिए दूसरी छमाही में 5.03 लाख करोड़ रुपये का कर्ज लेगी सरकार यूपी : CM योगी ने नवनियुक्त मंत्रियों को बांटे विभाग, जानें- किसको क्या मिला? भारत बंद की वजह से 50 ट्रेनों की सर्विस पर असर पड़ा: रेलवे - BBC Hindi

एवरेस्ट को देवी के रूप में पूजते हैं शेरपा कामीकामी रीता ने यह नहीं बताया कि उन्होंने सपने में क्या देखा था। शेरपा एवरेस्ट को देवी के रूप में पूजते हैं और उस पर चढ़ने से पहले धार्मिक रीति रिवाज का पालन करते हैं।रीता ने कहा कि वह 26वीं बार एवरेस्ट पर चढ़ने का प्रयास अगले साल जरूर करेंगे।

1994 में पहली बार व उसके बाद हर साल की चढ़ाईवह 51 साल के हैं और 1994 में उन्होंने पहली बार एवरेस्ट पर चढ़ाई की थी। तब से वह लगभग हर साल विश्व की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर चढ़ते रहे हैं।विस्तार एवरेस्ट पर चढ़ने की अपनी योजना रद्द कर दी। अब वह अगले साल प्रयास करने पर विचार कर रहे हैं। headtopics.com

विज्ञापनशेरपा कामी रीता ने 25वीं बार एवरेस्ट पर चढ़ने का कीर्तिमान इस महीने बनाया था। 26वीं कोशिश में वह आधे से अधिक ऊंचाई पर चढ़ चुके थे, तभी उन्हें चढ़ाई अभियान रद्द करना पड़ा।हेलिकॉप्टर से लौटे काठमांडो, फिर यह कहाएवरेस्ट पर्वत से हेलिकॉप्टर के जरिये मंगलवार को काठमांडू लौटकर रीता ने कहा, 'मैं (26वीं बार) प्रयास कर रहा था और कैंप तीन तक पहुंच चुका था लेकिन मौसम खराब हो गया और मैंने एक बहुत बुरा सपना देखा।' उन्होंने कहा, 'भगवान मुझे आगे नहीं जाने के लिए कह रहे थे और क्योंकि मैं भगवान में विश्वास रखता हूं, इसलिए मैंने वापस लौटने का निर्णय लिया।'

एवरेस्ट को देवी के रूप में पूजते हैं शेरपा कामीकामी रीता ने यह नहीं बताया कि उन्होंने सपने में क्या देखा था। शेरपा एवरेस्ट को देवी के रूप में पूजते हैं और उस पर चढ़ने से पहले धार्मिक रीति रिवाज का पालन करते हैं।रीता ने कहा कि वह 26वीं बार एवरेस्ट पर चढ़ने का प्रयास अगले साल जरूर करेंगे।

1994 में पहली बार व उसके बाद हर साल की चढ़ाईवह 51 साल के हैं और 1994 में उन्होंने पहली बार एवरेस्ट पर चढ़ाई की थी। तब से वह लगभग हर साल विश्व की सबसे ऊंची पर्वत चोटी पर चढ़ते रहे हैं।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

किसानों का भारत बंद कितना हिट, कितना फ्लॉप? देखें स्पेशल रिपोर्ट

किसानों के भारत बंद के दौरान सड़कों पर रेंगती गाड़ियां की तस्वीरें तो कई आईं. लेकिन आम लोगों की इस मुसीबत के बीच असल सवाल वहीं का वहीं हैं- कैसे किसानों और सरकार के बीच शांत होगी ये तकरार? सरकार अपील कर रही है कि किसी तरह किसान मान जाएं और आंदोलन को छोड़ बातचीत का रास्ता अपनाए. लेकिन किसान को अब इन अपीलों पर ऐतबार नहीं और आर-पार से कम पर किसान नेता तैयार नहीं. देश के अलग-अलग हिस्से से किसानों के भारत बंद की तस्वीरें आईं, तमाम शहरों में विरोध के सुर भी सनाई दिए. आज स्पेशल रिपोर्ट में बात करेंगे किसान आंदोलन पर हो रही राजनीति पर.

हमे लखनऊ नगर निगम जोन 7 के द्वारा आत्महत्या करने को मजबूर किया जा रहा है अगर मेरे घर में कोई अनहोनी होती है तो उसके जिम्मेदार लखनऊ नगर निगम जोन 7 के जोनल अधिकारी व कर अधीक्षक होंगे। कृपया हमारी बात प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री तक पहुंचाने में मेरी मदद कर दीजिए🙏🙏🙏😭😭😭