महाराष्ट्र की राजनीति, महाराष्ट्र की राजनीति, राजनीतिक उठापटक, राजस्थान न्यूज, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे, महाराष्ट्र कांग्रेस के विधायक, जयपुर का रिसॉर्ट, Political News Of Maharashtra, Politics Of Maharashtra, Political Upheaval, Rajasthan News, State Congress İn-Charge Mallikarjun Kharge, Mla Of Maharashtra Congress, Resort Of Jaipur

महाराष्ट्र की राजनीति, महाराष्ट्र की राजनीति

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक: खड़गे के साथ जयपुर के रिसॉर्ट में पहुंचे कांग्रेसी MLA

जयपुर के रिसॉर्ट में ठहरे महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक, CM गहलोत ने की मुलाकात

10.11.2019

जयपुर के रिसॉर्ट में ठहरे महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायक, CM गहलोत ने की मुलाकात

जयपुर. महाराष्ट्र में भाजपा को सरकार बनाने का निमंत्रण मिलने के बाद सियासी घटनाक्रम तेज हो गया है. कांग्रेस ने अपने विधायकों को भाजपा के संपर्क में जाने से बचाने के लिए राजधानी जयुपर के पास एक रिसॉर्ट में रखा है. देर रात तक महाराष्ट्र कांग्रेस के 44 में से अधिकांश विधायक​जयपुर पहुंच चुके थे. आज यानी 10 नवम्बर को कांग्रेस विधायक बैठक करके अगली रणनीति तय करेंगे. | rajasthan News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

महाराष्ट्र के विधायकों पर राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत भी पूरी नजर रखे हुए हैं. रात को सीएम गहलोत भी ब्यूना विस्टा रिसॉर्ट पहुंचे और महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा की. सीएम गहलोत ने मल्लिकार्जुन खड़गे, बाला साहब थोराट और अविनाश पांडेय के साथ बहुत देर तक मंत्रणा की. गहलोत ने महाराष्ट्र कांग्रेस के विधायकों से भी मुलाकात की.

और पढो: News18 India

अपने विधायकों पे भरोसा नहीं Its reflect total fear,nice कांग्रेसी विधायकों को अपने मन की आवाज़ सुनकर भाजपा में (दलबदल कानून के दायरे में रहते हुए) शामिल हो जाना चाहिए. आखिर देशसेवा का बीड़ा लिया है कांग्रेस ने, सो सरकार स्थायी हो इसके लिए जो भी हो सके करना ही चाहिए. हरि ऊं तत्सत। जब भी भाजपा ने जन आस्था के साथ सरकार बनाने का बीड़ा उठाती है तब कांग्रेस परिवार को सदैव अपने विधायकों का टुटने का डर सताने लगता है। इसीलिए नेहरू गांधी परिवार अपने विधायकों का कुछ समय के लिए अपरहण कर लेते हैं।

रिसोर्ट पोलिटिक्स चालू है। विधायक है या ढोर ? Daar toh lagega.. Mota bhai hey na.. 😂😂😂😂 कोंग्रेसी पहुँच गए मुर्ग मसल्लम ओर महंगी शराब पीने

फडणवीस के इस्तीफे के बाद महाराष्ट्र में अब आगे क्या, कैसे होगा सरकार गठनबीजेपी और शिवसेना की महायुति सरकार बनाने में नाकाम रही. दोनों ही पार्टियां अपने-अपने स्टैंड पर अभी भी कायम हैं. चुनाव परिणामों पर नजर डालें तो जनता का फैसला महायुति की सरकार का ही था ऐसे में राज्य में सरकार गठन के कुछ ही विकल्प और बचते हैं. President rule Bala saheb thakare honge cm. Shiv sena ne unko bulawa bhej dia jo mla support nhi karega usko Maharashtra se out kr dia jayega दुबारा चुनाव यानि जनता के दिये टैक्स का दुरुपयोग। सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने देना चाहिए। विश्वास मत में उनकी पार्टी के ही विधायकों की सहमति ही हो आवश्यक।

विहिप को उम्मीद, अयोध्या में राम जन्मभूमि न्यास के डिजाइन के मुताबिक ही होगा मंदिर निर्माणअयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद काशी और मथुरा के धार्मिक स्थलों को लेकर विहिप की आगामी योजना के बारे में पूछे जाने पर विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे ने कहा कि बाकी विषयों पर समाज के रुख को राम मंदिर निर्माण के बाद देखा जाएगा.

देवेंद्र फडणवीस का महाराष्ट्र मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा, शिवसेना के अड़ने के बाद अब क्या होगा?देवेंद्र फडणवीस का महाराष्ट्र मुख्यमंत्री पद से इस्तीफ़ा, शिवसेना के अड़ने के बाद अब क्या होगा? Manuvadi ka ahenkaar toota

पहले अयोध्या में मंदिर, फिर महाराष्ट्र में सरकार: शिवसेना नेता संजय राउतअयोध्या केस में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर के पक्ष में फैसला सुनाते हुए सरकार को तीन महीने के अंदर निर्माण की रूपरेखा तैयार करने का आदेश दिया है. कोर्ट ने कहा कि केंद्र सरकार ट्रस्ट बनाकर मंदिर निर्माण करवाए. ShivSena notanki baaj अबे जा नौटंकी साले सपने देखने के पैसे भी लगते हमारे देश में , जय श्री राम

अयोध्या: फैसले के 116वें पेज में निष्कर्ष के रूप में सुप्रीम कोर्ट ने क्या लिखाअयोध्या: फैसले के 116वें पेज में निष्कर्ष के रूप में सुप्रीम कोर्ट ने क्या लिखा AyodhyaJudgment SupremeCourt

महाराष्ट्र संकट : एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना को विधायकों के टूटने का डरमहाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी कलह के बीच कांग्रेस, एनसीपी के साथ ही शिवसेना को भी अपने विधायकों के टूटने का डर सता रहा है। BJP4India AmitShah Dev_Fadnavis ShivsenaComms AUThackeray MaharashtraPoliticalCrisis BJP4India AmitShah Dev_Fadnavis ShivsenaComms AUThackeray शिव सेना को सबक सिखाना बहुत जरूरी है इस के लिये राष्ट्रपति शाशन या इसके विधायको तोड़ना बहुत जरूरी है

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

10 नवम्बर 2019, रविवार समाचार

पिछली खबर

कोर्ट के फैसले के बाद अब राम मंदिर ट्रस्ट का इंतजार, सोमनाथ की तर्ज हो सकता है गठन

अगली खबर

World Diabetes Day: डायबिटीज के मरीज़ों के लिए है वरदान ये नाश्ता