मंत्री के साथ वायरल फोटो: निहंग बाबा अमन सिंह बोले- बेअदबी मामले में हुई मुलाकात, अकेले नहीं गए, 8 निहंग सिख थे साथ

इसके अलावा पंजाब के बहुत से किसानों ने निहंगों का समर्थन करने का फैसला लिया है। उनका कहना है कि निहंग उनकी रक्षा के लिए

Nihangbaba, Amansingh

19-10-2021 19:58:00

मंत्री के साथ वायरल फोटो: निहंग बाबा अमन सिंह बोले- बेअदबी मामले में हुई मुलाकात, अकेले नहीं गए, 8 निहंग सिख थे साथ Nihangbaba AmanSingh NarendraTomar nstomar

इसके अलावा पंजाब के बहुत से किसानों ने निहंग ों का समर्थन करने का फैसला लिया है। उनका कहना है कि निहंग उनकी रक्षा के लिए

अभी तक बेअदबी के सबूत नहीं मिले: विजय सांपलाराष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह को पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने लखबीर सिंह का भोग सिख मार्यादा के अनुसार कराने की अपील की। लखबीर सिंह की सिंघु बॉर्डर में निर्मम हत्या कर दी गई थी। पत्र में सांपला ने कहा कि वायरल वीडियो में कुछ लोग लखबीर सिंह पर बेअदबी का आरोप लगा रहे हैं लेकिन इस संबंध में अभी तक कोई वीडियो या फोटो प्रमाण के रूप में सामने नहीं आया है।

निहंग बाबा अमनदीप सिंहजनमत संग्रह के आधार पर फैसला करेंगे, रुकेंगे या लौटेंगे: निहंगनिहंगों ने धरनास्थल से लौटने या रुकने को लेकर जनमत संग्रह करवाने का फैसला ले रखा है। निहंग 27 अक्तूबर को कुंडली बॉर्डर पर धार्मिक एकत्रता की बैठक करेंगे और इसमें जनमत संग्रह के आधार पर ही फैसला लेंगे कि उन्हें वापस जाना चाहिए या नहीं। निहंग बाबा राजा राम सिंह का कहना है कि वे किसानों की रक्षा के लिए यहां आए हैं।

27 को होने वाली बैठक में सिख कौम के बुद्धिजीवी भी शामिल होंगे। यहां निहंग जो फैसला लेंगे, उसे पूरी संगत मानेगी। साथ ही उन्होंने एसकेएम नेता योगेंद्र यादव पर पलटवार किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि योगेंद्र यादव को एसकेएम ने सिर चढ़ा रखा है। वह भाजपा व आरएसएस का बंदा है। headtopics.com

बिहार में शिक्षकों से शराब 'ढूंढवाने' के आदेश पर विवाद, शिक्षा मंत्री ने दी सफाई, कहा- बस सहयोग मांगा गया है

ये भी पढ़ें-जींद: पेट्रोल पंप लूटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार, 3 पिस्तौल बरामदकिसानों ने कहा था -निहंगों को हमने नहीं बुलायासंयुक्त किसान मोर्चा ने कहा था कि वह निहंगों को धरनास्थल से लौटने के लिए नहीं कहेंगे। उन्होंने निहंगों को यहां आने के लिए नहीं कहा था। इस मामले में सिख कौम को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए। माना जा रहा था कि किसान मोर्चा निहंगों को धरनास्थल से वापस जाने के लिए कहेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। संयुक्त किसान मोर्चा ने साफ किया था कि हत्या के मामले में पुलिस व कानून अपना काम करे, लेकिन बेअदबी के मामले में भी पुलिस गहराई तक जाए।

ये भी पढ़ें-महेंद्रगढ़: गौरव हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुख्य आरोपी समेत दो गिरफ्तारकुंडली बॉर्डर पर हुई थी लखबीर की हत्याकुंडली बॉर्डर पर पंजाब के तरनतारन जिले के गांव चीमा खुर्द निवासी लखबीर सिंह के हाथ व पैर काटकर उसे बैरिकेड से लटकाकर मारा गया था। निहंगों ने घटना की जिम्मेदारी ली थी। उनका कहना था कि युवक ने श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की बेअदबी की है, इसलिए उसे मार डाला गया।

विस्तारसोनीपत कुंडली बॉर्डर पर युवक की नृशंस हत्या की जिम्मेदारी लेने के बाद निहंग अब एक और विवाद में घिर गए हैं। निहंग बाबा अमन सिंह की केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के साथ फोटो वायरल हुई है, जिससे सोशल मीडिया पर हड़कंप मच गया है। फोटो में केंद्रीय कृषि मंत्री उन्हें सरोपा भेंट कर स्वागत करते दिख रहे हैं। अमन सिंह निहंग जत्थेदारों में शामिल हैं। एसकेएम ने फोटो पर सवाल उठाते हुए बेअदबी मामले में साजिश की आशंका जताई है। वहीं, बाबा अमनदीप का कहना है कि वह वर्ष 2015 से अब तक हो रही बेअदबी के मामलों में भाजपा नेताओं से मिले थे। मिलने से पहले 8 बार वह पत्र लिख चुके थे। उनके साथ आठ निहंग बाबा भी केंद्रीय मंत्री से मिले थे।

खेल की खबरें: बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारत का नेतृत्व करेंगे सेन-मालविका और इन खिलाड़ी को मिला AUS क्रिकेट पुरस्कार

विज्ञापनये भी पढ़ें-रोहतक: सोनीपत के भाई-बहन को पैसे दोगुने करने का झांसा दे लगाया चूना, तीन नामजदकुंडली बॉर्डर पर 15 अक्तूबर को तड़के तरनतारन के लखबीर पर गुरु ग्रंथ की बेअदबी का आरोप लगाते हुए उसकी बर्बरता से हत्या कर दी गई थी। हत्या की जिम्मेदारी निहंगों ने ली थी। इसके बाद से निहंग लगातार निशाने पर हैं। यहां तक कि संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने निहंगों के कृत्य को गलत बताते हुए, उन्हें किसान आंदोलन से अलग करार दिया था। वहीं, शुरुआत से बेअदबी के मामले में भी जांच करने की मांग किसान मोर्चा कर रहा है। headtopics.com

इधर, मंगलवार को अचानक केंद्रीय कृषि मंत्री के साथ बाबा अमन सिंह के वायरल हुए फोटो से सोशल मीडिया पर बवाल मच गया। कहा जा रहा है कि पूरी साजिश के तहत कुंडली बॉर्डर की घटना को अंजाम दिया गया है। बाबा अमन सिंह ने इस मामले में पहले समय मांगा था, लेकिन मंगलवार देर शाम उन्होंने कहा कि वह बेअदबी के मामले में केंद्रीय मंत्री से मिले थे।

अमन सिंह बोले- आठ पत्र लिख चुका, सरकार से जवाब मांगने गए थेनिहंग बाबा अमन सिंह ने कहा कि उनकी संगत की तरफ से 8 पत्र राष्ट्रपति, राज्यपाल, कृषि मंत्री व अन्य मंत्रियों को लिखें हैं। जिनमें बेअदबी के मामलों में जवाब मांगा गया था। उनके पत्र पर ही सरकार की ओर से उन्हें बुलाया गया था, लेकिन वहां पहुंचने के बाद उन्हें कुछ और ही कहा गया। भाजपा नेताओं ने पहले अपनी शर्तें रखी, जिन्हें मानने से हमने इनकार कर दिया। वह अकेले नहीं गए थे, बल्कि 8 निहंग बाबा उनके साथ गए थे। उन्होंने यह भी कहा कि वह केंद्र की सरकार से जवाब मांग रहे हैं। वह राष्ट्रपति से लेकर राज्यपाल तक से मिल चुके हैं, लेकिन हल नहीं हुआ। हमारा मतलब धर्म की रक्षा से है।

TET Exam 2020: रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर IAS ऑफिसर सहित अब तक 13 गिरफ्तार

पहले ही जता दी थी साजिश की आशंका : एसकेएमएसकेएम ने कहा कि उन्होंने पहले ही आशंका जताई थी कि बेअदबी के मामले में साजिश का शक है, लेकिन अब शक गहरा गया है। एसकेएम समन्वय समिति के सदस्य डॉ. दर्शनपाल ने कहा कि इस मामले की पूरी जांच होनी चाहिए। सरकार को स्वतंत्र एजेंसियों से जांच करवानी चाहिए, ताकि पूरा मामला साफ हो जाए। उन्होंने कहा कि केंद्रीय कृषि मंत्री और कृषि राज्य मंत्री द्वारा निहंग सिख समूह के नेता से जुलाई में मुलाकात की गई थी। यह निहंग सिख नेता उसी जत्थेबंदी से हैं जिसके सदस्यों पर 15 अक्तूबर को लखबीर की हत्या का आरोप लगा है। संयुक्त किसान मोर्चा एक बार फिर दोहराता है कि कुंडली बॉर्डर की घटना भाजपा और उसकी सरकारों द्वारा महसूस किए जा रहे लखीमपुर खीरी नरसंहार के दबाव से ध्यान भटकाने की साजिश में डूबी हुई प्रतीत होती है। इसकी तत्काल और गहराई से जांच की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि किसी भी धर्म और आस्था की बेअदबी अस्वीकार्य है और इसकी निंदा की जानी चाहिए।

किसान मोर्चा कल बैठक कर लेगा अहम फैसलाकिसान नेता डॉ. दर्शनपाल ने कहा कि 21 अक्तूबर को किसान मोर्चा की कुंडली बॉर्डर पर बड़ी बैठक होने वाली है, जिसमें कई अहम फैसले लिए जाएंगे। उनके आंदोलन को दिल्ली की सीमाओं पर 26 अक्तूबर को 11 माह हो रहे हैं। निहंग मामले में बड़ी साजिश की बात सामने आ रही है। मृतक युवक की बहन का एक बयान आया था कि वह नशा करता था और कभी भी अपने गांव के पड़ोसी कस्बे में भी नहीं गया, लेकिन वह अचानक कुंडली बॉर्डर पर कैसे पहुंच गया। उससे पहले वह किसी से बात कर रहा था और अपनी बहन से कहा था कि उसके अब किसी बड़े आदमी के साथ संबंध हो गए हैं। इस घटना के पीछे कोई बड़ी साजिश है। इस साजिश में लखबीर सिंह बलि का बकरा बन गया। पूरे मामले की जांच किसी एजेंसी को सौंपनी चाहिए। headtopics.com

वायरल फोटो मामले पर कांग्रेस भाजपा आमने-सामनेनिहंग सिख की केंद्रीय कृषि मंत्री के साथ फोटो वायरल होने के मामले में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा है कि परतें उठ रही हैं, पर्दा खुल रहा है। कौन असल में पर्दे के पीछे किसके साथ खड़ा है, कौन किसानों के खिलाफ षड्यंत्र रच रहा है। इधर, भाजपा नेता राजीव जैन ने इसका जवाब देते हुए कहा कि बाबा अमन सिंह के मामले मे कांग्रेस दुष्प्रचार पर उतर आई है। किसी नेता या मंत्री से मिलने का मतलब यह नहीं कि उससे संबंध हैं। मंत्री और बाबा का फोटो काफी पुरानी है। यह कुंडली बॉर्डर पर हुई हत्या से न तो कुछ समय पहले की है और न ही हत्या के बाद की है। कांग्रेस की राजनीति दुष्प्रचार पर ही टिकी है।

आखिर कहां है बेअदबी का वीडियोसवाल यह भी उठ रहे हैं कि आखिर निहंग बेअदबी से संबंधित कोई वीडियो फिलहाल क्यों नहीं पेश कर पाए हैं, जबकि युवक की हत्या से पहले की दर्जनों वीडियो निहंगों ने सोशल मीडिया पर वायरल किए थे। ही सिंघु बॉर्डर पर डटे हैं। श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की जो भी बेअदबी करेगा, उसके साथ ऐसा ही होना चाहिए। वहीं, मामले को लेकर एसकेएम की बैठक चल रही है। बैठक के बाद कोई जानकारी मिल सकती है।

अभी तक बेअदबी के सबूत नहीं मिले: विजय सांपलाराष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला ने श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह को पत्र लिखा। पत्र में उन्होंने लखबीर सिंह का भोग सिख मार्यादा के अनुसार कराने की अपील की। लखबीर सिंह की सिंघु बॉर्डर में निर्मम हत्या कर दी गई थी। पत्र में सांपला ने कहा कि वायरल वीडियो में कुछ लोग लखबीर सिंह पर बेअदबी का आरोप लगा रहे हैं लेकिन इस संबंध में अभी तक कोई वीडियो या फोटो प्रमाण के रूप में सामने नहीं आया है।

निहंग बाबा अमनदीप सिंहजनमत संग्रह के आधार पर फैसला करेंगे, रुकेंगे या लौटेंगे: निहंगनिहंगों ने धरनास्थल से लौटने या रुकने को लेकर जनमत संग्रह करवाने का फैसला ले रखा है। निहंग 27 अक्तूबर को कुंडली बॉर्डर पर धार्मिक एकत्रता की बैठक करेंगे और इसमें जनमत संग्रह के आधार पर ही फैसला लेंगे कि उन्हें वापस जाना चाहिए या नहीं। निहंग बाबा राजा राम सिंह का कहना है कि वे किसानों की रक्षा के लिए यहां आए हैं।

27 को होने वाली बैठक में सिख कौम के बुद्धिजीवी भी शामिल होंगे। यहां निहंग जो फैसला लेंगे, उसे पूरी संगत मानेगी। साथ ही उन्होंने एसकेएम नेता योगेंद्र यादव पर पलटवार किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि योगेंद्र यादव को एसकेएम ने सिर चढ़ा रखा है। वह भाजपा व आरएसएस का बंदा है।

ये भी पढ़ें-जींद: पेट्रोल पंप लूटने वाले तीन बदमाश गिरफ्तार, 3 पिस्तौल बरामदकिसानों ने कहा था -निहंगों को हमने नहीं बुलायासंयुक्त किसान मोर्चा ने कहा था कि वह निहंगों को धरनास्थल से लौटने के लिए नहीं कहेंगे। उन्होंने निहंगों को यहां आने के लिए नहीं कहा था। इस मामले में सिख कौम को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिए। माना जा रहा था कि किसान मोर्चा निहंगों को धरनास्थल से वापस जाने के लिए कहेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। संयुक्त किसान मोर्चा ने साफ किया था कि हत्या के मामले में पुलिस व कानून अपना काम करे, लेकिन बेअदबी के मामले में भी पुलिस गहराई तक जाए।

ये भी पढ़ें-महेंद्रगढ़: गौरव हत्याकांड में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुख्य आरोपी समेत दो गिरफ्तारकुंडली बॉर्डर पर हुई थी लखबीर की हत्याकुंडली बॉर्डर पर पंजाब के तरनतारन जिले के गांव चीमा खुर्द निवासी लखबीर सिंह के हाथ व पैर काटकर उसे बैरिकेड से लटकाकर मारा गया था। निहंगों ने घटना की जिम्मेदारी ली थी। उनका कहना था कि युवक ने श्री गुरुग्रंथ साहिब जी की बेअदबी की है, इसलिए उसे मार डाला गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

राजस्थान के करोड़पति किसानों का गांव: इस गांव को कहते हैं मिनी इजराइल, हाईटेक खेती के दम पर लग्जरी गाड़ियों में चलते हैं किसान

राजस्थान का एक गांव ऐसा जो करोड़पति किसानों का है। खेती में नई टेक्नीक की मदद से हर साल लाखों रुपए कमा रहे हैं। 10 साल पहले इस गांव और किसानों की स्थिति बिल्कुल उलट थी। पारंपरिक खेती की वजह से कोई मुनाफा नहीं हुआ। इसके बाद गांव से एक किसान इजराइल से खेती की नई टेक्नीक सीख कर आया। वहां हुए प्रयोग को अपने खेतों में प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया तो किस्मत बदल गई। शुरुआती दौर में लोग मजाक भी उड़ाते थे, ... | Polyhouse, green house farming made many farmers millionaires, made fun of the farmer who took the initiative 10 years ago, today everyone adopted और पढो >>

nstomar निहंग इतने बहादुर थे तो अफगानिस्तान से गुरु ग्रन्थ साहिब सर पर क्यो भारत भाग आये nstomar तो क्या इनको सजा मिलेगी। की केवल फ़ोटो दिखाया जा रहे हैं।।जैसे किये हैं वैसे इनके साथ करना चाहिये।।

कभी Nihang Sikh की बहादुरी के किस्से सुनाए जाते थे, आज विवादों में क्यों हैं निहंग ? Nihang Sikh Singhu Border: सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसानों के आंदोलन (Sindhu Border Kisan Andolan) में जब से लटका हुआ शव मिला है.... निहंग सिखों का नाम सुर्खिय...

बांग्लादेश के दो मंत्रियों के दो बयान: गृह मंत्री बोले- हिन्दू मंदिरों पर हमले साजिश के तहत किए गए; सूचना मंत्री ने कहा- इस्लाम देश का धर्म नहींबांग्लादेश में हिन्दू मंदिरों पर हमले की कई वारदातों के बाद देश के दो बड़े मंत्रियों ने दो अलग मौकों पर बयान दिए हैं। गृह मंत्री असद्दुजमन खान ने रविवार को कहा कि दुर्गा पूजा के दौरान पंडालों पर जो हमले हुए वे प्री-प्लांड थे और साजिश के तहत किए गए थे। वहीं सूचना राज्य मंत्री मुराद हसन ने कहा कि इस्लाम देश का धर्म नहीं है। | Bangladesh Hindu Temple Pre-planned Says Ministers| गृह मंत्री बोले- हिन्दू मंदिरों पर हमले साजिश के तहत किए गए PMOIndia India's Hindus gives a hero’s welcome to a Hindutva terrorist who was deported by the Australian government to India on Sunday, after serving 12 months in prison for carrying out attacks against Australia’s Sikh and Muslim communities.

विभिन्न मानवाधिकार उल्लंघनों के बीच आयोग के अध्यक्ष द्वारा सरकार की तारीफ़ के क्या मायने हैंजिस राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को देशवासियों के मानवाधिकारों की रक्षा करने, साथ ही उल्लंघन पर नज़र रखने के लिए गठित किया गया था, वह अपने स्थापना दिवस पर भी उनके उल्लंघन के विरुद्ध मुखर होने वालों पर बरसने से परहेज़ न कर पाए, तो इसके सिवा और क्या कहा जा सकता है कि अब मवेशियों के बजाय उन्हें रोकने के लिए लगाई गई बाड़ ही खेत खाने लगी है? ashoswai Inko b rajyasabha ya loksabha jana hoga tabhi to desh ko barbaad krne walo k gungaan kr the.. योगी और मोदी का एकी नारा.....! 'ना घर बसा हमारा' 'ना बसने देगे तुम्हारा'।

लखीमपुर हिंसा: मृतक बीजेपी कार्यकर्ता के घर पहुंचे केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्राजानकारी मिली है कि मृत बीजेपी कार्यकर्ता श्याम सुंदर के घर पर आज अजय मिश्रा मिलने पहुंचे थे. उनके साथ लखीमपुर सदर सीट से बीजेपी विधायक योगेश वर्मा और कई नेता भी साथ आए थे. lakheempur kheere ke ghavo par kyo namak chidak rahe ho kya apko koi kahne आला he he nahee जो मा० लोग छत्तीसगढ़,असम,झारखंड ,बंगाल, केरल,दिल्ली,लखीमपुर जैसी घटना पर प्रतिक्रिया देते हैं वो देवरिया की घटना पर चुप्पी साधे हुए हैं काहे जी मुँह में लकवा मारा है क्या priyankagandhi yadavakhilesh Mayawati myogiadityanath dgpup AjayLalluINC narendramodi BJP4UP Very good

Bangladesh durga puja: दुर्गा पूजा पंडालों पर हमला सुनियोजित था, बोले बांग्लादेश के गृह मंत्रीगृहमंत्री ने इन घटनाओं के हताहतों के प्रति दुख जाहिर किया, साथ ही कहा कि हम इस बात को लेकर सुनिश्चित हैं कि योजनाबद्ध तरीके से अस्थिर हालात पैदा करने के लिए और हमारे देश के आपसी भाईचारे को बिगाड़ने के लिए यह घटनाएं की गई हैं.

जम्मू-कश्मीर में भारी निवेश करेगा दुबई, भारत के साथ मेगा डील साइनजम्मू-कश्मीर के विकास में अब दुबई भी मदद करेगा. सोमवार को जम्मू-कश्मीर सरकार और दुबई सरकार के बीच एक समझौते पर साइन हुए हैं. इसके तहत दुबई जम्मू-कश्मीर में कई अहम प्रोजेक्ट्स पर काम करेगा. sunilJbhat Samne se madad pichhe se jihadio ko fund fir jihad aatank katl hinduo ki htya ki vardate bdhe gi.bharat unke ehsan me db kr aavaj b na utha payega.Bharat ko kisi arab ya muslim des se koi aarthik ya dusri madad nhi leni chahiye.kashmir ke vikas me sahyog kasmiri hindu se sajis he sunilJbhat अब दुबई मदद करेगा तब जम्मू कश्मीर का विकास होगा?वाह रे आत्म निर्भर भारत। sunilJbhat awaaz Jammu & Kashmir daily wagers employees want justice 1 minimum wagers act 2 regular policy 3 respect in society. Plz help poor daily wagers employees of j&kut We also bharata 101% plzz all of leader we are u voters🙏🇮🇳 justicedailywagersjkut 65000 thousands 🙏