भारतीय सेना में सर्विस के दौरान जनरल रावत को मिले कई गैलेंट्री आवार्ड, जाने इनके बारे में

भारतीय सेना में सर्विस के दौरान जनरल रावत को मिले कई गैलेंट्री आवार्ड, जाने इनके बारे में #CDSBipinRawat #IndianArmy #NationalNews

Cdsbipinrawat, Indianarmy

09-12-2021 17:20:00

भारतीय सेना में सर्विस के दौरान जनरल रावत को मिले कई गैलेंट्री आवार्ड, जाने इनके बारे में CDSBipinRawat IndianArmy NationalNews

सीडीएस जनरल बिपिन रावत भारतीय सेना के एक अत्यधिक सुशोभित अधिकारी थे। उन्हें 16 दिसंबर 1978 को सेना की 11 गोरखा राइफल्स की 5वीं बटालियन में शामिल किया गया था। भारतीय सेना में अपने कार्यकाल के दौरान जनरल रावत को कई तरह से पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

परम विशिष्ट सेवा मेडल (पीवीएसएम)परम विशिष्ट सेवा मेडल (पीवीएसएम), भारतीय सेना का एक पुरस्कार है। इसकी स्थापना 26 जनवरी 1960 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा की गई थी। सशस्त्र बलों के कर्मियों द्वारा दी गई विशिष्ट सेवाओं को मान्यता देने के लिए की इस पदक की स्थापना की गई थी। यह पुरस्कार मरणोपरांत भी दिया जा सकता है।

UP Election 2022: कैबिनेट मंत्री अनुराग ठाकुर का तंज, 10 मार्च को अखिलेश यादव कहेंगे- ईवीएम बेवफा है

उत्तम युद्ध सेवा पदक (यूवाईएसएम)उत्तम युद्ध सेवा पदक, जिसे यू.वाई.एस.एम के नाम से भी जाना जाता है। भारत के राष्ट्रपति द्वारा 26 जनवरी 1980 को इसे विशिष्ट सेवा पुरस्कारों में से एक के रूप में स्थापित किया गया था। यह पदक युद्ध/मुठभेड़/प्रतिकूल परिस्थितियों में असाधारण कोटि के प्रदर्शन को सम्मानित करने के लिए दिया जाता है। उत्तम युद्ध सेवा पदक मरणोपरांत भी दिया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंअति विशिष्ट सेवा मेडल (एवीएसएम)अति-विशिष्ट सेवा मेडल को मुख्य तौर पर "विशिष्ट सेवा मेडल, वर्ग-2" के रूप में स्थापित किया गया था। इस मेडल को 27 जनवरी, 1967 को यह नाम दिया गया और बैज को पिछले मैडल से बदल दिया गया। 1980 तक यह मैडल उत्तम युद्ध सेवा पदक के तरह गैर-परिचालन सेवाओं के लिए ही दिया जाता था। अति-विशिष्ट सेवा मेडल मरणोपरांत भी दिया जा सकता है। headtopics.com

युद्ध सेवा मेडल (वाईएसएम)यह भी पढ़ेंयुद्ध सेवा मेडल लड़ाई के दौरान प्रतिष्ठित सेवा के लिए स्थापित सैन्य पुरस्कार है। भारत के राष्ट्रपति द्वारा 26 जनवरी 1980 को इस सम्मान की स्थापना की गई थी। यह सम्मान युद्ध के दौरान दिए जाने वाले विशिष्ट सेवा पदक के समानांतर है, यह पदक शांतिकाल का प्रतिष्ठित सेवा सम्मान है। यह पुरस्कार मरणोपरांत भी दिया जा सकता है।

राजस्थान : गवर्नर कलराज मिश्रा का ट्विटर अकाउंट हैक, अरबी भाषा में किया गया ट्वीट

सेना मेडल (एसएम)सेना मेडल पुरस्कार की स्थापना 17 जून 1960 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा की गई थी। कर्तव्य और साहस के प्रति असाधारण समर्पण का प्रदर्शन करने वाले लोगों का सेना में खास स्थान है। ऐसे लोगों का सम्मान करने के लिए सेना मेडल की स्थापना की गई। यह पुरस्कार मरणोपरांत भी दिया जा सकता है।"

विशिष्ट सेवा मेडल (वीएसएम)विशिष्ट सेवा मेडल भारत सरकार द्वारा सशस्त्र बलों के सभी रैंकों के सैनिकों के लिए, सर्विस के दौरान किए गए असाधारण कार्यों के सम्मान में दिया जाता है। विशिष्ट सेवा मेडल की स्थापना 26 जनवरी 1960 को की गई थी। यह पुरस्कार मरणोपरांत भी दिया जा सकता है।

और पढो: Dainik jagran »

युवाओं से चुनावी वादे! इस बार युवा करेंगे किसका बेड़ा पार? देखें 10तक

आज हम सबसे पहले बात करेंगे उन युवाओं की जिनकी चर्चा सबसे ज्यादा चुनावी घोषणा पत्रों में होती हैं. चुनाव आते हैं तो लाखों में नौकरियां देने के वादे ऐसे होते हैं, जैसे सरकार बनने पर पकड़-पकड़कर एक एक युवा को नौकरी दे देंगे. लेकिन सच्चाई यही है कि हर दल के घोषणा पत्र में युवाओं के लिए किए वादे सिर्फ चुनावी हैं. यूपी में 18 से 30 साल के जिन 3 करोड़ 89 लाख युवाओं की मुट्ठी में सत्ता बनाने-बिगाड़ने की ताकत है, क्या उन युवाओं की वाकई दल सुनते हैं? देखें 10तक.

CDS बिपिन रावत के साथ MP के जवान की भी मौत, 2011 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे जीतेंद्र कुमारहेलिकॉप्टर के साथ ये हादसा हुआ, वो भारतीय वायुसेना का Mi-17V5 था. डबल इंजन वाला ये हेलिकॉप्टर बेहद सुरक्षित माना जाता है. इसी हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी सवार थे जिनकी इस हादसे में दर्दनाक मौत हो गई है. Om shanti 🙏 यह भी मरा किया। कोटि कोटि नमन

भारतीय मूल के सीईओ ने एक ही झटके में 900 कर्मचारियों को बेरोजगार कर दियान्यूयॉर्क। अमेरिका की एक कंपनी के भारतीय मूल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) ने जूम के जरिए आयोजित वेबिनार के दौरान 900 से अधिक कर्मचारियों को अचानक से नौकरी से हटा दिया। कर्मचारियों की संख्या कंपनी के कार्यबल का करीब 9 प्रतिशत है। उन्होंने बाजार दक्षता, प्रदर्शन और उत्पादकता का हवाला देते हुए कर्मचारियों को नौकरी से निकाला।

सेना के चॉपर क्रैश पर संसद में जानकारी देंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंहभारतीय वायु सेना (IAF) के MI-सीरीज के हेलिकॉप्टर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS), बिपिन रावत, उनके कर्मचारी और परिवार के सदस्य सवार थे, जो तमिलनाडु के कुन्नूर में कोयंबटूर और सुलूर के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इस हादसे में चार लोगों की मौत हो गई है जबकि दो बच गए हैं.. Praying for speedy recovery. 🙏🏻🙏🏻 CDSRawat TamilNadu और खरीदो रूस से घटिया हवाई जहाज मिग बहुत पुरानी टेक्नॉल्जी पर चलता है , यह सब एक साजिश नज़र आती है 🤔

Bipin Rawat के नेतृत्व में सेना ने पराक्रम-शौर्य की लिखीं कई कहानियां, देखें स्पेशल रिपोर्टआज स्पेशल रिपोर्ट में बात उस खबर की, जिसने पूरे देश की आंखों को नम कर दिया. आज दोपहर में खबर आई कि CDS बिपिन रावत जिस हेलिकॉप्टर में सवार थे, वो हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया. शाम होते-होते बुरी खबर आई कि दुभार्ग्यपूर्ण हवाई दुघर्टना में सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी धर्मपत्नी समेत 13 लोगों की मृत्यु हो गई. इस वक्त देश के लिए ये सबसे बड़ी और बुरी खबर है. आज देश ने जनरल बिपिन रावत के रूप में एक महायोद्धा खो दिया है. जनरल बिपिन देश के पहले सीडीएस बनें लेकिन अपने चार दशकों के करियर में वो हमेशा अगल सोच और वर्किंग स्टाइल के लिए जाने गए. स्पेशल रिपोर्ट के इस एपिसोड में हम आपको बताएंगे कि जनरल बिपिन रावत के चले जाने से क्या फर्क पड़ेगा. देखिए ये एपिसोड. anjanaomkashyap शत् शत् नमन विनम्र श्रद्धांजलि ॐ शांति 🙏💐💐 anjanaomkashyap गाथा सब सैनिकों की एक ही होती हैं किसी की अलग नहीं होती है। anjanaomkashyap भारत माँ के सपूत का जाना देश की बड़ी क्षति है। सेना ने आपना सेनापति खो दिया।

शर्मनाक, पाकिस्तान में चोरी के आरोप में कपड़े उतरवाकर महिलाओं को पीटाइस्लामाबाद। पाकिस्तान में एक शर्मनाक घटनाक्रम में कुछ लोगों ने चोरी का आरोप लगाकर 4 महिलाओं और 1 लड़की की कपड़े उतरवाकर सरेआम पिटाई की। सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो वायरल हो गया।

Bipin Rawat Helicopter Crash: हादसे के बाद भारी संख्या में मदद के लिए जुटे स्थानीय लोगतमिलनाडु के कुन्नूर में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत (Bipin rawat), उनकी पत्नी समेत 14 लोग सवार थे. 3 लोग जख्मी हुए हैं. वहीं, चार शव बरामद हुए. वायुसेना ने हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं. बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र चल रहा है. ऐसे में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह थोड़ी देर में सदन में इस हेलिकॉप्टर हादसे पर जानकारी देंगे. लेकिन इस सब के बीच हादसे के तुरंत बाद ही स्थानीय लोग वहां मदद के लिए पहुंचे और रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हुए हैं. देखिए ये वीडियो. स्थानीय निवासियों द्वारा किया गया सहयोग तारीफ योग्य है। Sooooooooo sad अबे भूतनी के मरे कितने वो बतायेगा,