Gsp, Usa, Donaldtrump, Narendra Modi, Donald Trump, İndian Prime Minister, Us President, Gsp List, Beneficiary Status, नरेंद्र मोदी, डोनाल्ड ट्रम्प, अमेरिकी सांसद, जीएसपी सूची, World News İn Hindi, World Hindi News

Gsp, Usa

भारत को जीएसपी कार्यक्रम में शामिल करें, 44 अमेरिकी सांसदों ने ट्रंप को लिखा पत्र

अमेरिका में 44 सांसदों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को खत लिखकर कहा है कि भारत को फिर से जीएसपी कार्यक्रम में शामिल किया

18.9.2019

भारत को जीएसपी कार्यक्रम में शामिल करें, 44 अमेरिकी सांसद ों ने ट्रंप को लिखा पत्र GSP USA DonaldTrump PMOIndia narendramodi

अमेरिका में 44 सांसदों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को खत लिखकर कहा है कि भारत को फिर से जीएसपी कार्यक्रम में शामिल किया

जाए, ताकि दोनों देशों के बीच व्यापारिक समझौते आसानी से हो सकें। सांसदों ने अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर को लिखे पत्र में कहा है कि भविष्य को ध्यान में रखते हुए हमें अपने उद्योगों के लिए बाजारों की उपलब्धता सुनिश्चित करानी होगी। कुछ छोटे मुद्दों की वजह से इस पर असर नहीं पड़ना चाहिए। अमेरिका को भी नुकसान कांग्रेस (संसद) सदस्य जिम हाइम्स और रॉन एस्टेस की तरफ से लिखे पत्र में 26 डेमोक्रेट्स और 18 रिपब्लिकन सासंदों ने हस्ताक्षर किए हैं। कोलिशन फॉर जीएसपी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डैन एंथनी का कहना है कि भारत से जीएसपी दर्जा छीने जाने के बाद से ही अमेरिकी कंपनियां संसद को नौकरियों और आमदनी के नुकसान के बारे में बता रही हैं। एंथनी के अनुसार, भारतीय निर्यातकों की हालत जीएसपी हटने के बाद भी बेहतर है, जबकि अमेरिकी कंपनियों को प्रतिदिन दस लाख डॉलर (सात करोड़ रुपये) नए टैरिफ के तौर पर चुकाने पड़ रहे हैं। नए आंकड़ों के अनुसार, अकेले जुलाई में ही अमेरिकी कंपनियों को तीन करोड़ डॉलर (214 करोड़ रुपये) का नुकसान हुआ है। अमेरिका का जीएसपी कार्यक्रम क्या है ? अभी तक भारत जीएसपी के तहत सबसे बड़ा लाभार्थी देश माना जाता था, लेकिन ट्रंप प्रशासन की यह कार्रवाई नई दिल्ली के साथ उसके व्यापार संबंधी मुद्दों पर सख्त रवैये को दिखा रही है। जीएसपी को विभिन्न देशों से आने वाले हजारों उत्पादों को शुल्क मुक्त प्रवेश की अनुमति देकर आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया था। बता दें कि साल 2017 में जीएसपी के तहत भारत ने अमेरिका को 5.6 अरब डॉलर से अधिक का कर-मुक्त निर्यात किया था। भारत को इस सूची से क्यों बाहर किया गया? ट्रंप ने भारत को सूची से बाहर करते हुए कहा था कि उन्हें भारत से यह भरोसा नहीं मिल पाया है कि वह अपने बाजार में अमेरिकी उत्पादों को बराबर की छूट देगा। उन्होंने कहा था कि भारत में पाबंदियों की वजह से अमेरिका को व्यापारिक नुकसान हो रहा है। भारत जीएसपी के मापदंड पूरे करने में नाकाम रहा है। अमेरिका ने पिछले साल अप्रैल में जीएसपी के लिए तय शर्तों की समीक्षा शुरू की थी। जिसके बाद ये फैसला किया गया था। ट्रंप से इसपर चर्चा करेंगे मोदी माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी दौरे के समय जीएसपी पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से चर्चा कर सकते हैं। ऐसे में संभावना है कि दोनों नेता इस दौरान लंबे समय से विवाद का कारण बने व्यापारिक मुद्दों पर समझौते भी करेंगे। जाए, ताकि दोनों देशों के बीच व्यापारिक समझौते आसानी से हो सकें। विज्ञापन सांसदों ने अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइटहाइजर को लिखे पत्र में कहा है कि भविष्य को ध्यान में रखते हुए हमें अपने उद्योगों के लिए बाजारों की उपलब्धता सुनिश्चित करानी होगी। कुछ छोटे मुद्दों की वजह से इस पर असर नहीं पड़ना चाहिए। अमेरिका को भी नुकसान कांग्रेस (संसद) सदस्य जिम हाइम्स और रॉन एस्टेस की तरफ से लिखे पत्र में 26 डेमोक्रेट्स और 18 रिपब्लिकन सासंदों ने हस्ताक्षर किए हैं। कोलिशन फॉर जीएसपी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डैन एंथनी का कहना है कि भारत से जीएसपी दर्जा छीने जाने के बाद से ही अमेरिकी कंपनियां संसद को नौकरियों और आमदनी के नुकसान के बारे में बता रही हैं। एंथनी के अनुसार, भारतीय निर्यातकों की हालत जीएसपी हटने के बाद भी बेहतर है, जबकि अमेरिकी कंपनियों को प्रतिदिन दस लाख डॉलर (सात करोड़ रुपये) नए टैरिफ के तौर पर चुकाने पड़ रहे हैं। नए आंकड़ों के अनुसार, अकेले जुलाई में ही अमेरिकी कंपनियों को तीन करोड़ डॉलर (214 करोड़ रुपये) का नुकसान हुआ है। अमेरिका का जीएसपी कार्यक्रम क्या है ? अभी तक भारत जीएसपी के तहत सबसे बड़ा लाभार्थी देश माना जाता था, लेकिन ट्रंप प्रशासन की यह कार्रवाई नई दिल्ली के साथ उसके व्यापार संबंधी मुद्दों पर सख्त रवैये को दिखा रही है। जीएसपी को विभिन्न देशों से आने वाले हजारों उत्पादों को शुल्क मुक्त प्रवेश की अनुमति देकर आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया था। बता दें कि साल 2017 में जीएसपी के तहत भारत ने अमेरिका को 5.6 अरब डॉलर से अधिक का कर-मुक्त निर्यात किया था। भारत को इस सूची से क्यों बाहर किया गया? ट्रंप ने भारत को सूची से बाहर करते हुए कहा था कि उन्हें भारत से यह भरोसा नहीं मिल पाया है कि वह अपने बाजार में अमेरिकी उत्पादों को बराबर की छूट देगा। उन्होंने कहा था कि भारत में पाबंदियों की वजह से अमेरिका को व्यापारिक नुकसान हो रहा है। भारत जीएसपी के मापदंड पूरे करने में नाकाम रहा है। अमेरिका ने पिछले साल अप्रैल में जीएसपी के लिए तय शर्तों की समीक्षा शुरू की थी। जिसके बाद ये फैसला किया गया था। ट्रंप से इसपर चर्चा करेंगे मोदी माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी दौरे के समय जीएसपी पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से चर्चा कर सकते हैं। ऐसे में संभावना है कि दोनों नेता इस दौरान लंबे समय से विवाद का कारण बने व्यापारिक मुद्दों पर समझौते भी करेंगे। विज्ञापन आगे पढ़ें विज्ञापन और पढो: Amar Ujala

UNHRC चीफ़ ने CAA और दिल्ली हिंसा पर जताई चिंता



मनोज तिवारी का हमला- 'ताहिर हुसैन ने काफी पहले कर ली थी दिल्ली के दंगों के लिए तैयारी'

राष्ट्रगान नहीं गा पाए कन्हैया कुमार, अंतिम दो लाइन में कर गए 'झोल'



दिल्‍ली हिंसा: जावेद अख्‍तर ने कर दिया ऐसा ट्वीट, लोग पूछ रहे सवाल

मुस्लिमों की गरीबी और बेरोजगारी की समस्या को खत्म कर रहे हैं पीएम मोदी : उमा भारती



बर्नी सैंडर्स ने दिल्ली हिंसा पर ट्रंप के बयान की निंदा की, कहा- मानवाधिकार पर नेतृत्व की विफलता

DNA ANALYSIS: अंकित शर्मा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट किसी के भी रोंगटे खड़े कर सकती है



PMOIndia narendramodi Teri ma ki chut

कच्चे तेल को लेकर खाड़ी के बिगड़े हालात, भारत किसी भी असर से निपटने को तैयारखाड़ी के हालात के मद्देनजर क्रूड की कीमत बढ़ कर 100 डॉलर प्रति बैरल के पार जाने की आशंका जताई है। यह भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।sk कीमत मत बढाइये और 200% टैक्स की लूट बन्द करिये। Bhakto tyarr raho ye pure desh bik chuka hai बाँस से उत्तम इथेनॉल बनाने की तकनीक का उपयोग कर ईंधन उत्पादन में आत्मनिर्भरता प्राप्त करना समस्या का स्थायी समाधान है ।

हैदराबाद के निज़ाम के अरबों रुपयों को लेकर भारत-पाक में टकरावनिज़ाम के वित्त मंत्री ने लाखों पाउंड ब्रिटेन में पाकिस्तान के उच्चायुक्त को दिए थे. इन पैसों को वापस पाने के लिए निज़ाम क़ानूनी जंग लड़ रहे हैं. L le lo mera Bas har jagah Aag lagane ka kaam karte ho kya BC 😠😠 Jahan paise dekhe nahi Ye Pakistan Katora hath me lekar pahuch jaata hai😂😂

KTM 790 Duke भारत में 23 सितंबर को होगी लॉन्च, जानें- खासियत - Business AajTakभारत में KTM 790 Duke बाइक 23 सितंबर को लॉन्च होने जा रही है. इस बाइक का लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था. KTM इंडिया ने लॉन्चिंग mandi h desh me chamche hi khrid sakte h Lol bhencho yahan tel bharane ko paise nahi hai .. KTM indians ko chutiyam bnane chali

सऊदी अरामको पर हुए हमले से भारत में डीजल और पेट्रोल के दाम में आया उछालसऊदी अरामको पर हुए हमले से भारत में डीजल और पेट्रोल के दाम में आया उछाल Saudi SaudiAramco SaudiOilAttacks saudiattack petroleum PetrolPrices petrol Diesel

मोदी को तोहफे में मिला फोटो स्टैंड, चांदी का कलश एक-एक करोड़ में बिकाऊंची कीमतों पर बेचे जाने वाले अन्य स्मृति चिन्हों में अपने बछड़े को दूध पिलाती एक गाय की धातु की मूर्ति शामिल है। इसका आधार मूल्य 1500 रुपये था और इसकी 51 लाख रुपये में नीलामी हुई narendramodi Sir please donate some amount to jaisalmer district to enlarge the campaign beti bachao beti padhao and say no to child marriages. Csr is 854.astage of crying. narendramodi लगता है अब मन्दी दूर हो जाएगी। narendramodi

VIDEO: हवा से हवा में नेस्तानाबूत करने में सक्षम है यह मिसाइल, परीक्षण में हुआ पासह मिसाइल (Missile) हवा से हवा में मार करने में सक्षम है. पश्चिम बंगाल एयर बेस से सोमवार को सुखोई-30एमकेआई (Su-30MKI) लड़ाकू विमान से इस मिसाइल (Missile) का सफल परीक्षण किया गया. 🙏🙏🙏🙏🚩🚩🚩🚩 fawadchaudhry देखों एक और ।😄 DRDO_India Jindabad. Jai PMOIndia सरकार । PM के जन्म दिन की हार्दिक शुभकामनाएँ दीर्घायु स्वस्थ जीवन सौ वर्षों से भी आगे । महाकाल भगवान शिव कृपा करेंगे । जय भारत पुत्र narendramodi ji जय BJP4India जय RSSorg , बंदे मातरम ।



Delhi Violence: सोनिया गांधी,ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ HC में याचिका, FIR दर्ज करने की मांग

दिल्ली हिंसा पर सुनवाई करने वाले जस्टिस एस. मुरलीधर का तबादला

दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग

दिल्ली हिंसा: मुसलमानों ने जब मंदिर को दंगाइयों से बचाया

ताहिर हुसैन ने कहा- मैं तो दंगे रोक रहा था

हमारे अल्पसंख्यक बराबर के नागरिक: इमरान ख़ान

जस्टिस एस मुरलीधर के तबादले की टाइमिंग पर घिरी मोदी सरकार, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दी सफाई

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

18 सितम्बर 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

INDvsSA: दक्षिण अफ्रीका को धूल चटाने उतरेगी टीम इंडिया, ऐसी हो सकती है प्लेइंग XI

अगली खबर

उद्धव ठाकरे ने कहा: अगर सावरकर देश पहले प्रधानमंत्री बने होते तो पाकिस्तान नहीं होता
UNHRC चीफ़ ने CAA और दिल्ली हिंसा पर जताई चिंता मनोज तिवारी का हमला- 'ताहिर हुसैन ने काफी पहले कर ली थी दिल्ली के दंगों के लिए तैयारी' राष्ट्रगान नहीं गा पाए कन्हैया कुमार, अंतिम दो लाइन में कर गए 'झोल' दिल्‍ली हिंसा: जावेद अख्‍तर ने कर दिया ऐसा ट्वीट, लोग पूछ रहे सवाल मुस्लिमों की गरीबी और बेरोजगारी की समस्या को खत्म कर रहे हैं पीएम मोदी : उमा भारती बर्नी सैंडर्स ने दिल्ली हिंसा पर ट्रंप के बयान की निंदा की, कहा- मानवाधिकार पर नेतृत्व की विफलता DNA ANALYSIS: अंकित शर्मा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट किसी के भी रोंगटे खड़े कर सकती है पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे का कुबूलनामा, कभी मैं भी था नरेंद्र मोदी से प्रभावित दिल्ली हिंसा: ताहिर हुसैन के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज - LIVE हिंदू-मुस्लिम युवकों ने एकजुट होकर दंगाइयों को रोका, बचा लिया दुर्गा माता मंदिर आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ हत्या, हिंसा और आगजनी का केस दर्ज दिल्ली हिंसा: ताहिर हुसैन पर हत्या का केस, AAP ने किया सस्पेंड
Delhi Violence: सोनिया गांधी,ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ HC में याचिका, FIR दर्ज करने की मांग दिल्ली हिंसा पर सुनवाई करने वाले जस्टिस एस. मुरलीधर का तबादला दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग दिल्ली हिंसा: मुसलमानों ने जब मंदिर को दंगाइयों से बचाया ताहिर हुसैन ने कहा- मैं तो दंगे रोक रहा था हमारे अल्पसंख्यक बराबर के नागरिक: इमरान ख़ान जस्टिस एस मुरलीधर के तबादले की टाइमिंग पर घिरी मोदी सरकार, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दी सफाई रविशंकर प्रसाद की दो टूक- CAA पर हम पीछे नहीं हटेंगे, ये नरेंद्र मोदी की सरकार है दिल्‍ली में हिंसा के लिए गृह मंत्रालय जिम्‍मेदार, अमित शाह को इस्‍तीफा देना चाहिए: सोनिया गांधी दिल्ली हिंसा पर आया अमेरिकी सांसदों का बयान, कहा- दुनिया देख रही है, ऐसे कानून को बढ़ावा नहीं देना चाहिए जो.... दिल्ली में हुई हिंसा पर बोले सीएम केजरीवाल- 'बाहरी थे दंगाई', अब नफरत की राजनीति बर्दाश्त नहीं की जाएगी दिल्ली हिंसा: 11 दिन पहले दूल्हा बने अशफ़ाक़ को 5 गोली मारी