भारत-चीन संबंध, भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का परीक्षण किया, अग्नि-5 मिसाइल ने उड़ाई चीन की नींद, अग्नि-5 मिसाइल टेस्‍ट से चीन परेशान, अग्नि-5 मिसाइल का परीक्षण, İndia Tested Agni-5 Missile, Apj Abdul Kalam Island, Agni-5 Missile Test Troubled China, Agni-5 Missile Test, Agni V Test-Fired, भारत Samachar

भारत-चीन संबंध, भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का परीक्षण किया

भारत को न उकसाना... अग्नि-5 का सफल टेस्‍ट कैसे चीन को दो-टूक संदेश!

अग्नि-5 की आग से क्‍यों फुंक गया है चीन... ऐसा क्‍या है मिसाइल में जिसने उड़ा दी है ड्रैगन की नींद via @NavbharatTimes

27-10-2021 21:12:00

अग्नि-5 की आग से क्‍यों फुंक गया है चीन... ऐसा क्‍या है मिसाइल में जिसने उड़ा दी है ड्रैगन की नींद via NavbharatTimes

अग्नि-5 का सफल परीक्षण कर भारत ने अपनी ताकत और क्षमता की धमक दुनियाभर को सुना दी है। चीन के साथ खट्टे रिश्‍तों के बीच यह टेस्‍ट काफी अहम है। इस मिसाइल परीक्षण से भारत ने चीन को साफ संदेश दे दिया है।

भारत ने बुधवार को अग्नि-5 का सफल परीक्षण किया। इसकी धमक दुनियाभर ने सुनी। लेकिन, सबसे ज्‍यादा फुंका चीन होगा। ऐसा होना लाजिमी भी है। अग्नि-5 के सफल परीक्षण के बाद चीन का लगभग कोई शहर नहीं है जो भारतीय मिसाइल की जद से बाहर हो। इसका मतलब सीधा है। अगर चीन ने ईंट मारने की हिमाकत की तो जवाब पत्‍थर से दिया जाएगा। इतिहास गवाह है कि भारत ने जंग के मामले में कभी अग्‍गी नहीं की है। लेकिन, जब उस पर जंग थोपी गई है तो उसने दुश्‍मन का मुंह धुआं करने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी है।

बिहार: 16 लोगों की आंखें क्यों निकाली गईं, अब क्या है उनका हाल - BBC News हिंदी कार्टूनः पाकिस्तान से आया प्रदूषण और क्या महंगाई भी? - BBC News हिंदी दिल्ली में राहुल गांधी से मिले सिद्धू मूसेवाला: मशहूर पंजाबी सिंगर ने सुबह चंडीगढ़ में जॉइन की थी कांग्रेस, सिद्धू, मंत्री वड़िंग और चौधरी भी पहुंचे

यह शक्ति परीक्षण कई मायनों में महत्‍वपूर्ण है। चीन खुलकर धौंस जमाने पर उतारू है। आसपास के छोटे मुल्‍कों को वह धन-बल की गर्मी दिखा रहा है। तो आतंकियों को पालने-पोसने के लिए विश्‍व विख्‍यात पाकिस्‍तान को भी भारत के खिलाफ ऑक्‍सीजन दे रहा है। अग्नि-5 का सफल टेस्‍ट सीधे-सीधे चीन को संदेश है। इसका किसी और से कोई लेनादेना नहीं है। कारण है कि चीन सिर्फ और सिर्फ ताकत की भाषा समझता है। उससे विनम्रता फिजूल है।

अग्नि-5 में क्‍या है खास?अग्नि-5 को डीआरडीओ और भारत डायनेमिक्स लिमिटेड ने तैयार किया है। ए.पी.जे. अब्दुल कलाम द्वीप से भारत ने इसका सफल परीक्षण किया। यह परमाणु सक्षम और सतह से सतह पर 5,000 किलोमीटर रेंज तक मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल है। दुश्मन के किसी भी शहर को यह देखते ही देखते नेस्तनाबूद कर सकती है। इसका वजन करीब 50 हजार किलोग्राम है। मिसाइल 1.75 मीटर लंबी है। इसका व्यास 2 मीटर है। यह अपने साथ 1.5 टन वॉरहेड ले जाने में समर्थ है। इसका मतलब हुआ कि यह मिसाइल 1500 किलोग्राम तक के परमाणु हथियार अपने साथ ले जा सकती है। headtopics.com

5000 किमी तक दुश्मन का सफाया करने वाली अग्नि-5 का सफल परीक्षण, भारत की इस कामयाबी के बारे में सबकुछइसका निशाना अचूक है। भारतीय इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) अपनी सबसे तेज गति से 8.16 किलोमीटर प्रति सेकेंड की रफ्तार से चलने वाली ध्वनि की गति से 24 गुना तेज है। यह 29,401 किलोमीटर प्रति घंटे की हाई स्‍पीड हासिल कर सकती है। इसे मोबाइल लॉन्चर से लॉन्च किया जा सकता है।

आईसीबीएम में किसी मिसाइल को कुछ खास पैमाने पूरा करने पर ही जगह मिलती है। देखा जाता है कि इन मिसाइलों की रेंज इतनी है कि वो एक कॉन्टि‍नेंट यानी महाद्वीप को पार कर दूसरे महाद्वीप तक पहुंच सकती हैं कि नहीं। अग्नि-5 इस पैमाने पर खरी उतरती है। अग्नि-5 मिसाइल की एक और खूबी यह है कि इसमें मेनटिनेंस की जरूरत कम है। साथ ही इसका ट्रांसपोर्टेशन भी आसान है।

इन्‍हीं बातों से दुश्‍मन में खौफअग्नि-5 की इतनी सारी खूबियों के कारण ही चीन में खौफ है। वह दुनियाभर में चिल्‍लाता घूम रहा है। खुद तो वह अपनी सैन्‍य क्षमता बढ़ाता जा रहा है, लेकिन यह चाहता है कि भारत हाथ पर हाथ धरे बैठा रहे। भारत ने इस मिसाइल के 'एक्‍सीपेंरिमेंटल टेस्‍ट' पूरे कर लिए थे। हालांकि, 'यूजर टेस्‍ट' नहीं किया था। बुधवार को उसने ऐसा कर लिया।

चीन को मिर्ची इसी बात से लगी है। इसे लेकर चीन संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में चुगली तक कर चुका है। उसने आरोप लगाया है कि भारत की इस मिलाइल की रेंज कहीं और ज्‍यादा है। वह इसे घटाकर दिखा रहा है। उसने यह भी कहा है कि इस मिसाइल की टेस्टिंग पर रोक लगाने की जरूरत है। ऐसा नहीं हुआ तो हथियारों की होड़ तेज होगी। यह क्षेत्र की स्थिरता के लिए सही नहीं होगा। यह भी आरोप मढ़ा है कि भारत एशिया में शांति के वातावरण को खराब करना चाहता है। headtopics.com

अफसरों पर सख्त हुई मोदी सरकार: अचल संपत्ति के मामले में आईएएस-आईपीएस बतायें कहां से और कैसे मिली 'प्रॉपर्टी' अखिलेश यादव का कांग्रेस पर पलटवार – ‘इस चुनाव में कांग्रेस को 0 सीटें मिलेंगी’ - BBC Hindi विराट कोहली आउट थे या नहीं? एलबीडब्ल्यू आउट दिए जाने पर छिड़ी बहस - BBC News हिंदी

Hypersonic Missile: पेलोड क्षमता ही इनको बनाती है खतरनाक, हाइपरसोनिक मिसाइल के बारे में सबकुछ जानिएदिखावा कर रहा चीनवहीं, जानकार मानते हैं कि चीन का दुनियाभर में हंगामा मचाना सिर्फ दिखावा है। असली दिक्‍कत यह है कि अग्नि-5 के कारण अब उसके सभी शहर भारत की जद में हैं। इसी बात से उसे पेट में दर्द है। दूसरी अहम बात है कि यह भारत को दु‍निया के सबसे शक्तिशाली मुल्‍कों में खड़ा कर देता है। अभी सिर्फ पांच देश ही ICBM होने का दम भरते हैं। इनमें अमेरिका, रूस, ब्रिटेन, फ्रांस और चीन शामिल हैं। चीन की चिंता इसी बात से है।

पिछले साल अप्रैल में पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़पों के बाद से भारत और चीन के रिश्‍तों में खटास है। चीन यह हंगामा तब मचा रहा है जब पहले ही उसके पास डोंग फेंग-41 जैसी मिसाइलें हैं जो 12 हजार से 15 हजार किमी की रेंज में अटैक कर सकती हैं।

चीन को दो-टूक संदेशरक्षा जानकारों का कहना है कि इस मिसाइल का पाकिस्‍तान से कोई लेना-देना नहीं है। यह चीन केंद्रित है। अग्नि मिसाइल प्रोग्राम कोई नया नहीं है। बस, इसे फास्‍ट ट्रैक किया गया है। दरअसल, चीन ताकत की भाषा समझता है। उसे विनम्रता की भाषा नहीं समझ आती है। पूरी दुनिया की नजरें आज भारत पर हैं कि वह चीन को कैसे जवाब देता है। अग्नि-5 का सफल परीक्षण उसे मुफीद जवाब है। खासतौर से यह देखते हुए कि वह किस तेजी के साथ हाल में धड़ाधड़ मिसाइलों का परीक्षण कर रहा है।

रुका नहीं है डीआरडीओ और पढो: NBT Hindi News »

छात्रों से मिले 51 हजार बिजनेस आइडिया, देखें Business Blasters Programme पर क्या बोले Sisodia

दिल्ली सरकार की नई योजना स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में उद्यमी एवं व्यावसायिक क्षमता को विकसित करने वाले बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आजतक से खास बातचीत की है. इस दौरान उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और कई तरह के अनूठे आइडिया दे रहे हैं. इसकी सफलता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भविष्य में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को भी इस प्रोग्राम से जोड़ने की योजना बनाई है. साथ में दिल्ली सरकार के कॉलेजों में भी प्रोग्राम को ले जाने की तैयारी है. देखिए ये वीडियो.

चाटुकारमीडिया भूल जाता है कि अग्नि मिसाईल भारत की सेना में 15-20 साल से है। अगर चीन उससे डरता तो लद्दाख में भारत की सीमा में न घुसता। बस, ऐसे ही फ़ेंकम फेंक करते रहना, अभी 7 साल में फेंकने से पेट नहीं भरा है तुम लोगों का।

अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण, जद में पूरा चीन और पाकिस्तानभारत ने आज एक नई कामयाबी हा‍सिल की है। भारत ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 को आज यानी बुधवार को ओडिशा के एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से सफलतापूर्वक लांच किया। इस काययाबी से भारतीय सेना की ताकत और बढ़ेगी। बैलिस्टिक मिसाइल अग्नि-5 की जद में अब पूरा चीन और पाकिस्‍तान होगा।

चीन का पैंतरा: अफगानिस्तान को दिए 10 लाख डॉलर, 50 लाख और देने का किया वादाचीन ने युद्धग्रस्त देश अफगानिस्तान को 10 लाख अमेरिकी डॉलर उपलब्ध कराए हैं। यह जानकारी समाचार एजेंसी एएनआई ने टोलो न्यूज

सऊदी अरब में इमरान ख़ान ने भारत की हार को यूं बताया - BBC News हिंदीइमरान ख़ान सऊदी अरब के दौरे पर हैं लेकिन उनके भाषण में भारत के ख़िलाफ़ पाकिस्तान की टी-20 वर्ल्ड कप में ऐतिहासिक जीत की बात तंज़ के तौर पर आई. इस तंज़ के बाद ख़ूब तालियां बजीं. यही बात यदि भारतीय प्रधानमंत्री ने की होती तो पता नहीं कितने विश्लेषण लेख बीबीसी इस पर छाप चुका होता । एक पाकिस्तानी पी एम एवं एक भारतीय पी एम मे यहीं अन्तर हमेशा से रहा है। दोनो देशों की सोच मे भी इसी प्रकार का अंतर है। यही कारण है आज भारत की हर वैश्विक पटल उपस्थिति एवं पुछ परख बढती जा रही है। भारत एक परिपक्व देश के रुप मे अपना स्थान रखता है। बहुत मज्जा आया ?

Aryan Khan Drug Case: आर्यन खान को नहीं मिली जमानत, 28 अक्तूबर को फिर होगी सुनवाईड्रग्स केस में करीब तीन घंटे की सुनवाई के बाद भी बुधवार को फैसला नहीं हो सका। बॉम्बे हाई कोर्ट ने आर्यन खान की जमानत Nawab Malik and oppositions are trying to cover Drugs lobby by raising bogus allegation against I.O. of NCB, the central government must intervene in the matter...

चीन का नया सीमा कानून: छह देशों से टकराने को तैयार ड्रैगन, भारत के खिलाफ तिब्बत में बसे लोगों के इस्तेमाल की क्या है साजिश?चीन का नया सीमा कानून: छह देशों से टकराने को तैयार ड्रैगन, भारत के खिलाफ तिब्बत में बसे लोगों के इस्तेमाल की क्या है साजिश? China BorderLaw IndiavsChina BorderDispute LAC Ladakh

T20 World Cup SemiFinal: भारत को मिला पाकिस्तान का साथ, न्यूजीलैंड को हराया तो सेमीफाइनल में जगह पक्कीT20WorldCupSemiFinal : भारत को मिला पाकिस्तान का साथ, न्यूजीलैंड को हराया तो सेमीफाइनल में जगह पक्की T20WorldCup PakvsNz एक मेच हारे तो मुस्लिम होने के कारण शामी को गालियां दी पाकिस्तान परस्त बता दिया गधे अंधभक्तों ने,अब अमर उजाला तो भारत को मिला पाकिस्तान का साथ चला रहा है। दोगलों खाजपा वालों अब क्या मुंह दिखाओगे?