Scientists, Searching, Mystery, Happened, Beginning, Origin, Universe, Understanding, Laboratory, Requires, Considerable, Amount, Energy, Precision, Scientists

Scientists, Searching

ब्रह्मांड की उत्पत्ति का पता लगाने की कोशिश

ब्रह्मांड की उत्पत्ति का पता लगाने की कोशिश

21-06-2021 21:50:00

ब्रह्मांड की उत्पत्ति का पता लगाने की कोशिश

ब्रह्मांड की उत्पत्ति की शुरुआत में क्या हुआ था- इस रहस्य की तलाश में वैज्ञानिक अरसे से जुटे हुए हैं। प्रयोगशाला में ब्रह्मांड की उत्पत्ति के बारे में समझने के लिए अच्छी-खासी मात्रा में ऊर्जा व सटीकता की आवश्यकता होती है।

और पढो: Jansatta »

स्पेशल रिपोर्ट: आखिर आतंकियों ने क्यो बदल ली Kashmir में 'Terror-Toolkit'?

कश्मीर में गैर-कश्मीरियों की टारगेट किलिंग यानी हमले पर बदला कब होगा? क्या घाटी में आतंकी साजिश के बीच भारत और पाकिस्तान के बीच मैच रद्द होना चाहिए? आज कश्मीर के हालात को लेकर देशभर में गुस्सा हैं, आक्रोश है ऐसे में हम इन सवालों के जवाब तलाशेंगे. दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक में मीटिंगों का दौर जारी है. नैशनल सिक्यॉरिटी स्ट्रैटिजी कॉन्फ्रेंस के कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह सभी राज्यों के डीजीपी-आईजी और इंटेलिजेंस एजेंसियों के चीफ के साथ मुलाकात कर रहे हैं. आज की मीटिंग क्यों कश्मीर के लिए अहम है, जानने के लिए देखिए स्पेशल रिपोर्ट.

Ye kaam India toi nahi kar raha hoga

पंजाब की सियासत : गठबंधन की अटकलों पर विराम, भाजपा में प्रत्याशियों की खोज शुरूपंजाब की सियासत : गठबंधन की अटकलों पर विराम, भाजपा में प्रत्याशियों की खोज शुरू Punjab BJP PunjabElections AkaliDal BSP BJP4Punjab

ईरान में राष्ट्रपति पद के चुनाव में कट्टरपंथी न्यायपालिका प्रमुख रईसी की जीतईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्ला अली खामेनेई के कट्टर समर्थक एवं कट्टरपंथी न्यायपालिका प्रमुख इब्राहीम रईसी पहले ऐसे ईरानी राष्ट्रपति होंगे, जिन पर पदभार संभालने से पहले ही अमेरिका प्रतिबंध लगा चुका है. उन पर यह प्रतिबंध 1988 में राजनीतिक क़ैदियों की सामूहिक हत्या के लिए तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना झेलने वाली ईरानी न्यायपालिका के मुखिया के तौर पर लगाया गया था. Kai deshon me kattarpanthi vichardhara ke logon ko rastrapramukh chuna ja raha.kya ye 21st century hai ya.... सबसे ज्यादा खुशी तो तुम लोगों को हुआ होगा क्योंकि तुम लोग यही तो चाहते हो कि सबसे बड़ा आतंकी राष्ट्रपति बने प्रधानमंत्री बने खुशी आपको ही मुबारक हो

गृहमंत्री से राज्यपाल की डबल मीटिंग, क्या Bengal में किसी बड़ी लड़ाई की हो रही तैयारी?क्या पश्चिम बंगाल में भी आगे किसी बड़ी लड़ाई की तैयारी की जा रही है? इस बात की चर्चा गृहमंत्री अमित शाह और राज्यपाल जगदीप धनखड़ की मुलाकात के बाद से हो रही है. दिल्ली के दौरे पर आए जगदीप धनखड़ ने गृहमंत्री अमित शाह से तीन दिनों में दो बार मुलाकात की. माना जा रहा है कि दोनों के बीच पश्चिम बंगाल के मौजूदा हालात और कानून-व्यवस्था की स्थिति पर चर्चा हुई है. बंगाल में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर जगदीप धनखड़ और ममता बनर्जी पहले ही आमने सामने हैं. तो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जगदीप धनखड़ पर कई बार हमला बोल चुकी हैं. देखें वीडियो. ये तो जाहिर है कि बंगाल में सबकुछ ठीक नहीं है।पूरा प्रशासन एक वर्ग विशेष के प्रभाव में काम कर रहा है। शर्माजी के बालों की सेहत कैसे सुधरी शर्माजी बाल रंगते नही तेलभी लगाते,नही! पिता अस्पताल मे,तो कोरोना काल था शर्माजी घर मे घुसते ही गर्म पानी से Lifebuoy Total 10 - HANDWASH तरल से नहाते! फिर इस से सिर धोना जारी रहा! 6माह मे काफी ज्यादा नऐ बाल आगऐ अब बाल वाले हैं! जनहित जानकारी!!

Gold Price: हालमार्क की हड़बड़ी में फीकी पड़ी चमक, सोने के दाम में आई गिरावटबिना हालमार्क वाली ज्वैलरी बेचने की जल्दबाजी के कारण इस माह सोने का भाव दो हजार रुपये प्रति 10 ग्राम तक गिर चुका है। सराफा कारोबारियों को 31 अगस्त तक ही बिना हालमार्क वाले जेवर बेचने की छूट मिली है। सोने की ज्वेलरी में मिलावट रोकने के लिए हालमार्क बहुत अच्छा नियम है, आजादी के 70 साल बाद जाकर इतनी बड़ी लूट को रोकने के लिए ज्वेलरी के मानकीकरण को अनिवार्य किया गया। पर पिछली लोकतांत्रिक जनता की हितैषी सरकारों ने जनता को इस खुलेआम हो रही लूट से बचाने की कोई सार्थक कोशिश नहीं की।

अयोध्या में एक और जमीन विवाद, 20 लाख की जमीन ढाई करोड़ में बेचने का आरोपआरोप है कि जिस नए जमीन लेनदेन के बारे में खुलासा हुआ है, उसमें अयोध्या के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय के भांजे दीप नारायण उपाध्याय की भूमिका है।

करो या मरो वाले मैच में जीती बाबर आजम की टीम, प्लेऑफ में पहुंची कराची किंग्सगत चैंपियन कराची के लिए यह करो या मरो वाला मुकाबला था। इस जीत के साथ उसके 14 अंक हो गए। कराची की टीम अंकों के मामले में तो लाहौर कलंदर्स के बराबरी पर थी, लेकिन नेट रन रेट में आगे निकल गई।