बैठक: एटमी समझौते पर बातचीत से पहले ईरान की शर्त, पहले पाबंदी हटाएं

बैठक: एटमी समझौते पर बातचीत से पहले ईरान की शर्त, पहले पाबंदी हटाएं #Iran #Nuclear #America

Iran, Nuclear

27-11-2021 22:55:00

बैठक: एटमी समझौते पर बातचीत से पहले ईरान की शर्त, पहले पाबंदी हटाएं Iran Nuclear America

यूरोप के विएना शहर में वैश्विक महाशक्तियों के बीच जहां एटमी वार्ता एक बार फिर से शुरू होने वाली है वहीं ईरान ने इसके

बता दें कि सोमवार को अमेरिका और ईरान के बीच होने वाली इस परोक्ष बैठक में दुनिया के दूसरे प्रमुख और ताकतवर देश भी शामिल होंगे। इस बैठक का मकसद अमेरिका-ईरान को 2015 के समझौते के तहत साथ लाना है। पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 2018 में इस समझौते को तोड़कर ईरान पर गंभीर पाबंदियां लगा दी थीं।

UP Opinion Poll Live Updates: BJP और Samajwadi Party में कड़ी टक्कर? | UP Assembly Election 2022

इसके बाद शिया-बहुल देश ईरान ने यूरेनियम संवर्धन बढ़ा दिया। हालांकि इसका नतीजा यह भी हुआ कि ईरान आर्थिक मोर्चे पर बुरी तरह से पिछड़ता जा रहा है।हुसैन अमीर-अब्दोलाहियन ने टेलीफोन पर बातचीत के दौरान यूरोपीय संघ के विदेश नीति प्रमुख जोसेफ बोरेल से कहा कि ईरान अपने ऊपर लगी सारी पाबंदियां हटाना चाहता है। उन्होंने कहा, यदि विरोधी पक्ष अपने दायित्वों को पूरा करने और हम पर लगाई पाबंदियां पूर्णत: हटाने को राजी हों तो यह अच्छी बात है और हम तुरंत समझौता कर सकते हैं।

प्रामाणिक समझौता चाहता है ईरानईरान के सरकारी मीडिया ने विदेश मंत्री हुसैन के हवाले से लिखा है कि ईरान एक अच्छा और प्रामाणिक समझौता चाहता है। अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के प्रमुख राफेल ग्रोसी ने इस सप्ताह तेहरान की यात्रा के बाद कहा कि कई विवादित मुद्दे अभी भी जस के तस बने हुए हैं और इनका समाधान तलाशे बिना किसी एक समझौते पर पहुंचना मुश्किल है। headtopics.com

ईरान में प्रदर्शनकारियों पर छोड़ी गई आंसू गैसईरान पर लगे प्रतिबंधों का असर देश के आर्थिक हालात पर भी पड़ रहा है जिसका देश में जबरदस्त विरोध हो रहा है। दूसरी तरफ देश में सूखा भी पड़ा हुआ है। इस पर सरकारी कार्रवाई की मांग करते हुए कई प्रदर्शनकारी पिछले कुछ दिनों से सरकार विरोधी आंदोलन चला रहे हैं।

चंद्रशेखर आज़ाद बोले- योगी आदित्यनाथ ने यूपी को किया तबाह, गोरखपुर में दूंगा चुनौती - BBC News हिंदी

शनिवार को देश के इसफाहन शहर में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी और चिड़िया मारने वाली गोलियां भी चलाईं। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच भिड़ंत भी हुई। ऑनलाइन पोस्ट एक वीडियो में प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिस पर पथराव के बाद हुई कार्रवाई में आंसू गैस के गोले और चिड़ीमार गोलियां चलाते दिखाया गया है।

बिगड़ते हालात के बीच मोबाइल सेवा भी बाधित हुई और दक्षिण-पश्चिमी शहर अहवाज भी बुरी तरह प्रभावित हुआ। प्रदर्शनकारी देश में बढ़ती महंगाई का भी विरोध कर रहे थे।विस्तार तीन दिन पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। ईरान के विदेश मंत्री अमीर-अब्दोलाहियन ने शर्त रखी है कि पहले उस पर लगे सभी तरह के प्रतिबंध हटाए जाएं उसके बाद वह भी अन्य मुद्दों पर सार्थक वार्ता जारी रखेगा।

विज्ञापनबता दें कि सोमवार को अमेरिका और ईरान के बीच होने वाली इस परोक्ष बैठक में दुनिया के दूसरे प्रमुख और ताकतवर देश भी शामिल होंगे। इस बैठक का मकसद अमेरिका-ईरान को 2015 के समझौते के तहत साथ लाना है। पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 2018 में इस समझौते को तोड़कर ईरान पर गंभीर पाबंदियां लगा दी थीं। headtopics.com

राहुल का पीएम पर वार: कहा- चीन बना रहा पैंगोंग झील पर पुल, डर है मोदी न चले जाएं उद्घाटन करने

इसके बाद शिया-बहुल देश ईरान ने यूरेनियम संवर्धन बढ़ा दिया। हालांकि इसका नतीजा यह भी हुआ कि ईरान आर्थिक मोर्चे पर बुरी तरह से पिछड़ता जा रहा है।हुसैन अमीर-अब्दोलाहियन ने टेलीफोन पर बातचीत के दौरान यूरोपीय संघ के विदेश नीति प्रमुख जोसेफ बोरेल से कहा कि ईरान अपने ऊपर लगी सारी पाबंदियां हटाना चाहता है। उन्होंने कहा, यदि विरोधी पक्ष अपने दायित्वों को पूरा करने और हम पर लगाई पाबंदियां पूर्णत: हटाने को राजी हों तो यह अच्छी बात है और हम तुरंत समझौता कर सकते हैं।

प्रामाणिक समझौता चाहता है ईरानईरान के सरकारी मीडिया ने विदेश मंत्री हुसैन के हवाले से लिखा है कि ईरान एक अच्छा और प्रामाणिक समझौता चाहता है। अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के प्रमुख राफेल ग्रोसी ने इस सप्ताह तेहरान की यात्रा के बाद कहा कि कई विवादित मुद्दे अभी भी जस के तस बने हुए हैं और इनका समाधान तलाशे बिना किसी एक समझौते पर पहुंचना मुश्किल है।

ईरान में प्रदर्शनकारियों पर छोड़ी गई आंसू गैसईरान पर लगे प्रतिबंधों का असर देश के आर्थिक हालात पर भी पड़ रहा है जिसका देश में जबरदस्त विरोध हो रहा है। दूसरी तरफ देश में सूखा भी पड़ा हुआ है। इस पर सरकारी कार्रवाई की मांग करते हुए कई प्रदर्शनकारी पिछले कुछ दिनों से सरकार विरोधी आंदोलन चला रहे हैं।

शनिवार को देश के इसफाहन शहर में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने आंसू गैस छोड़ी और चिड़िया मारने वाली गोलियां भी चलाईं। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच भिड़ंत भी हुई। ऑनलाइन पोस्ट एक वीडियो में प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिस पर पथराव के बाद हुई कार्रवाई में आंसू गैस के गोले और चिड़ीमार गोलियां चलाते दिखाया गया है। headtopics.com

बिगड़ते हालात के बीच मोबाइल सेवा भी बाधित हुई और दक्षिण-पश्चिमी शहर अहवाज भी बुरी तरह प्रभावित हुआ। प्रदर्शनकारी देश में बढ़ती महंगाई का भी विरोध कर रहे थे।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

मुर्गे से भरी पिकअप पलटी तो मची लूट, VIDEO: बेगूसराय में पुलिस को पहुंचने में 5 मिनट लगे, तब तक 300 मुर्गे भीड़ ने लूट लिए

बेगूसराय में उस वक्त अजीबोगरीब स्थिति उत्पन्न हो गई, जब मुर्गे से लदी पिकअप वैन गड्ढे में पलट गई। जैसे ही इसकी जानकारी लोगों को हुई, पिकअप से मुर्गा लूटने की होड़ लग गई। लोग जैसे-तैसे गाड़ी के ऊपर चढ़कर मुर्गा लूटने लगे। इसका वीडियो भी लोगों ने बना लिया, जो अब खूब वायरल हो रहा है। | Begusarai News; Police took 5 minutes to reach by then 300 chickens were looted by mob

157 ट्रेनें आज नहीं दौड़ेंगी ट्रैक पर, घर से निकलने से पहले चेक करें अपनी गाड़ीIndian Railways ने शनिवार 27 नवंबर को कुल 157 ट्रेनों को कैंसिल किया है। इनमें बहुत सारी ट्रेनें Local कम दूरी और एक्‍सप्रेस गाड़ी हैं। Indian Railways के मुताबिक जिन ट्रेनों को कैंसिल किया गया है उनमें 00979 KISAN SPECIAL शामिल है। Kyo nahi chalegi Log internet se nahi Jaa sakte ye trains ka control karne vale bevkufoo ko pata nahi kya?

दक्षिण अफ्रीका में टीम भेजने से पहले भारत सरकार से संपर्क करे बीसीसीआइ : अनुराग ठाकुरभारतीय क्रिकेट टीम को साउथ अफ्रीका दौरे पर न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज के बाद जाना है। इस दौरे पर जाने से पहले देश के खेल मंत्री ने आदेश दिया है कि बीससीआइ को टीम को साउथ अफ्रीका भेजने से पहले सरकार से संपर्क करना चाहिए।

दिल्ली: निगम चुनाव से पहले कांग्रेस में बड़ी सेंधमारी, AAP में शामिल होंगे मुकेश गोयलचुनावों की तैयारियों में जुटे राजनीतिक दल किसी भी सूरत में अपनी पार्टी को मजबूत करना चाहते हैं. दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस में सेंधमारी करते हुए कांग्रेस दल के नेता को झटक लिया है. नगर निगम में कांग्रेस दल के नेता मुकेश गोयल आज आम आदमी पार्टी में शामिल होंगे.

Bigg Boss 15: रितेश से पहले एक डॉन से था राखी सावंत का अफेयर, बिग बॉस के घर में किया बड़ा खुलासाBigg Boss 15: रितेश से पहले एक डॉन से था राखी सावंत का अफेयर, बिग बॉस के घर में किया बड़ा खुलासा RakhiSawant BiggBoss15

कानून बनाने से पहले नेता नहीं करते हानि-लाभ का आकलन, CJI बोले- इसी वजह से पैदा होते हैं बड़े विवादसीजेआई ने कहा कि हमें यह याद रखना चाहिए कि न्याय करने का हमारा मिशन रुक नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि नागरिकों के अधिकारों की रक्षा के लिए अपने कर्तव्य का पालन करते हुए हमें आगे बढ़ना है।

UP Election 2022: आगरा में अमर उजाला से बोलीं महिलाएं,पहले से बेहतर सुरक्षा लेकिन रात में लगता है डरUPElection2022 | आगरा में अमर उजाला से बोलीं महिलाएं,पहले से बेहतर सुरक्षा लेकिन रात में लगता है डर, देखें वीडियो BJP4UP BJP4India UPElectionWithAmarUjala VoteKaro वोटकरो BJP4UP BJP4India जब बेहतर है तो डर कैसा? Dllu media BJP4UP BJP4India आएगा तो.... . सम्झ गए होगे 😂🤣 BJP4UP BJP4India Kaunsi Suraksha