Telanganafightscorona, Coronavirusoutbreakindia, Coronawarriors, Andhra, Son, Telangana Woman 50 Rides 1400 Km On Scooty To Bring Back Son Stranded İn Andhra - कोरोनावायरस न्यूज़, कोरोनावायरस समाचार

Telanganafightscorona, Coronavirusoutbreakindia

बेटा आंध्र प्रदेश में फंसा था, घर लाने के लिए तेलंगाना की 48 साल की महिला ने 1400 किमी स्कूटी चलाई

लॉकडाउन के बीच जज्बा / बेटा आंध्र प्रदेश में फंसा था, घर लाने के लिए तेलंगाना की 48 साल की महिला ने 1400 किमी स्कूटी चलाई #TelanganaFightsCorona #CoronavirusOutbreakindia #CoronaWarriors

10-04-2020 08:13:00

लॉकडाउन के बीच जज्बा / बेटा आंध्र प्रदेश में फंसा था, घर लाने के लिए तेलंगाना की 48 साल की महिला ने 1400 किमी स्कूटी चलाई TelanganaFightsCorona CoronavirusOutbreakindia CoronaWarriors

रजिया बेगम हैदराबाद से नेल्लोर के लिए सोमवार को निकलीं और बुधवार शाम को बेटे को लेकर घर लौटींं उन्होंने बताया- सड़कें खाली थीं, कुछ इलाकों में सन्नाटा था, डर भी लगा, लेकिन हिम्मत नहीं हारी | Telangana Woman 50 rides 1400 km on scooty to bring back son stranded in Andhra

Xरजिया बेगम का बेटा 12 मार्च को आंध्र प्रदेश के नेल्लोर गया था। लॉकडाउन होने की वजह से वहीं फंस गया। स्कूटी पर बेटे निजामुद्दीन के साथ।रजिया बेगम हैदराबाद से नेल्लोर के लिए सोमवार को निकलीं और बुधवार शाम को बेटे को लेकर घर लौटींंउन्होंने बताया- सड़कें खाली थीं, कुछ इलाकों में सन्नाटा था, डर भी लगा, लेकिन हिम्मत नहीं हारी

News18 इंडिया LIVE TV - हिंदी न्यूज़ लाइव टीवी | Hindi News Live Watch Live TV Online on Hindi News Channel News18 India. लॉकडाउन: राम माधव के अनुसार 90 फ़ीसदी प्रवासी मज़दूर अपने काम की जगह पर टिके हैं लद्दाख एलएसी पर तनाव: भारत-चीन की तनातनी में लड़ाकू विमानों की एंट्री

दैनिक भास्करApr 10, 2020, 09:57 AM ISTहैदराबाद.देश में लॉकडाउन की वजह से हजारों लोग अलग-अलग इलाकों में फंसे हुए हैं। घर पहुंचने के लिए इंतजार कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला तेलंगाना में देखने को मिला। यहां एक मां ने अपने बेटे को घर लाने के लिए स्कूटी से 1400 किमी का सफर तय किया। वह निजामाबाद से आंध्र प्रदेश के नेल्लोर के लिए सोमवार को निकलीं और बुधवार शाम को बेटे को लेकर घर लौटीं। निजामाबाद से नेल्लोर की दूरी करीब 700 किमी है।

48 साल की महिला रजिया बेगम ने बताया कि मेरा छोटा परिवार है। दो बेटे हैं। पति की 15 साल पहले मौत हो गई थी। बड़ा बेटा इंजीनियरिंग ग्रेजुएट है और छोटा बेटा निजामुद्दीन अभी पढ़ाई कर रह है। वह डॉक्टर बनना चाहता है। वह नेल्लोर में था। उन्होंने बताया, 'एक महिला के लिए टू-व्हीलर पर ये सफर आसान नहीं था, लेकिन बेटे को वापस लाने की मेरी इच्छाशक्ति के आगे डर भी गायब हो गया। मैंने रोटी पैक कीं और निकल पड़ी। रात में कोई ट्रैफिक नहीं, सड़कें खाली थीं। इससे डर जरूर लगा, लेकिन मैंने हिम्मत नहीं हारी।' रजिया हैदराबाद से करीब 200 किलोमीटर दूर निजामाबाद स्थित एक सरकारी स्कूल में हेडमास्टर हैं।

निजामुद्दीन दोस्त को छोड़ने गया था, वहीं फंस गया रजिया बेगम ने बताया कि निजामुद्दीन 12 मार्च को अपने दोस्त को छोड़ने नेल्लोर गया था। इस बीच कोरोनावायरस की वजह से लॉकडाउन हो गया और वह लौट नहीं सका। बड़े बेटे को मैं भेज नहीं सकती थी, क्योंकि उसे लेकर कई आशंकाएं थीं। इसलिए फिर मैंने ही जाने का फैसला किया। उन्होंने बताया कि मैंने अपनी स्थिति स्थानीय प्रशासन और बोधान एसीपी को बताई थी। उन्होंने मुझे यह सफर करने की परमिशन दी और पास जारी किया।

आज का राशिफलपाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना और पढो: Dainik Bhaskar »

RJDainikBhaskar No helmet No number plate No petrol No lock down effect Fake news with bhaskar Maa 🤱 ki mamta aprampar Tamligipigi jamatiyo dwara kuch bhi sambhav hai What nonsense is this... Than what about lock down This means we have also leave the place and go to hometown, We suffer here and media showed them as warrier fu*king nonsense persons, Than we also required to break the lock down to reach home. aajtak IndiaToday

Achi himmat hai sahab magar Admin aur Govt kya kar rahi agar ek aurat 1400 km tak jakar aa sakthi hai to bahut sawal uth rahe hai, sab agar aise bahaduri dikhyenge to lockdown ka kya karna hai 👆🤔🙄 कही यह कोरोना फैलाने वाले गैंग से तो नहीं जाँच होनी चाहिए आखिर चची जान है.. Empowerment of women You are praising a women who violated lockdown. Where is her helmet? Her son is also not wearing mask nor using helmet but you people are making her hero. You are encouraging others to violate lockdown.

Jai hind आप इसे जज्बा कह रहे हैं जल्द ही आपको अंधभक्तो ओर गोंदी मीडिया के कोपभाजन का सामना करना होगा Don't appreciate this woman act. She done a criminal offence by breaking lockdown. Think what if everyone start bringing back their relative by this way? Lockdown will prove complete failure then. She must be punish for doing this criminal act.

इस महिला को सलाम 🙏 इसे जज़्बा नही कहते हरामखोरो,,इसको कानून की धज्जियां उड़ाना कहते है,,प्रदेशों के बॉर्डर सील है फिर भी ते मुस्लिम औरत बिना हेलमेट लगाए इतना दूर पहुच गयी,,,इसे प्रदेश सरकार की नाकामी कहते है मूर्खाधिराज,, Ye jamati log delhi se desh ke kone kone tak kaise safar kiye.🙄🙄 और लॉक डाउन कि धज्जिया उड़ाई । देश के सैंकड़ों लोग अपने घर से दूर फंसे हैं सिर्फ देश के प्रति अपने कर्तव्य के लिए। वहीं कुछ खास लोग अपने आप को संविधान और नियम कायदों से ऊपर समझकर ,अपना मतलब निकालने में लगे हैं।

अजब गजब ही लोग है!🧐🤔😜 Arrest her , अगर यह कोई हिन्दू होता तो शायद नहीं जाने दिया जाता अब इसमें करोना पाया गया फिर क्या होगा अगर यह महिला जमाती निकली फिर क्या होगा कोई जवाब है इसका या बिना सोचे समझे कुछ भी न्यूज डाल देते हो , गंवार मीडिया चाची पागल हो गई थी डॉ. बोल रहे हैं घर पर ही रहो ये गुमने निकल गई🤔🤔🤔🤔

शाबाश Break lockdown is new JAJBA , enjoy boy without mask ride 1400 km from delhi . Every women should follow har path to break lockdown to show JAJWA मां तो मां ही होती है जिसको 9 महिने अपनी कोख में रखा पाल पोस कर बड़ा किया उसके लिए 1400 किमी. क्या 14000 किमी. भी जाना पड़े तो वो पिछे नहीं हटेगी क्योंकि कोई भी मां अपने बच्चे को रोते,भूख से तड़पते, मरते बिल्कुल नहीं देख सकती।।

Salute the brave lady!! ये सही नही इससे उनको भी दिक्कत हो सकती है उनको वही सुरछित रहना चाहिए था,और ऐसी खबर आप लोगो को नही दिखानी चाहिए अभी बहुत लोग इधर उधर है हर कोई इसको देख कर आने की कोशिश करेगा What is great about breaking rules of lockdown ! Why glorify such people Dusro ke liye kya kiya ye bato, khud ke liye to janvar bhi jeete hai.

कोरोना का डर: मुंबई में कई IAS अफसरों को घर पर रहने का निर्देशदेश में कोरोना वायरस का कहर सबसे अधिक महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है. एहतियात के तौर पर मुंबई में कुछ IAS अफसरों को घर पर रहने का आदेश दिया गया है, जिस जगह ये अफसर रहते हैं वहां बीते दिन एक व्यक्ति की मौत हुई थी. sahiljoshii Yeah Sabh Crona Proof Hey lagha de public k Ram Krishna Durga K Naam vechny Public Free Hey Suti Rahy Sawarg k Rasty aur landing kidhar hoghi Bethy Darvazhy band kar Power dikha de

ट्रंप के दबाव में झुकी मोदी सरकार, 1971 में इंदिरा ने दिया था करारा जवाब: कांग्रेसकांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया है कि मोदी सरकार अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान के बाद दबाव में आ गई. दवाई की सप्लाई को लेकर कांग्रेस ने सरकार के फैसले पर सवाल उठाए हैं. patelanandk Cong ko 1971 ke siwa koi year nhi dikta h kya patelanandk इनको फिलहाल बरनोल की जरूरत है जी। patelanandk Q

भारत में कोरोना: सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी ने दिए बड़े संकेत, देश में बढ़ेगा लॉकडाउन?India News: पीएम मोदी की विपक्षी नेताओं संग कोरोना वायरस (Coronavirus in India) पर चर्चा। विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा में पीएम ने देश में कोरोना के हालात पर चर्चा की। पीएम ने बैठक में लॉकडाउन बढ़ाने के संकेत दिए हैं। देश को लॉक डाउन करने के साथ ही कुछ धर्म विशेष लोगों को भी लॉक डाउन करने की आवश्यक्ता

UP में आगरा है कोरोना का एपिसेंटर, चपेट में 75 में से 40 जिलेपिछले 24 घंटे के अंदर उत्तर प्रदेश में 49 नए केस सामने आए हैं. इसमें अकेले 19 केस तो आगरा में सामने आए हैं. आगरा में मरीजों की संख्या अब 83 हो गई है. प्रदेश के 20 फीसदी केस इसी जिले हैं. दिल्ली के जामा मस्जिद के इलाक़े में लड़के क्रिकेट खेल रहे है, मुंबई के भांडुप में बाज़ार लगा है, कोलकाता के कोले मार्केट में सड़क पर सब्ज़ी की दुकानें सजी हैं. लॉकडाउन तोड़ने के ऐसे ढेर सारे उदाहरण हैं. अपील बहुत हो गई. अब सख़्ती करने का वक़्त आ गया है. कोरोना हारेगा देश जीतेगा कोरोना से लडने मे साथ नहीं दे रहें हैं.. तो अंग्रेजो से लडने में क्या साथ दिया होगा. फिर कहते हैं.. ये देश हमारा भी है.

लॉकडाउन में घर बैठे निपटाएं बैंकिंग से जुड़े काम, इन बातों का रखें ध्यान - Business AajTakकोरोना वायरस की वजह से 14 अप्रैल तक के लिए देशभर में लॉकडाउन लागू है. ऐसे हालात में आरबीआई समेत बैंकों की ओर से लोगों को घर में

दिल्ली: डिफेंस कॉलोनी में 1 परिवार के 3 मेंबर कोरोना पॉजिटिव, घर के गार्ड पर शकदिल्ली की हाई प्रोफाइल मानी जाने वाले डिफेंस कॉलोनी इलाके में रहने वाले एक ही परिवार के 3 सदस्यों को कोरोना पॉजिटिव के मामले सामने आए हैं, जिसके बाद परिवार के सदस्य को अस्पताल में भर्ती कराया गया. इन्होंने अपने सुरक्षा गार्ड पर शंका जाहिर की है. arvindojha arvindojha कितने अफसोस बात है जो परिवार पूरे लोक डाउन का पालन कर रहा था घर में कैद होकर रह रहा था वह एक गार्ड के कारण संक्रमित हो गया क्योंकि वह गार्ड जमात में जाता था। अगर गार्ड जमात में नहीं जाता तो शायद यह परिवार भी संक्रमित नहीं होता

कोरोना अपडेटः दुनिया का 7वां सबसे अधिक कोरोना प्रभावित देश बना भारत - BBC Hindi संजय राउत ने देश में कोरोना फैलने ने लिए 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम को ठहराया जिम्मेदार, कहा... दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवालों का हो इलाज? केजरीवाल ने पब्लिक से मांगे सुझाव केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बोले- हमारे श्रमिक भाई थोड़े अधीर हो गए थे जॉर्ज फ़्लॉयड के साथ आख़िरी 30 मिनट में क्या क्या हुआ था? कर्मचारियों की सैलरी के पैसे नहीं, दिल्ली सरकार ने केंद्र से मांगे 5 हजार करोड़ रुपये चीन की चेतावनी- भारत न बने अमेरिका से जारी कोल्ड वॉर का हिस्सा कोरोना अपडेट: 'भारत बिना सोची समझी नीति की क़ीमत चुका रहा है' पापा बनने वाले हैं हार्द‍िक पंड्या, मंगेतर नताशा ने शेयर की गुड न्यूज - Entertainment AajTak भारतीय सेना ने भारत-चीन सीमा पर झड़प वाले वीडियो को प्रमाणिक नहीं माना खबरदार: नेपाल-भारत के बीच विवाद में चीन की भूमिका का विश्लेषण