Ghaziabad, Ghaziabad Murder, Ghaziabad Dobule Murder, Double Murder İn Ghaziabad, Ghaziabad Crime News, Ghaziabad Crime, Ghaziabad Police, Ghaziabad News, Ghaziabad News Today, Ghaziabad News İn Hindi, Latest Ghaziabad News İn Hindi, Ghaziabad Hindi Samachar

Ghaziabad, Ghaziabad Murder

बुजुर्ग दंपती हत्याकांड का खुलासा: बेटे रवि ने ही की थी माता-पिता की हत्या, सामने आया चौंकाने वाला सच

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के लोनी बॉर्डर थाना इलाके के बलराम नगर डी-ब्लॉक में बुजुर्ग दंपती की हत्या का पुलिस

13-06-2021 07:40:00

गाजियाबाद जिले के लोनी बॉर्डर थाना इलाके के बलराम नगर डी-ब्लॉक में बुजुर्ग दंपती की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। Ghaziabad

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के लोनी बॉर्डर थाना इलाके के बलराम नगर डी-ब्लॉक में बुजुर्ग दंपती की हत्या का पुलिस

आरोपी सारी संपति कब्जाना चाहता था। छोटे भाई गौरव की दो साल पहले मौत हुई थी। माता-पिता उसके बच्चों को संपत्ति का अहम हिस्सा देना चाहते थे।जांच में सामने आया है कि आरोपी रवि 20 साल से अपने पिता सुरेंद्र से बातचीत नहीं करता था। पूछताछ में रवि ने बताया कि उसकी अपने पिता से पटती नहीं थी। वह मां से बोलता था लेकिन पिता से नहीं बोलता था।

ओलिंपिक सिल्वर गर्ल की मां का इंटरव्यू: रियो में नाकामी के बाद हम शादी के लिए दबाव डालने लगे थे, लेकिन मीरा कहती थी- पहले मेडल फिर शादी भारत में 14 छात्रों ने पॉकेट मनी खर्च कर बनाई इलेक्ट्रिक साइकिल, 20 पैसे में चलेगी 1 किलोमीटर! अफ़ग़ानिस्तान के लिए राष्ट्रपति बाइडन ने की अहम घोषणा - BBC Hindi

मृतक दंपती अपने दूसरे बेटे की बहू को ज्यादा संपत्ति देने की बात कर रहे थे। मां भी सुरेंद्र की बातों में आकर बेटे रवि को डांट देती थी। सुबह 10:00 बजे आरोपी ने दोनों की हत्या की थी। हत्या के बाद वह चला गया था। वह चाहता था कि आसपास के लोग घर पहुंचे और पुलिस को सूचना दें। घटना के दिन आसपास का कोई भी व्यक्ति घर नहीं पहुंचा। जब कोई घर नहीं पहुंचा तो शाम के समय पीड़ित ने खुद घर पहुंच कर पुलिस को सूचना दी थी।

आपको बता दें कि लोनी बॉर्डर थाना इलाके के बलराम नगर डी-ब्लॉक में शुक्रवार को घनी आबादी के बीच सुरेंद्र सिंह ढाका (70) और उनकी पत्नी संतोष (63) की हत्या कर दी गई थी। घटना के वक्त पति-पत्नी अकेले थे। पुलिस के मुताबिक सुरेंद्र सिंह को गमछे और संतोष को प्लास्टिक के तार से गला घोंटकर मारा गया। headtopics.com

सुरेंद्र सिंह ढाका ब्याज पर पैसे देने का काम करते थे, जबकि उनकी पत्नी संतोष तीन साल पहले एएनएम के पद से रिटायर हुई थीं। दंपती के दो बेटे गौरव व रवि हैं। बड़े बेटे गौरव की करीब दो साल पहले मौत हो चुकी है। उसकी पत्नी सुमन व बेटा-बेटी और छोटे बेटे रवि की पत्नी रितु व बेटा भी में साथ रहते थे।

गौरव व रवि की पत्नियां सुमन व रितु कुछ दिनों से अपने मायके गई हुई थीं। पुलिस ने मृतक दंपती के बेटे रवि और उसके दोस्तों से पूछताछ की। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी रवि को गिरफ्तार कर हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।विस्तार ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्याकांड में बुजुर्ग दंपती के बेटे को गिरफ्तार किया है।

विज्ञापनआरोपी सारी संपति कब्जाना चाहता था। छोटे भाई गौरव की दो साल पहले मौत हुई थी। माता-पिता उसके बच्चों को संपत्ति का अहम हिस्सा देना चाहते थे।जांच में सामने आया है कि आरोपी रवि 20 साल से अपने पिता सुरेंद्र से बातचीत नहीं करता था। पूछताछ में रवि ने बताया कि उसकी अपने पिता से पटती नहीं थी। वह मां से बोलता था लेकिन पिता से नहीं बोलता था।

मृतक दंपती अपने दूसरे बेटे की बहू को ज्यादा संपत्ति देने की बात कर रहे थे। मां भी सुरेंद्र की बातों में आकर बेटे रवि को डांट देती थी। सुबह 10:00 बजे आरोपी ने दोनों की हत्या की थी। हत्या के बाद वह चला गया था।वह चाहता था कि आसपास के लोग घर पहुंचे और पुलिस को सूचना दें। घटना के दिन आसपास का कोई भी व्यक्ति घर नहीं पहुंचा। जब कोई घर नहीं पहुंचा तो शाम के समय पीड़ित ने खुद घर पहुंच कर पुलिस को सूचना दी थी। headtopics.com

अमन के लिए अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति को पद छोड़ना होगा: तालिबान - BBC Hindi दिल्ली : मेट्रो और बसें चलेंगी फुल क्षमता के साथ, 50% क्षमता के साथ खुल सकेंगे थिएटर दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना से नहीं हुई एक भी मौत, 66 नए मामले आए सामने

आपको बता दें कि लोनी बॉर्डर थाना इलाके के बलराम नगर डी-ब्लॉक में शुक्रवार को घनी आबादी के बीच सुरेंद्र सिंह ढाका (70) और उनकी पत्नी संतोष (63) की हत्या कर दी गई थी। घटना के वक्त पति-पत्नी अकेले थे। पुलिस के मुताबिक सुरेंद्र सिंह को गमछे और संतोष को प्लास्टिक के तार से गला घोंटकर मारा गया।

सुरेंद्र सिंह ढाका ब्याज पर पैसे देने का काम करते थे, जबकि उनकी पत्नी संतोष तीन साल पहले एएनएम के पद से रिटायर हुई थीं। दंपती के दो बेटे गौरव व रवि हैं। बड़े बेटे गौरव की करीब दो साल पहले मौत हो चुकी है। उसकी पत्नी सुमन व बेटा-बेटी और छोटे बेटे रवि की पत्नी रितु व बेटा भी में साथ रहते थे।

गौरव व रवि की पत्नियां सुमन व रितु कुछ दिनों से अपने मायके गई हुई थीं। पुलिस ने मृतक दंपती के बेटे रवि और उसके दोस्तों से पूछताछ की। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी रवि को गिरफ्तार कर हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।विज्ञापनआगे पढ़ेंविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

10तक: केंद्र नहीं करती दो बच्चों की नीति का समर्थन, BJP शाषित राज्यों में क्यों आया कानून?

यूपी सरकार जनसंख्या नियंत्रण नीति लेकर आ चुकी है. असम के मुख्यमंत्री भी आबादी कंट्रोल करने वाले कानून के लिए प्रबल समर्थक हैं. एमपी के कई मंत्री, विधायक मांग कर रहे हैं कि आबादी नियंत्रण कानून लाया जाए. लेकिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने संसद में लिखित जवाब दिया कि टू चाइल्ड पॉलिसी यानी दो बच्चों की नीति लाने का कोई इरादा केंद्र सरकार का नहीं है. तो जब केंद्र की सरकार ही नीति का समर्थन नहीं करती तो फिर राज्यों में बीजेपी की सरकार क्या सिर्फ धर्म के आधार पर वोटों के ध्रुवीकरण वाली राजनीति के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून का इस्तेमाल करना चाहते हैं? देखें 10तक.

विभिन्न आदेश मात्र न्यूज़ चैनल्स तक ही सीमित क्यों हैं?कृपया कोई ऑफिशियल आदेश भी जारी करें जिससे कार्य तेज गति सेहो आखिर अब किस वजह से 69K_शिक्षक_भर्ती_तृतीय_सूची जारी करने मे देर हो रही है? महोदय myogiadityanath CMOfficeUP basicshiksha_up drdwivedisatish SarvendraEdu 🙏

असम के मुख्यमंत्री की अल्पसंख्यकों के उचित परिवार नियोजन की टिप्पणी गुमराह करने वाली: विपक्षराज्य के तीन ज़िलों में अतिक्रमित भूमि से कई परिवारों को हाल में हटाए जाने का संदर्भ देते हुए मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा शर्मा ने अल्पसंख्यक समुदाय से परिवार नियोजन अपनाने की अपील की थी. विपक्षी कांग्रेस, एआईयूडीएफ तथा अल्पसंख्यक छात्र निकाय ने इस बयान को दुर्भाग्यपूर्ण, तुच्छ व भ्रामक क़रार दिया है. टिप्पणी उचित ही है। Islam woh paudha hai, jitna bhi tarsogey utna hi yeh panpaiga

IREDA ने केंद्र की 4,500 करोड़ रुपये की सौर पीएलआई योजना के लिए आमंत्रित की बोलियांबता दें कि पीएलआई योजना के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 जून 2021 है। सफल बोलीदाताओं के लिए चयन प्रक्रिया 30 जुलाई तक पूरी की जानी है। इरेडा ने 25 मई को अपनी वेबसाइट पर आवेदन दस्तावेज के लिए आमंत्रण

पुतिन की चेतावनी के बावजूद अमेरिका ने की यूक्रेन की मदद - BBC News हिंदीअमेरिका ने यूक्रेन के लिए नये सैन्य सहायता पैकेज की घोषणा की. ये मदद ऐसे समय में की गई है, जब रूस और यूक्रेन के बीच तनाव बढ़ रहा है. पुतिन कुछ नहीं कर सकता सिर्फ रेड कार्पेट पर चलने के सिवा Both are adamant 😢 मानवता का सार है ... मन में मानव भाव का प्रमाण है ... हम हैं सबके.. फिर किस भाव में संघर्ष ज्ञात है..🎭

कोरोना की दूसरी लहर में झेली ऑक्सीजन की किल्लत, अब दिल्ली के अस्पताल बन रहे 'आत्मनिर्भर'दिल्ली सरकार ने 9 अस्पतालों में 22 नए ऑक्सीजन जनरेटर प्लांट किए हैं. इन प्लांट्स की संयुक्त क्षमता 17 मीट्रिक टन है और अब तक दिल्ली में ऑक्सीजन के कुल 27 प्लांट शुरू किए जा चुके हैं. PankajJainClick After one week your reporter should have fact-check whether the oxygen plants are really working or false propaganda by AAP government.

PM Modi के साथ CM Yogi की बैठक खत्म, जानें दोनों के बीच क्या हुई बातउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज (शुक्रवार) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पीएम आवास पर मुलाकात की. सीएम-पीएम की बैठक अब खत्म हो गई है. बैठक करीब 1 घंटे तक चली. सियासी अटकलों के बीच ये बैठक काफी अहम माना जा रहा है. सीएम योगी दो दिनों के लिए दिल्ली दौरे पर हैं. वीडियो में देखें पीएम-सीएम के बीच किन मुद्दों पर बातचीत हुई. अत्यधिक निराशा के साथ आपको सूचित कर रहा हूँ, २ माह से अधिक हो गया है किन्तु मुझे अभी तक UP SCHOLARSHIP प्राप्त नहीं हुई है l शीघ्र अतिशीघ्र जाँच करवायें सत्र 2020-2021 Reg. No. 101080512000117 आप से निवेदन है मेरी सहायता करें NoVoteForBJP2022 UP69K_RELEASE_NEXT_MERIT_LIST myogiadityanath UPGovt drdwivedisatish basicshiksha_up CMOfficeUP anandibenpatel myogioffice ndtv prashant1402_ मतलब यू पी का हिन्दू अब खतरे मे आना वाला है इस बार ब्रहामण भी खतरे मे है

कोविशील्ड की खुराकों के बीच अंतराल में तत्काल बदलाव को लेकर हड़बड़ी की जरूरत नहीं :सरकारसरकार ने शुक्रवार को कहा कि कोविशील्ड टीके की दो खुराक के बीच अंतराल में तुरंत बदलाव के मामले में हड़बड़ी की जरूरत नहीं है और समयावधि बढ़ाने के लिए भारत के लिहाज से साइंटिफिक स्टडी की जरूरत होगी. कोविशील्ड की दो खुराकों के बीच अंतर को थोड़ा कम करने की वकालत करने वाले कुछ स्टडी की खबरों के संदर्भ में नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वी के पॉल ने कहा कि इस तरह की चिंताओं पर संतुलित रुख की जरूरत है. 🌈तत्काल 🇫‌🇴‌🇱‌🇱‌🇴‌🇼‌ 🇧‌🇦‌🇨‌🇰‌ 🎯 🌈पाने के लिए 🇫‌🇴‌🇱‌🇱‌🇴‌🇼‌ करके 🧿 🌈जुड़े👉🏻 ArvindY46938866 ✅ 💯%FB 🎯 🏀🌹 ArvindY46938866 🌈👉🏻 नोट 🔮फॉलो करने वालों को तुरंत फॉलो बैक दिया जाता है हडबडी करनी है तो सरकार बदलने में करो। I have a question, After vaccination against covid how doctors are looking at previous flu infections?