Ljp, Chiragpaswan, Lnjp Party, लोक जनशक्ति पार्टी, चिराग पासवान, Bihar News, Bihar Politics, 'Split İn Ljp', Big Shock To Chirag Paswan, Five Mp Ljp Leave Party, Ljp Party Break, Chirag Paswan, Bihar News İn Hindi, Latest Bihar News İn Hindi, Bihar Hindi Samachar

Ljp, Chiragpaswan

बिहार : एलजेपी में बड़ी फूट, पांच सांसदों ने छोड़ा चिराग पासवान का साथ

लोक जनशक्ति पार्टी के पांच सांसदों ने पार्टी प्रमुख और सांसद चिराग पासवान के नेतृत्व से अलग होने का फैसला कर लिया है। यह

14-06-2021 05:17:00

एलजेपी के पांच सांसदों ने पार्टी से अलग होने का फैसला कर लिया है। अब चिराग पासवान पार्टी में अकेले ही रह गए हैं। LJP chiragpaswan iChiragPaswan

लोक जनशक्ति पार्टी के पांच सांसदों ने पार्टी प्रमुख और सांसद चिराग पासवान के नेतृत्व से अलग होने का फैसला कर लिया है। यह

लोक सभा के स्पीकर ओम बिड़ला को पत्र लिखकर इसके बारे में सभी पांच सासंदों ने इसकी सूचना दी है। सूत्र बताते हैं कि इन पांच सांसदों ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला से मांग की है कि उन्हें एलजेपी से अलग मान्यता दी जाए। अगर ऐसा होता है तो इनका ये कदम चिराग के लिए बिहार की राजनीति में मुश्किल खड़ी करने वाला होगा।

भारत की हॉकी में जीत पर पाकिस्तान में इतनी चर्चा क्यों? - BBC News हिंदी जयपुर के आमागढ़ क़िले पर हिन्दू संगठन अपना झंडा क्यों फहराना चाहते हैं? - BBC News हिंदी आज का कार्टून: ये कौनसी बेटी की बात कर रहे हैं? - BBC News हिंदी

चाचा बने बागी, भाई ने भी नहीं दिया साथयह फैसला तब हुआ है जब केंद्र सरकार अपने केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार की योजना बना रही है। पार्टी के पांच सांसदों ने चिराग से अलग होने का फैसला लिया है।इनमें पासुपति पारस पासवान (चाचा), प्रिंस राज (चचेरे भाई), चंदन सिंह, वीणा देवी, और महबूब अली केशर शामिल हैं। अब चिराग पार्टी में अकेले ही रह गए हैं। पहले चार सांसदों के अलग होने की खबर आई थी।चिराग के चाचा पशुपति पारस की अगुवाई में यह टूट हुई है। उनके भाई प्रिंस भी अब अलग हो गए हैं।

केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर सियासत हुई तेजबता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा चल रही है। यह अनुमान लगाया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में बदलाव संभव है। ऐसे में लगातार सियासत तेज हो रही है। वहीं दूसरी ओर जेडीयू में भी घमासान जारी है। headtopics.com

अभी एनडीए गठबंधन में जेडीयू के 16 सांसद हैं। पिछली बार कैबिनेट विस्तार के समय जेडीयू के शामिल होने की चर्चा थी। हालांकि अंत में बात नहीं बन सकी थी। अब इधर एलजेपी में फूट की खबर ने सियासत को और तेज कर दिया है।जेडीयू में शामिल हो सकते हैं पांचों सांसदसूत्रों के मुताबिक, ये पांचों सांसद जेडीयू ज्वॉइन कर सकते हैं। बताया गया है कि ये सभी सांसद बिहार विधानसभा चुनाव के समय से चिराग पासवान से नाराज चल रहे थे। ऐसे में एलजेपी में इस फूट की अटकलें तो पहले से लगाई जा रही थीं, इंतजार तो बस उस वक्त का था जब ये सांसद ये बड़ा कदम उठाते, अब वो कदम उठा लिया गया है और एलजेपी के सामने बड़ा सियासी संकट खड़ा हो गया है।

वैसे भी बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी ने जब भाजपा-जेडीयू से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला किया था, तभी से सीएम नीतीश कुमार और उनके पार्टी के लोग चिराग से नाराज चल रहे थे। चुनाव के नतीजों ने भी साफ कर दिया कि चिराग की पार्टी की वजह से ही कई जगहों पर जेडीयू की सीटें कम पड़ गई। अब इतना सब कुछ होने के बाद अगर एलजेपी के पांच सांसदों ने जेडीयू ज्वाइन कर ली, तो ये चिराग के लिए बड़ी किरकिरी साबित होगी।

बिहार विधानसभा में शून्य पर है लोजपाबिहार में एनडीए गठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ने वाली लोजपा को बिहार विधानसभा में केवल एक ही सीट मिली थी। बाद में लोजपा विधायक राज कुमार सिंह जेडीयू में शामिल हो गए थे। अब लोजपा का बिहार विधानसभा या विधान परिषद में कोई विधायक नहीं है।

विस्तार एलजेपी में बड़ी फूट की तरफ अंदेशा लगाया जा रहा है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, रामविलास पासवान के भाई और चिराग के चाचा पशुपति पारस लोक जनशक्ति पार्टी के संसदीय दल के नेता बनाए गए हैं।विज्ञापनलोक सभा के स्पीकर ओम बिड़ला को पत्र लिखकर इसके बारे में सभी पांच सासंदों ने इसकी सूचना दी है। सूत्र बताते हैं कि इन पांच सांसदों ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला से मांग की है कि उन्हें एलजेपी से अलग मान्यता दी जाए। अगर ऐसा होता है तो इनका ये कदम चिराग के लिए बिहार की राजनीति में मुश्किल खड़ी करने वाला होगा। headtopics.com

टिकटॉक पर कौन सा राज़ खोल रहे हैं ओलंपिक एथलीट - BBC News हिंदी मध्यप्रदेश में बाढ़ ने खोली शिवराज सरकार की पोल- 3 दिन में ही बह गए करोड़ों की लागत से बने 6 पुल देसी घी के चूरमे से होगा रवि दहिया का वेलकम: ओलिंपिक में सिल्वर जीतने के बाद मां बोली-अगली बार जरूर सोना ही लेकर आएगा मेरा लाल

चाचा बने बागी, भाई ने भी नहीं दिया साथयह फैसला तब हुआ है जब केंद्र सरकार अपने केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार की योजना बना रही है। पार्टी के पांच सांसदों ने चिराग से अलग होने का फैसला लिया है।इनमें पासुपति पारस पासवान (चाचा), प्रिंस राज (चचेरे भाई), चंदन सिंह, वीणा देवी, और महबूब अली केशर शामिल हैं। अब चिराग पार्टी में अकेले ही रह गए हैं। पहले चार सांसदों के अलग होने की खबर आई थी।चिराग के चाचा पशुपति पारस की अगुवाई में यह टूट हुई है। उनके भाई प्रिंस भी अब अलग हो गए हैं।

केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार को लेकर सियासत हुई तेजबता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा चल रही है। यह अनुमान लगाया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में बदलाव संभव है। ऐसे में लगातार सियासत तेज हो रही है। वहीं दूसरी ओर जेडीयू में भी घमासान जारी है।

अभी एनडीए गठबंधन में जेडीयू के 16 सांसद हैं। पिछली बार कैबिनेट विस्तार के समय जेडीयू के शामिल होने की चर्चा थी। हालांकि अंत में बात नहीं बन सकी थी। अब इधर एलजेपी में फूट की खबर ने सियासत को और तेज कर दिया है।जेडीयू में शामिल हो सकते हैं पांचों सांसदसूत्रों के मुताबिक, ये पांचों सांसद जेडीयू ज्वॉइन कर सकते हैं। बताया गया है कि ये सभी सांसद बिहार विधानसभा चुनाव के समय से चिराग पासवान से नाराज चल रहे थे। ऐसे में एलजेपी में इस फूट की अटकलें तो पहले से लगाई जा रही थीं, इंतजार तो बस उस वक्त का था जब ये सांसद ये बड़ा कदम उठाते, अब वो कदम उठा लिया गया है और एलजेपी के सामने बड़ा सियासी संकट खड़ा हो गया है।

वैसे भी बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी ने जब भाजपा-जेडीयू से अलग होकर चुनाव लड़ने का फैसला किया था, तभी से सीएम नीतीश कुमार और उनके पार्टी के लोग चिराग से नाराज चल रहे थे। चुनाव के नतीजों ने भी साफ कर दिया कि चिराग की पार्टी की वजह से ही कई जगहों पर जेडीयू की सीटें कम पड़ गई। अब इतना सब कुछ होने के बाद अगर एलजेपी के पांच सांसदों ने जेडीयू ज्वाइन कर ली, तो ये चिराग के लिए बड़ी किरकिरी साबित होगी। headtopics.com

बिहार विधानसभा में शून्य पर है लोजपाबिहार में एनडीए गठबंधन से अलग होकर चुनाव लड़ने वाली लोजपा को बिहार विधानसभा में केवल एक ही सीट मिली थी। बाद में लोजपा विधायक राज कुमार सिंह जेडीयू में शामिल हो गए थे। अब लोजपा का बिहार विधानसभा या विधान परिषद में कोई विधायक नहीं है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

आज की पॉजिटिव खबर: गुजरात के किसान ने बंजर जमीन पर 10 साल पहले ऑर्गेनिक खजूर लगाए, अब हर साल 35 लाख रुपए की कमाई

जहां तापमान ज्यादा हो, पानी की कमी हो, दूसरी फसलों की खेती न के बराबर होती हो, उन जगहों पर ऑर्गेनिक खजूर की खेती की जा सकती है। इसमें लागत भी कम होगी और बढ़िया आमदनी भी होगी। गुजरात के पाटन जिले के रहने वाले एक किसान निर्मल सिंह वाघेला ने इसकी पहल की है। करीब 10 साल पहले उन्होंने अपनी जमीन के बड़े हिस्से में ऑर्गेनिक खजूर के प्लांट लगाए थे। अब वे प्लांट तैयार हो गए हैं और उनसे फल निकलने लगे हैं। इ... | Farmer of Gujarat started farming of organic dates on barren land, earning Rs 35 lakh in first year itself

iChiragPaswan रामविलास पासवान की वज़ह से पार्टी चल रही थी iChiragPaswan बाप बेटे दोनो स्वार्थ iChiragPaswan iChiragPaswan This is wrong

LJP अध्यक्ष चिराग पासवान के खिलाफ बगावत, 5 पार्टी सांसदों ने ओम बिरला को लिखा पत्र लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) में टूट की खबर आ रही है. चिराग पासवान ( Chirag Paswan ) के खिलाफ बगावत हुई है. पार्टी के 6 में 5 सांसदों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद चिराग पासवान के खिलाफ बगावत की है. मिली जानकारी के अनुसार, पशुपति पारस पासवान (चाचा), प्रिंस राज (चचेरे भाई), चंदन सिंह, वीणा देवी और महबूब अली केसर ने बगावत की. Mja aa gyaaa बेटा गई तेरी पार्टी भी,अब जा कर मिल ले।। ये तो ....नये नये मौसम वैज्ञानिक आ गये बाबू🤔

शाहजहांपुर: क्राइम ब्रांच ने दो करोड़ 80 लाख के चरस-गांजे पकड़े, पांच तस्कर गिरफ्तारअंतरराष्ट्रीय बाजार में पकड़े गए मादक पदार्थों की कीमत 2 करोड़, 80 लाख रुपए आंकी गई है. क्राइम ब्रांच ने कार के अंदर से इलेक्ट्रॉनिक तराजू और कई मोबाइल भी बरामद किए हैं. पकड़े गए अंतर्जनपदीय मादक तस्कर के नाम दिनेश जायसवाल, लालू यादव, मनीष कुमार, अजय और सूरज बताए गए हैं. ये सभी बाराबंकी जिले के रहने वाले हैं और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में चरस और गांजे की सप्लाई करते हैं.

मौसम विभाग: अगले पांच दिनों में लू चलने की संभावना नहींभारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने शनिवार को बताया कि अगले पांच दिनों में लू चलने की कोई आशंका नहीं है। आईएमडी ने बताया उम्र- 40 साल नाम-करीना अली खान दिलचस्पी- मेरा सपना मनी मनी फिल्म- चमेली रोल- वेश्या का सबसे बड़ा मजाक- SSR का मजाक बनाया फैन- ड्रगी रिया चक्रवर्ती की 𝘽𝙤𝙮𝙘𝙤𝙩𝙩𝙆𝙖𝙧𝙚𝙚𝙣𝙖𝙆𝙝𝙖𝙣 😡 Is post se pta chalta hai ki loo sirf ladkiyon ko lagti hai. Chewtiya_Ujala_Char_Boond_wala India TV Rajat: 'कोरोना से आनाथ हुए बच्चों की देख-भाल होगी। मुखियमंत्रियों ने मेरी बात सुनी और उनहोंने अमल किया।' यह काम कर के Rajat महान बना और chadnakya puri विवेकानंद केम्प में पानी की भारी किल्ल्त को Kejeriwal से न कहकर अपने channel पर मसाला लगा कर दिखाने पर besharma भी बना।

घूम-घूम सार्वजनिक माफी मांग बोले, 'BJP को समझा गलत, है फ्रॉड पार्टी'धनियाखली में टीएमसी नेताओं से अपने अड़ियल और खराब बर्ताव के लिए सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने के बाद कई बीजेपी कार्यकर्ताओं को नई पारी शुरू करने की मंजूरी दी गई। वहीं, हुगली में बीजेपी नेताओं ने दावा किया कि उनके कार्यकर्ताओं को टीएमसी ज्वॉइन करने के लिए दबाव बनाया गया है।

छोटी पार्टियों ने भी शुरू किया मोल भाव: UP में छोटे दलों के तेवर से परेशान BJP; ओम प्रकाश राजभर ने नड्डा से नहीं की बात, पार्टी ने कहा- बहुत धोखा खा चुके, अब रिजल्ट चाहिएउत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (BJP) को छोटे दलों ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। चुनाव से ठीक पहले जातीय समीकरण साधने में जुटी भाजपा को निषाद पार्टी और अपना दल पहले ही अपनी मंशा बता चुके हैं। दोनों पार्टियां अपने लिए केंद्र में मंत्री पद की मांग कर चुकी हैं। अब सुहेल देव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) ने भी भाजपा को अपने तेवर दिखाए हैं। बताया जा र... | Third party of UP showed attitude to BJP; Om Prakash Rajbhar did not talk to JP Nadda, the party said – have been cheated a lot, now the result is not assured BJP4India oprajbhar JPNadda RaiVidya समय के साथ समझदारी आ ही जाती है 😃 BJP4India oprajbhar JPNadda RaiVidya इस बार जनता जाग चुकी है, BJP4India oprajbhar JPNadda RaiVidya उल्टे दिन आ गए हैं भाजपा के

Bihar Politics: चिराग तले अंधेरा! LJP में बड़ी टूट, चाचा पशुपति के नेतृत्व में 5 सांसदों ने की बगावत, खुद पार्टी से बाहर होंगे चीफ?पटना न्यूज़: लोजपा ( LJP ) के पांच सांसदों ने पार्टी से अलग होने का फैसला कर लिया है। सूत्रों के मुताबिक, अब चिराग पासवान ( Chirag Paswan ) पार्टी में अकेले ही रह गए हैं। चिराग के चाचा पशुपति पारस (Pashupati Kumar Paras) की अगुआई में यह टूट हुई है। रामविलास पासवान के बाद पार्टी की बागडोर उनके भाई को सम्भालनी चाहिए, चिराग अभी युवा हैं बहुत कुछ सीखने की जरूरत हैं जय हिंद लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के मुखिया चिराग पासवान को चाहिए कि वे बीजेपी पार्टी ज्वाइन करले और अपनी पार्टी को भूल जाये!