बंगाल: लेफ्ट-राइट और ममता के बीच उलझती राजनीति

बंगाल: लेफ्ट और राइट के बीच कभी उलझती तो कभी सुलझती चुनावी राजनीति: लोकसभा चुनाव 2019

16.5.2019

बंगाल: लेफ्ट और राइट के बीच कभी उलझती तो कभी सुलझती चुनावी राजनीति: लोकसभा चुनाव 2019

कभी पंचायत चुनावों में बीजेपी की सहायता लेने वाली तृणमूल कांग्रेस को मौजूदा चुनावों में इसी पार्टी से सबसे ज़्यादा चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है.

खासकर बीते एक-डेढ़ दशक के दौरान इन दोनों राजनीतिक दलों के आपसी रिश्तों में 360 डिग्री का जो बदलाव आया है वैसा देश के दूसरे हिस्सों में देखने को कम ही मिलता है.

दोनों के रिश्तों में यह तल्खी तो वर्ष 2014 के लोकसभा चुनावों से ही शुरू हुई थी. उसके बाद होने वाले तमाम चुनावों में बढ़ते हुए यह कड़वाहट अब चरम पर पहुंच चुकी है. दिलचस्प बात यह है कि लेफ्ट और कांग्रेस खासकर मोदी के कुर्ते और रसगुल्ले वाले मामले के बाद ममता पर बीजेपी के साथ गोपनीय तालमेल के आरोप लगाती रही हैं.

उत्तर बंगाल के एक कॉलेज में समाजशास्त्र पढ़ाने वाले प्रोफेसर कालीपद दास कहते हैं,"बंगाल की राजनीति को समझने के लिए आपको बहुत पीछे जाना होगा. राज्य के लोगों में अपनी भाषा, संस्कृति और अपने नायकों के प्रति जैसा लगाव और संवेदनशीलता है वैसा देश के दूसरे हिस्सों या दूसरी जातियों में देखने को कम ही मिलती है."

ख़ास बात यह है कि मोहल्ले के तमाम ऐसे मित्र बंगाली थे. लेकिन स्कूल के हिंदीभाषी मित्रों में तब राजनीति के प्रति कोई विशेष लगाव नहीं था. उनके भी शौक मुझसे ही मिलते-जुलते थे. तब राजनीति और बंगालियों की संवेदनशलीता मेरी समझ से बाहर थी. वह तो बहुत बाद में पत्रकारिता में आने के बाद यह बात समझ में आई कि राजनीति क्यूं और कैसे बांग्ला समाज की रग-रग में बस चुकी है. तब तक ज्योति बसु की सरकार दूसरी बार भारी बहुमत के साथ जीत कर सत्ता में लौट चुकी थी.

दरअसल, साठ के दशक के उत्तरार्द्ध में उत्तर बंगाल के नक्सलबाड़ी से शुरू हुए नक्सल आंदोलन ने राजनीतिक हिंसा को एक नया आयाम दिया था.

राज्य में लेफ्टफ्रंट ने वर्ष 1977 में सत्ता में आने के बाद लोगों को जमीन का मालिकाना हक देने के लिए जिस आपरेशन बर्गा की शुरुआत की थी, उससे लगभग दो दशक तक उसका ग्रामीण वोट बैंक अटूट रहा. लेकिन उसके बाद भावी पीढ़ियों के बीच जमीन के बंटवारे की वजह से मिलने वाले छोटे-छोटे हिस्से पर खेती करना फायदे का सौदा नहीं रह. उसके बाद इस वोट बैंक में बिखराव नजर आने लगा.

राजनीतिक विशेलषकों का कहना है कि पश्चिम बंगाल की राजनीति की संवेदनशीलता का पता चुनावी नतीजों से मिलता रहा है. राज्य के लोग अक्सर एक ही पार्टी को भारी बहुमत देते रहे हैं. यही वजह है कि विपक्ष हमेशा कमजोर रहा है.

समाजशास्त्री दास कहते हैं,"कमज़ोर विपक्ष और भारी बहुमत सत्तारुढ़ दलों को हमेशा मनमानी करने का मौका देती रही है और कोई भी पार्टी इसमें पीछे नहीं रही है. दरअसल, बंगाल में चुनावों के बदलते स्वरूप और इसमें होने वाली हिंसा की एक प्रमुख वजह यह भी है."

राजनीतिक विश्लेषक विश्वनाथ पंडित कहते हैं,"बंगाल के युवावर्ग के लिए राजनीतिक निष्ठा उसकी सामाजिक पहचान की सबसे अहम शर्त बन गई है. यही वजह है कि कालेज और विश्वविद्यालयों के छात्र संघ चुनावों के दौरान भी भारी हिंसा होती रही है."

और पढो: BBC News Hindi

What Mamta is doing is far beyond politics Modi ko suna tv par didi k upar bhadkte huye juwan ladkhda rahi thi aise jaise modi ne shrab pi ho लेफ्ट राइट की जंग मे एक बात पर गौर करिये 34 साल तक अपनी मनमानी करने वाला वामपंथ वर्तमान मे हासिये पर है वह इस लडाई मे तीसरे नंबर पर आने हेतु आतुर है एवं जद्दोजेहद कर रहा है। बडी दयनीय स्थिति है येचुरी और केजरीवाल मे अंतर कम होते जा रहा है।

डायन😂😂😂🤣🤣🤣 ममता बनर्जी की छवि धूमिल होती जा रही है अपने गंदे कर्मो से ममता बानो ने अब डायन का रूप ले लिया है 😁

बंगाल में TMC और BJP की जंग, सीन से कहां ग़ायब है लेफ़्ट? लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में टीएमसी और भाजपा के बीच टक्कर देखने को मिल रही है लेकिन सीपीएम कहां है. लेफ्ट का समय अब पीछे छूट गया।।।अब उसको चाइना जाना होगा या रशिया Bill mein ghush gayee .BAAT ABHI TAK SAMAJH ME NAHI AAYI H TO KOLKATA ME AmitShah JI K ROAD-SHOW ME TMC DWAARA KEE GAYI HINSA PE CONGRESS AUR LEFT KEE PRATIKRIYA DEKHA LIJIYE YE TMC K SAAMNE SURRENDER KAR GAYE H SIRF BJP KA VOTE KAATNE K LIYE CHUNAV LAD RAHE H narendramodi AmitShah

पश्चिम बंगाल: लेफ्ट का गढ़ रही जंगलमहल लोकसभा सीट पर BJP कर सकती है बड़ा उलटफेर झाड़ग्राम में भाजपा ने हाल के चुनावों में उन सभी क्षेत्रों में जीत दर्ज की थी जो कभी माओवादियों के गढ़ रहे थे. उसने लालगढ़, बेलपहाड़ी, जंबोनी, गोपीबल्लवपुर, नयाग्राम और सांकरेल ग्राम पंचायतें जीतीं थी.

हम एक-दूसरे को ट्रॉफी सौंपते रहे: धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान धोनी ने कहा कि आख़िर में वो टीम जीती जिसने दूसरी टीम से एक ग़लती कम की थी. ये निराश हैं... Dhoni for ever Wtf is this 🙄🙄

बंगाल रैली में मोदी का ममता पर हमला- 300 से ज्यादा सीटें जिताएगा बंगाल बंगाल में पीएम मोदी ने भरी ममता के खिलाफ हुंकार LokSabhaElections2019 लाइव अपडेट्स के लिए क्लिक करें: SaveBengalSaveDemocracy हां हां हां हां मजाक भी बहुत करते हो आजतक वाले उत्तर प्रदेश में तो इसके हालात खराब है।।

खबरदार: चुनाव आयोग पर बरसीं ममता बनर्जी EC's decision is influenced by 'Modi-Shah', says Mamata - khabardar AajTak कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में हुए बवाल के बाद बंगाल की वायलेंट पॉलिटिक्स पर चुनाव आयोग को आखिरकार साइलेंसर फिट करने पर मजबूर होना पड़ा क्योंकि जिस तरह से पश्चिम बंगाल में मार-धाड़ वाली राजनीति चल रही है और नेता मानने को तैयार नहीं है उसमें चुनाव आयोग को आखिरकार ये फैसला करना पड़ा कि चुनाव प्रचार बंगाल में एक दिन पहले ही खत्म हो जाएगा. जो चुनाव प्रचार परसों यानी 17 मई की शाम पांच बजे खत्म होना था वो अब कल यानी 16 मई को रात 10 बजे ही खत्म हो जाएगा. इसके बाद किसी तरह के सार्वजनिक प्रचार की अनुमति नहीं है. बंगाल के हालात को देखकर ये चुनाव आयोग का सबसे बड़ा एक्शन है जिसके बारे में पहले कभी नहीं सुना गया कि कहीं पर इस तरह के हालात बन जाए. लेकिन चुनाव आयोग के इस फैसले के बीच सबसे बड़ा झटका पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लगा है क्योंकि उनके कुछ बड़े अफसरों पर चुनाव आयोग ने एक्शन लिया है. sardanarohit 👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋👋 kutta kamina sardanarohit आयेगा तो मोदी ही 🤓🤓 sardanarohit मोदी अमित शाह या बोलेंगे चुनाब आयोग ओहि सुनेगा। मोदी अमित शाह या बोलेंगे ओहि सुनेगा आजतक।

लेफ्ट की हिंसा में झुलसकर निखरी थीं ममता बनर्जी, बंगाल में राज बदला लेकिन खूनी खेल नहीं ममता बनर्जी ने राजनीतिक हिंसा को मुद्दा बनाया और 2011 में बंगाल से लाल किला को ध्वस्त कर दिया, लेकिन पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाएं कम नहीं हुईं. लिफ्ट की लड़ाई दादागिरी खत्म टीएमसी की दादागिरी स्टार्ट 10 साल चाहिए ही चल रहा है लेफ्ट पार्ट 2 है टीएमसी ज्यादा ज्ञान नहीं बाटे सच्चाई यही है newspaper have news of braking bust of vidyasagar only. But they have not asked question to principal of the college, why the students of this college were allowed to throw stones. Is this the education great Vidyasagar wanted to impart in our society. The whole saga was managed. उसी हिंसा को अपना रही हैं ममता बनर्जी अपनी सत्ता बचाने ? भूल गई ममता इससे सत्ता बचती तो अभी भी लेफ्ट सत्ता में होती ?

6वें चरण में 63% मतदान; बिहार और बंगाल में भाजपा प्रत्याशियों पर हमला बंगाल में इस चरण में भी हिंसा, भाजपा प्रत्याशी पूर्व आईपीएस अफसर भारती घोष के काफिले पर हमला बिहार के प. चंपारण सीट से भाजपा प्रत्याशी संजय जायसवाल पर भीड़ ने हमला किया, निजी सुरक्षाकर्मियों ने हवाई फायरिंग की दिल्ली की 7, बिहार की 8, हरियाणा की 10, मप्र की 8, उप्र की 14, बंगाल की 8 और झारखंड की 4 सीटों पर वोटिंग हुई | 6th phase of Lok Sabha polls, voting on 59 seats of 7 states news and update LokSabhaElections2019 VotingRound6 Phase6 MothersDay HappyMothersDay DelhiVotes Elections2019 MeraVoteModiKo MeraPowerVote ModiOnZee PhirEkBaarModiSarkaar NaMoAgain

चिंता बढ़ाती पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा, मतदाताओं के लिए निर्भीक होकर मतदान करना कठिन Analysis: चिंता बढ़ाती पश्चिम बंगाल की चुनावी हिंसा, मतदाताओं के लिए निर्भीक होकर मतदान करना कठिन... WestBenViolence LokSabhaEelctions2019 MamataBanarjee 🙏🌹🇮🇳✌️ jai Shree ram चुनाव आयोग को वहाँ पर राष्ट्रपति शासन की संस्तुति करनी चाहिए... उसी के बाद पश्चिम बंगाल में चुनाव हो Swamy39 TarekFatah sudhirchaudhary sardanarohit narendramodi Ra_THORe rajnathsingh PMOIndia rashtrapatibhvn Analysis के लिए बहुत धन्यवाद

Bengal Lok Sabha Elections 2019: बंगाल में नौ बजे तक 6.58 फीसद मतदान LIVE | इस मामले में संज्ञान लेते हुए राज्य में मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) ने जिला निर्वाचन अधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट तलब किया है। Bengal ElectionsWithJagran MeraPowerVote LokSabhaElections2019 Phase6

Bengal Lok Sabha Elections 2019: बंगाल में नौ बजे तक 16.66 फीसद मतदान LIVE | लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण में बंगाल में जंगलमहल समेत आठ सीटों पर कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान जारी है। सुबह नौ बजे तक 16.66 फीसद मतदान हुआ है। ElectionsWithJagran MeraPowerVote LokSabhaElections2019 Phase6 Bengal ISIS Ka Fake news spread karne kaa jimma iss news wale ka hi.

कभी धोनी की जुबां से निकली आग तो कभी अंपायर ने चलाई लात, ये हैं IPL 2019 के 5 सबसे बड़े विवाद इंडियन टी-20 लीग के 12वें संस्करण में कई बड़े रिकॉर्ड बने तो कई ऐसे विवाद भी सामने आए जिनका जिक्र भविष्य में होता रहेगा।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

16 मई 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

मोदी बोले- जैसे-जैसे ”गालियों की डोज” बढ़ रही है, वैसे-वैसे जनता के ”प्यार की डोज” भी बढ़ रही

अगली खबर

वो लड़की जो सबसे अलग है: केवल आर्मचेयर एक्टिविस्ट नहीं हैं स्वरा भास्कर - Entertainment AajTak
मोदी बोले- जैसे-जैसे ”गालियों की डोज” बढ़ रही है, वैसे-वैसे जनता के ”प्यार की डोज” भी बढ़ रही वो लड़की जो सबसे अलग है: केवल आर्मचेयर एक्टिविस्ट नहीं हैं स्वरा भास्कर - Entertainment AajTak