फ़्रांस: चाकू से हमले में तीन लोगों की मौत, एक महिला का सिर काटा गया - BBC News हिंदी

फ़्रांस: नीस शहर में चाकू से हमले में तीन लोगों की मौत, एक महिला का सिर काटा गया

29-10-2020 13:59:00

फ़्रांस: नीस शहर में चाकू से हमले में तीन लोगों की मौत, एक महिला का सिर काटा गया

नीस के मेयर क्रिश्चियन एस्ट्रोसी ने पत्रकारों को बताया कि संदिग्ध हमलावर बार-बार 'अल्लाहू अकबर' (अल्लाह महान है) चिल्ला रहा था. हमलावर को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

कुछ ही दिनों पहले शिक्षक का सिर काटा गया थानीस के स्थानीय प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि वो फ़्रेंच रिवेरा सिटी के इलाक़े में जाने से बचें.फ़्रांसीसी गृह मंत्री जेराल्ड डारमेनान ने कहा है कि वो पेरिस में एक आपातकालीन बैठक बुला रहे हैं.हमले के बाद फ़्रांस की संसद में शोक ज़ाहिर करने के लिए एक मिनट का मौन रखा गया.

बिजनौर: ढोल-नगाड़ों के साथ कुख्यात गैंगस्टर की 20 करोड़ 34 लाख रुपये की संपत्ति जब्त यूपी सरकार का लव जिहाद के खिलाफ बड़ा एक्शन, कैबिनेट ने पास किया अध्यादेश कंगना की 8 जनवरी को थाने में पेशी: बॉम्बे हाईकोर्ट का पुलिस से सवाल- कोई सरकार की बात न माने, तो उस पर राजद्रोह की धारा लगाएंगे?

फ़्रांसीसी प्रधानमंत्री ज्याँ कैस्टेक्स ने लोगों से एकता और संयम बनाए रखने की अपील की. उन्होंने कहा, "इसमें कोई शक़ नहीं कि ये एक गंभीर चुनौती है जो हमारे देश के सामने खड़ी हो रही है."हाल के कुछ वर्षों में फ़्रांस की नीस शहर ख़तरनाक हमलों का शिकार हुआ है. साल 2016 में यहाँ एक ट्यूनीशियाई ड्राइवर ने लोगों को ट्रक से कुचल दिया था. इस घटना में 86 लोगों की मौत हो गई थी.

इससे कुछ ही दिनों पहले फ़्रांस की राजधानी पेरिस में एक हमलावर ने एक शिक्षक का सिर काट दिया था. अगली सुबह चर्च में सामूहिक प्रार्थना के दौरान एक पादरी का गला काट दिया गया था.इमेज कैप्शन,फ़्रांस का नीस शहरफ़्रांस और मुसलमान देशों में तनावअभी कुछ ही दिनों पहले फ़्रांस की राजधानी पेरिस में एक हमलावर ने सैमुअल पैटी नाम के एक शिक्षक का सिर काट दिया था. सैमुअल एक स्कूल में इतिहास और भूगोल पढ़ाते थे.

पुलिस का कहना है कि उन्होंने अपनी एक कक्षा में अभिव्यक्ति की आज़ादी पढ़ाते हुए व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो में प्रकाशित पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाया था.फ़्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने शिक्षक का सिर काटे जाने के अपराध को 'इस्लामिक आतंकवाद' का नतीजा बनाया था. उनके इस बयान पर कई मुसलमान और अरब देशों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी.

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैयप अर्दोआन ने यहाँ तक कह दिया था कि मैक्रों का 'दिमाग़ खराब' हो गया है.वीडियो कैप्शन,कट्टरपंथी इस्लाम पर फ़्रांस इतना सख़्त क्यों हो रहा?इसके अलावा, कई अरब देशों में फ़्रांसीसी उत्पादों का बहिष्कार करने की अपील की गई है और कई दुकानों से फ़्रांस में बने सामान हटा दिए गए हैं. इन सबके बीच फ़्रांस और दुनिया भर में सेक्युलर मूल्यों को लेकर बहस जारी है.

इस बीच फ़्रांसीसी व्यंग्य पत्रिका शार्ली एब्दो ने तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप अर्दोआन का मज़ाक़ उड़ाते हुए एक कार्टून प्रकाशित किया और तुर्की ने फ़्रांस के ख़िलाफ़ क़ानूनी और कूटनीतिक कार्रवाई की धमकी दे डाली.इस कार्टून में टी-शर्ट और अंडरपैंट में दिख रहे अर्दोआन कुर्सी पर बैठे हैं. उनके दाएँ हाथ में बीयर है जबकि बाएँ हाथ से वो हिजाब पहने एक महिला की स्कर्ट को पीछे से उठाते दिखाए गए हैं.

पूर्व भूमध्य सागर में तुर्की के प्रतिद्वंद्वी ग्रीस को फ़्रांस से मिल रहे समर्थन पर दोनों देश पहले से ही आपस में उलझे हुए हैं.जब राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने इस्लामी अलगाववाद पर शिकंजा कसने के लिए नए क़दम उठाने की घोषणा की तो तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन ने कहा कि मैक्रों के मानसिक स्वास्थ्य की जाँच होनी चाहिए.

Coronavirus: कोरोना से जंग में क्यों नहीं है सबका साथ, सबका विश्वास? देखें दंगल Maharashtra: बिना Corona report लिए पहुंचे तो क्या होगा? जानिए आज तक @aajtak

ये भी पढ़ें और पढो: BBC News Hindi »

उत्तर भारत में बदला मौसम, नवंबर में इतनी ठंड, तो दिसंबर में प्रचंड? देखें विशेष

इस साल नवंबर में इतनी सर्दी पड़ रही है, जो बीते कई साल में नहीं पड़ी. दिल्ली में 17 साल का रिकॉर्ड टूट गया. वहीं पहाड़ों पर भी दिसंबर वाली बर्फबारी नवंबर में ही हो रही है. जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी से कई अहम रास्ते बंद हो गए हैं. पहाड़ों पर नवंबर में ही दिसंबर वाली बर्फबारी हो रही. सफेद आफत ने इस बार नवंबर की शुरुआत में ही दस्तक दे दी. आम लोगों के लिए समय से पहले हुई बर्फबारी जहां परेशानी का सबब है, वहीं मौसम वैज्ञानिकों को भी थोड़ी हैरानी हो रही है. मगर इन सबके बीच चौंकाने वाला बात ये भी है कि कुछ इलाकों में नवंबर में ही दूसरी और तीसरी बार बर्फबारी हो रही है जबकि आम तौर पर यहां दिसंबर में ही बर्फबारी होती है. देखें विशेष, चित्रा त्रिपाठी के साथ.

धर्म आतंक है ये हत्याएं सचमुच शर्मनाक और निंदनीय हैं। सभी मुसलमानों को इस घटना को निष्पक्ष भाव से देखना चाहिए और इसकी घोर निन्दा करनी चाहिए। अगर आप इसका समर्थन करेंगे तो आप इंसानियत के दुश्मन कहलाएंगे और अगर आप चुप रहेंगे तो इसके समर्थक कहलाएंगे। सही और ग़लत का फर्क क़ुरान नहीं बताता क्या? France ka galat policy ke waja se log mare gaye

Ye to hoga This is A Dark Side Real Islam. भारतीय आतंकवाद गिरोह भी शैतान फ्रांस की सपोर्ट मे ऐक ट्रेंड चला रहा है इसके भी बुरे दिन इंशा अल्लाह शीघ्र ही आयेंगे फ्रांस_माफी_मांग यह वही फ्रांस है जिसने बगदादी के आईएसआईएस आतंकवादियों से परेशान होकर आने वाले मुसलमानों को अपने घर में शरण दी और आज यही मुसलमान फ्रांस में हत्या कर रहे हैं अच्छा है फ्रांस को अच्छा सबक मिला है यही सबक भारत को भी मिलना चाहिए दूसरों की गलती से सीखना चाहिए

जब तक धर्म को संविधान से ऊपर मना जाता रहेगा तब तक समस्या बनी रहेगी मुसलमान भाई जब जानते है को फ्रांस में अभिव्यक्ति के स्वतंत्रता है ऑर ऐसे कार्टून सामान्य बात है तो वे क्यूं जाते है ऐसे देशों में ? उस जगह जाना ही क्यूं जहां का संविधान ना मान पाए ? किसने किया कौन जात का है ये भी भोंक दो एक मुसलमान का वज़ूद ही पैग़म्बर मोहम्मद ﷺ से है और वजूद से समझौता मुमकिन नही ! we_love_mohammad_ﷺ_challenge♥️ जी__हा।

Need hard punishment यह कट्टरपंथी पूरी दुनिया के मानवों के लिए खतरा है। इन कट्टरपंथियों को कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान होना चाहिए। Pathetic BBC is afraid of calling the terrorist out . R u afraid that u May b the next in line Shame on u हिंंसा किसी भी समस्या का हल नहीं हैं । Ekdum galat huwa hai jisne v kiya hai... Jisne galti ki usay saja deni chaheye or kisi ko nahi

फ्रांस के एक शहर में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने अल्लाह हू अकबर बोलते हुए एक महिला का सिर काटा- BBC News Jis mulk france ne apne yahan rehne ki naagrikta di...aaj usi k mulk me ye jihadi bankar nanga naach kar rhe hain..waise chura bhokne ki puraani adat hain inme... विश्व समुदाय के लिए इस्लाम धर्म बहुत बड़ा खतरा है।

लगता है ऐसी घटनाएं आम हो गयी है , जो भी कुछ हो रहा है फ्रांस में वो दुनिया के अन्य देशों में भी हो रहा है। बस घटनाओं को जोड़ कर तथा अपराध करने को एकरूपता को देखिए समझिये। इतिहास खुद को दोहराता है। स्थितियां बिगड़े उस से पहले उसे संभाल लेना चाहिए । Agar haraamkhor P. M cartoon na issue kiya hota toh aaj Ye nahi hota. Makron is terrorist.he is spreading terrorist. Or india ke bhagwa aatankwadi us ka saat de rahe hain. 🤔🤔🙄

Totally disagree from such type of voilence on the name of religion. Such sick mentality people should be eliminated from earth... हत्या की वजह साफ है मुस्लिम कट्टरवाद Why don't you use Islamic_Terrorist bbc_hindi_ propaganda पता नहीं दुनिया कब समझेगी इन शान्ति दूतों को.... जब तक दुनिया चीन का सिस्टम नहीं अपनाएगी तब तक ये शांतिदूत शान्ति से नहीं बैठेंगे

अल्लाहू अकबर चिल्लाते हुए जाहिल इस्लामिक आतंकियों ने मासूमों को मौत के घाट उतारा. This is wake up call... So reaction par action ho raha hai जब तक दुनिया मे इस्लाम है तब तक ऐसी आतंकवाद की घटनाओं की पुनरावृत्ति होती रहेगी। ये फिरका परस्ती सरफिरा पन कब रुकेगा। यही लोग बदनामी का कारण बनते हैं और दोष दूसरों में खोजा जाता है।सहनशीलता, सहअस्तित्व इन्हें सिखाया जाना बहुत जरूरी है।

Muslims are like by Muslims only, rest if the world just hates them and reasons are very clear! Trump will get more votes in America coz of such incidents in France! ये सब bbc वालों का ज़हर है ।। संदिग्ध हमलावर?तुम्हारी मां का यार लगता था जो ये शब्द इस्तेमाल कर रहे हो? 18 साल के अब्दुल्ला को लाखों सलाम जिसने muhammad_ﷺ_ का कार्टुन बनाने वाले का सर धड़ से अलग कर दिया (फ्रांस)

तुर्की ने कुर्दिशो ईरान ने सुन्नियों सऊदी अरब ने यमनियो पाक ने बलूच अहमिदी शिया isis तालिबान जेहादीयो द्वारा एक फ़िरक़े दूसरे फ़िरक़े का नरसंहार करे तो जायज है अपने पाप कुकर्म छुपाने जाहिलों गैंग द्वारा गैरमुस्लिम देश पर आधारहीन दोष मढ़ते है और भक्षक खुद को धर्म रक्षक समझते है आम पब्लिक की बिना वजह हत्या करने की इस्लाम में कोई गुंजाइंश नहीं जिस ने भी किया ग़लत किया

Bus yahi sunna Baki rah gaya tha Allah ko bhi nahi chhoda Galat kiya Charlie hebdo ka katna chahiye Islamic radical terrorist BC ko abb Pura non Muslim se khtam kar dena chaiya nhi too Yee log cancer ki trahe sab Kaffir KO maar dega dhire dhire immdiately inlogo ko bahar kar dena chahiye वोट डालने से पहले बिहार के लोगो को कन्हैया_कुमार की ये वीडियो ज़रूर देखनी चाहिए।

Such horrific acts make people Islamophobic. jo bhi islam ko smarthan dega aur khas kr katharpanthion ko apne desh me basne dega wo desh yise hi bibhtsya krity dekhega reject muslims and islam nearly 99.99% be dangerously religious as a hindu we never go mad if some one abuse RAM ,KRISHNA OR EVEN GOD we think them ignorant

गला काटने वाले का नाम भी कभी कभार लिख दिया करो ... Iska rol kon nifa raha hai waha ,......shayad khud france ke pm the militant groups always take advantage of any statement given by prime minister or president against any Religion or caste or nation in public.... the human sentiments and ideologies being utilised by militant group for creating disturbance in state or town in any part.

BBC तुम्हारे मुताबिक फ्रांस में भी क्या RSS व बजरंग दल की शाखा खुल गयी है ? From BBC FB page--. ''संदिग्ध हमलावर बार-बार 'अल्लाह-हू-अकबर' चिल्ला रहा था.'' France govt. ko ab kadee action lene ki jarurat hai. Jo PM ne kaha wo start karey ab. मुस्लिम ने काटा लिखने से बीबीसी को डर लगता है 😞😞😞😞 cartoon se hurt ho k kisi ka gala kaat dena ye kaisi bhakti hai bahut pachtayenge aise kattar Muslims

इस्लामी आतंकवादी हैं BBC मुसलमानों को अब जागना चाहिए वरना ये काफिर लोग जीना मुश्किल कर देंगे काटने वाला शांतिदूत समुदाय से। kyun cheedte ho be chup chaap shanti acchi nhi lgti kiya yh hrami atankyun ko khtm krdo pehle phir islam pe hmla karo phir koi kuch nhi bolega araam se islam ke khilaf bolo isse masoom logon ki jaan jati h

आतंक मुल्लो का आतंक Erdogan 🤣😂😂😂😂 Wohi k local citizens ne kia h ye Redical Islamic terrerisam..... पकड़ पकड़ कर शांति दूतों का भी सर कलम करना चाहिए फ्रांस को WeStandWithFrance WeSupportFrance अरे भाई आप लोग इन मासूम जिहादियों को शांति से Alla hu Akbar कह कर दो-चार कत्ल भी नहीं करने देंगे क्या? This is Islamophobia! FranceBeheading Islamic_Terrorist IStandWithFrance IndiaWithFrance

पूरा लिख कौन था क्या चिल्ला कर काटने लगा सबको बीबीसी ये हमला नहीं आतंकी हमला है, दोगलापन दिख जाता है तुम्हारा (अ)शांतिदूत अपने धंधे मे मग्न हो गए हैं। न्यूजीलैंड धार्मिक स्थल पर हमले के बाद छाती कूटने वाले सब चुप हैं। Ye sab Erdogan ke chelon ki kartoot hai, vaise BBC/PBC ko pata hi hoga phir jan suchna ke liye

अब वक्त आ गया है फ्रांस को इन देशद्रोहियों और आतंकवादियों के गांड पर लात मारकर देश से बाहर कर देंना चाहिए Ajib chutiyapaa ho rha h 😡 wah

जानिए क्या है ब्लू मून, 31 अक्टूबर को पहली बार होगा दुर्लभ चांद का दीदारऐसा पहली बार है 31 अक्टूबर 2020 की रात आसमान में ब्लू मून नजर आएगा. जानिए इस खास चांद के बारे में.

कोरोना संक्रमित डॉक्टरों को भी बुलाया गया ड्यूटी पर, इस देश में स्थिति बिगड़ीएक करोड़ 16 लाख की आबादी वाले बेल्जियम में अब तक कोरोना वायरस के 3 लाख 33 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं.

रोजगार बना मुद्दा तो पहली बार नीतीश हुए बदजुबान, मांझी को चिराग नजर आ रहे कोरोनाहमेशा संयमित और मर्यादित भाषा के लिए पहचाने जाने वाले 'निश्चय नीतीश' हुए भयभीत,राजद प्रवक्ता ने नीतीश को कहा रावण, अनुराग बोले- तेजस्वी ने टुकड़े-टुकड़े गैंग को गले क्यों लगाया | bihar election 2020, bihar assembly election 2020, bihar assembly election 2020 news, bihar election voting dates, bihar election phase-1 polling, bihar election phase 1 seats

शिकागो: गार्ड ने मास्क पहनने को कहा तो दो बहनों ने 27 बार चाकू माराअमेरिका के शिकागो में दो बहनों ने दुकान के एक सुरक्षा कर्मी (गार्ड) पर चाकू से 27 बार सिर्फ इसलिए हमला किया क्योंकि उसने

डेटा सुरक्षा को लेकर रिलायंस जियो, एयरटेल, ओला और उबर को नोटिसडेटा संरक्षण विधेयक पर संसदीय समिति ने बुधवार को टेलिकॉम ऑपरेटर्स रिलायंस जियो, एयरटेल, उबर, ओला और ट्रूकॉलर के प्रतिनिधियों रिलायंस जियो को इन सबमें कुछ होना नही बांकी किसी को बचना नही

समाजवादी पार्टी को हराने के लिए BSP मुखिया मायावती BJP से भी समझौता करने को तैयारBSP-SP War मायावती ने कहा कि हमको किसी भी कीमत पर समाजवादी पार्टी से गठबंधन नहीं करना चाहिए था। हमने बाद में अपनी इस बड़ी गलती का एहसास किया। हमारी पार्टी ने बीते लोकसभा चुनाव के दौरान सांप्रदायिक ताकतों से लडऩे के लिए समाजवादी पार्टी के साथ हाथ मिलाया था। Mayawati yadavakhilesh Bhul to up walo ki hai jo aapke jaise ko cm bnaye Mayawati yadavakhilesh बहन जी 2024 के बाद बीजेपी के साथ आइये मंत्री बनिए फिर राष्ट्रपति बनिए। Mayawati yadavakhilesh इस बार UP में परिवर्तन होगा वो भी माहापरिवर्तन, priyankagandhi जी होंगी UP की CM,, Priyankajit51 priyankac19 क्या आप मेरी राय से सहमत हो