Shaheenabagh, Caa_ Nrc_ Npr, Supremecourt, Delhi, Caa, Nrc, Shaheenbagh

Shaheenabagh, Caa_ Nrc_ Npr

प्रदर्शनकारियों से मिले मध्यस्थ, कहा- जैसे प्रदर्शन करना आपका हक; वैसे सड़कों पर चलना, दुकानें खोलना दूसरों का हक

शाहीन बाग / प्रदर्शनकारियों से मिले मध्यस्थ, कहा- जैसे प्रदर्शन करना आपका हक; वैसे सड़कों पर चलना, दुकानें खोलना दूसरों का हक #Shaheenabagh #CAA_NRC_NPR #SupremeCourt @sanjayuvacha1

19-02-2020 15:24:00

शाहीन बाग / प्रदर्शनकारियों से मिले मध्यस्थ, कहा- जैसे प्रदर्शन करना आपका हक; वैसे सड़कों पर चलना, दुकानें खोलना दूसरों का हक Shaheenabagh CAA _ NRC _NPR SupremeCourt sanjayuvacha1

वकील संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से मिले, बातचीत से पहले मीडिया को हटाया सुप्रीम कोर्ट ने नागरिकता संशोधन कानून पर शाहीन बाग में रास्ता खाली करवाने के लिए मध्यस्थ नियुक्त किए थे | Shaheen Bagh Protest Today News: वकील संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से मिले, बातचीत से पहले मीडिया को हटाया, सुप्रीम कोर्ट ने नागरिकता संशोधन कानून पर शाहीन बाग में रास्ता खाली करवाने के लिए मध्यस्थ नियुक्त किए थे

प्रदर्शनकारियों के मंच पर हेगड़े और रामचंद्रन।शाहीन बाग में धरने पर बैठी महिलाएं।Xशाहीन बाग में सुप्रीम कोर्ट के वार्ताकार हेगड़े और रामचंद्रन।प्रदर्शनकारियों के मंच पर हेगड़े और रामचंद्रन।शाहीन बाग में धरने पर बैठी महिलाएं।वकील संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से मिले, बातचीत से पहले मीडिया को हटाया

तुर्की के साथ बढ़े विवाद के बीच फ़्रांस में चरमपंथियों पर कार्रवाई तेज़ - BBC News हिंदी Saran: रवि किशन बोले- राम मंदिर देख कर मरूंगा, जीते जी मोक्ष मिल गया Bihar Election 2020: नालंदा की जंग में वोटर हैं किसके संग? देखें बुलेट रिपोर्टर

सुप्रीम कोर्ट ने नागरिकता संशोधन कानून पर शाहीन बाग में रास्ता खाली करवाने के लिए मध्यस्थ नियुक्त किए थेDainik BhaskarFeb 19, 2020, 04:27 PM ISTनई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त मध्यस्थ बुधवार दोपहर शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से मुलाकात करने पहुंचे। वार्ताकार एडवोकेट संजय हेगड़े और एडवोकेट साधना रामचंद्रन ने सुप्रीम कोर्ट का आदेश पढ़कर सुनाया। साधना रामचंद्रन ने कहा कि जिस तरह से प्रदर्शन करना आपका हक है, उसी तरह से दूसरों का भी अधिकार है कि वे सड़कों पर चल सकें और अपनी दुकानें खोल सकें। मध्यस्थों ने प्रदर्शनकारियों से बातचीत से पहले मीडिया से हटने की अपील की। प्रदर्शन के चलते करीब दो महीने से बंद पड़े रास्ते को खाली करवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने के लिए मध्यस्थों की नियुक्ति की थी।

'हक वहीं तक होना चाहिए, जहां तक दूसरे का हक प्रभावित न हो'शाहीन बाग में लोगों को संबोधित करते हुए साधना रामचंद्रन ने कहा- सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि आपको आंदोलन करने का हक है। लेकिन, हमारी तरह और भी नागरिक हैं, जो इस रास्ते से आते-जाते हैं। बच्चे स्कूल जाते हैं, लोग ऑफिस आते-जाते हैं। उनके भी अधिकार हैं। हक वहीं तक होना चाहिए, जहां तक दूसरे का हक प्रभावित न हो। रोड, पार्क, ब्रिज सार्वजनिक सुविधाएं हैं। हम आपकी सारी बातें सुनेंगे। मुझे विश्वास है कि हम ऐसा हल निकालेंगे जो न सिर्फ देश बल्कि दुनिया के लिए मिसाल बन जाएगा। उन्होंने कहा कि हम बिना मीडिया के प्रदर्शनकारियों से बात करेंगे। बातचीत की जानकारी मीडिया को बाद में दी जाएगी। 

हेगड़े ने ट्विटर पर लोगों से सुझाव मांगेशाहीन बाग पहुंचकर संजय हेगड़े ने कहा कि हमें यहां (शाहीन बाग) आने का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया था। उम्मीद है कि हमारी सबसे बात होगी और सभी के सहयोग से हम मुद्दे को हल कर लेंगे। हम दोनों सुप्रीम कोर्ट के वकील हैं, हम सबको सुनने आए हैं। शाहीन बाग जाने से हेगड़े ने पहले ट्विटर पर भी गतिरोध खत्म करने के लिए लोगों से सुझाव मांगे।

और पढो: Dainik Bhaskar »

निकिता मर्डर केस: आरोपी रसूखदार, इंसाफ कब होगा सरकार?

बल्लभगढ़ की बेटी को लव जेहाद ने मारा डाला? इस सवाल से पूरा इलाका सन्न है. पीड़ित परिवार पूरी कहानी बता रहा है कि कैसे की साल से आरोपी तौसीफ उनकी बेटी को तंग कर रहा था. इस वारदात पर कल से लेकर आजतक हंगामा मचा रहा. इंसाफ की मांग को लेकर सड़क जाम कर दी गई. अब से थोड़ी देर पहले प्रशासन की कोशिशों से धरना और जाम तो खत्म हो गया, लेकिन इस मामले में लव जिहाद का जिन्न फिर से बाहर निकल चुका है. फरीदाबाद में जो हुआ वो अचानक नहीं हुआ. पीड़ित परिवार काफी पहले से प्रताड़ना का शिकार था, लेकिन आरोपियों के सियासी रसूख के चलते पहले भी उन्हें इंसाफ की जगह मजबूरन राजीनामा और सुलह कबूल करनी पड़ी. परिवार को डर है कि बेटी की हत्या के बाद भी आरोपी वही पुराने हथकंडे अपनाएंगे. परिवार आज चीख-चीख कर कह रहा है कि उनकी बेटी को लव जेहाद ने मार डाला. देखिए देशतक, रोहित सरदाना के साथ.

वार्ताकारों से मुलाकात से पहले बोलीं शाहीन बाग की महिलाएं- हटने का सवाल नहींवार्ताकार सड़क खाली करने के सिलसिले में शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से बुधवार को मुलाकात कर सकते हैं. लेकिन प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सीएए जैसे कानून को वापस नहीं लिया जाता तब तक वो नहीं हटेंगे. God! plz give them Sadbuddhi! 💪💪💪💪💪darna Mt.....Faad dalenge Hinduo ko naa aane dene ke liye itne dino se protest chl raha hai......per kashmiri pandito ko jab islam ke jihadiyo ne murder aur rape karke waha se bhagaya gya......toh av tak kisi musalman ko dekha nh aise protest karke unhe dubara unke ghr me basane ke liye......

प्रदर्शनकारियों के बीच अंजना, देखें शाहीन बाग की महिलाओं से खास बातचीतनागरिकता कानून के खिलाफ शाहीन बाग की महिलाएं पिछले 66 दिनों से धरने पर बैठी हैं. मंगलवार को शाहीन बाग की महिलाओं के बीच पहुंचीं आजतक एंकर अंजना ओम कश्यप और जानीं वहां की महिलाओं के मन की बात. इस ग्राउंड रिपोर्टिंग के दौरान अंजना ओम कश्यप ने महिलाओं से कई सवाल- जवाब किए. देखें सुप्रीम कोर्ट द्वारा शाहीन बाग के मुद्दे पर बीच का रास्ता निकालने के लिए जो कमेटी बनाई गई है उसके बारे में क्या सोंचती हैं शाहीन बाग की महिलाएं. anjanaomkashyap बिरयानी खाने गयी है लगता है,,,,क्योकि बाकी कोई काम तो है नही शाहीनबाग में,,,,, anjanaomkashyap jinhe ye bill hai kya wahi pata nh......unse kya baat kar rahi hai ye media.... anjanaomkashyap ईसाई धर्म पहली सदी में बना,15 ईसाई देश हैं इस्लाम 7th सदी में बना और देखते देखते 56 मुस्लिम देश बन गए! सनातन हिन्दू धर्म हजारों साल पुराना है,ईसा पूर्व के बहुत पहले से. और हिन्दू अपना एक देश नहीं बना पाए! बनाने की बात तो छोड़ो बचा भी नहीं पा रहे है? क्यों? क्या वजह है ?

शाहीन बाग में आज खुल सकता है सुलह का रास्ता, प्रदर्शनकारियों से मिलने जाएंगे वार्ताकारसुप्रीम कोर्ट की तरफ से नियुक्त वार्ताकार वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े, साधना रामचंद्रन और वजाहत हबीवुल्लाह आज शाहीन बाग पहुंचेगे. उम्मीद है कि मध्यस्थता के जरिये शाहीन बाग के मसले पर सर्वमान्य हल निकाला जा सकेगा. मोदी और अमित शाह का शाहीन बाग ना जाने का एक मुख्य कारण यह भी हो सकता है कि 80% बुरखे वाली प्रेग्नेंट है, कहीं गले ना पड़ जाए। कोई रास्ता नहीं निकलेगा क्यों की जो वार्ताकार कोर्ट ने नियुक्त किये है वो भी इनकी ही प्रवत्ति के है मेरी बात पर यकीन ना हो तो 4 घण्टे बाद मेरे इस टिविट को फिर से देख लेना कोई नतीजा नहीं निकलेगा Anjana ji abi aap live chal Raha tha dekha maine apka report Esme baithe Jo log hai unme se 40 percent ko pata hi nahi ki kanoon hai kya? Aor aisi hi dusre ke behkawe me baithe hai kya tamasa banya hai

अमित शाह से मुलाकात करेंगे अरविंद केजरीवाल, क्या शाहीन बाग पर होगी बात?नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा में शानदार जीत हासिल कर चुके आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे।

LIVE: शाहीन बाग पहुंचे वार्ताकार, प्रदर्शनकारियों से कर रहे हैं बातचीतसुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को अपनी सुनवाई में शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर चल रहे प्रदर्शन को समाप्त करवाने के लिए वातार्कारों के एक पैनल का गठन किया था, AmitShah What's going on there now is like I m seeing a dirty sh*t AmitShah Have they gone to talk or beg them to vacate.. All the best.... AmitShah किस से बात करेंगे!? कुछ दिनों पहले तो यह बोला जा रहा था कि हमारा कोई नेता नहीं हैं। 🤔🤔 चुनाव खत्म होते ही 'नेता' आ गया क्या!?😜

शाहीन बाग: प्रदर्शनकारियों से बातचीत कर रहे हैं वार्ताकार, रास्ता खुलवाने की कोशिश जारीसुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार बातचीत के लिए वार्ताकर बुधवार को शाहीन बाग पहुंचे। मध्यस्थता के लिए तय किए गए संजय हेगड़े Matter should be resolved amicably. शाहीन बाग वाले चाहे जबतक आंदोलन करें लेकिन आम जनता को तकलीफ ना हो इसका भी ध्यान रखें,सारे रास्ते खोल दें और व्यापारीयों को व्यवसाय करने दें।अगर शाहीन बाग में जगह ना हो तो जंतर- मंतर या रामलीला मैदान में आंदोलन करें।आपको जनता का सहयोग मिल रहा है आप भी जनता को सहयोग दें,बस।जयहिन्द।