Pmcaresfund, Pmo, Delhihighcourt, पीएमकेयर्सफंड, पीएमओ, दिल्लीहाईकोर्ट

Pmcaresfund, Pmo

प्रधानमंत्री कार्यालय ने दिल्ली हाईकोर्ट से कहा, पीएम केयर्स भारत सरकार का फंड नहीं

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से यह जवाब अदालत में दायर उन याचिकाओं को लेकर आया है, जिसमें पीएम केयर्स फंड को सरकारी घोषित करने की मांग की गई है.

24-09-2021 07:30:00

प्रधानमंत्री कार्यालय ने दिल्ली हाईकोर्ट से कहा, पीएम केयर्स भारत सरकार का फंड नहीं PMCaresfund PMO ModiGovt DelhiHighCourt पीएमकेयर्सफंड पीएमओ मोदीसरकार दिल्लीहाईकोर्ट

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से यह जवाब अदालत में दायर उन याचिकाओं को लेकर आया है, जिसमें पीएम केयर्स फंड को सरकारी घोषित करने की मांग की गई है.

नई दिल्ली:प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने एक बार फिर से अपनी पुरानी दलीलों को दोहराते हुए कहा है पीएम केयर्स फंड ‘सरकारी’ नहीं है, क्योंकि इसका पैसा भारत सरकार के खजाने में नहीं जाता है.इंडियन एक्सप्रेसके मुताबिक, प्रधानमंत्री कार्यालय के अवर सचिव प्रदीप कुमार श्रीवास्तव ने दिल्ली हाईकोर्ट में सौंपे एक जवाब में कहा कि भारत के संविधान के अनुच्छेद 12 के तहत ये ट्रस्ट ‘सरकारी’ हो या ना हो, या फिर सूचना का अधिकार कानून की धारा 2(एच) के तहत ‘पब्लिक अथॉरिटी’ हो या न हो, लेकिन आरटीआई कानून की धारा आठ की उपधाराओं (ई और जे) में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि थर्ड पार्टी से संबंधित जानकारी नहीं दी जा सकती है.

पाकिस्तान की किसी भी वर्ल्ड कप में भारत के ख़िलाफ़ पहली जीत - BBC News हिंदी IND vs PAK: टीम इंडिया को पाकिस्तान के हाथों मिली शर्मनाक हार, सोशल मीडिया पर फैंस का छलका दर्द IND vs PAK: पाकिस्तान ने दी भारत को 10 विकेट से मात, विश्व कप में पहली बार हारा भारत

पीएमओ को यह जवाब कोर्ट में दायर उन याचिकाओं पर आया है, जिसमें पीएम केयर्स फंड को सरकारी घोषित करने की मांग की गई है.याचिकाकर्ताओं ने दलील दी है देश के नागरिक इस बात से दुखी हैं कि प्रधानमंत्री द्वारा गठित और पीएम, गृह मंत्री, वित्त मंत्री जैसे लोगों की सदस्यता वाले ट्रस्ट को लेकर ये दावा किया जा रहा है कि इस पर सरकार का नियंत्रण नहीं है.

श्रीवास्तव ने अदालत को बताया कि वह ट्रस्ट में मानद आधार पर काम करते हैं. उन्होंने कहा कि ट्रस्ट पारदर्शिता के साथ काम करता है और इसके फंड का ऑडिट एक ऑडिटर द्वारा किया जाता है, जो भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (कैग) द्वारा तैयार पैनल से एक चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं. headtopics.com

अधिकारी ने कहा, ‘पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए ट्रस्ट द्वारा प्राप्त धन के उपयोग के विवरण के साथ ऑडिट रिपोर्ट ट्रस्ट की आधिकारिक वेबसाइट पर डाल दी जाती है.’इसमें कहा गया है कि ट्रस्ट को प्राप्त सभी दान ऑनलाइन भुगतान, चेक या डिमांड ड्राफ्ट के माध्यम से प्राप्त हुए हैं. इस तरह प्राप्त राशि का ऑडिट किया जाता है और ट्रस्ट फंड के खर्च को वेबसाइट पर प्रदर्शित किया जाता है.

सम्यक गंगवाल द्वारा दायर याचिका में कहा गया है कि प्रधानमंत्री द्वारा मार्च 2020 में कोविड-19 महामारी के मद्देनजर नागरिकों को सहायता प्रदान करने के लिए पीएम केयर्स फंड का गठन किया गया था और इसे भारी दान मिला था.हालांकि ट्रस्ट डीड की एक प्रति पीएम-केयर्स फंड द्वारा दिसंबर 2020 में अपनी वेबसाइट पर जारी की गई थी, जिसके अनुसार यह संविधान द्वारा या उसके तहत या संसद द्वारा बनाए गए किसी कानून द्वारा नहीं बनाई गई है.

मालूम हो किआरटीआई एक्ट की धारा 2 (एच)में पब्लिक अथॉरिटी की परिभाषा दी गई है और ये बताया गया है कि किस तरह के संस्थान इसके दायरे में है.धारा 2 (एच) में उपधारा (ए) से लेकर (डी) तक में बताया गया है कि कोई भी अथॉरिटी या बॉडी या संस्थान जिसका गठन संविधान, संसद द्वारा बनाए गए किसी कानून, राज्य विधायिका द्वारा बनाए गए कानून, सरकार द्वारा जारी किए गए किसी आदेश या अधिसूचना के तहत किया गया हो, उसे पब्लिक अथॉरिटी माना जाएगा.

इसके अलावा धारा 2 (एच)(डी) (i) के मुताबिक कोई भी अथॉरिटी जिसका गठन सरकारी आदेश या अधिसूचना के जरिये किया सरकार के स्वामित्व में हो या इसे नियंत्रित किया जाता हो या सरकार द्वारा काफी हद तक वित्तपोषित हो, उसे पब्लिक अथॉरिटी कहा जाएगा.धारा 2 (एच)(डी) (ii) के तहत वो गैर-सरकारी संगठन जिनको सरकार प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से फंड देती है, उसे पब्लिक अथॉरिटी कहा जाएगा और ऐसे संस्थानों को आरटीआई एक्ट के तहत सूचना देनी होगी. headtopics.com

IND vs PAK Live Updates: भारत ने पाकिस्तान के सामने जीत के लिए रखा 152 का लक्ष्य T20 WC, Ind Vs Pak: टूट गया दशकों का रिकॉर्ड, वर्ल्डकप मुकाबले में पहली बार पाकिस्तान से हारा भारत कोहली की कप्तानी पारी की बदौलत पाकिस्तान को 152 रनों का लक्ष्य - BBC News हिंदी

पीएमओ की ये दलील है कि पीएम केयर्स फंड इनमें से किसी भी परिभाषा के दायरे में नहीं आता है. केंद्र सरकार का दावा है कि पीएम केयर्स एक चैरिटेबल ट्रस्ट है और सरकार इसे फंड नहीं देती है और न ही इसे नियंत्रित करती है.हालांकि जानकारों का कहना है कि सरकार के सर्वोच्च पदों वाले लोग इस फंड के ट्रस्टी हैं और विभिन्न माध्यमों से सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल कर इस फंड का प्रचार किया जा रहा और करदाताओं के पैसे अनुदान के रूप में इसमें दिए जा रहे हैं, इसलिए ये स्पष्ट है कि सरकार और सरकार के लोग इसे नियंत्रित कर रहे हैं.

और पढो: द वायर हिंदी »

प्रकाश झा पर स्याही फेंकी: भोपाल में आश्रम-3 के शूटिंग क्रू पर बजरंग दल का हमला; टीम को पीटा, गाड़ियां तोड़ीं

भोपाल में वेब सीरीज आश्रम-3 की शूटिंग के दौरान बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने फिल्म निर्माता प्रकाश झा के साथ झूमाझटकी की। उन पर स्याही फेंकी। शूटिंग पुरानी जेल (अरेरा हिल्स) में चल रही थी। कार्यकर्ताओं ने जेल परिसर के अंदर ही वेब सीरीज की टीम के कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। वैनिटी वैन समेत 5 गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। हमले में 4 से 5 कर्मचारियों को चोट लगी है। कुछ मीडियाकर्मियों से भी मारपीट की ग... | Bajrang Dal throws ink on film director Prakash Jha in Bhopal

If the fund does not belong to the Government of India then fundraiser should not use the PM face of ruling government and also should not use the symbol of government of India Pm care fund agar bharat ka nahi hai to प्रधान मंत्री इसमें चंदे का प्रचार करके चंदा इकट्ठा क्यू कर रहे थे। विदेशियों k लिए या और कोई प्लान था

मोदी का है या जनता का but of course not transparent और अन्धभक्त उसे अपने बाप की बपौती समझ बैठे थे जबकि वो दादा मतलब अम्बानी अड़ानी की योजना है पीएम केयर्स फंड में रुपये क्या दिया गया है PMNRF भारत सरकार का का फंड था क्या To Modi bhi Bharta sarkar ki PM nahi hoga...na

PM CARES फंड को लेकर सरकार ने दी जानकारी, कहा- यह सरकारी संपत्ति नहींबता दें कि प्रधानमंत्री राहत कोष को लेकर दिल्ली कोर्ट में वकील सम्यक गंगवाल ने एक याचिका दायर की है, जिसमें कहा है कि इस कोष को राज्य का घोषित कियाा जाय। अपनी मांग में इस कोष की पारदर्शिता बनाए रखने के लिए इसे RTI के अधीन लाने की बात कही है। narendramodi जनसेवक हो न आप तो।। जब चोरी नही की तो हिसाब तो देना पड़ेगा। हम सभी ने दान दिया है। WHO unfoundation wef WorldBank EconomicTimes the_hindu DainikBhaskar pmcares PMOIndia BJP government has nearly killed RTI ACT. Long live kingdom 🙏💙. तो क्या PM Cares मोदी जी की निजी सम्पत्ति है ?

आपदा में राहतआखिरकार केंद्र सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में हलफनामा दायर कर कहा है कि कोविड से हुई मौतों के मामले में आश्रितों को पचास हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा।

AUKUS में भारत की एंट्री नहीं: अमेरिका ने कहा- भारत और जापान को शामिल नहीं करेंगे; इंडो-पैसिफिक में ब्रिटेन-ऑस्ट्रेलिया से की है पार्टनरशिपअमेरिका ने हिंद-प्रशांत (इंडो-पैसिफिक) से जुड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन के साथ पिछले हफ्ते सुरक्षा समझौता किया था। इस करार को इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में चीन की आक्रामकता को कंट्रोल करने के नजरिए से देखा जा रहा है, लेकिन अमेरिका ने इस पार्टनरशिप में भारत और जापान को शामिल करने से इनकार कर दिया है। | India Japan: AUKUS JAIAUKUS Security Alliance | United States Ruled Out Adding India Or Japan PMOIndia गोदी मीडिया की इंचार्ज anjanaomkashyap तो बोल रही है अमरीका में भारतीय में एक उत्साह है बाइडन बहुत गर्म जोशी से मिलने वाले है। किया बाइडन यही बोलने के लिए साहब को अमरीका बुलाया है? PMOIndia Beizzati kerva di india ki PMOIndia It is hopefully good that India should stay away from engaging itself into controlling it's neighbors without any direct conflict.

प्रधानमंत्री मोदी और कमला हैरिस की हुई पहली मुलाक़ात, भारत आने का दिया न्यौता - BBC Hindiअमेरिका दौरे पर गए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से पहली बार आमने-सामने मुलाक़ात की. आए अपने अपने जैसे सोच से.. बसे जहन विकसित छोर से.. क्या रहे जो सर्वत्र व्याप्त मिले.. किनके भाव से सदा मिलाप रहे .. नीति में हर क्षण सराहना.. कोई व्यक्तिगत रूप में कैसे जुड़े.. इसी की विस्तृत वर्णन सर्वदा मिले⚡ मोदी के बुलाने से नही आयेगी, कुछ बेच दो मोदी उनके हाथ में। Harris ji ki Maa bhartiye mool ki thi aaj Kamla Madam powerful country US ki Vice President hai jinko Bharat ka PM India aane ke liye invitation de rahe hai, isme mahanta America vasiyo ki hai jinohne Harris ji ko itna Maan-Samman diya

दिग्विजय सिंह ने पूछा: देश जानना चाहता है प्रधानमंत्री को अमेरिका जाने की अनुमति कैसे मिली? उन्होंने तो कोवैक्सीन ली थीदिग्विजय सिंह ने पूछा: देश जानना चाहता है प्रधानमंत्री को अमेरिका जाने की अनुमति कैसे मिली? उन्होंने तो कोवैक्सीन ली थी DigvijaySingh narendramodi BJP4India narendramodi BJP4India Oh bhi bina Congress ki permission liye .. narendramodi BJP4India खुद का नाम लो ना कि केवल और केवल दिग्विजय का ही ध्यान है. देश तो ये सोच रहा कि कितना सफल रहेगा ये दौरा... narendramodi BJP4India देश नही कांग्रेश के बड़बोले नेता दिग्विजय सिंह को मिर्ची लगी है इस लिये परेशान है बाकी किसी को कुछ मतलब नही है

जातिवार जनगणना के सवाल पर सुप्रीम कोर्ट से क्या कहा मोदी सरकार ने - BBC Hindiमहाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों की जनगणना कराए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई याचिका पर केंद्र सरकार ने शीर्ष अदालत से कहा है कि इस पर सुनवाई नहीं की जानी चाहिए.