प्रधानमंत्री मोदी का एक ही मंत्र, घर में रहें... घर में रहें... और बस घर में रहें

Lockdown, Lockdownnow, Coronavirus, Coronaviruslockdown, 21 Dayslockdown, Stayhome, Coronavirus, Prime Minister Narendra Modi Mantra, Pm Modi Mantra, Stay At Home, Address Nation, Speech, İndia Lockdown, Pm Modi, Pm Modi Address Today, Pm Modi Address To Nation, कोरोना वायरस, कोरोनावायरस, Pm Modi News, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री मोदी, पीएम मोदी, पीएम नरेंद्र मोदी, नरेंद्र मोदी, राष्ट्र को संबोधन, पीएम मोदी का मंत्र, प्रधानमंत्री का मंत्र, घर में रहें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंत्र, मोदी मंत्र, Pm Modi To Address Nation, Pm Modi Speech, Pm Modi On Coronavirus, Covid 19, Pm Modi Speech Today, Modi Speech Today, Pm Modi Live, Coronavirus İndia, Coronavirus İn İndia, Lockdown, Lockdown İn İndia

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए देशवासियों को एक मंत्र दे दिया। यह मंत्र

Lockdown, Lockdownnow

3/24/2020

प्रधानमंत्री मोदी का एक ही मंत्र, घर में रहें ... घर में रहें ... और बस घर में रहें Lockdown Lockdown Now narendramodi PMOIndia coronavirus Coronavirus Lockdown 21days Lockdown StayHome

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए देशवासियों को एक मंत्र दे दिया। यह मंत्र

है घर में रहें.. घर में रहें.. और बस घर में रहें। जी हां, पीएम मोदी ने इसके साथ ही आज रात 12 बजे से पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा भी कर दी। उन्होंने अपने संबोधन में साफ कहा कि आने वाले 21 दिन हमारे यानि भारत देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। कोरोना से बचाव का इसके अलावा कोई और तरीका नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी अपने संबोधन में इसके पीछे की वजहें भी बताईं। आइए जानते हैं प्रधानमंत्री मोदी ने और क्या-क्या कहा और क्यों कहा.. नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों कहकर पीएम ने शुरू किया संबोधन नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ, पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। हर कोई इस घड़ी में साथ आया: पीएम बच्चे-बुजुर्ग, छोटे-बड़े, गरीब-मध्यम वर्ग-उच्च वर्ग, हर कोई परीक्षा की इस घड़ी में साथ आया। जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया: मोदी एक दिन के जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है, जब मानवता पर संकट आता है तो किस प्रकार से हम सभी भारतीय मिलकर, एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं। साथियों, आप कोरोना वैश्विक महामारी पर पूरी दुनिया की स्थिति को समाचारों के माध्यम से सुन भी रहे हैं और देख भी रहे हैं। आप ये भी देख रहे हैं कि दुनिया के समर्थ से समर्थ देशों को भी कैसे इस महामारी ने बिल्कुल बेबस कर दिया है। प्रभावी मुकाबले का एकमात्र विकल्प बताया इन सभी देशों के दो महीनों के अध्ययन से जो निष्कर्ष निकल रहा है, और एक्सपर्ट्स भी यही कह रहे हैं कि कोरोना से प्रभावी मुकाबले के लिए एकमात्र विकल्प है। कोरोना से बचने का कोई तरीका नहीं: पीएम कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई तरीका नहीं है, कोई रास्ता नहीं है। कोरोना को फैलने से रोकना है, तो इसके संक्रमण की सायकिल को तोड़ना ही होगा। सोशल डिस्टेंसिंग ही एकमात्र विकल्प: मोदी कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग केवल बीमार लोगों के लिए आवश्यक है। ये सोचना सही नहीं। सोशल डिस्टेंसिंग हर नागरिक के लिए है, हर परिवार के लिए है, परिवार के हर सदस्य के लिए है। कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी। लॉकडाउन को गंभीरता से लें साथियों, पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए। आज रात 12 बजे से संपूर्ण लॉकडाउन आज रात 12 बजे से पूरे देश में, ध्यान से सुनिएगा, पूरे देश में, आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। पूरे देश में लॉकडाउन: मोदी देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है। निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी। लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है। लॉकडाउन 21 दिन का होगा: पीएम इसलिए मेरी आपसे प्रार्थना है कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहें। अभी के हालात को देखते हुए, देश में ये लॉकडाउन 21 दिन का होगा। आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं: पीएम आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है। घर में रहें, घर में रहें और घर में रहें: पीएम घर में रहें, घर में रहें और एक ही काम करें कि अपने घर में रहें। साथियों, आज के फैसले ने, देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है। आपको ये याद रखना है कि कई बार कोरोना से संक्रमित व्यक्ति शुरुआत में बिल्कुल स्वस्थ लगता है, वो संक्रमित है इसका पता ही नहीं चलता। इसलिए एहतियात बरतिए, अपने घरों में रहिए। पीएम ने बताया कैसे फैलती गई महामारी सोचिए, पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे। ये और भी भयावह है कि दो लाख संक्रमित लोगों से तीन लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे। इन देशों में हालात बेकाबू हो गए: पीएम साथियों, यही वजह है कि चीन, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, इटली-ईरान जैसे देशों में जब कोरोना वायरस ने फैलना शुरू किया, तो हालात बेकाबू हो गए। उपाय क्या है, विकल्प क्या है? उपाय क्या है, विकल्प क्या है? साथियों, कोरोना से निपटने के लिए उम्मीद की किरण, उन देशों से मिले अनुभव हैं जो कोरोना को कुछ हद तक नियंत्रित कर पाए। हमें भी ये मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने यही एक मार्ग है- हमें घर से बाहर नहीं निकलना है। चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है। ये समय हमारे संकल्प को बार-बार मजबूत करने का है: पीएम मोदी भारत आज उस स्टेज पर है जहां हमारे आज के एक्शन तय करेंगे कि इस बड़ी आपदा के प्रभाव को हम कितना कम कर सकते हैं। ये समय हमारे संकल्प को बार-बार मजबूत करने का है। ये धैर्य और अनुशासन की घड़ी है: पीएम साथियों, ये धैर्य और अनुशासन की घड़ी है। जब तक देश में लॉकडाउन की स्थिति है, हमें अपना संकल्प निभाना है, अपना वचन निभाना है। जरा इनके बारे में भी सोचिए: पीएम उन डॉक्टर्स, उन नर्सेस, पैरा-मेडिकल स्टाफ, पैथोलॉजिस्ट के बारे में सोचिए, जो इस महामारी से एक-एक जीवन को बचाने के लिए, दिन रात अस्पताल में काम कर रहे हैं। आप उन लोगों के लिए प्रार्थना करिए जो आपकी सोसायटी, आपके मोहल्लों, आपकी सड़कों, सार्वजनिक स्थानों को सैनिटाइज करने के काम में जुटे हैं, जिससे इस वायरस का नामो-निशान न रहे। असुविधा ना हो इसकी कोशिश जारी: पीएम कोरोना वैश्विक महामारी से बनी स्थितियों के बीच, केंद्र और देशभर की राज्य सरकारें तेजी से काम कर रही है। रोजमर्रा की जिंदगी में लोगों को असुविधा न हो, इसके लिए निरंतर कोशिश कर रही हैं। 15 हजार करोड़ का प्रावधान किया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए, देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने आज 15 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। जरूरी साधनों की संख्या बढ़ाई इससे कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फेसिलिटीज,पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्वीपमेंट्स, आइसोलेशन बेड्स, आईसीयू बेड्स, वैंटिलेटर्स और अन्य जरूरी साधनों की संख्या तेजी से बढ़ाई जाएगी। राज्य सरकारों से अनुरोध किया: पीएम मैंने राज्य सरकारों से अनुरोध किया है कि इस समय उनकी पहली प्राथमिकता, सिर्फ और सिर्फ स्वास्थ्य सेवाएं ही होनी चाहिए, हेल्थ केयर ही प्राथमिकता होनी चाहिए। अफवाहों से बचें: पीएम लेकिन साथियों, ये भी ध्यान रखिए कि ऐसे समय में जाने-अनजाने कई बार अफवाहें भी फैलती हैं। मेरा आपसे आग्रह है कि किसी भी तरह की अफवाह और अंधविश्वास से बचें। मेरी आपसे प्रार्थना है कि इस बीमारी के लक्षणों के दौरान, बिना डॉक्टरों की सलाह के, कोई भी दवा न लें। निर्देशों का पालन करें: पीएम किसी भी तरह का खिलवाड़, आपके जीवन को और खतरे में डाल सकता है। मुझे विश्वास है हर भारतीय संकट की इस घड़ी में सरकार के, स्थानीय प्रशासन के निर्देशों का पालन करेगा। 21 दिन का लॉकडाउन, लंबा समय है, लेकिन आपके जीवन की रक्षा के लिए, आपके परिवार की रक्षा के लिए, उतना ही महत्वपूर्ण है। है घर में रहें.. घर में रहें.. और बस घर में रहें। जी हां, पीएम मोदी ने इसके साथ ही आज रात 12 बजे से पूरे देश में लॉकडाउन की घोषणा भी कर दी। उन्होंने अपने संबोधन में साफ कहा कि आने वाले 21 दिन हमारे यानि भारत देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। कोरोना से बचाव का इसके अलावा कोई और तरीका नहीं है। प्रधानमंत्री मोदी अपने संबोधन में इसके पीछे की वजहें भी बताईं। आइए जानते हैं प्रधानमंत्री मोदी ने और क्या-क्या कहा और क्यों कहा.. विज्ञापन नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों कहकर पीएम ने शुरू किया संबोधन नमस्कार, मेरे प्यारे देशवासियों 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ, पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। हर कोई इस घड़ी में साथ आया: पीएम बच्चे-बुजुर्ग, छोटे-बड़े, गरीब-मध्यम वर्ग-उच्च वर्ग, हर कोई परीक्षा की इस घड़ी में साथ आया। जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया: मोदी एक दिन के जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है, जब मानवता पर संकट आता है तो किस प्रकार से हम सभी भारतीय मिलकर, एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं। समर्थ देशों को भी महामारी ने बेबस किया: मोदी साथियों, आप कोरोना वैश्विक महामारी पर पूरी दुनिया की स्थिति को समाचारों के माध्यम से सुन भी रहे हैं और देख भी रहे हैं। आप ये भी देख रहे हैं कि दुनिया के समर्थ से समर्थ देशों को भी कैसे इस महामारी ने बिल्कुल बेबस कर दिया है। प्रभावी मुकाबले का एकमात्र विकल्प बताया इन सभी देशों के दो महीनों के अध्ययन से जो निष्कर्ष निकल रहा है, और एक्सपर्ट्स भी यही कह रहे हैं कि कोरोना से प्रभावी मुकाबले के लिए एकमात्र विकल्प है। कोरोना से बचने का कोई तरीका नहीं: पीएम कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई तरीका नहीं है, कोई रास्ता नहीं है। कोरोना को फैलने से रोकना है, तो इसके संक्रमण की सायकिल को तोड़ना ही होगा। सोशल डिस्टेंसिंग ही एकमात्र विकल्प: मोदी कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग केवल बीमार लोगों के लिए आवश्यक है। ये सोचना सही नहीं। सोशल डिस्टेंसिंग हर नागरिक के लिए है, हर परिवार के लिए है, परिवार के हर सदस्य के लिए है। लापरवाही हमें मुश्किल में झोंक देगी: पीएम कुछ लोगों की लापरवाही, कुछ लोगों की गलत सोच, आपको, आपके बच्चों को, आपके माता पिता को, आपके परिवार को, आपके दोस्तों को, पूरे देश को बहुत बड़ी मुश्किल में झोंक देगी। लॉकडाउन को गंभीरता से लें साथियों, पिछले 2 दिनों से देश के अनेक भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए। आज रात 12 बजे से संपूर्ण लॉकडाउन आज रात 12 बजे से पूरे देश में, ध्यान से सुनिएगा, पूरे देश में, आज रात 12 बजे से पूरे देश में, संपूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है। हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है। पूरे देश में लॉकडाउन: मोदी देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है। देश को आर्थिक कीमत उठानी पड़ेगी: मोदी निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी। लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है। लॉकडाउन 21 दिन का होगा: पीएम इसलिए मेरी आपसे प्रार्थना है कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहें। अभी के हालात को देखते हुए, देश में ये लॉकडाउन 21 दिन का होगा। आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं: पीएम आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है। घर में रहें, घर में रहें और घर में रहें: पीएम घर में रहें, घर में रहें और एक ही काम करें कि अपने घर में रहें। साथियों, आज के फैसले ने, देशव्यापी लॉकडाउन ने आपके घर के दरवाजे पर एक लक्ष्मण रेखा खींच दी है। इसलिए एहतियात बरतिए, अपने घरों में रहिए : पीएम आपको ये याद रखना है कि कई बार कोरोना से संक्रमित व्यक्ति शुरुआत में बिल्कुल स्वस्थ लगता है, वो संक्रमित है इसका पता ही नहीं चलता। इसलिए एहतियात बरतिए, अपने घरों में रहिए। पीएम ने बताया कैसे फैलती गई महामारी सोचिए, पहले एक लाख लोग संक्रमित होने में 67 दिन लगे और फिर इसे 2 लाख लोगों तक पहुंचने में सिर्फ 11 दिन लगे। ये और भी भयावह है कि दो लाख संक्रमित लोगों से तीन लाख लोगों तक ये बीमारी पहुंचने में सिर्फ चार दिन लगे। इन देशों में हालात बेकाबू हो गए: पीएम साथियों, यही वजह है कि चीन, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, इटली-ईरान जैसे देशों में जब कोरोना वायरस ने फैलना शुरू किया, तो हालात बेकाबू हो गए। उपाय क्या है, विकल्प क्या है? उपाय क्या है, विकल्प क्या है? साथियों, कोरोना से निपटने के लिए उम्मीद की किरण, उन देशों से मिले अनुभव हैं जो कोरोना को कुछ हद तक नियंत्रित कर पाए। चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना: पीएम हमें भी ये मानकर चलना चाहिए कि हमारे सामने यही एक मार्ग है- हमें घर से बाहर नहीं निकलना है। चाहे जो हो जाए, घर में ही रहना है। ये समय हमारे संकल्प को बार-बार मजबूत करने का है: पीएम मोदी भारत आज उस स्टेज पर है जहां हमारे आज के एक्शन तय करेंगे कि इस बड़ी आपदा के प्रभाव को हम कितना कम कर सकते हैं। ये समय हमारे संकल्प को बार-बार मजबूत करने का है। ये धैर्य और अनुशासन की घड़ी है: पीएम साथियों, ये धैर्य और अनुशासन की घड़ी है। जब तक देश में लॉकडाउन की स्थिति है, हमें अपना संकल्प निभाना है, अपना वचन निभाना है। जरा इनके बारे में भी सोचिए: पीएम उन डॉक्टर्स, उन नर्सेस, पैरा-मेडिकल स्टाफ, पैथोलॉजिस्ट के बारे में सोचिए, जो इस महामारी से एक-एक जीवन को बचाने के लिए, दिन रात अस्पताल में काम कर रहे हैं। उन लोगों के लिए प्रार्थना करिए: पीएम आप उन लोगों के लिए प्रार्थना करिए जो आपकी सोसायटी, आपके मोहल्लों, आपकी सड़कों, सार्वजनिक स्थानों को सैनिटाइज करने के काम में जुटे हैं, जिससे इस वायरस का नामो-निशान न रहे। असुविधा ना हो इसकी कोशिश जारी: पीएम कोरोना वैश्विक महामारी से बनी स्थितियों के बीच, केंद्र और देशभर की राज्य सरकारें तेजी से काम कर रही है। रोजमर्रा की जिंदगी में लोगों को असुविधा न हो, इसके लिए निरंतर कोशिश कर रही हैं। 15 हजार करोड़ का प्रावधान किया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए, देश के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने आज 15 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। जरूरी साधनों की संख्या बढ़ाई इससे कोरोना से जुड़ी टेस्टिंग फेसिलिटीज,पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्वीपमेंट्स, आइसोलेशन बेड्स, आईसीयू बेड्स, वैंटिलेटर्स और अन्य जरूरी साधनों की संख्या तेजी से बढ़ाई जाएगी। ऐसी बातों से बचें: पीएम राज्य सरकारों से अनुरोध किया: पीएम मैंने राज्य सरकारों से अनुरोध किया है कि इस समय उनकी पहली प्राथमिकता, सिर्फ और सिर्फ स्वास्थ्य सेवाएं ही होनी चाहिए, हेल्थ केयर ही प्राथमिकता होनी चाहिए। अफवाहों से बचें: पीएम लेकिन साथियों, ये भी ध्यान रखिए कि ऐसे समय में जाने-अनजाने कई बार अफवाहें भी फैलती हैं। मेरा आपसे आग्रह है कि किसी भी तरह की अफवाह और अंधविश्वास से बचें। मेरी आपसे प्रार्थना है कि इस बीमारी के लक्षणों के दौरान, बिना डॉक्टरों की सलाह के, कोई भी दवा न लें। निर्देशों का पालन करें: पीएम किसी भी तरह का खिलवाड़, आपके जीवन को और खतरे में डाल सकता है। मुझे विश्वास है हर भारतीय संकट की इस घड़ी में सरकार के, स्थानीय प्रशासन के निर्देशों का पालन करेगा। 21 दिन का लॉकडाउन, लंबा समय है, लेकिन आपके जीवन की रक्षा के लिए, आपके परिवार की रक्षा के लिए, उतना ही महत्वपूर्ण है। विज्ञापन और पढो: Amar Ujala

PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल



मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak

कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला



दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल

आज तक @aajtak



कोरोना: यूपी में छोड़े जाएंगे 359 बाल कैदी, इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद होगी रिहाई

कोरोना: पाकिस्तान ने 80 एकड़ जमीन पर क्यों बनाया नया कब्रिस्तान? - Coronavirus AajTak



narendramodi PMOIndia चीन, इटली और अमेरिका को बर्बाद कर दिया है कोरोना ने मजाक में न लें. सरकार का साथ दे, राजनैतिक विरोध अपनी जगह है। 👉 देश पहले है । narendramodi PMOIndia प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी का यह भाषण बहुत ही जरुरी और महत्वपूर्ण है क्योंकि जनता कर्फ्यू के बाद देश के कई क्षेत्रों में लोग बिल्कुल सामान्य होने लगे थे लेकिन प्रधानमंत्री के फिर से इस आह्वान पर जनता को बहुत ही गंभीर लेने की जरूरत है प्लीज घर पर रहिए ! घर पर ही रहिए |

narendramodi PMOIndia Notebandi ke baad gharbandi . ☹☹☹☹☹☹ narendramodi PMOIndia हम आपके 21 दिन के लॉकडाउन में समर्थन करते है

कोरोना: इमरान खान बोले- पाकिस्तान में लॉकडाउन नहीं कर सकता, खुद ही घर में रहेंपाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोरोना वायरस को लेकर अपने देशवासियों को संबोधित किया. इमरान खान ने इस दौरान कहा कि वह पाकिस्तान में लॉकडाउन का ऐलान नहीं कर सकते हैं, ऐसे में लोग खुद ही अपने आप घरों में रहें. 😂 Power of janta shaheen bagh me jitne bhi baith he sab ke sab pakistani bangladeshi muslim he issliye desh ki chinta nehi, inko lathio se bhagao

Corona से जंग, मत बनिए समाज के दुश्मन, लॉकडाउन में घर में ही रहें कोरोना वायरस (Corona Virus) की घातकता और गंभीरता को इसी से समझा जा सकता है कि दुनिया भर में मरने वालों का आंकड़ा 16 हजार 500 से ऊपर पहुंच गया है। भारत में ही कोरोना संक्रमित लोगों की संख्‍या 500 से ऊपर हो गई, जबकि मरने वालों का आंकड़ा 10 के आसपास है। अमेरिका जैसे विकसित देश भी इस वायरस के आगे खुद को असहाय महसूस कर रहे हैं क्योंकि इसका कोई वैक्सीन अभी उपलब्ध नहीं है। अर्थात बचाव ही इसका एकमात्र उपाय है।

Corona : लोग घर में रहें इसलिए रूस ने सड़कों पर 800 शेर छोड़े?CoronaVirus: लोग घर में रहें इसलिए रूस ने सड़कों पर 800 शेर छोड़े ? CoronaVirusUpdates ZeeJankariOnCorona Russia PUTIN KO PATA HAI... LAATO KE BHOOT BAATO SE NHI MAANTE...😂😂😂😂😂😂 Is that true A very tough decision made by Russia

कोरोना वायरस की वजह से घर में कैद नुसरत जहां, इस तरह बिता रहीं अपना समयदेश में फैले कोरोना वायरस की वजह से कई राज्यों को पूरी तरह लॉकडाउन कर दिया गया है। जिस वजह से लोगों अपने घर में ही कैद हो कर जी रहे है। फिर चाहे बॉलीवुड स्टार हो या फिर राजनेता। हर कोई अपने घर में रहकर ही अपना काम कर रहा है तो कोई घर में अपना खाली समय बिताने के लिए अलग-अलग तरह के टाइमपास कर रहा है।

घर की बालकनी में इकट्ठा हुआ बच्चन परिवार, ऐसे किया कोरोना कमांडो का शुक्रियासदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने भी अपने घर की बालकनी से थाली बजाई. अमिताभ बच्चन के साथ बहू ऐश्वर्या राय, अभिषेक बच्चन और श्वेता बच्चन भी मौजूद थीं. Jitna Corona k sample India nai Corona k liye liye hai ..usse kai zyada toh aajtak ek municipality election ka exit poll karne k liye leta hai Ye sb log white kpde phnke kyu khde h 🤔🤔🤔

कोरोना का कहर: 'घर में दाना नहीं, कमाने के लिए काम नहीं' - trending clicks AajTak कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. चीन से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत समेत कई देशों में हाहाकार मचा रखा है. भारत में है भगवान रक्षा करना🙏 Sir ye sach hai kya news me to kahi nhi bata rha hai. Ab sarkar hi bataye inko akhir kab tab tak ye bhukhe rahenge😢😢



मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं!

कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक

लॉकडाउन के नौवें दिन PM मोदी ने देश से मांगे 9 बजे, 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखेगी नई सामूहिकता

5 मिनट के वीडियो में 5 संदेश, PM मोदी के मैसेज में छिपे हैं बड़े अर्थ

कोरोना के नाम पर अल्पसंख्यकों का नाम खराब करना दुर्भाग्यपूर्ण: अमेरिका

लॉकडाउन के नौवें दिन PM मोदी ने देश से मांगे 9 बजे, 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखेगी नई सामूहिकता

दूसरी बार डोनाल्ड ट्रंप का कोरोना टेस्ट नेगेटिव, 15 मिनट में आया रिजल्ट

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

24 मार्च 2020, मंगलवार समाचार

पिछली खबर

बिहार इंटर रिजल्ट में कुल 80.44 फीसदी छात्र हुए सफल, तीनों संकायों में टॉपर बेटियां

अगली खबर

दिल्ली में कोरोना संदिग्ध मरीज की मौत, रिपोर्ट का इंतजार
PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल आज तक @aajtak कोरोना: यूपी में छोड़े जाएंगे 359 बाल कैदी, इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद होगी रिहाई कोरोना: पाकिस्तान ने 80 एकड़ जमीन पर क्यों बनाया नया कब्रिस्तान? - Coronavirus AajTak लॉकडाउन में फंसा तो 3 दिन में 400 km साइकिल चलाकर गांव पहुंचा ये शख्स आज तक @aajtak कोरोना मरीजों को 'जीवन लाइट' से मिलेगी राहत की सांस, IIT हैदराबाद ने बनाया सस्ता वेंटिलेटर ‘हम गुंडे हैं क्या?’ दंगल में तारिक फतेह ने क्यों पूछा? नाक से डाली जाएगी देश में बन रही कोरोना की वैक्सीन, परीक्षण जल्द - Coronavirus AajTak
मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं! कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक लॉकडाउन के नौवें दिन PM मोदी ने देश से मांगे 9 बजे, 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखेगी नई सामूहिकता 5 मिनट के वीडियो में 5 संदेश, PM मोदी के मैसेज में छिपे हैं बड़े अर्थ कोरोना के नाम पर अल्पसंख्यकों का नाम खराब करना दुर्भाग्यपूर्ण: अमेरिका लॉकडाउन के नौवें दिन PM मोदी ने देश से मांगे 9 बजे, 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखेगी नई सामूहिकता दूसरी बार डोनाल्ड ट्रंप का कोरोना टेस्ट नेगेटिव, 15 मिनट में आया रिजल्ट आज तक @aajtak VIDEO: जमातियों की बदसलूकी, सुनिए क्या बोल रहे मुस्लिम धर्मगुरु खुल गया रामलला का बैंक अकाउंट, भक्त अब आसानी से कर सकेंगे दान जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट में भारतीय संविधान के तहत शपथ लेने वाले पहले जज बने रजनेश ओसवाल कोरोना पर देशवासियों से PM मोदी की अपील, 5 अप्रैल की रात 9 बजे आपके 9 मिनट चाहिए