पुलिस दंगाइयों से कह रही है- चलो भाई अब बहुत हो गया; वापस लौटते दंगाई नारे लगाते हैं- दिल्ली पुलिस जिंदाबाद, जय श्रीराम

Delhiriots, Delhiviolence, Delhi Latest News, Delhi Caa Protest, Caa Protest, Citizenship Amendment Act - डीबी ओरिजिनल न्यूज़, डीबी ओरिजिनल समाचार

जलती दिल्ली, मुंह ताकती पुलिस : पुलिस दंगाइयों से कह रही है- चलो भाई अब बहुत हो गया; वापस लौटते दंगाई नारे लगाते हैं- दिल्ली पुलिस जिंदाबाद, जय श्रीराम #DelhiRiots #DelhiViolence @DelhiPolice @CPDelhi @AmitShah @PMOIndia

Delhiriots, Delhiviolence

27.2.2020

जलती दिल्ली, मुंह ताकती पुलिस : पुलिस दंगाइयों से कह रही है- चलो भाई अब बहुत हो गया; वापस लौटते दंगाई नारे लगाते हैं- दिल्ली पुलिस जिंदाबाद, जय श्रीराम DelhiRiots DelhiViolence DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia

साढ़े तीन बजे सीआरपीएफ के अफसर रवाना, 10 मिनट बाद सभी जवान भी लौट जाते हैं, अब इलाका दंगाइयों के कब्जे में और शुरू होती है पत्थरबाजी, आगजनी पुलिस की गाड़ी आते ही भीड़ नारा लगाने लगती है- ‘भारत माता की जय...’; गाड़ी से उतरा पुलिसकर्मी आंसू गैस का गोला दूसरे पक्ष पर दागता है तो नारे लगते हैं ‘जय श्री राम’ | Delhi Violence Latest News and Updates: Delhi Police, CRPF Over Over Citizenship Amendment Act CAA Protest

X साढ़े तीन बजे सीआरपीएफ के अफसर रवाना, 10 मिनट बाद सभी जवान भी लौट जाते हैं, अब इलाका दंगाइयों के कब्जे में और शुरू होती है पत्थरबाजी, आगजनी पुलिस की गाड़ी आते ही भीड़ नारा लगाने लगती है- ‘भारत माता की जय...’; गाड़ी से उतरा पुलिसकर्मी आंसू गैस का गोला दूसरे पक्ष पर दागता है तो नारे लगते हैं ‘जय श्री राम’ चांद बाग से राहुल कोटियाल Feb 27, 2020, 12:08 AM IST नई दिल्ली . दोपहर के तीन बजे हैं (मंगलवार) और चांद बाग का माहौल अब पहले से कहीं ज्यादा तनावपूर्ण बन गया है। दोनों ही पक्षों में भय का माहौल और आक्रोश दोनों साफ-साफ देखा जा सकता है। नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष और विपक्ष की बात अब कहीं पीछे छूट चुकी है और माहौल पूरी तरह से सांप्रदायिक हो चुका है। चंदू नगर की तंग गलियों में मोटर साइकल से गुजरता एक नौजवान जब रुककर स्थानीय लोगों से शेरपुर चौक जाने का रास्ता पूछता है तो एक स्थानीय व्यक्ति उसे फिलहाल वहां न जाने की सलाह देता है। तभी वहां मौजूद दूसरा व्यक्ति बाइक सवार से सवाल करता है, ‘तुम हिंदू हो या मुसलमान?’ बाइक सवार जवाब में बताता है कि वो हिंदू है, तो सवाल करने वाला कहता है- ‘हिंदू हो तो निकल जाओ। शेरपुर चौक जाने में कोई दिक्कत नहीं होगी। कोई रोके तो बता देना कि तुम हिंदू हो।’ चंदू नगर की गलियों से लेकर बाहर करावल नगर रोड तक अब हजारों की संख्या में लोग लाठी-डंडे लिए निकल पड़े हैं। तकरीबन हर गली के बाहर ईंट-पत्थर जमा किए जा चुके हैं। लोग बड़े-बड़े कपड़ों या बोरों में पत्थर भरकर उन्हें मुख्य सड़क पर जमा कर रहे हैं। कई महिलाएं अपने बच्चों के लिए फिक्रमंद हैं और उन्हें घर के अंदर चलने को कह रही हैं, लेकिन कई बच्चे ऐसे भी हैं जो पत्थर जुटाने में बड़ों का पूरा सहयोग कर रहे हैं। उधर, न्यू मुस्तफाबाद में भी माहौल अब बदलने लगा है। यहां भी लड़के बोरों में पत्थर भरकर गली के मुहाने तक ले आए हैं। हालांकि, यहां लोगों में हिंदू बहुल इलाकों की तुलना में भय ज्यादा है। लोगों को शिकायत भी है कि इस दौरान पुलिस खुले तौर से एक पक्ष के साथ खड़ी है और हिंसा में उनकी मदद कर रही है। न्यू मुस्तफाबाद के रहने वाले यूनुस परेशान हैं और पत्रकारों को देखते ही लगभग दौड़ते हुए वे उनके पास आते हैं। उनका 16 साल का बेटा यूसुफ तीन दिन से लापता है। उसकी फोटो दिखाते हुए वो पत्रकारों से कहते हैं, ‘मेरा बेटा तीन दिन से घर नहीं लौटा है। प्लीज इसे खोजने में हमारी मदद कीजिए।’ पूछने पर यूनुस बताते हैं कि उन्होंने तीन दिन बीत जाने के बाद भी बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई है। वो कहते हैं, ‘रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए पुलिस के पास जाना होगा। सौ नंबर पर भी अगर मैं शिकायत करूं तो भी पुलिस मुझे थाने आने को कहेगी। इस माहौल में पुलिस थाने जाने की न तो हिम्मत जुटा पा रहा हूं और न ही भरोसा।’ 16 साल का यूसुफ, जो तीन दिन से लापता है। भजनपुरा चौक से करावल नगर रोड की तरफ सुबह से जो इक्का-दुक्का गाड़ियां चल रही थी, अब वो भी पूरी तरह बंद हो चुकी हैं। ये सड़क अब दो हिस्सों में बंट चुकी है। चौक से क़रीब पांच सौ मीटर आगे तक का हिस्सा एक पक्ष का है और उससे आगे का हिस्सा दूसरे पक्ष का। इस रोड पर क्षेत्रीय पार्षद ताहिर हसन का एक कार्यालय है। इस कार्यालय के पास ही वह अदृश्य ‘बॉर्डर’ है जो बाहर से आए लोगों को नहीं दिखता लेकिन स्थानीय लोग जानते हैं कि इससे आगे का हिस्सा दूसरे पक्ष का है। ताहिर हसन के दफ्तर के बाहर ही सीआरपीएफ के कुछ अधिकारी बैठे हैं। इनमें से एक अधिकारी ज़मीन पर पड़े गोलियों के कुछ खोखे उठाकर अपने साथी को दिखाते हैं और पहचानते हुए कहते हैं, ‘ये गोलियां पुलिस की नहीं हैं। जिस पिस्टल से ये चलाई गई हैं वो पुलिस के पास नहीं होती हैं।’ यहीं मौजूद स्थानीय व्यापारी इस्माइल उनकी बात से हामी भरते हुए कहते हैं, ‘हां, ये गोलियां दंगाइयों ने ही चलाई हैं। कल यहां दोनों पक्षों की ओर से जमकर गोलियां भी चलाई गई हैं।' ठीक साढ़े तीन बजे सीआरपीएफ के ये अधिकारी अपनी गाड़ियों में बैठ कर रवाना हो जाते हैं। इसके साथ ही सीआरपीएफ की वह टुकड़ी भी वापस लौटने लगती है, जो बीती रात आठ बजे से यहां तैनात थी। तीन बजकर 40 मिनट तक इस इलाके में मौजूद सभी सुरक्षा बल लौट जाते हैं। हैरानी इसलिए होती है कि अब तक कोई अन्य सुरक्षा बल इनकी जगह लेने नहीं आया है। लिहाजा अब यह इलाका पूरी तरह से दंगाइयों के कब्जे में हो चुका है। ऐसा होने के दस मिनट के भीतर ही दोनों पक्षों के हज़ारों लोग करावल नगर मेन रोड पर आमने-सामने आ चुके हैं और 3 बजकर 50 मिनट पर यहां पत्थरबाज़ी शुरू हो जाती है। अब मौके पर कोई सुरक्षाबल नहीं है। सिर्फ दंगाइयों में तब्दील हो चुके लोग हैं जो एक दूसरे पर ईंट, पत्थर और पेट्रोल बम बरसा रहे हैं। दोनों पक्षों ने ही अपनी ढाल के रूप में बड़े-बड़े टिन और प्लाई बोर्ड आगे रखे हैं और इनके पीछे से पत्थरबाज़ी हो रही है। निगम पार्षद ताहिर हसन का कार्यालय चार मंजिला इमारत में है। इस इमारत की छत पर कई लड़के हेलमेट पहने खड़े हैं और ऊपर से पत्थर चला रहे हैं। साफ है कि इस इमारत से पत्थर चलाने की तैयारी बहुत पहले से की गई है, तभी इतनी संख्या में पत्थर चार मंजिला इमारत की छत पर हैं। करीब आधे घंटे की लगातार पत्थरबाजी के बाद करावल नगर की ओर से पुलिस की एक गाड़ी भीड़ के बीच आती है। इस गाड़ी के आते ही भीड़ ‘भारत माता की जय’ और ‘जय श्री राम’ के नारे लगाते हुए कुछ और आगे बढ़ती है। गाड़ी में से उतरा एक पुलिसकर्मी आंसू गैस का गोला दूसरे पक्ष की तरफ दागता है तो ‘जय श्री राम’ की गूंज कुछ और ऊंची हो जाती है। किसी भी व्यक्ति के लिए इस दृश्य पर विश्वास करना मुश्किल होता है कि पुलिस खुले आम दंगाइयों के बीच मौजूद है और एक पक्ष के साथ खड़े होकर दूसरे पक्ष को निशाना बना रही है। दिल्ली पुलिस की मौजूदगी में ये पक्ष कई बार ‘दिल्ली पुलिस जिंदाबाद’ के नारे लगाता है। पुलिस के सामने आई इस भीड़ में शामिल लोग पत्थर चला रहे हैं, पेट्रोल से भरी कांच की बोतलों में रस्सी डालकर उसे पेट्रोल बम बना रहे हैं और आगजनी कर रहे हैं। बीच-बीच में जब कभी दूसरा पक्ष हावी हो रहा है तो दिल्ली पुलिस के जवान इस ओर मौजूद दंगाइयों का हौसला बढ़ाने का काम भी कर रहे हैं। करीब एक घंटा पत्थरबाजों के पीछे रहने और समय-समय पर आंसू गैस दागने के बाद पुलिस की यह टुकड़ी उनसे आगे बढ़ती है। साढ़े पांच बजे पत्थरबाजी उस वक्त थमती है जब पुलिस आगे बढ़कर दोनों पक्षों से शांत होने की अपील करती है। लेकिन पांच मिनट के भीतर ही कोशिश नाकाम हो जाती और दोनों ओर से इतनी तेज पत्थर बरसने लगते हैं कि अब पुलिस को मजबूरन पीछे दौड़ना पड़ रहा है। यहां भी पीछे लौटते हुए पुलिस दंगाइयों को आगे जाकर मोर्चा संभालने की बात कहती जाती है। दंगाइयों की इस भीड़ में कई लोग पत्थर चला रहे हैं, कई पत्थर जमा कर रहे हैं तो कई सिर्फ इस पर नजर बनाए हुए हैं, कि कहीं कोई इस घटना का फोटो या वीडियो तो नहीं उतार रहा। वीडियो बनाने की यह मनाही दोनों तरफ बराबर है। कहीं किसी छत पर भी अगर कोई वीडियो बनाता लग रहा है तो ये भीड़ उस पर टूट पड़ती है। कई इलाकों में पत्रकारों के कैमरे भी इस दौरान तोड़ दिए गए हैं। दंगाई आपस में भी एक-दूसरे को वीडियो बनाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। दिल्ली पुलिस की मौजूदगी में हो रही यह हिंसा कई घंटों तक यूं ही जारी रहती है। इस दौरान पत्थर से लेकर गोलियां और पेट्रोल बम तक दोनों ही तरफ से चलाए जाते हैं, लेकिन पुलिस की मौजूदगी एक ही पक्ष में है, लिहाजा उनका निशाना भी एक ही पक्ष पर है। कर्फ्यू का ऐलान होने के बाद घटना स्थल पर पहुंची सुरक्षाबलों की गाड़ियां। बैनर-पोस्टर थामे शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर अक्सर लाठी चार्ज करने के लिए कुख्यात दिल्ली पुलिस का यह नया अवतार है जो पत्थर फेंकते, बम मारते दंगाइयों पर एक भी लाठी नहीं उठा रही। बल्कि उनके साथ मिलकर सामने वालों को निशाना बना रही है। कई घंटों की पत्थरबाजी के बाद करीब साढ़े 6 बजे पुलिस यहां से वापस लौटती है। इस दौरान दंगाइयों ने पार्षद ताहिर हसन के उस कार्यालय को कई प्रयासों के बाद अंततः आग के हवाले कर दिया है, जिसकी छत से लगातार इस तरफ पत्थर बरसाए जा रहे थे। पेट्रोल बम मारकर लगाई गई इस आग से इस बिल्डिंग की पहली मंजिल की बालकनी में रखी चीजें और इलेक्ट्रॉनिक आइटम जलाए जा चुके हैं। लेकिन भीड़ की कोशिश है कि ताहिर हसन की पूरी बिल्डिंग को पूरी तरह जला दिया जाए। घंटों की पत्थरबाजी के बाद करावल नगर की स्थिति। लगभग सात बजे सुरक्षा बलों की कम्बाइंड यूनिट, जिसमें आरएएफ, एसएसबी, सीआरपीएफ और दिल्ली पुलिस के जवान शामिल हैं, उस तरफ से दाखिल होती है, जहां से मुस्लिम पक्ष के लोग पत्थर चला रहे हैं। अब कई घंटों की पत्थरबाजी के बाद हिंदू पक्ष की ओर पहला आंसू गैस का गोला फेंका गया है। कुछ ही मिनट में ऐसे कई सुरक्षा बल इस तरफ आते हैं, जिससे यहां मौजूद भीड़ छंट जाती है। सुरक्षा बल अब तक मुस्लिम पक्ष के लोगों को वापस भेज चुके हैं और उधर से पत्थर चलना पूरी तरह बंद हो चुका है। इस मौके पर हिंदू पक्ष के कुछ लोग ताहिर हसन के कार्यालय की बिल्डिंग के बिलकुल नजदीक जाकर पेट्रोल बम मारते हैं। इससे जब जब बिल्डिंग में आग नहीं लगती तो बाकायदा सिलेंडर मंगवाया जाता है। ये सब पुलिस की मौजूदगी में हो रहा है। दंगाई खुलेआम पुलिस को कह रहे हैं कि ‘इस बिल्डिंग को पूरी तरह जलाए बिना वापस नहीं जाएंगे।’ सुरक्षा बलों की बड़ी टुकड़ी अब दंगाइयों को पीछे भेजने के लिए मना रही है। अब भी एक भी लाठी पुलिस ने नहीं चलाई है, बल्कि पुलिसकर्मी इन दंगाइयों को यह कहते हुए वापस जाने को कह रहे हैं कि ‘चलो भाई अब बहुत हो गया।’ वापस लौटते दंगाई लगातार ‘दिल्ली पुलिस ज़िंदाबाद के नारे लगा रहे हैं।’ दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर सतीश गोलचा ने कहा- मैं यहां कोई बाइट देने नहीं आया। सड़कें खाली होने के बाद दिल्ली पुलिस के स्पेशल कमिश्नर सतीश गोलचा मौके का मुआयना करने पहुंचे हैं। उनसे जब पूछा गया कि ‘सुबह से दंगे जैसा माहौल होने के बाद भी बीच में क्यों सुरक्षा बलों को पूरी तरह हटा लिया गया था?’ उनका जवाब साफ है- ‘मैं यहां कोई बाइट देने नहीं आया हूं।’ सतीश गोलचा के साथ ही यहां आई सुरक्षा बलों की कई टुकड़ियां भी वापस लौट रही हैं। इनके लिए कई बसें भजनपुरा चौक पर खड़ी हैं जिनमें आगे ‘ऑन स्पेशल ड्यूटी’ लिखा हुआ है। ये गाड़ियाँ ठीक उस मजार के पास खड़ी हैं, जिसमें कल आग लगा दी गई थी। इस वक्त कुछ लड़के हथौड़ा लेकर मजार की दीवार पर मार रहे हैं और इससे बमुश्किल 20 मीटर दूर बसों में बैठे सुरक्षा बलों को यह नजर नहीं आ रहा है। भजनपुरा चौक से अंदर करावल नगर रोड पर कर्फ्यू है मगर चंदू नगर में ऐसा कोई निशान नहीं। रात के साढ़े नौ बज चुके हैं और अब तक टीवी पर यह खबर चलने लगी है कि दिल्ली के हिंसाग्रस्त इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। भजनपुरा चौक से अंदर करावल नगर रोड पर काफी दूर तक यह कर्फ्यू महसूस भी होता है, क्योंकि सभी गलियों के मुख्य गेट पर ताले लग चुके हैं और यहां अब ड्यूटी पर आए जवान हर आने वाले को रोक रहे हैं। लेकिन यहां से कुछ आगे बढ़ने पर चंदू नगर में कर्फ्यू का कोई निशान नहीं है। यहां लोग अब भी सड़कों पर हैं और उनके हाथों में अब भी लाठी-डंडे हैं। रात के साढ़े ग्यारह बजे भजनपुरा से समीर हैदर, मुस्तफाबाद गली नंबर-1 से वहीर अहमद और चांदबाग से मोहम्मद कयूम पत्रकारों को फोन करके बस एक ही सवाल पूछ रहे हैं- ‘सर अगर यहां कर्फ्यू लगा है तो पास के मोहल्लों में कैसे लोग अब भी खुलेआम घूमते हुए भड़काऊ नारे लगा रहे हैं? क्या कर्फ्यू भी धर्म के आधार पर लागू हुआ है?’ यह भी पढ़ें हिंसाग्रस्त इलाकों से आंखों देखा हाल : भाग-1 और पढो: Dainik Bhaskar

कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला



PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल

कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला



कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi

मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak



कोरोना वायरस: सरकार का आरोग्य सेतु ऐप कितना सुरक्षित

Coronavirus Latest Update: देशभर में कोरोना मामले बढ़कर हुए 2547, अब तक 62 की मौत, 24 घंटे में आए 478 नए मामले



DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia Politics parties taking it just a joke DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia आज भास्कर मीडिया वाले सिर्फ कांग्रेसी Dalal तरह काम करना है मुझे दुख है कि मैंने 20 साल भास्कर अपने घर मंगवाया आज से बिल्कुल नहीं लोगों को प्रेरित करूंगा कि कोई भास्कर ना खरीदें तुमने जिस ताहिर हुसैन को पीड़ित बताया वह न जाने कितने अंकित शर्मा का हत्यारा निकला BJP4India

ये तो बहुत बड़ा MC निकला । इसको दंगो के लिये हिन्दू जिम्मेदार दिख रहे हैं। DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia DangeKaSachOnZee Arrest_Sonia_Gandhi ArrestTahirHussain AAPKeTerrorists DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia Delhi police lost its men on duty, many injured, acid thrown on then and constantly under pressure from last 2 months. But this kamalnath dalla news paper spreading hatred for Delhi police.

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia Dainik Bhaskar ka koi Mt pado.. Galat likhta h DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia जय श्री राम सुन गया लेकिन अल्लाह हु अकबर नहीं सुना। डरपोक DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia जय श्री राम कहना गलत है क्या? DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar boycottdainikbhaskar

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia आपकी रिपोर्टिंग से इतना प्रभावित हुआ हूँ कि भास्कर ग्रुप को श्रद्धांजलि देने का मन है, DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia कितना भी इकतरफा लिख लो कोई तेरे झांसे मे नही आएगा।

दिल्ली हिंसा: केजरीवाल सरकार असहाय, पुलिस मूकदर्शक, आखिर कौन अमन से खेल रहा है?दिल्ली हिंसा: केजरीवाल सरकार असहाय, पुलिस मूकदर्शक, आखिर कौन अमन से खेल रहा है? DelhiViolence PMOIndia narendramodi ArvindKejriwal DelhiPolice AmitShah AmitShahOffice PMOIndia narendramodi ArvindKejriwal DelhiPolice AmitShah AmitShahOffice वहीं लोग जो देश में अशान्ति फैलाना चाहते हैं जो बोलते हैं 15 भारी 100 पर PMOIndia narendramodi ArvindKejriwal DelhiPolice AmitShah AmitShahOffice केजरीवाल की करतूत है... इन गद्दारों को खाने पीने का सामान केजरीवाल के विधायक पहुंचा रहे। PMOIndia narendramodi ArvindKejriwal DelhiPolice AmitShah AmitShahOffice

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia SARAM NAHI AATI REPORTER KO HINDO KO BADNAAM KAR RAHA H NAFRAT FAILA RAHA H AISHI REPORTING KAR KAR DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia जय श्री राम जय जय श्री राम DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia Aaj ke sab news channel ko Islam ka bhutt lag gya he isliye Har baar Hindu ko hi stankvadi batate he yeh log 😡😡😡 Redical_Islamic_Terrorism

AmitShah PMOIndia थोड़ी तो शर्म कर लो न्यूज वालो इतनी चाटना भी ठीक नहीं है DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia वो अल्ला हूं अकबर का नारा लगाते हुए आग लगाते हैं पुलिस पर पत्थर फेकते हैं तो तुम लोगो के मुंह में दही जम जाता है तुमको भी पता है अगर उनके खिलाफ कुछ बोला तो लगनी तुम्हारी ही है हिन्दू किसी को कुछ बोलता नहीं है

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia इस अखबार का मालिक रमेशचंद्र अग्रवाल भी जय श्री राम बोलता है, बंद कर दो उसे जेल में । DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia तो वो जी न्यूज जो दिखा रहा था वो ड्रामा था DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia इन्हें दंगाई नहीं देशभक्त बोलिए 'जय श्री राम ' बोलने के बाद आप आज हिंदुस्तान में कुछ भी करने के लिए आजाद हैं

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia बकवास बंद करो मुल्लों के दलाल तुम्हें जय श्री राम से बहुत एतराज़ है । boycottdainikbhaskar

क्या बंधे हैं दिल्ली पुलिस के हाथ, उच्च अधिकारियों पर भी उठ रहे सवालदिल्ली में पिछले कुछ माह से जो घटनाएं हो रही हैं, उससे दिल्ली पुलिस आयुक्त और पुलिस बल को लेकर कई तरह के सवाल उठने लगे DelhiPolice यही तो गुजरात मॉडल हैं दंगाइयों को खुली छूट दे दो और पुलिस की हाथ बाँध दो DelhiPolice अज्ञात लोगों ने पेट्रोल पंप जलाया अज्ञात लोगों ने पत्थरबाज़ी की अज्ञात, अज्ञात सुनकर पक चुके हैं NRC लागू करो, अज्ञात लोगों को भगाओ DelhiPolice धिक्कार है.... निर्भया के दोषियों को बचाना और उपद्रवियों से खौफजदा रहकर ड्यूटी निभाना ..... समझ से परे है।

DelhiPolice CPDelhi AmitShah PMOIndia Hme dangai bol rhe ho police or army ko gali de rhe ho, aj aisi reporting likh rhe ho Kuch logon ko kush krne ke liye, DNA dekho jakr reporting kaise ki jati seekh lo.

एसएन श्रीवास्तव हो सकते हैं दिल्ली के नए पुलिस आयुक्त1985 बैच के आईपीएस अधिकारी एसएन श्रीवास्तव दिल्ली के नए पुलिस आयुक्त हो सकते हैं। CPDelhi DelhiPolice dtptraffic DelhiCAAClashes DelhiPolice

भड़काऊ भाषण पर घिरी दिल्ली पुलिस, हाई कोर्ट ने कहा- दफ्तर में टीवी लगे हैं ना!दिल्ली हिंसा के मसले पर बुधवार को दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. इस दौरान जब सॉलिसिटर जनरल ने अदालत को बताया कि उन्होंने कपिल मिश्रा के बयान नहीं सुने हैं तो अदालत ने हैरानी व्यक्त की. AneeshaMathur फटाफट फटाफट फटाफट फटाक फटाक फटफटाक लो वो लग गई फटकार 🤣🤣🤣🤣 AneeshaMathur आपियो की दलाल चैनल वरिस पठान की फ़ोटो क्यों नही दिखाते? AneeshaMathur इन SG महोदय ने टीवी नही देखा क्या दिल्ली पुलिस इतनी out dated है ? क्या इनका सूचना तंत्र इनके आला अफसरों को कुछ सूचना उपलब्ध नहीं कराता? क्या इनहोने झूठ बोलने के लिए वर्दी पहन रखी है?

हिंसा के बाद AAP विधायकों ने लगाए नारे- 'दिल्ली जल रही है एलजी सो रहे हैं'नागरिकता संशोधन कानून के विरोधी और समर्थक के बीच सोमवार को उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा देर रात तक जारी रही है. दिल्ली की बिगड़ी कानून व्यवस्था को लेकर देर रात आम आदमी पार्टी के कुछ विधायकों ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर के बाहर धरने पर बैठ गए और नारे लगाए कि दिल्ली जल रही है और उपराज्यपाल सो रहे हैं. Ramkinkarsingh धरना देकर इन को बचाना जरूरी है Ramkinkarsingh ये हो रहा अब, एक रिपोर्टर को जबरन तिलक लगाया गया। उसके पैंट उतारकर देखने की कोशिश हुई है कि वो मुसलमान तो नहीं… - Times of India Ramkinkarsingh नाटक चालू कर दिया

फूलगोभी खाने से मोटापा तो कम होता ही है, ये 6 बड़े फायदे भी होते हैंसब्जी में लोकप्रिय सब्जी और सूपर फूड कहे जाने वाली फूलगोभी हमारे स्वास्थ के लिए बहुत लाभकारी है. क्रूसिफेरस परिवार से संबंध रखने वाली सब्जी कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों से लड़ने में भी प्रभावशाली है. O kaise Kya bat hai



कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक

गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत

मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं!

कोरोना वायरस: दुनिया में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10 लाख पार, 52 हज़ार की मौत - BBC Hindi

केजरीवाल का ऐलान- पब्लिक सर्विस वाहन चलाने वालों को मिलेंगे 5 हजार रुपये

प्रधानमंत्री के वीडियो मैसेज पर शशि थरूर बोले- अभी प्रधान Showman को सुना, ये बस PM का 'फील गुड' मूमेंट था

कोरोना वायरस से ज़्यादा ख़तरनाक दरबारी मीडिया की सांप्रदायिकता

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

27 फरवरी 2020, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

एक बार फिर जीवन बीमा कंपनियां बेच सकेंगी स्वास्थ्य योजनाएं, इरडा ने गठित की समिति

अगली खबर

'ऊपर से ऑर्डर आ गया रात को, अब सब शांत है', दो दिन की भारी हिंसा के बाद ऐसे बदले दिल्ली पुलिस के बोल
कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलियाई पीएम का चीन के मांस बाज़ार पर हमला PM मोदी की अपील पर कांग्रेस का हमला, कोरोना से जंग पर उठाए कई सवाल कोरोना वायरस: किम जोंग-उन ने ऐसा क्या किया कि संक्रमण नहीं फैला कोरोना वायरस: पिछले दो दिनों में तबलीग़ी जमात से जुड़े 647 नए मामले- ICMR - BBC Hindi मौलाना साद का आलीशान फार्म हाउस: स्वीमिंग पूल और गाड़ियों का काफिला - trending clicks AajTak कोरोना वायरस: सरकार का आरोग्य सेतु ऐप कितना सुरक्षित Coronavirus Latest Update: देशभर में कोरोना मामले बढ़कर हुए 2547, अब तक 62 की मौत, 24 घंटे में आए 478 नए मामले कोरोनावायरस: दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या 384, इनमें से मरकज के 259 मरीज 'रामायण' ने खड़ा कि‍या सवाल, क्या सास-बहू के नाटक देखना चाहते हैं इंडियन टेलीविजन दर्शक? Super Pink Moon 2020: 8 अप्रैल को दिखेगा सुपरमून, भारत में यहां देख सकते हैं लाइव दिल्ली में कोरोना के 384 केस, 24 घंटे में 91 बढ़े, हालात चिंताजनक: अरविंद केजरीवाल दो दिन में दिल्ली के तबलीगी जमात से जुड़े कोरोना के करीब 650 पॉजिटिव मामले आए सामने
कोरोना वायरस: क्या इस वीडियो में दिख रहे लोग तबलीग़ी के थे?- फ़ैक्ट चेक गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं! कोरोना वायरस: दुनिया में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10 लाख पार, 52 हज़ार की मौत - BBC Hindi केजरीवाल का ऐलान- पब्लिक सर्विस वाहन चलाने वालों को मिलेंगे 5 हजार रुपये प्रधानमंत्री के वीडियो मैसेज पर शशि थरूर बोले- अभी प्रधान Showman को सुना, ये बस PM का 'फील गुड' मूमेंट था कोरोना वायरस से ज़्यादा ख़तरनाक दरबारी मीडिया की सांप्रदायिकता दिल्ली: पहले दंगे, अब कोरोना वायरस ने किया बेघर AIIMS के डॉक्टर दंपति को हुआ कोरोनावायरस, सुबह पति और शाम में आई 9 महीने की प्रेग्नेंट पत्नी की रिपोर्ट लॉकडाउन के नौवें दिन PM मोदी ने देश से मांगे 9 बजे, 9 मिनट, 5 अप्रैल को दिखेगी नई सामूहिकता कोरोना: दिल्ली के सरकारी अस्पताल के 2 नर्सिंग ऑफिसर पॉजिटिव, इसी अस्पताल के डॉक्टर भी पाए गए थे संक्रमित 5 मिनट के वीडियो में 5 संदेश, PM मोदी के मैसेज में छिपे हैं बड़े अर्थ