Kapilsibalinterview, Kapilsibaloncongresscrisis, Kapil Sibal On Congress Crisis, Kapil Sibal İnterview, कपिल सिब्बल से खास बातचीत, Congress Young Leaders, Milind Deora, Sachin Pilot, Jyotiraditya Scindia, Deepender Singh Hooda, Jitin Prasada Joining Bjp, Congress Tension Increases, Crisis İn Congress, Leadership Crisis İn Congress, मिलिंद देवड़ा, जितिन प्रसाद भाजपा में शामिल, कांग्रेस संकट

Kapilsibalinterview, Kapilsibaloncongresscrisis

पार्टी के मौजूदा हालात पर सिब्‍बल बोले- जो दल और नेता सुनने को नहीं होगा तैयार, उसका नुकसान तय

#Kapilsibalinterview | पार्टी के मौजूदा हालात पर सिब्‍बल बोले- जो दल और नेता सुनने को नहीं होगा तैयार, उसका नुकसान तय #KapilSibalonCongressCrisis

11-06-2021 19:30:00

Kapilsibalinterview | पार्टी के मौजूदा हालात पर सिब्‍बल बोले- जो दल और नेता सुनने को नहीं होगा तैयार, उसका नुकसान तय KapilSibalonCongressCrisis

कांग्रेस से जुदा हो रहे युवा नेताओं का सिलसिला कहां रुकेगा इसे लेकर नेतृत्व भी आश्वस्त नहीं है। इसे सीधे तौर पर कांग्रेस नेतृत्व की हनक कम होने से जोड़कर देखा जा रहा है। प्रस्‍तुत है इस मसले पर पार्टी के वरिष्ठ एवं अनुभवी नेता कपिल सिब्बल से खास बातचीत ...

राजनीति में आपके हिसाब से इस गिरावट की वजह क्या है?जवाब -जहां आप खरीद-फरोख्त कर सकते हैं और इसके लिए अथाह पैसा है, वहां यह गिरावट तो आनी ही है। जनता समझ चुकी है कि जो आज राजनीति में हैं वे नीतिहीन लोग हैं, जिनका कोई सिद्धांत या मूल्य नहीं। यह गिरावट वास्तव में हमारी राजनीति की गिरावट है और 10वीं अनुसूची बिल्कुल फेल हो गई है। आया राम गया राम के बाद अब प्रसाद पाने की राजनीति चल रही है। भाजपा सबसे धनी पार्टी है जो पद से लेकर हर तरीके का प्रलोभन देने में ज्यादा सक्षम है और मौजूदा हालात में जिसकी लाठी उसकी भैंस कहावत बिल्कुल चरितार्थ हो रही है। जहां तक कांग्रेस का सवाल है तो ऐसा अक्सर होता है, लोगों को लगता है कि मेरा कोई भविष्य नहीं है क्योंकि कांग्रेस अभी चुनाव नहीं जीत रही है। उन्हें कहीं न कहीं जाकर सांसद-विधायक या मंत्री बनना है और इसी आधार पर वे अपनी राजनीति करते हैं। अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी में बड़ा संकट है, मगर किसी ने सुना कि उनके नेता या सांसद ने डेमोक्रेटिक पार्टी ज्वाइन की या ब्रिटेन में तमाम मुश्किल हालात के बाद भी लेबर पार्टी के किसी नेता ने कंजरवेटिव पार्टी ज्वाइन कर ली हो।

पीएम मोदी और अमित शाह के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट में अवमानना याचिका, मगर क्यों? - BBC News हिंदी Tokyo Olympics Live: डिस्कस थ्रो में कमलप्रीत ने चौंकाया, धमाकेदार प्रदर्शन के साथ फाइनल में धनबाद जज मौत मामले में दो गिरफ़्तार, सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया

यह भी पढ़ेंसवाल -हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था में पार्टियों की पहचान अपनी विचाराधारा से है? फिर समस्या कहां है?जवाब -इस हकीकत को स्वीकार करना होगा कि आज हमारी राजनीतिक विचाराधारा शून्य हो गई है और लोभधारा की राजनीति हो रही है। जो व्यक्ति 20 साल हमारे साथ रहा और भाजपा को गालियां दीं, वह किस आधार पर आज भाजपा को गले लगा रहा है और यह बात जनता को पूछनी चाहिए। मतदाताओं को चाहिए कि ऐसी प्रसाद की राजनीति करने वालों को कभी चुनाव न जीतने दे।

यह भी पढ़ेंसवाल -कांग्रेस की अंदरूनी स्थिति भी तो आज कुछ ऐसी ही है। पार्टी में सुधार की आप जैसे नेताओं की मांग पर ठोस प्रगति अभी तक क्यों नहीं हो पाई?जवाब -जहां तक सुधार की बात है तो पार्टी में सुधार लाना पड़ेगा। जब चुनाव की चुनौतियां सामने आएंगी तो सुधार आएगा। मेरा प्रतिउत्तर सवाल है कि आज कौन सी पार्टी में सुधार हो रहा है। भाजपा को देखिए, उत्तर प्रदेश में आज एक आदमी अपनी मनमर्जी से जो चाहे कर सकता है। चुनाव निकट है तो योगी आदित्यनाथ को दिल्ली बुलाया जाता है। केवल कांग्रेस के साथ समस्या नहीं है, बाकी दल भी इससे अछूते नहीं हैं। राजनीतिक दल का केवल एक लक्ष्य रहता है कि किस तरह अगला चुनाव जीता जाए। उसके लिए वे कुछ भी करने को तैयार हैं। हमारा संवैधानिक ढांचे इतने कमजोर हो चुके हैं कि कोई सत्ता के खिलाफ खड़ा नहीं होना चाहता। यह देश के लिए बेहद खतरनाक स्थिति है। headtopics.com

यह भी पढ़ेंसवाल -आप इसे राजनीति के संकट का दौर मान रहे हैं तो कांग्रेस इसका मुकाबला करने के लिए खुद को तैयार क्यों नहीं कर पा रही?जवाब -बिल्कुल, कांग्रेस को इसके लिए खुद को तैयार करने की अपरिहार्य जरूरत है। हमने अपने सुझाव कांग्रेस अध्यक्ष को भेजे पत्र में दिए हैं और हमारी बैठक भी हुई है जिसमें हमने दोबारा सुझाव दिए। उन्होंने कहा है कि हम चुनाव कराएंगे और चुनाव कोरोना की वजह से टला है। अगर सुधार नहीं होगा तो उसके परिणाम भी आपको दिखेंगे। पार्टी में सुधार लाजिमी है और इस बात पर हम सभी अटल हैं क्योंकि हम कांग्रेस को दोबारा उस स्थिति में देखना चाहते हैं जहां उसने देश के इतिहास का गौरव बढ़ाया है। इस बात से कोई इन्कार नहीं कर सकता कि हिंदुस्तान का इतिहास कांग्रेस ने बनाया है। इसलिए पार्टी में बातचीत कर सुधार करते हुए हमारी मांगों पर अमल होना चाहिए।

यह भी पढ़ेंसवाल -देश में मजबूत विकल्प के लिए जनता भी कांग्रेस की ओर देख रही है। ऐसे में पार्टी की दशा-दिशा क्या होनी चाहिए?जवाब -बिल्कुल, कांग्रेस को विकल्प देने की पहल करनी चाहिए। भाजपा के खिलाफ विपक्ष का एक मजबूत फ्रंट बनना चाहिए। यह एक प्रगतिशील गठबंधन होना चाहिए और इसी आधार पर चुनाव लड़ना चाहिए। राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस तो है, मगर मौजूदा हालात में कांग्रेस को राज्यों में प्रभावी क्षेत्रीय पार्टियों से बातचीत करके समझौते के साथ चुनाव लड़ना होगा। इसके लिए साझा न्यूनतम कार्यक्रम चाहे समय आने पर बने, मगर अभी एक साझा राजनीतिक प्लेटफार्म तो होना ही चाहिए।

यह भी पढ़ेंसवाल -साझा न्यूनतम कार्यक्रम और कामन प्लेटफार्म की बात तो ठीक है, मगर क्या यह सच्चाई नहीं है कि इस विकल्प की लीडरशिप का मुद्दा विपक्ष के लिए बड़ी सिरदर्दी है?जवाब - और पढो: Dainik jagran »

झारखंड में जज की हत्या का आरोपी गिरफ्तार: ऑटो चालक ने गुनाह कबूला, केस की जांच SIT करेगी; हाईकोर्ट ने कहा- कोताही हुई तो केस CBI को सौंपेंगे

झारखंड के धनबाद में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद की हत्या की मामले में 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का कहना है कि इनमें से एक ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। झारखंड पुलिस के प्रवक्ता अमोल बी होमकर ने बताया कि ऑटो चालक लखन वर्मा और उसके सहयोगी राहुल वर्मा को गिरफ्तार किया गया है। लखन ने स्वीकार किया है कि उसने ऑटो से जज को धक्का मारा था। | Jharkhand Judge Murder CCTV Footage | Uttam Anand Dies After Being Hit By Auto In Dhanbad

राम रमैया गाए जा, प्रभु से लगन लगाए जा...... जय श्री राम!

जितिन प्रसाद के BJP में जाने पर छत्तीसगढ़ कांग्रेस का ट्वीट- 'पार्टी छोड़ने के लिए धन्यवाद'कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए जितिन प्रसाद को लेकर छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने ट्विटर के जरिए तंज कसा है. छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने ट्विटर पर लिखा है- '' जितिन प्रसाद जी का कांग्रेस पार्टी छोड़ने के लिए धन्यवाद.'' पर योगी को न लगना फटका! जो मोदी शाह पीऊस चाहत! रेलऊ उम्मिद कारड यहां नही चलना तिनोऊन का! 😃😃 निकम्मा जतिन एक बार भी नहीं जीत सका है़ टाइम बार हरवक्त रिकॉड बने वाला पनोती 😋 Most welcome Jitin Prasada ji

बच्चों के इलाज के लिए कोरोना नई गाइडलाइन, Remdesivir पर रोक, स्टेरॉयड से बचने की सलाहGovernment Guidelines for Children: केंद्र सरकार ने 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में कोरोना (Corona) होने पर उनके इलाज के लिए नई गाइडलाइन (Guidelines) जारी कर दी है. इसमें कोरोना के इलाज के लिए बच्चों को रेमडेसिविर (Remdesivir) ना देने के स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं. साथ ही इसमें बेहद जरूरी होने पर ही सीटी स्कैन (HRCT) कराने के लिए कहा गया है..स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) के अंतर्गत आने वाले स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (DGHS) ने ये गाइडलाइन जारी की हैं...इस बीच लगातार तीसरे दिन चौबीस घंटों में कोरोना के नए केस एक लाख से नीचे रिकॉर्ड किये गए हैं...10 जून को आई रिपोर्ट के मुताबिक 24 घंटों में 94052 नये केस दर्ज किये गए, जबकि इस दौरान 6148 लोगों की कोरोना से मौत हो गई... देश में अब तक 23,90,58,360 वैक्सीनेशन (Vaccination) किया जा चुका है...

जडेजा-अश्विन के दम पर ICC रैंकिंग में भारतीयों का जलवा, कोहली के करीब पहुंचे रोहितरविंद्र जडेजा ने इस साल की शुरुआत में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे मैच के दौरान हाथ में चोट लगने के बाद से टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है। वह इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेने से भी चूक गए थे।

मल्लिकार्जुन खड़गे का जितिन प्रसाद पर निशाना, 'जब मंत्री बनाया, तब पार्टी दिशाहीन नहीं लगी'मल्लिकार्जुन खड़गे ने जितिन प्रसाद पर तंज कसते हुए कहा कि जब तक उन्हें मंत्री का पद दिया गया था, तमाम जिम्मेदारी मिल रही थीं, तब उनकी नजरों में पार्टी दिशाहीन नहीं थी.

'टुकड़ों में बिखरने लगी पार्टी' राहुल गांधी-सोनिया गांधी पर बॉलीवुड फिल्ममेकर ने कसा तंजराजदीप सरदेसाई बोले- जितिन प्रसाद के जाने से कांग्रेस को कोई बड़ा नुकसान नहीं तो फिल्ममेकर सोनिया-राहुल का नाम ले मारने लगे ताना कहीं ये अ प दलाल तो नहीं! एक से एक चापलूस हैं देश मे - किसी के जाने से क्या नुकसान होगा वो तो केवल समय बताएगा = न कि हड्डी देखते ही पुंछ हिलाने वाले

आतंकी हमला: शोपियां में दहशतगर्दों की कायराना हरकत, सुरक्षाबलों की संयुक्त नाका पार्टी पर फायरिंगआतंकी हमला: शोपियां में दहशतगर्दों की कायराना हरकत, सुरक्षाबलों की संयुक्त नाका पार्टी पर फायरिंग JammuKashmir shopian HMOIndia