Rajasthanpoliticalcrisis, Rajasthan, Political Crisis, Ashok Gehlot, Sachin Pilot, Assembly Membership, Disqualified

Rajasthanpoliticalcrisis, Rajasthan

पायलट समर्थक विधायकों की सदस्यता क्यों खत्म करना चाहते हैं अशोक गहलोत?

राजस्थान में चल रहा सियासी उठापटक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है #RajasthanPoliticalCrisis

16-07-2020 17:07:00

राजस्थान में चल रहा सियासी उठापटक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है RajasthanPoliticalCrisis

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष पद और डिप्टी सीएम की कुर्सी मुक्त करने के बाद अब उनकी विधायकी को खत्म कराने का दांव चला है. विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सचिन पायलट और उनके 18 समर्थक विधायकों को नोटिस भेजकर दो दिन में जवाब मांगा है.

सचिन पायलट के बगावत के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 109 विधायकों का समर्थन जुटाकर फिलहाल सरकार बचा ली है, लेकिन सरकार पर छाए संकट के बादल खत्म नहीं हुए हैं. ऐसे में सीएम गहलोत अपनी सरकार को पांच साल तक के लिए पूरी तरह सेफ रखना चाहते हैं. ऐसे उनकी सरकार की राह में आने वाली सारी मुश्किलों का हल कर लेना चाहते हैं. सचिन पायलट और उनके समर्थकों के विधानसभा सदस्य रहते हुए गहलोत के लिए पांच साल सरकार चलाना आसान नहीं है. इसीलिए गहलोत अपने रास्ते में आने वाले सारे कील-कांटे को बाहर निकाल फेंकना चाहते हैं.

पाकिस्तान के नए नक्शे पर क्या बोला चीन, कश्मीर पर भारत के क़दम को बताया अवैध मस्जिद की जगह मंदिर का निर्माण, भारतीय लोकतंत्र के चेहरे पर दाग़: पाकिस्तान अयोध्या में राम मंदिर से आरएसएस को क्या मिला?

ये भी पढ़ें: क्या चली जाएगी सचिन पायलट समर्थक विधायकों की सदस्यता?सचिन पायलट के साफ 22 विधायक हैं, जिनमें 19 कांग्रेस के और 3 निर्दलीय हैं. इतने विधायकों के जरिए पायलट भले ही गहलोत सरकार को सत्ता से बेदखल न कर सकें, लेकिन परेशान और सरकार अस्थिर जरूर कर सकते हैं. ऐसे में सीएम गहलोत अपनी सरकार को मजबूत रखने के लिए नया दांव चला है. कांग्रेस की शिकायत पर एक तरफ विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने सचिन पायलट और उनके 18 समर्थक विधायकों को नोटिस भेजकर शुक्रवार दोपहर तक जवाब मांगा है. ऐसे में पायलट खेमा स्पीकर के सामने पेश होकर जवाब नहीं देते हैं तो उनकी सदस्यता खत्म हो जाएगी.

सचिन पायलट और उनकी 18 समर्थक कांग्रेसी विधायकों की सदस्यता खत्म होते ही राजस्थान में बहुमत का आंकड़ा घट जाएगा. कांग्रेस के कुल 107 विधायक हैं, जिनमें से पायलट खेमे के19 विधायक कम करने पर गहलोत सरकार के पास कांग्रेस के 88 सदस्य बचेंगे और बीजेपी गठबंधन के पास 75 हैं. वहीं, राजस्थान के कुल 200 सदस्य है, जिनमें पायलट के 19 समर्थकों की संख्या घट जाती है तो कुल संक्या 181 बचेगी. ऐसे में बहुमत का आंकड़ा भी 101 से कम होकर 91 पर आ जाएगा.

ये भी पढ़ें: स्पीकर के नोटिस पर हाईकोर्ट में सुनवाई, स्टे नहीं मिला तो बढ़ेंगी पायलट की दिक्कतेंअशोक गहलोत के साथ फिलहाल कांग्रेस के 88 विधायक है और इसके अलावा दो बीटीपी और सीपीएम के विधायक का समर्थन हासिल है. 13 निर्दलीय विधायकों में से 10 विधायक गहलोत के समर्थन में है. इस तरह से अशोक गहलोत बहुमत का आंकड़ा जुटाकर अपनी सरकार बचा ले जाएंगे. वहीं, पायलट समर्थकों की विधायकी जाती है तो फिर गहलोत सरकार में ही उपचुनाव होंगे.

और पढो: आज तक »

क्योंकि गहलोद जी की फट रही है aur chalne do... Corona time pe mast time pass ho raha hai I see Gehlot ko daar hai kahin cm pad se haath dhona na pade अगर दलाल मीडिया मे हिम्मत हैं तो ऐक बार वर्तमान गृह मंत्री से भी पूछ लो वो दूसरी पार्टयों के विधायक क्यों खरीदते हैं गहलोत,सचिन पायलट को अपने रास्ते से हटाना चाहते हैं जबकि बुज़ुर्ग गहलोत को अब घर बैठ जाना चाहिये नहीं तो कांग्रेस बुज़ुर्गों की पार्टी बनकर रह जायेगी,कोई झंडा उठाने वाला नहीं मिलेगा

कामाल है, इस मानसून में देश में कंही बाढ़ नाही आए? और गोदी मीडिया को यै भी मालूम नाही की अशोक लाबासा कोन है? Only the first one is power बगावत तो हुई है आज नही तो कल फिर होगा और इन्हें केवल 32 विधायक चाहिए अलग दल बनाने के लिए और बाद में गठजोड़ करने के लिए ही तो नूराकुश्ती है देख भाई अब सर दर्द दे रहा है,, इसकी पार्टी का टेंशन इसको लेने दो,,कहे बार बार ट्विटर पर लग जाते हो 😀😀

कुल मिलाकर RSS को डराती है जो सच की आंधी बस उसी आंधी का नाम है राहुल गांधी MyLeaderRahulGandhi

क्या चली जाएगी सचिन पायलट समर्थक विधायकों की सदस्यता?कांग्रेस की शिकायत पर विधानसभा अध्यक्ष ने सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों को नोटिस भेजकर दो दिन में जवाब मांगा. वहीं, पायलट खेमा कानूनी पहलुओं पर विचार विमर्श कर हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. ऐसे में पायलट और उनके समर्थक विधायकों की सदस्यता बचेगी या जाएगी यह अहम सवाल बना गया है? सचिन पायलट सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटका आएंगे sardanarohit रोहित जी, अंजना जी क्या आज गुना में हुए गरीब किसान पर अत्याचार के विरूद्ध दंगल या हल्ला बोल होगा? आज आपको इस अत्याचार के खिलाफ दंगल करना पड़ेगा रोहित जी। ताकि हम लोगो का विश्वास आजतक पे बना रहे।

अयोग्यता नोटिस को पायलट कैम्प के विधायकों ने दी राजस्थान हाईकोर्ट में चुनौती, 3 बजे सुनवाईराजस्थान कांग्रेस के बागी विधायकों को अयोग्यता नोटिस भेजे जाने का मामला राजस्थान हाईकोर्ट में पहुंच गया है. पायलट कैम्प के विधायकों ने कांग्रेस के इस कदम को राजस्थान हाईकोर्ट में चुनौती दी है. गुरुवार को दोपहर 3 बजे इस याचिका पर सुनवाई होगी.

सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक जिस रिसॉर्ट में ठहरे उसे बताया जा रहा 'क्वारंटीन सेंटर'दिल्ली के नजदीक मानेसर में एक रिसॉर्ट में राजस्थान के बागी कांग्रेस नेता सचिन पायलट और उनके  समर्थक विधायकों के ठहरने के बाद, रिसॉर्ट कोरोनोवायरस महामारी के लिए क्वॉरंटीन सेंटर होने का दावा कर रहा है. ये इसलिए अहम हो जाता है क्योंकि कांग्रेस ने बुधवार को सचिन पायलट से कहा कि वे हरियाणा में बीजेपी सरकार की सुरक्षा से बाहर आएं और जयपुर वापिस लौटें. क्या बकवास लिखा है। मतलब सरकारी BJP PM Modi LOCKDOWN Me MP's MLA's Ki Kharid Farhokh Kar Rahe Hain Aur MP's MLA's Ki Kharid Farhokh Ka GST/VAT Bhi Chori Kar Raha Hai...

क्या पायलट समर्थक विधायकों का साध रही कांग्रेस?: सुरजेवाला ने कहा-सचिन परिवार में लौट आएं; अविनाश पांडे बोले- पायलट के लिए पार्टी के दरवाजे बंद नहींक्या पायलट समर्थक विधायकों का साध रहे गहलोत? :सुरजेवाला ने कहा- परिवार में लौट आए; अविनाश पांडे बोले- पायलट के लिए पार्टी के दरवाजे बंद नहीं हुए SachinPilot ashokgehlot51 RajasthanPoliticalCrisis avinashpandeinc rssurjewala SachinPilot ashokgehlot51 avinashpandeinc rssurjewala ' मतभेद ' से साथ मे रहने से अच्छा है , ' प्रेम ' से अलग रहना । SachinPilot ashokgehlot51 avinashpandeinc rssurjewala लेकिन गहलोत जी की जूबान तो लगातार तल्ख लहजे में बदलती क्या नहीं जा रही है? SachinPilot ashokgehlot51 avinashpandeinc rssurjewala काँग्रेस सबसे अच्छा घर सचिन पायलट के लिये.He has received numerous opportunity in congress in a young age.He should remember his father's thoughts about Congress

सचिन पायलट आज कर सकते हैं बागी विधायकों से मुलाकात, फिर लेंगे फैसलाराजस्थान में सियासी उठापटक तेजी से नई शक्ल लेते जा रहा है. इस बीच खबर है कि सचिन पायलट आज बागी विधायकों से मुलाकात कर सकते हैं. ये बागी विधायक मानेसर में ठहरे हुए हैं. मेरे प्रिय मित्र भाई सुनील धाकड़ की भोपाल - मध्यप्रदेश सरकार के मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह जी बैंस से मुलाकात और चर्चा हुई ek sawaal aaya . Sachin Pilot ko plane udana aata hai ya naam ke hi pilot hain ? just a question. Don't go anywhere sir ...u have so much potential to rise .....u r the brightest leader of india

पायलट के प्रभाव वाले 4 जिलों से ग्राउंड रिपोर्ट: पायलट के समर्थन में इस्तीफे और प्रदर्शन; लोग बोले- पायलट ने 48 डिग्री टेम्परेचर में गांव-गांव जाकर कांग्रेस को जिंदा किया थापायलट के प्रभाव वाले 4 जिलों से ग्राउंड रिपोर्ट :पायलट के समर्थन में इस्तीफे और प्रदर्शन; लोग बोले- पायलट ने 48 डिग्री टेम्परेचर में गांव-गांव जाकर कांग्रेस को जिंदा किया था SachinPilot ashokgehlot51 RajasthanPoliticalCrisis RahulGandhi BJP4Rajasthan SachinPilot ashokgehlot51 RahulGandhi BJP4Rajasthan SachinPilot ashokgehlot51 RahulGandhi BJP4Rajasthan प्रभाव सिर्फ 4 जिलों में, ओर बनना है मुख्यमंत्री पूरे प्रदेश का SachinPilot ashokgehlot51 RahulGandhi BJP4Rajasthan जिन बोया तिन पाईयां ।।