Donaldtrump, Danielpearl, Daniel Pearl, Daniel Pearl Death, Daniel Pearl Verdict, Daniel Pearl Wsj, Daniel Pearl News, Daniel Pearl Story, Pakistan Sindh High Court, Pakistan, Pakistan Terrorist, Pakistan Terrorist Name, Usa, Usa İn Pakistan, World News İn Hindi, World Hindi News

Donaldtrump, Danielpearl

पाक की अदालत पर भड़का अमेरिका, पत्रकार डैनियल के कातिलों को बचाने पर नाराज

पाकिस्तान की अदालत ने डैनियल पर्ल के अपहरण और हत्या के दोषी अहमद उमर शेख की सजा को पलट दिया है।

03-04-2020 13:32:00

पाक की अदालत पर भड़का अमेरिका, पत्रकार डैनियल के कातिलों को बचाने पर नाराज DonaldTrump DanielPearl

पाकिस्तान की अदालत ने डैनियल पर्ल के अपहरण और हत्या के दोषी अहमद उमर शेख की सजा को पलट दिया है।

समिति के अध्यक्ष एलियट एंगल ने इस फैसले पर कड़ा एतराज जताते हुए कहा है कि पाकिस्तान के इस रवैये से अमेरिका चिंतित है। इस मामले पर एलिस वेल्स ने भी कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दोषियों की सजा को पलटा जाना आतंकवाद के पीड़ितों के साथ अन्याय है। एलिस वेल्स अमेरिकी विदेश विभाग के ब्यूरो ऑफ साउथ एंड सेंट्रल एशियन अफेयर्स की प्रमुख उप सहायक सचिव हैं।

शामली: एक को गिरफ्तार करने गई पुलिस ने 35 मुस्लिम घरों में तोड़फोड़ व मारपीट की कोरोना वायरस: दुनिया भर में 65.6 लाख से ज़्यादा संक्रमित, 3.87 लाख लोगों की मौत - BBC Hindi गिद्ध कहकर केंचुआ बनाए रखने की मेहता-मंशा

बता दें कि अहमद उमर शेख ब्रिटेन में जन्मा था। इसे साल 2002 में वॉल स्ट्रीट जर्नल के पत्रकार डैनियल पर्ल की हत्या के मामले के पाकिस्तान की आतंकवाद निरोधी अदालत ने सजा सुनाई थी। हालांकि, अब इस फैसले को सिंध हाई कोर्ट ने पलट दिया है।डैनियल पर्ल की हत्या के मामले में अहमद उमर शेख के साथ तीन अन्य को दोषी ठहराया गया था। साल 2002 में डैनियल की हत्या के मामले में मास्टरमाइंड शेख को हत्या की सजा सुनाई गई थी। अल जजीरा के रिपोर्ट के मुताबिक डैनियल हत्याकांड के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे तीन अन्य दोषियों को सिंध उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया।

दरअसल, 11 सितंबर 2001 को संयुक्त राज्य अमेरिका पर हमले के बाद डैनियल पर्ल कराची में सशस्त्र समूहों की जांच कर रहे थे। इसके बाद जनवरी 2002 में उनका अपहरण कर लिया गया। इसके कुछ हफ्तों बाद उनकी हत्या का वीडियो सामने आया था।हाल ही में पाकिस्तान की एक अदालत की तरफ से ऐसा फैसला दिया गया है, जिससे अब अमेरिका नाराज हो गया है। ये पूरा मामला पत्रकार डैनियल पर्ल के अपहरण और हत्या से जुड़ा है। अमेरिकी हाउस प्रतिनिधि की विदेशी मामलों की समिति ने इसकी कड़ी निंदा की है।

विज्ञापनसमिति के अध्यक्ष एलियट एंगल ने इस फैसले पर कड़ा एतराज जताते हुए कहा है कि पाकिस्तान के इस रवैये से अमेरिका चिंतित है। इस मामले पर एलिस वेल्स ने भी कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दोषियों की सजा को पलटा जाना आतंकवाद के पीड़ितों के साथ अन्याय है। एलिस वेल्स अमेरिकी विदेश विभाग के ब्यूरो ऑफ साउथ एंड सेंट्रल एशियन अफेयर्स की प्रमुख उप सहायक सचिव हैं।

बता दें कि अहमद उमर शेख ब्रिटेन में जन्मा था। इसे साल 2002 में वॉल स्ट्रीट जर्नल के पत्रकार डैनियल पर्ल की हत्या के मामले के पाकिस्तान की आतंकवाद निरोधी अदालत ने सजा सुनाई थी। हालांकि, अब इस फैसले को सिंध हाई कोर्ट ने पलट दिया है।डैनियल पर्ल की हत्या के मामले में अहमद उमर शेख के साथ तीन अन्य को दोषी ठहराया गया था। साल 2002 में डैनियल की हत्या के मामले में मास्टरमाइंड शेख को हत्या की सजा सुनाई गई थी। अल जजीरा के रिपोर्ट के मुताबिक डैनियल हत्याकांड के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे तीन अन्य दोषियों को सिंध उच्च न्यायालय ने बरी कर दिया।

और पढो: Amar Ujala »

खुद अमेरिका में लाखो लोग मौत के दरवाजे खड़े है लेकिन अकड़ है कि कम नहीं हो रही है।

डेनियल पर्ल के हत्यारे की सजा बदलने पर अमेरिका ने की पाकिस्तान की आलोचनासिंध हाईकोर्ट ने हत्या के मुख्य दोषी को दी गई मौत की सजा को 7 साल की सजा में तब्दील कर दिया है, जबकि अन्य तीन दोषियों को बरी कर दिया गया है. अमेरिका से पाकिस्तान में कवरेज के लिए आए डेनियल पर्ल की 2002 में हत्या कर दी गई थी.

PAK की अदालत ने डेनियल पर्ल के हत्यारे की सजा को बदला, अन्य 3 भी रिहासाल 2002 में पाकिस्तान आए अमेरिकी पत्रकार डेनियल पर्ल की हत्या कर दी गई थी. अब 18 साल बाद एक अदालत ने पर्ल के हत्यारे की सजा में बदलाव कर दिया है. Again airstrike it seems on Pakistan, like at time of Osama ..

निजामुद्दीन के तब्‍लीगी मरकज के 503 लोगों की हरियाणा में इंट्री, कई जगह मस्जिदों पर छापेहरियाणा में तब्‍लीगी मरकज में शामिल हुए लोगों की इंट्री से हड़कंप मचा हुआ है। बताया जाता है कि निजामुद्दीन से करीब 503 लोग हरियाणा में आए हैं। सरकार इनकी जांच व क्‍वारंटाइन कराएगी। इन लोगों को देश को बर्बाद करने के लिए तैयार किया जा रहा है करदाताओं के पैसों से इनका इलाज क्यों किया जा रहा है यह सारे जमाती को चौराहे पर गोली मार देना चाहिए यह जमाती नहीं है मौत का सौदागर है और ऐसे समय मौत बांट रहा है जब देश दुनिया तबाह हो रहे हैं

कोरोना छीन रहा जिंदगियां, पर लोगों की जान के दुश्मन क्यों बन गए मरकज के मौलानाIndia News: दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात का मरकज न केवल कोरोना का हॉटस्पॉट बनकर सामने आया है, बल्कि लोगों की जान का दुश्मन बनता दिख रहा है। इसके विलेन के तौर पर उभरा है तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद। सवाल उठ रहे हैं कि अगर मौलाना साद की कोई गलती नहीं है तो फिर वह एफआईआर दर्ज होते ही गायब क्यों हो गए? NBT walo ki maa kaa bhosda jhoot bolta hai madarchod Kyuki ye sab atankwadi hai desh aur duniya ke dusman मरकज वाले देशद्रोही अब तो इलाज करने वाले डॉक्टरों के साथ बदतमीजी और मारपीट कर रहे हैं और उनके ऊपर थूक रहे हैं इनका मकसद है यह महामारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने की गद्दार

कोरोना के संकट में सिंधिया की भी कड़ी परीक्षा, कांग्रेस के निशाने पर ज्योतिरादित्यकोरोना के संकट में सिंधिया की भी कड़ी परीक्षा, कांग्रेस के निशाने पर ज्योतिरादित्य mppolitics JyotiradityaScindia shivrajsinghchauhan Covid_19india CoronaUpdatesInIndia ये तो समय का खेल है जब तक ज्योतिरादित्य सिंधिया कोंग्रेश में थे तब सछि था मगर बीजेपी में आने से अब उनके निशाने पर है ये राजनीति का सिलसिला चलता रहेगा मगर कोंग्रेश बोखला गई है उनके पास कोई उपचार नही है बस निशाना शाधते रह जाएंगे और निशाना कोई और लगा जाएंगे

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक, कोरोना संकट पर सोनिया ने की चर्चावीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक, कोरोना संकट पर सोनिया ने की चर्चा CWC SoniaGandhi INCIndia Coronavirus CoronaviruIndia COVID19 lockdownindia INCIndia 🔔🔔🔔 INCIndia वक्त सहयोग का है -प्रचार प्रसार का नहीं... INCIndia Sonia Gandhi ka sandesh Bharat mein itni kam mote kaise ho sakti hai

एटलस साइकिल ने बंद किया आख़िरी कारखाना, हज़ार के क़रीब कर्मचारी बेरोज़गार राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र सीएए: प्रदर्शनकारियों को दिल्ली दंगों से जुड़े मामलों में गिरफ़्तारी पर सांसदों ने उठाई आवाज़ राहुल का ट्वीट- क्या भारतीय सीमा में नहीं घुसा कोई चीनी सैनिक? स्पष्ट करे सरकार कोरोना अपडेटः जॉर्ज फ़्लॉयड को कोरोना संक्रमण भी हुआ था - BBC Hindi दलित छात्रा ने ऑनलाइन क्लास नहीं कर पाने के चलते की 'आत्महत्या' जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? BJP विधायक ने सोनू सूद से मांगी मदद तो अलका लांबा ने जमकर लताड़ा, कहा- देश में इन्हीं की सरकार फिर भी मदद, शर्म हो तो... हथिनी की मौत पर राहुल गांधी से मेनका का सवाल, पूछा- क्यों नहीं की कार्रवाई ट्रंप ने विभाजन की आग भड़काई, अमरीका के पूर्व रक्षा मंत्री का आरोप कोरोना: बिना लॉकडाउन के तु्र्की ने कैसे क़ाबू पाया इस महामारी पर