Pakistan Fatf List, Pakistan Fatf Grey List, Pakistan Fatf Black List, Pakistan Fatf, Pakistan, Financial Action Task Force, Fatf, World News İn Hindi, World Hindi News

Pakistan Fatf List, Pakistan Fatf Grey List

पाकिस्तान जल्द हो सकता है ब्लैक लिस्ट, बचने के लिए FATF को मनाने बैंकॉक रवाना हुए पाक विशेषज्ञ

आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग पर शिकंजा कसने में नाकामी के चलते ब्लैक लिस्ट में शामिल होने के कगार पर खड़े पाकिस्तान

8.9.2019

पाकिस्तान जल्द हो सकता है ब्लैक लिस्ट, बचने के लिए FATF को मनाने बैंकॉक रवाना हुए पाक विशेषज्ञ PMOIndia HMOIndia DefenceMinIndia FinMinIndia ImranKhanPTI

आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग पर शिकंजा कसने में नाकामी के चलते ब्लैक लिस्ट में शामिल होने के कगार पर खड़े पाकिस्तान

ने खुद को बचाने की कवायद शुरू कर दी है। इसी के तहत पाकिस्तानी विशेषज्ञों का 20 सदस्यीय दल आतंकी फंडिंग पर पूरे विश्व में नजर रखने वाली फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) को मनाने के लिए बैंकॉक रवाना हो गया है। एक मीडिया रिपोर्ट में रविवार को बताया गया कि इस दल का लक्ष्य एफएटीएफ के सदस्य देशों को आतंकी फंडिंग पर शिकंजा कसने के लिए अपने देश की तरफ से की जा रही कार्रवाई पर आश्वस्त करने का है। बता दें कि पहले से ही ग्रे लिस्ट में शामिल पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में लाने पर फैसला एफएटीएफ की 13 से 18 अक्टूबर तक होने वाली पूर्ण बैठक में होने की संभावना है। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को रवाना हुए पाकिस्तानी दल का नेतृत्व आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अजहर कर रहे हैं, जबकि इसमें फेडरल इंवेस्टीगेशन एजेंसी, स्टेट बैंक, फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू, सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन ऑफ पाकिस्तान, एंटी नारकोटिक्स फोर्स और इंटेलिजेंस एजेंसी के अधिकारी शामिल किए गए हैं। रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि इस मामले में रविवार रात को ही पहली अनौपचारिक बैठक होने की संभावना है, लेकिन औपचारिक तौर पर एफएटीएफ के साथ पाकिस्तानी दल की वार्ता सोमवार से शुरू होगी। रिपोर्ट में वित्त मंत्रालय के एक सूत्र के हवाले से जानकारी देते हुए यह बताया गया कि यह वार्ता 13 सितंबर तक चलेगी, जिसमें यह तय होगा कि पाकिस्तान का नाम ग्रे लिस्ट में ही बना रहेगा या उसे ब्लैक लिस्ट में शामिल किया जाएगा। एफएटीएफ का एशिया-प्रशांत समूह कर चुका है ब्लैक लिस्ट एफएटीएफ के साथ इस वार्ता की पाकिस्तान के लिए इस कारण बेहद मानी जा रही है, क्योंकि इस संस्था का एशिया-प्रशांत समूह (एपीजी) पहले ही पड़ोसी देश को ब्लैक लिस्ट में शामिल कर चुका है। इस कारण पाकिस्तान को हर तिमाही में अपनी कार्रवाईयों की रिपोर्ट एपीजी को सौंपनी होगी। एपीजी की तरफ से भेजे गए समन में उठाए गए 125 सवालों के जवाब भी पाकिस्तानी दल को एफएटीएफ के साथ वार्ता के दौरान पेश करने होंगे। खास बातें आतंकी फंडिंग और मनी लांड्रिंग पर शिकंजा कसने में नाकाम पाक ग्रे लिस्ट में शामिल पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में लाने पर अक्टूबर में फैसला एफएटीएफ का एशिया-प्रशांत समूह कर चुका है ब्लैक लिस्ट ने खुद को बचाने की कवायद शुरू कर दी है। इसी के तहत पाकिस्तानी विशेषज्ञों का 20 सदस्यीय दल आतंकी फंडिंग पर पूरे विश्व में नजर रखने वाली फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) को मनाने के लिए बैंकॉक रवाना हो गया है। विज्ञापन एक मीडिया रिपोर्ट में रविवार को बताया गया कि इस दल का लक्ष्य एफएटीएफ के सदस्य देशों को आतंकी फंडिंग पर शिकंजा कसने के लिए अपने देश की तरफ से की जा रही कार्रवाई पर आश्वस्त करने का है। बता दें कि पहले से ही ग्रे लिस्ट में शामिल पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट में लाने पर फैसला एफएटीएफ की 13 से 18 अक्टूबर तक होने वाली पूर्ण बैठक में होने की संभावना है। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को रवाना हुए पाकिस्तानी दल का नेतृत्व आर्थिक मामलों के मंत्री हम्माद अजहर कर रहे हैं, जबकि इसमें फेडरल इंवेस्टीगेशन एजेंसी, स्टेट बैंक, फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू, सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन ऑफ पाकिस्तान, एंटी नारकोटिक्स फोर्स और इंटेलिजेंस एजेंसी के अधिकारी शामिल किए गए हैं। रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि इस मामले में रविवार रात को ही पहली अनौपचारिक बैठक होने की संभावना है, लेकिन औपचारिक तौर पर एफएटीएफ के साथ पाकिस्तानी दल की वार्ता सोमवार से शुरू होगी। रिपोर्ट में वित्त मंत्रालय के एक सूत्र के हवाले से जानकारी देते हुए यह बताया गया कि यह वार्ता 13 सितंबर तक चलेगी, जिसमें यह तय होगा कि पाकिस्तान का नाम ग्रे लिस्ट में ही बना रहेगा या उसे ब्लैक लिस्ट में शामिल किया जाएगा। एफएटीएफ का एशिया-प्रशांत समूह कर चुका है ब्लैक लिस्ट एफएटीएफ के साथ इस वार्ता की पाकिस्तान के लिए इस कारण बेहद मानी जा रही है, क्योंकि इस संस्था का एशिया-प्रशांत समूह (एपीजी) पहले ही पड़ोसी देश को ब्लैक लिस्ट में शामिल कर चुका है। इस कारण पाकिस्तान को हर तिमाही में अपनी कार्रवाईयों की रिपोर्ट एपीजी को सौंपनी होगी। एपीजी की तरफ से भेजे गए समन में उठाए गए 125 सवालों के जवाब भी पाकिस्तानी दल को एफएटीएफ के साथ वार्ता के दौरान पेश करने होंगे। विज्ञापन और पढो: Amar Ujala

गुजरात के खंभात में सांप्रदायिक हिंसा, 13 लोग घायल, घर और दुकानें जलाई गईं



CAA हिंसा पर बोले मनीष सिसोदिया- तीन दशक से दिल्ली में हूं, इतना डर कभी नहीं लगा

उत्तर प्रदेश: अलीगढ़ में सीएए विरोधी प्रदर्शन में हुई हिंसा में पांच घायल, इंटरनेट बंद



US President Donald Trump and First Lady visit Taj Mahal in Agra

दिल्ली में हिंसाग्रस्त इलाकों में बंद रहेंगे स्कूल : पांच बड़ी ख़बरें



आज भारत के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती विस्तारवादी चीन नहीं, बल्कि ध्रुवीकृत होती देश की राजनीति है

ताजमहल में डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ने खिंचवाई फोटो, CM योगी ने दिया खास गिफ्ट



पाकिस्तान ने दिखाई औकात, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान के लिए एयरस्पेस खोलने से किया इनकारपाकिस्तान ने एक बार फिर से अपनी औकात दिखा दी है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान के लिए एयरस्पेस खोलने से किया इनकार कर दिया है. rashtrapatibhvn Aukat nahi, darr. rashtrapatibhvn Sacha musalman nahin rashtrapatibhvn This is just cover fire from pakistaan for china....Be careful...IAF_MCC

विदेशी पूंजी के लिए छटपटा रहा पाकिस्तान, निवेशकों के आगे करवाया बैली डांसYehi kar skte hai pak wale 🤣🤣🤣 Sahi ja raha hai, jo aukad hai wohi toh karega yeh bhikari mulk 🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣🤣😜

जेटली के निधन के बाद क्या भूपेंद्र यादव होंगे मोदी सरकार के अगले 'संकट मोचक'?पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) सालों तक पार्टी के संकट मोचक रहे. ये शायद ही संभव है कि दिवंगत जेटली का स्थान कोई ले सकता है. लेकिन उनके निधन के बाद संकट मोचक के तौर पर बीजेपी (BJP) का कौन नेता कारगर हो सकता है. अगर इस संदर्भ में बात की जाए तो बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव (Bhupender Yadav) को इस स्थान पर देखा जा सकता है. | bihar News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी Ho sakta hai jay shriram jay ho

घूस लेने के स्टिंग वीडियो के बाद त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के वीसी ने दिया इस्तीफावीएल धारूकर को जुलाई 2018 में वीसी नियुक्त किया गया था। अभी धारूकर के कार्यकाल में लगभग 4 साल का समय बाकी है। \n

कश्मीर के कई हिस्सों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां, मोहर्रम के जुलूस को रोकने के लिएमोहर्रम का जुलूस निकालने से रोकने के लिए शहर सहित कश्मीर के कई हिस्सों में रविवार को कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई गई हैं. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

सैटेलाइट तस्वीरों ने अरुणाचल के नेताओं के चीनी घुसपैठ के दावों की पुष्टि कीइस साल जुलाई में भाजपा की अरुणाचल प्रदेश इकाई के अध्यक्ष और लोकसभा सांसद तापिर गाओ और नेशनलिस्ट पीपुल्स पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गिशो कबाक ने दावा किया था कि चीनी सैनिकों ने पिछले महीने भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ की थी और पुल बनाया था. हालांकि, भारतीय सेना ने अरुणाचल प्रदेश के बिशिंग गांव में चीनी सेना द्वारा दो किमी लंबी सड़क बनाने के दावे को खारिज कर दिया था. सावधान चीन कमल फाड़ सकता है पहले ढोकलाम फिर नागालैंड अब आरूनाचल ? ये हो क्या रहा है ? मिजरोम और सिक्किम तो सुरक्षित रहेगा ना ? यंहा मुस्लिम एंगल नहीं हैं इसलिए सरकार चिंतित नहीं,, चीन के नाम पर वोट का धुर्वीकरण नहीं होता,,



ट्रंप भारत के लिए उड़ान भरने से पहले क्या बोले

सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak

कपिल मिश्रा का पुलिस को अल्टीमेटम, तीन दिन में सड़क खाली कराएं वरना हम आपकी भी नहीं सुनेंगे

डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे

ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा

कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम- 3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे

मोदी के रहते भारत-पाक में सिरीज़ नहींः आफ़रीदी

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

09 सितम्बर 2019, सोमवार समाचार

पिछली खबर

Brexit Deal: मुश्किल में जॉनसन सरकार, ब्रिटेन की एक और शीर्ष मंत्री ने दिया इस्तीफा

अगली खबर

अमरीका को होगा ज़्यादा नुक़सानः तालिबान
गुजरात के खंभात में सांप्रदायिक हिंसा, 13 लोग घायल, घर और दुकानें जलाई गईं CAA हिंसा पर बोले मनीष सिसोदिया- तीन दशक से दिल्ली में हूं, इतना डर कभी नहीं लगा उत्तर प्रदेश: अलीगढ़ में सीएए विरोधी प्रदर्शन में हुई हिंसा में पांच घायल, इंटरनेट बंद US President Donald Trump and First Lady visit Taj Mahal in Agra दिल्ली में हिंसाग्रस्त इलाकों में बंद रहेंगे स्कूल : पांच बड़ी ख़बरें आज भारत के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती विस्तारवादी चीन नहीं, बल्कि ध्रुवीकृत होती देश की राजनीति है ताजमहल में डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ने खिंचवाई फोटो, CM योगी ने दिया खास गिफ्ट CAA पर बोले अनूप जलोटा- कोई व्यक्ति US में घुसकर और छुप कर रहे क्या यह संभव है दिल्ली में हिंसा: CAA को लेकर सुलग उठी देश की राजधानी, जानिए 24 घंटे का पूरा अपडेट दिल्ली हिंसा पर बोलीं सोनिया- गांधी के भारत में हिंसा का स्थान नहीं पुरानी ड्रेस पहनकर आईं डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका, सामने आई ये बड़ी वजह गाजा पट्टी और सीरिया में इजराइल के हवाई हमले में छह लोगों की मौत
ट्रंप भारत के लिए उड़ान भरने से पहले क्या बोले सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak कपिल मिश्रा का पुलिस को अल्टीमेटम, तीन दिन में सड़क खाली कराएं वरना हम आपकी भी नहीं सुनेंगे डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम- 3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे मोदी के रहते भारत-पाक में सिरीज़ नहींः आफ़रीदी मोदी सरकार के उलट नीतीश कुमार का बड़ा बयान- बिहार में लागू नहीं होगा NRC, CAA पर साधी चुप्पी- NPR को लेकर... अब्दुल्ला और मुफ़्ती की रिहाई की दुआ करता हूं: राजनाथ सिंह डोनल्ड ट्रंप भारत आकर क्या हासिल करना चाहते हैं ट्रंप की भारत यात्रा पर कांग्रेस ने उठाए सवाल- जो भी विदेशी राष्ट्राध्यक्ष आता है, पहले गुजरात ले जाते हैं आरबीआई और एलआईसी के बूते कब तक आर्थिक संकट से निपटेगी सरकार?