Pakistan, Afghanistan, Taliban, Pakistan, Pakistan, Problem İn Afghanistan, Afghanistan Crisis, Taliban, Imran Khan, Afghanistan Conflict, Taliban Rule İn Afghanistan, Taliban Capture Afghanistan, तालिबान का कब्‍जा, अफगानिस्‍तान पर तालिबान का कब्‍जा, Pakistan

Pakistan, Afghanistan

पाकिस्तान है अफगानिस्तान में समस्या की असली जड़, आइएसआइ बना कट्टरपंथ का केंद्र

पाकिस्तान है अफगानिस्तान में समस्या की असली जड़, आइएसआइ बना कट्टरपंथ का केंद्र #Pakistan #Afghanistan #Taliban

26-09-2021 11:10:00

पाकिस्तान है अफगानिस्तान में समस्या की असली जड़, आइएसआइ बना कट्टरपंथ का केंद्र Pakistan Afghanistan Taliban

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में एक साक्षात्कार में तालिबान को वैश्विक मान्यता देने की अपील की थी। वहीं पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में तालिबान राज को मान्यता देने की वकालत कर चुके हैं।

अफगानिस्तान में पाकिस्तान की भूमिका किसी से छिपी नहीं है। तालिबान को मदद पहुंचाने से लेकर अफगानिस्तान की नई सरकार में हक्कनी नेटवर्क की वकालत करने तक पाकिस्तान पूरी तरह से सक्रिय रहा है। विशेषज्ञों का कहना है कि अफगानिस्तान में समस्या की असली जड़ पाकिस्तान ही है। यूरोपियन फाउंडेशन फार साउथ एशियन स्टडीज (EFSAS) के विशेषज्ञों के अनुसार, तालिबान के पक्ष में पाकिस्तान की दिलचस्पी दुनिया से छिपी नहीं है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में एक साक्षात्कार में तालिबान को वैश्विक मान्यता देने की अपील की थी। वहीं, पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में तालिबान राज को मान्यता देने की वकालत कर चुके हैं।

अमेरिकी इनवेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी JP Morgan ने क्यों बताया Bitcoin को Gold से बेहतर? शेख़ हसीना ने हिन्दुओं की सुरक्षा पर भारत को क्यों दी चेतावनी? - BBC News हिंदी निहंग बाबाओं की पुलिस को चुनौती: अब किसी और की गिरफ्तारी मांगी तो सरेंडर कर चुके हमारे चारों साथियों को छुड़वा लाएंगे

इस बीच, चीन ने तालिबान के खिलाफ प्रतिबंध हटाने का आह्वान किया। उसने अमेरिका से अनुरोध किया कि वह युद्धग्रस्त देश के रोके गए विदेशी मुद्रा भंडार को समूह पर राजनीतिक दबाव बनाने के लिए इस्तेमाल नहीं करे। इएफएसएएस थिंक टैंक का कहना है कि पाकिस्तान कट्टरपंथी विचारधारा में गहराई से निवेश कर रहा है। यह कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी कि पाकिस्तानी परमाणु हथियार कट्टरपंथी इस्लामवादियों के हाथों में पहुंच जाए।

इसको लेकर अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जान आर बोल्टन और इतालवी लेखक फ्रांसेस्का मैरिनो सहित विशेषज्ञों द्वारा कफी बहस की गई है। बोल्टन ने पाकिस्तान को आगजनी करने वालों और अग्निशामकों से मिलकर बनी एकमात्र सरकार के रूप में वर्णित किया है। इसमें कहा गया है कि इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आइएसआइ) लंबे समय से 'कट्टरपंथ का केंद्र' बना हुआ है, जो पूरी सेना में उच्च रैंक तक फैल गया है। जबकि, प्रधानमंत्री इमरान खान कई पूर्व निर्वाचित नेताओं की तरह सिर्फ एक चेहरा मात्र हैं। headtopics.com

यह भी पढ़ेंबोल्टन ने अपने लेख में कहा है कि अमेरिकी गठबंधन बलों द्वारा 2001 में तालिबान को अफगानिस्तान से उखाड़ फेंकने के बाद आइएसआइ ने ही पाकिस्तान के अंदर उन्हें रहने के लिए जगह और हथियारों की आपूर्ति की। इसके साथ ही पाकिस्तान ने कश्मीर पर अपने मुख्य क्षेत्रीय प्रतिद्वंद्वी भारत को निशाना बनाने वाले आतंकवादी समूहों को भी सक्षम बनाया।

उन्होंने अफगानिस्तान को आतंकवाद का एक बड़ा छत्ता बनाने में इस्लामाबाद की भूमिका पर जोर देकर कहा कि समस्या की भयावहता इतनी ऊंचाई तक पहुंच गई है कि पश्चिम अब इसे नजरअंदाज नहीं कर सकता। यह संकेत देते हुए कि आतंकवाद के लिए पाकिस्तान के लगातार समर्थन ने इसे एक वास्तविक आतंकवादी राज्य बना दिया है। उसने सुझाव दिया कि ऐसे देशों के हाथों में परमाणु हथियारों होने का परिणाम किसी भी युद्ध से कहीं अधिक भयावह होंगे।

और पढो: Dainik jagran »

10तक: सियासत के लिए भी नमक की तरह इस्तेमाल होते हैं किसान!

देश की सियासत में किसान नमक की तरह इस्तेमाल होता है. जरूरत के हिसाब से सियासी दल उसका इस्तेमाल अपने हित के हिसाब से करते हैं. लखीमपुर खीरी का ही उदाहरण लीजिए जहां पहुंचने के लिए विपक्षी दलों में आज होड़ मच गई. मुश्किल में फंसी जनता का हाल जानना हर दल का फर्ज और हक दोनों है लेकिन जनता को कब कितना भाव दिया जाएगा ये चुनाव पर निर्भर करता है. यूपी में चुनाव है तो सभी दलों को किसानों की चिंता है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भी लखीमपुर खीरी आने को तैयार हैं, लेकिन उनके ही राज्य में पिछले 5 महीनों से आदिवासी किसान आंदोलन कर रहे हैं, उनकी सुध लेने का न तो मुख्यमंत्री को वक्त मिला है और न ही उनकी पार्टी के नेतृत्व ने उनके लिए आवाज उठाई है. देखें 10तक.

यूएन में भारत की स्नेहा दुबे को जवाब देने आईं पाकिस्तान की सायमा - BBC Hindiसंयुक्त राष्ट्र की 76वीं आम सभा में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद यूएन में भारत की फ़र्स्ट सेक्रेटरी स्नेहा दुबे ने जवाब दिया था. स्नेहा को जवाब देने के लिए पाकिस्तान की ओर से सायमा सलीम आईं. Mujhe samaj nhi aa rha govt iss BBC saanp ko paale huye kyu h... Bilkul anti india h ye.. पाकिस्तानी सामया क्यो आयीं BBC ही काफी था जवाब देने के लिए Maza nhi aaya

शूटआउट की साजिश : मंडोली जेल में रचा गया षड्यंत्र, यहीं बंद है टिल्लू, सुरक्षा बढ़ाई गईशूटआउट की साजिश : मंडोली जेल में रचा गया षड्यंत्र, यहीं बंद है टिल्लू, सुरक्षा बढ़ाई गई Delhi RohiniCourt DCPDwarka

यूपी की मऊ विधानसभा से बाहुबली मुख्‍तार अंसारी की लगातार 5 जीतों का क्या है राजउत्तर प्रदेश की मऊ विधानसभा सीट प्रदेश ही नहीं बल्कि देश में चर्चा का विषय बनी रहती है और इसके पीछे की मुख्य वजह गैंगस्टर से राजनेता बने मुख्तार अंसारी हैं। इस समय अंसारी बांदा जेल में बंद है और उन पर कई आरोप लगे हुए हैं, जिनकी सुनवाई कोर्ट में चल रही है।

दिल्ली के कोर्ट में गैंगवॉर: कोर्ट रूम में गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या, वकील की ड्रेस में आए दोनों बदमाश पुलिस शूटआउट में मारे गएदिल्ली के रोहिणी कोर्ट परिसर में शुक्रवार को गैंगवॉर हुआ। बदमाशों ने गोली मारकर गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या कर दी। इस गैंगवॉर में गोगी समेत कुल तीन लोग मारे गए हैं। फायरिंग में 3 से 4 लोग घायल भी हुए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, गोगी पेशी के लिए कोर्ट में आया था, जहां वकील की यूनिफॉर्म में आए दो बदमाशों ने उसपर फायरिंग की। | Delhi Rohini Court Gang War Video Update; Attack On Jitendra Gogi an Two Others| पेशी के लिए लाए गए गैंगस्टर जीतेंद्र गोगी समेत 4 की मौत, वकील के कपड़ों में आए थे हमलाकर; पुलिस ने 2 बदमाशों को मार गिराया Badiya hai mare gye to sale Justice on the spot 🖋️🖋️🖋️ Shootout in Delhi's Rohini court, gangster Gogi killed… assailants came dressed as lawyers

उत्तर प्रदेश: कथित धर्मांतरण मामले में इस्लामिक धर्मगुरु गिरफ़्तार, 10 दिन की हिरासत में भेजाकथित ‘सबसे बड़े धर्मांतरण सिंडिकेट’ चलाने के आरोप में यूपी एटीएस ने इस्लामिक विद्वान मौलाना कलीम सिद्दीक़ी को बीते 21 सितंबर को मेरठ से गिरफ़्तार किया था. सिद्दीक़ी के वकील ने कहा है कि पुलिस साक्ष्य के रूप में उनके यूट्यूब चैनल को पेश कर रही है, जो कि पहले से ही सार्वजनिक है और उसमें कुछ भी आपराधिक या देश के ख़िलाफ़ नहीं है. हिन्दू धर्म के धर्म गुरु कितने मुस्लिम को हिन्दू बनाया यह धर्म गुरू कैसा जो पैसे दे कर धर्मान्तरण करवाता है मीडिया की आज़ादी के नाम जो हेडिंग सजती है पहले तो तुमजैसे संस्थानो को बैन करना जरूरी है beingarun28 ianuragthakur

कोरोना की मार, अमेरिका में दो हजार से ज्‍यादा मौतें, रूस में 822, ब्राजील में 699 और मैक्सिको में 564 की गई जानदुनिया के कई मुल्‍कों में कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों पर अभी भी लगाम नहीं लग पाई है। अमेरिका रूस और ब्राजील में अभी भी महामारी से बड़ी संख्‍या में लोगों की मौत हो रही हैं। अमेरिका अभी भी दुनिया का सबसे प्रभावित मुल्‍क बना हुआ है। भारत की ख़बर नहीं है PLEASE SUBCRIBE MY YOUTUBE CHANNEL🙏