पाकिस्तान की न्यूज़ीलैंड पर जीत भारत के हक़ में क्यों है? - BBC News हिंदी

T20 World Cup: पाकिस्तान की न्यूज़ीलैंड पर जीत भारत के हक़ में क्यों है?

27-10-2021 10:46:00

T20 World Cup: पाकिस्तान की न्यूज़ीलैंड पर जीत भारत के हक़ में क्यों है?

पाकिस्तान से शर्मनाक हार के बाद भारतीय प्रशंसक सदमे में थे, लेकिन मंगलवार को पाकिस्तान ने न्यूज़ीलैंड को हराया तो यह भारत के हक़ में गया है. यह भारतीय प्रशंसकों को राहत देने वाला नतीज़ा था. जानिए ऐसा क्यों है?

पाकिस्तान का शानदार प्रदर्शनइस स्थिति में पाकिस्तान की जगह सेमीफ़ाइनल में पक्की है. अगर न्यूज़ीलैंड पाकिस्तान को हरा देता तो उसके पॉइंट भी आठ हो जाते. हम ये मानकर चल रहे हैं कि न्यूज़ीलैंड को नामीबिया, अफ़ग़ानिस्तान और स्कॉटलैंड से भी जीत मिलेगी. अगर 31 अक्टूबर को न्यूज़ीलैंड भारत को भी हरा देता तो उसके कुल 10 पॉइंट्स हो जाते.

मन की बात LIVE: मोदी बोले- मुझे सत्ता में रहने का आशीर्वाद मत दीजिए, मैं हमेशा सेवा में जुटा रहना चाहता हूं एप्पल का पेगासस के ख़िलाफ़ अदालत जाना भारत सरकार के लिए शर्मिंदगी का सबब बन सकता है अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, गठबंधन पर हो सकती है बात

लेकिन न्यूज़ीलैंड को पाकिस्तान हरा चुका है और उसके कुल चार पॉइंट हो चुके हैं. अब अगर 31 अक्टूबर को भारत भी न्यूज़ीलैंड को हरा देता है तो न्यूज़ीलैंड का पॉइंट शून्य रहेगा. लेकिन भारत को दो पॉइंट मिल जाएंगे. और हम ये मानकर चल रहे हैं कि भारत को नामीबिया, स्कॉटलैंड, अफ़ग़ानिस्तान के ख़िलाफ़ जीत मिलेगी.

ऐसे में भारत के कुल आठ अंक हो जाएंगे. भारत से हारने के बाद अगर न्यूज़ीलैंड नामीबिया, स्कॉटलैंड और अफ़ग़ानिस्तान को भी हरा देता है तब भी उसके कुल छह अंक ही रहेंगे. ऐसे में भारत और पाकिस्तान सेमीफ़ाइनल में पहुँच जाएंगे.अगर न्यूज़ीलैंड पाकिस्तान को हरा देता तो उसका अंक भी दो हो जाता और भारत शून्य पर ही रहता. लेकिन अफ़ग़ानिस्तान को लेकर कहा जा रहा है कि वो कुछ उलटफेर कर सकता है. हालांकि टी-20 में अफ़ग़ानिस्तान से भारत कभी हारा नहीं है. headtopics.com

इमेज स्रोत,Getty Imagesसमीकरण के कई कोणपाकिस्तान से हारने के बाद भारत अब केवल अपने प्रदर्शन पर निर्भर नहीं है बल्कि कौन टीम किसे हरा रही है, इस पर भी उसका भविष्य टिका है. अगर सुपर 12 स्टेज में दो टीमों के अंक टाई करते हैं तो सेमीफ़ाइनल में जगह पाने के लिए अलग तरीक़े अपनाने होंगे. इनमें नेट रन रेट की अहम भूमिका होगी.

भारत के पूर्व ओपनर आकाश चोपड़ा ने न्यूज़ीलैंड और पाकिस्तान में मैच शुरू होने से पहले अपने यूट्यूब चैनल में कहा था, ''मेरा मानना है कि पाकिस्तान अगर न्यूज़ीलैंड को हरा देता है तो भारत के लिए सेमीफ़ाइनल में पहुँचने के लिहाज से ठीक होगा. लेकिन न्यूज़ीलैंड से पाकिस्तान हार जाता है तो स्थिति जटिल हो जाएगी. फिर नेट रन रेट की ओर जाना होगा. ऐसा तब होगा जब भारत न्यूज़ीलैंड समेत नामीबिया, स्कॉटलैंड और अफ़ग़ानिस्तान को हरा दे.''

(कॉपी - रजनीश कुमार और पढो: BBC News Hindi »

छात्रों से मिले 51 हजार बिजनेस आइडिया, देखें Business Blasters Programme पर क्या बोले Sisodia

दिल्ली सरकार की नई योजना स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में उद्यमी एवं व्यावसायिक क्षमता को विकसित करने वाले बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आजतक से खास बातचीत की है. इस दौरान उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और कई तरह के अनूठे आइडिया दे रहे हैं. इसकी सफलता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भविष्य में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को भी इस प्रोग्राम से जोड़ने की योजना बनाई है. साथ में दिल्ली सरकार के कॉलेजों में भी प्रोग्राम को ले जाने की तैयारी है. देखिए ये वीडियो.

Is Mr. Amit Shah playing in the team हम तो चाहते हैं कि भारत भी जीते और पाकिस्तान भी। दोनों खूब तरक्की करें।आखिर हम कभी एक ही थे,भाई थे,परिवार थे।धर्म की अति ने सरहदें खींच दी तो क्या हम हमेशा दुश्मन रहेंगे?आने वाली पीढ़ी को हम ये दुश्मनी तोहफे में देने के लिये पाल कर क्यों रखें?दोस्ती से अच्छा तोहफा क्या होगा?

Kuch haq me nhi hai, Pakistan ko harana hi haq me tha, baki koi jitey Harey usse matlab nhi h . Cricket is the game of the use of the capable player at the right time ......not of the calculations. 😍 ⃢ 😍 ⃢ 😍 ⃢ 😍 ⃢ 😍

शाहीन शाह अफ़रीदी ऐसे बने भारत के ख़िलाफ़ मैच में पाकिस्तान के 'शहंशाह' - BBC News हिंदीभारत के ख़िलाफ़ मैच में पाकिस्तान के शाहीन अफ़रीदी ने टॉप ऑर्डर को काफ़ी परेशान किया और पाकिस्तान की जीत की आधारशिला रखी. 2014 के बाद सचमुच का विकास हुआ है पहले भारत के हारने पर टीवी टूटते थे और अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचता था अब शमी को गाली दो और विकास चालू सब चंगा सी Ab Bas Bhi Kar Dijiye Itna To Pak media bhi nahi dikha raha honga Jitna aap Dikhaye Jaa Rahe Hai. IndvsPak ghamand ki haar howee hai

दो दिन के अंदर इन दो IPO में निवेश का मौका, जानें- कंपनियों के बारे मेंइस महीने के आखिरी हफ्ते में दो आईपीओ ओपन होने जा रहे हैं. पहला आईपीओ FSN ई-कॉमर्स वेंचर्स लिमिटेड के मालिकाना हक वाली कंपनी Nykaa का 28 अक्टूबर को खुलेगा, जबकि 29 अक्टूबर फिनो पेमेंट बैंक (Fino Payment Bank) का IPO ओपन होगा.

बांग्लादेश में मंदिरों पर हमले के बाद डर के साए में जीते हिंदू - BBC News हिंदीबांग्लादेश में सिलसिलेवार तरीक़े से अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के ख़िलाफ़ शुरू हुई हिंसा अब थम गई है लेकिन वहां पर हिंदू अभी भी डर के साए में जी रहे हैं. Why it is happening in Bangladesh and Pakistan, is there no human rights and other laws made for this. Only Hindustan have the regressed law to punish Hindus. Why not the same ther kaum. What about tripura Anti-Muslim violence across Tripura, a northeast Indian state following Bangladesh violence Series of violent attacks by large Hindutva groups continue to target different mosques, houses and shops of Muslims in Tripura. Here is what we know so far

कर्नाटक में मिले डेल्टा के नए वैरिएंट के दो संदिग्ध मामले, AY.4.2 वैरिएंट के चलते ब्रिटेन में तेजी से फैल रहा है संक्रमणCovid 19 Updates बीते 24 घंटे के दौरान 356 मौतें भी हुई हैं लेकिन इनमें से 281 मौतें अकेले केरल से हैं। केरल में भी 281 में से 228 मौतें पिछले कुछ दिनों के दौरान हुई थीं जिन्हें नए आंकड़ों के साथ जोड़ा गया है। पूरी दुनिया के लोगों को देशों को समझने की आवश्यकता है कि यदि कोई एक बार बीमार नहीं है तो इसका अर्थ यह नहीं कि खतरा टल गया है और हम अनावश्यक पार्टी और सभी सुरक्षात्मक उपाय लेने में खत्म ही करें यह वायरस परिसंचरण बेहद उत्पात कारी समय अनुसार प्रत्येक निर्णय लें समाज हित में

उत्तराखंड बाढ़: रामनगर में सुंदरखाल के लोग कैसे फँस गए हैं मँझधार में - BBC News हिंदीसुंदरखाल में जो लोग रह रहे हैं, वो मूलतः वे लोग हैं जो दशकों से उत्तराखंड में आई प्राकृतिक आपदा से विस्थापित हुए हैं. ये वो लोग हैं, जो उत्तराखंड के पहाड़ों पर रहा करते थे, लेकिन इनके गाँव या तो भूस्खलन में या बारिश की वजह से नष्ट हो गए.

दुनिया के कई हिस्सों में फिर बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलेदो साल पहले, अक्तूबर 2019 में चीन से कोरोना विषाणु संक्रमण (कोविड-19) महामारी की शुरुआत हुई थी।