पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म - BBC News हिंदी

पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म

18-10-2021 11:02:00

पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म

यार मोहम्मद बटग्राम ज़िले के रहने वाले हैं. उनकी पत्नी ने सात बच्चों को जन्म दिया है. डॉक्टर हैरान हैं. कैसे दिया गया इतनी गंभीर सर्जरी को अंजाम.

समाप्तइन बच्चों से पहले यार मोहम्मद की दो बेटियां हैं. वे कहते हैं, ''इन बच्चों का पालन पोषण उनके लिए बिल्कुल भी मुश्किल नहीं होगा क्योंकि वे एक संयुक्त परिवार में रहते हैं जहां परिवार के सभी सदस्य उनकी मदद करेंगे.''जब असाधारण ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर भी हैरान रह गए

वैज्ञानिक का दावा- आने वाली महामारी और भी जानलेवा होगी - BBC News हिंदी शशि थरूर ने किसके विरोध में किया ये फ़ैसला - BBC Hindi बाबरी विध्वंस की बरसी पर मथुरा में कड़ी सुरक्षा, धारा 144 लागू - BBC News हिंदी

ऐबटाबाद के जिन्ना अस्पताल में गायनोकोलॉजिस्ट डॉक्टर हिना फ़ैयाज़ के अनुसार, महिला उनके पास पहली बार शनिवार को आई थीं.वो कहती हैं, "अल्ट्रासाउंड और अन्य रिपोर्टों से हमें पता चला कि उनके गर्भ में पांच बच्चे हैं. गर्भावस्था के लगभग आठ महीने बीत चुके थे."

अमेरिका में गर्भपात क़ानून: ज़िंदगी पर किसका हक़, महिला का या भ्रूण का?डॉक्टर हिना फ़ैयाज़ ने कहा कि महिला की रिपोर्ट देखकर वह हैरान रह गई थीं."महिला का ब्लड प्रेशर ख़तरनाक स्तर तक बढ़ा हुआ था. उनका पेट बहुत ज़्यदा फूल चुका था. इससे पहले, उनके दो बच्चे ऑपरेशन से हो चुके थे. जहां पहले टांके लगे थे उस जगह पर उन्हें बहुत दर्द हो रहा था. टांके और गर्भाशय के फटने का ख़तरा था जिससे महिला और उनके बच्चों की जान को भी ख़तरा हो सकता था." headtopics.com

वह बताती हैं कि "हमें एक ख़तरा यह भी था कि कहीं महिला को पोस्ट पार्टम हैमरेज न हो जाये, यानी बच्चे के जन्म के बाद बहुत ज़्यादा खून बहना शुरू न हो जाये. महिला का ब्लड प्रेशर पहले से ही हाई था. इससे उन्हें झटके लगने भी शुरू हो सकते थे."डॉक्टर हिना फ़ैयाज़ बताती हैं कि उस दिन उनकी ड्यूटी ओपीडी में थी.

"मैंने पूरे मामले के बारे में अपने विभाग की प्रमुख प्रोफ़ेसर डॉक्टर रुबीना बशीर से बात की. उन्होंने परिवार की सहमति से तुरंत ऑपरेशन करने की सलाह दी थी. इतने बड़े ऑपरेशन के लिए इमरजेंसी स्तर पर तैयारी की गई. बाल रोग वॉर्ड के विशेषज्ञ डॉक्टरों को इमरजेंसी कॉल दी गई."

उन्होंने बताया कि परिवार वालों के पास ब्लड का भी इंतेज़ाम नहीं था. ख़ून की व्यवस्था भी उन्होंने ही की.इमेज स्रोत,जिन्ना इंटरनेशनल हॉस्पिटल एबटाबादऑपरेशन का ख़तरनाक चरणडॉक्टर हिना फ़ैयाज़ कहती हैं कि इस ऑपरेशन में उनके तीन जूनियर टीएमओ डॉक्टर शहीला, डॉक्टर मरियम और डॉक्टर राबिया के अलावा पैरामेडिक्स और एनेस्थीसिया के डॉक्टरों ने भी मदद की थी.

उन्होंने बताया, "ये ऑपरेशन एक घंटे तक चला था, लेकिन जब पेट खुला तो आंतें, गर्भाशय और पेशाब की थैली आपस में जुड़े हुए थे. महिला का पेट पहले ही बहुत ज़्यादा फूला हुआ था जिस वजह से गर्भाशय तक पहुंचना भी मुश्किल और नाज़ुक चरण था."कितने बच्चे पैदा हों ये कौन तय करे, सरकार या औरत? headtopics.com

दिल्ली की हवा अभी भी 'बहुत खराब', कल और ज्यादा खराब होने के आसार श्रीलंकाई नागरिक को बचाने के लिए कैसे भीड़ से भिड़ गए मलिक अदनान - BBC News हिंदी नगालैंड में सेना के ऑपरेशन में मौतों के मामले में आज संसद में बयान देंगे गृह मंत्री अमित शाह

वह आगे कहती हैं, "एक बार जब हम इस चरण में सफल हो कर गर्भाशय तक पहुंचे, तो एक-एक करके बच्चे को माँ से अलग करते गए. इसमें बहुत ज़्यादा सतर्क रहने की ज़रूरत थी कि कहीं ज़्यादा ख़ून न बह जाए."इमेज स्रोत,जिन्ना इंटरनेशनल हॉस्पिटल एबटाबाद'सात बच्चों का जीवित रहना भी एक चमत्कार है'

वह कहती हैं, "इससे पहले, मैंने एक बड़ा ऑपरेशन किया था जिसमें मैंने तीन बच्चों के जन्म में मदद की थी. इसलिए इसमें मेरा कुछ अनुभव था, लेकिन तीन से अधिक बच्चों के जन्म में मदद करने का यह मेरा पहला अनुभव था."उन्होंने कहा, "मुझे यह अनुभव तो था कि अल्ट्रासाउंड में अक्सर बच्चों की सही संख्या का पता नहीं चलता है. इसलिए अपने तौर पर हमने छह बच्चों का अंदाज़ा किया हुआ था. किट भी छह बच्चों के लिए तैयार की हुई थी. लेकिन जब बच्चों को माँ से अलग करना शुरू किया, तो पता चला कि ये तो सात बच्चे हैं."

अस्पताल में किट मौजूद थी और तुरंत सातवें बच्चे के लिए एक किट मंगवाई गई.डॉक्टर हिना कहती हैं, "उस समय हमारी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा जब हमने सातवें बच्चे को भी जीवित बचा कर विटामिन डी दे दी."आम तौर पर ऐसा बहुत कम होता है कि सभी बच्चे जीवित और स्वस्थ हों.

बच्चों को अस्पताल के नर्सरी में और मां को आईसीयू वॉर्ड में शिफ़्ट कर दिया गया है, जहां बच्चे और मां की हालत स्थिर है. बच्चों का जन्म समय से पहले हुआ है इसलिए हो सकता है कि उन्हें कुछ दिन नर्सरी में रखना पड़े.इमेज स्रोत,जिन्ना इंटरनेशनल हॉस्पिटल एबटाबाद headtopics.com

दवाओं की वजह से एक से ज़्यादा बच्चों का जन्मडॉक्टर हिना फ़ैयाज़ का कहना है कि महिला ने गर्भधारण करने वाली दवाओं का इस्तेमाल किया था. "दवाओं के इस्तेमाल की वजह से महिला के शरीर में एक से अधिक अंडे मैच्योर हो जाते हैं जिसकी वजह से एक ही समय में दो या दो से अधिक गर्भ ठहर सकते हैं.

वह कहती हैं - हमारा मानना है कि इस महिला का एक साथ सात बच्चों को जन्म देना, गर्भधारण करने वाली दवाओं के इस्तेमाल से ही हुआ है जिसकी वजह से इतने ज़्यादा गर्भ ठहर गए थे.यूपी: 'दो बच्चों की नीति' का मसौदा तैयार, योगी सरकार पर विपक्ष हमलावरडॉक्टर हिना फ़ैयाज़ कहती हैं कि यह नहीं पता कि उन्होंने किसी डॉक्टर की सलाह पर इन दवाओं का इस्तेमाल किया था या नहीं. अगर किसी विशेषज्ञ डॉक्टर की सलाह पर इनका इस्तेमाल किया होता या कोई मुझसे सलाह लेता, तो मैं उसे ऐसी दवा देती जिनसे एक से ज़्यादा अंडे मैच्योर नहीं होते.

शशि थरूर का ऐलान, '12 सांसदों का निलंबन रद्द होने तक ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की मेजबानी नहीं करूंगा' बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र में PM मोदी सहित कई नेताओं, फिल्‍म स्‍टार्स का कोविड वैक्‍सीनेशन!, जांच कर रहा विभाग राष्ट्रपति पुतिन के दौरे से पहले भारत और रूस के बीच हुआ रक्षा समझौता - BBC Hindi

उन्होंने कहा कि आज-कल एक ही समय में दो या दो से अधिक गर्भ ठहरने की ज़्यादातर वजह ऐसी ही दवाओं का इस्तेमाल करना है."इसलिए, महिलाओं को ऐसे मामलों में बहुत ही सावधान रहना चाहिए. सिर्फ़ किसी विशेषज्ञ डॉक्टर की सलाह पर ही दवाओं का प्रयोग करें. यह महिला और उसके बच्चे ख़ुशक़िस्मत थे, लेकिन हर कोई इतना ख़ुशक़िस्मत नहीं होता है."

ये भी पढ़ें और पढो: BBC News Hindi »

छात्रों से मिले 51 हजार बिजनेस आइडिया, देखें Business Blasters Programme पर क्या बोले Sisodia

दिल्ली सरकार की नई योजना स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों में उद्यमी एवं व्यावसायिक क्षमता को विकसित करने वाले बिजनेस ब्लास्टर्स प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आजतक से खास बातचीत की है. इस दौरान उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं और कई तरह के अनूठे आइडिया दे रहे हैं. इसकी सफलता को देखते हुए दिल्ली सरकार ने भविष्य में प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को भी इस प्रोग्राम से जोड़ने की योजना बनाई है. साथ में दिल्ली सरकार के कॉलेजों में भी प्रोग्राम को ले जाने की तैयारी है. देखिए ये वीडियो.

70 bachho ko janm dena chahiye tha ek saath ऐसी स्थिति सुंवर ही पैदा कर सकता है हमारे यहां सूअर इससे ज्यादा बच्चे। देते है allah ki dan hai ya tohh 👍 बीस मिला अब तो अल्लाह की देन कहने वालों पर अल्लाह खुद मेहरबान है Omg 🤔🤔 Kudarat baccha hai... Ameen 'ऊपर वाले' की देन है। मैं तो पहले ही कहता था, ये लोग सूअर की औलादें है

Brave mother. Salute. May her treasure be safe and sound and healthy, forever.

''उद्धव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए मैंने जोर दिया था'', शरद पवार का फडणवीस को जवाबदेवेंद्र फडणवीस कहा, “मुझे लगता है कि आदरणीय उद्धव जी को अब यह मान लेना चाहिए कि मुख्यमंत्री बनने की उनकी महत्वाकांक्षा थी, जो उन्होंने पूरी की. अनिल देशमुख को भी तो पवार ने ही गृहमंत्री बनाने पर जोर दिया था 😅😅 आज वही उद्धव बचकाना बयान दे रहा है और कह रहा है कि ड्रग लेने वाले बालीवुड के सुपरस्टार को अरेस्ट कर लोग फेमस होना चाह रहे हैं। महाराष्ट्र को ड्रग के मामले में बदनाम किया जा रहा है जबकि गुजरात में करोड़ों का ड्रग सीज किया गया है 🤔 Faddu ki kitni fatti hai

एक और मिनी पाकिस्तान बना दिया😀😀 बढ़ती महंगाई के बीच में पाकिस्तान में जनसंख्या वृद्धि एक गंभीर मामला है।अब क्या इमरान खान भीख मांगकर खाना खिलाएगा जनता को। Pakistan ki khabar m bhi dalali 😁😁 इसको बोलते हैँ, आज़माइश जो रब देकर भी आज़माता है, लेकर भी, और एक तरह से ये दुनिया मे रहने वालो के लिए इम्तेहान है।

Wow....🙃

आतंकी वारदात थी ब्रिटिश सांसद की हत्या, जानें हमलावर ने किस तरह दिया साजिश को अंजामब्रिटेन में चाकू से सांसद डेविड एमेस की हत्या के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज जानकारी दी है। पुलिस ने साफ कर दिया है कि यह आतंकी वारदात थी जिसमें हमलावर ही अकेला साजिशकर्ता था। जानें हमलावर ने कैसे इस वारदात को अंजाम दिया...

भारत ने पाक NSA को दिया न्योता, अफगानिस्तान के मुद्दे पर अगले महीने दिल्ली में बैठकभारत ने नवंबर में अफगानिस्‍तान पर कॉन्‍फ्रेंस बुलाई है। इसमें कई देशों के साथ पाकिस्‍तान के एनएसए को भी आमंत्रित किया गया है। हैं जी ?

T20 World Cup 2021: अजीत अगरकर ने भारत बनाम पाकिस्तान मैच को लेकर दिया ये बयानICC T20 World Cup 2021 में भारत और पाकिस्तान के बीच 24 अक्टूबर को मुकाबला होना है। इस मैच को लेकर पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के मैच में हमेशा दांव ऊंचा होता है।

भारत ने पाकिस्तानी NSA को दिया न्योता, अफगानिस्तान के मुद्दे पर अगले महीने दिल्ली में बैठकद‍िल्‍ली में अगले महीने राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों (NSA) की बैठक होनी है। इसकी मेजबानी भारत करेगा। इस बैठक में कई अन्‍य देशों के साथ रूस और पाकिस्‍तान को भी न्‍योता दिया गया है। बैठक की अध्‍यक्षता भारत के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल करेंगे। ArrestAIIMSCulprits BanUnacademy please share this news

स्नैचर ने सरकारी अधिकारी को सड़क पर घसीटा, पीड़ित बोले- कोई मदद को नहीं आया आगेपुलिस को इस मामले में ठक-ठक गिरोह पर संदेह है। जो इस तरह की लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए पहले लोगों की कारों का पीछा करता है। थोड़ी देर पीछा करने के बाद यह गिरोह लोगों के कार के शीशे पर ठक ठक कर उनको कार से बाहर निकलने का इशारा करता है और लूट की वारदात को अंजाम देता है। शायद पता होगा कि सरकारी अधिकारी है जो किसी की मदद नहीं करते।