पश्चिम बंगाल: मुसलमानों ने दिया हिंदू पड़ोसी की अर्थी को कंधा

पश्चिम बंगाल: मुस्लिमों ने दिया हिंदू पड़ोसी की अर्थी को कंधा

10-04-2020 13:47:00

पश्चिम बंगाल: मुस्लिमों ने दिया हिंदू पड़ोसी की अर्थी को कंधा

सांप्रदायिक माहौल बिगड़ने के इस दौर में इस घटना की चारों तरफ़ चर्चा हो रही है.

12: 11 IST को अपडेट किया गयाकोरोना वायरस के संक्रमण और ख़ासकर निज़ामुद्दीन में तब्लीग़ी जमात का मामला सामने आने के बाद देश में पनपे अविश्वास के माहौल में इस घटना पर सहजता से विश्वास होना मुश्किल है. लेकिन यह है सौ फ़ीसदी सच.पश्चिम बंगाल के मालदा ज़िले के एक गांव के मुस्लिमों ने अपने हिंदू पड़ोसी की मौत के बाद लॉकडाउन के संकट के बीच न सिर्फ़ उसके शव को कंधा देकर 15 किमी दूर शवदाह गृह तक पहुंचाया बल्कि शव यात्रा के दौरान बंगाल में प्रचलित"बोलो हरि, हरि बोल" और"राम नाम सत्य है……" के नारे भी लगाए.

बीजेपी नेता सोनाली फोगाट ने मंडी अधिकारी की चप्पलों से की पिटाई अफसर पर चप्पल बरसाती रहीं BJP नेता, मूक दर्शक बनी रही पुलिस कोरोना अपडेट: लॉकडाउन के बावजूद अमरीका में बेरोज़गारी में कमी - BBC Hindi

बंगाल से पहले भी सांप्रदायिक सद्भाव की ऐसी कई घटनाएं सामने आती रही हैं. मिसाल के तौर पर बीते साल पश्चिम बंगाल के उत्तर 24-परगना ज़िले के एक परिवार ने सांप्रदायिक सद्भाव की अनूठी मिसाल पेश करते हुए दुर्गा पूजा के दूसरे दिन अष्टमी को होने वाली कुमारी पूजा में चार साल की मुस्लिम बच्ची की पूजा की थी.

लेकिन मौजूदा घटना एकदम अलग है. मालदा ज़िले में कालियाचक-2 ब्लॉक के लोहाईतला गांव में 90 साल के बिनय साहा की मंगलवार देर रात को मौत के बाद उनके दोनों पुत्रों--कमल साहा और श्यामल साहा को समझ में नहीं आ रहा था कि वह लोग इस लॉकडाउन में अंतिम संस्कार की व्यवस्था कैसे करें.

इमेज कॉपीरइटSANJAY DASसबसे बड़ी समस्या तो शव को 15 किमी दूर शवदाह गृह तक ले जाने की थी. गांव में साहा परिवार ही अकेला हिंदू परिवार है बाक़ी सौ से ज़्यादा मुस्लिम परिवार हैं. लॉकडाउन की वजह से साहा परिवार के रिश्तेदार भी मौक़े पर पहुंचने में असमर्थ थे.

लेकिन उनके सैकड़ों मुस्लिम पड़ोसी इस विपत्ति की घड़ी में मदद के लिए सामने आए. इनलोगों में जहां सतारुढ़ तृणमूल कांग्रेस से जुड़े लोग थे वहीं माकपा के भी कई सक्रिय कार्यकर्ता शामिल थे. उन्होंने न सिर्फ़ अर्थी को कंधा दिया बल्कि शव यात्रा के दौरान राम नाम सत्य है का नारा भी दिया. इनमें मुकुल शेख़, अस्करा बीबी, सद्दाम शेख़, रेज़ाउल करीम और दर्जनों दूसरे लोग भी शामिल थे.

बिनय साहा के पुत्र श्यामल बताते हैं,"मुस्लिम पड़ोसियों से घिरे होने के बावजूद बीस साल से गांव में रहने के दौरान हमने कभी ख़ुद को अकेला महसूस नहीं किया है. लेकिन पिताजी की मौत ने हमें चिंता में डाल दिया था. लॉकडाउन की वजह से हमारे दूसरे रिश्तेदार नहीं पहुंच सके."

वह बताते हैं कि हमारे लिए अकेले पिता के शव के 15 किमी दूर शवदाह गृह तक ले जाना संभव नहीं था. मुस्लिम पड़ोसियों से इस काम में मदद मांगने में भी हमें हिचिकचाहट हो रही थी.साहा के पड़ोसी सद्दाम शेख़ को जब बिनय के निधन की ख़बर मिली तो उन्होंने फ़ौरन स्थानीय पंचायत प्रमुख और गांव के दूसरे युवकों को इसकी सूचना दी. देखते ही देखते पूरा गांव साहा के घर के बाहर जमा हो गया. बुधवार सुबह तमाम मुस्लिम युवक अर्थी सजाने की तैयारियों में जुट गए. कोई बांस काट रहा था तो कोई उसे फूलों से सजा रहा था. उसके बाद चार युवकों ने अर्थी को कंधे पर रखा और शवदाह गृह की ओर रवाना हो गए.

चार देशों का उदाहरण देकर राहुल गांधी बोले- भारत में ऐसे फेल हुआ लॉकडाउन राहुल गांधी ने दुनिया के सबसे प्रभावित 4 देशों से भारत की तुलना की, ग्राफिक्स के जरिए देश के लॉकडाउन को फेल बताया 8 जून से बाबा महाकाल के दर्शन हाेंगे, नलखेड़ा में मां बगलामुखी भी भक्तों को दर्शन देंगी

साहा के पड़ोसी और इलाक़े के माकपा कार्यकर्ता सद्दाम शेख़ कहते हैं,"मानवीय रिश्तों में धर्म कभी आड़े नहीं आता. हमने वही किया जो करना चाहिए था. धर्म अहम नहीं है. संकट के समय अपने पड़ोसी की मदद करना हमारा फ़र्ज़ था. एक अन्य पड़ोसी ग़ुलाम मुस्तफ़ा बताते हैं,"हम सबसे पहले इंसान है. हमने वही किया जो इंसानियत के नाते करना चाहिए था."

इमेज कॉपीरइटSANJAY DASस्थानीय ग्राम पंचायत की प्रमुख अस्करा बीबी और उनके पति मुकुल शेख़ ने साहा को हरसंभव सहायता का भरोसा दिया.अस्करा बीबी कहती हैं,"बिनय साहा के अंतिम संस्कार ने इलाक़े के तमाम लोगों ने राजनीतिक मतभेदों से ऊपर उठ कर मदद की. शव को शवदाह गृह तक ले जाने और वहां दूसरी औपचारिकताओं को पूरा करने में मुस्लिम युवकों ने पूरी सहायता की."

इसी गांव के रहने वाले अमीनुल अहसान फिलहाल पूर्वी मेदिनीपुर में ज़िला स्कूल निरीक्षक के पद पर तैनात हैं. उन्होंने भी इस मामले की सूचना मिलने पर गांव में अपने परिचितों को फोन कर साहा परिवार की हरसंभव सहायता करने को कहा.अमीनुल कहते हैं,"यह सांप्रदायिक सद्भाव ही भारत की असली पहचान है. यह आम लोगों के दिलों में ज़िंदा है. ज़रूरत इसे और मज़बूत करने की है."

और पढो: BBC News Hindi »

यही तो है हिंदुस्तान का भाईचारा Good job हिन्दुस्तानी न तो हिन्दू होता है और न ही मुसलमान। वह तो सिर्फ और सिर्फ हिन्दुस्तानी होता है। Dalla media ye na dekhayega Verry good कभी पड़ोसी हिन्दू भी मुस्लिम पड़ोसी को कंधा दिया होगा मरने पर ये कौनसा तीर मार दिया।नालायक। Sudhir Chaudhary abhi Nahin dekhega vah chat Raha Hoga pm ka

कोई नई बात नहीं Tu bosdk ko , yaisa news kyo publish krto hai First Indore, then Mumbai and now WestBengal 🙏🏻🇮🇳 RealHeroes 🇮🇳❤️ sabhi Momdens ek jaise nahi hote....kuchh achhe bhi hote hain. Jai hind Good Muslman desh me sante chajte hai मुस्लिमों ने हिंदुओं अर्थी को कंधा दिया कौन सी बड़ी बात हो गई यह और ममता सरकार यही चाहते हैं बंगाल में हिंदू बचेगा ही नहीं तो हिंदुओं को कंधा मुस्लिम ही देंगे बंगाल के जो हालात हैं और आखिरी कील भी यही ठोकेंगे

ये सिर्फ कन्धा दे सकते जिन्दगी नहीं corona के दौरान चौथी शव यात्रा निकाली है,मुसलमानों ने हिन्दुओं की।इसपर भी हम दोस्ती या हमदर्दी का पात्र नहीं बनेंगे। सारे अंधभक्त और गोदी मीडिया जमकर मुसलमानों को बदनाम कर रहे हैं।भक्त अपने घरों में बंद है, इन्हें सिर्फ अपनी जान की फ़िक्र है, जहां इनकी ज़रूरत है वहां से गायब हैं।

yahi to hindustan h aao mil ke bharat se corona ko bhagaye हिंदू-मुस्लिम भाई-भाई जो इनके बीच नफरत फैलाए हैं वो बेदर्द कसाई🙃🙃 JhaPriyankha ❤✌❤ Not same all muslim sone other good Ye un medi r news chanel ko zarur dekhna chahiye jo Hindu r Muslim ke beech aapas me nafrat karwa rhe hai RammeharDabla यह बंगाल की खूबसूरती है। लेकिन कुछ गुज्जू के दलाल खराब करने की तुले हैं।

तुम्हारा ड्रामा शुरू हो गया बहुत सी जगह हिन्दू भी मुस्लिम की मदद करते है वहाँ तो तुम लोगो का कैमरा नही जाता कभी। वैसे इसमें तुम्हारी कोई गलती नही है हिन्दू तो हमेशा ही मानवतावादी होता है पर इन लोगो की तो कभी कभार ही ऐसी खबरें सुनने को मिलती है। RSS ki jal jayegi, तुम कुछ भी कर लो मुसलमानो इनके लिए ये तुम्हे गद्दार कहते रहेंगे।

अंतिम संस्कार किया.... जीवन कब बचायेंगे This is humanity यह भी चला दो NEWS 'व्हाइट हाउस' ने भारत को फॉलो किया। America को Hydroxychloroquine भेजने का असर ट्विटर पर दिखाई दे रहा है। WhiteHouse ने पीएम narendramodi PMOIndia और rashtrapatibhvn को फॉलो किया है। जबकि व्हाइट हाउस दुनिया के किसी भी अन्य नेता/एकाउंट को फॉलो नहीं करता।

ऐसे व्यवहार हमेशा सराहनीय होते हैं और अधिकांश भारतीय इसकी तारीफ़ भी करते हैं परंतु एक लोकतांत्रिक देश होने के नाते हम 'जमात' की आपराधिक लापरवाही की कठोर आलोचना भी करते हैं। कृप्या हम दोनों में मिलावट न करें। This looks a very old picture. When this event occurred Jab Hindu karta ha tho nahi Yaad aata hai

Maara bhi in-home hoga और जो मुर्शिदाबाद में हुआ उसका क्या? Fake news bbc ki ye bhi koi chal dhyan bhatkane ke liye happy to know... Fake ऐसा करने से भी कोई फायदा नहीं दिमाग मे सभी के जहर भरा हुआ है। इसलिए महान बनने का कोशिश ना करें जिसका परिवार है वह जाने क्या करना है ये तो उनकी महानता का परिचय है villageBahujan सब चूतिया पंथी है।

Y dont media shows these kind of news all the day rather hatred debates. क्या बताना चाहता है Muslamanon ne diya 4000 naya corona patient woh bhi likh madarjaat ख़ुफ़िया_सूचना : इस गाँव के जिहादी मुल्लों ने गाँव के अल्पसंखक हिंदुओं को धमकी दी की गाँव छोड़ कर चले जाओ. डरे हुए हिंदुओं ने कहा की हमारे पास पर्याप्त पैसे नहीं हैं बाहर जाने के लिए, न ही कोई साधन है. फिर जिहादी मुल्लों ने धमकी दी चले जाओ, नहीं तो अर्थी को कंधा देकर भेजेंगे..

ऐसा देश है मेरा Respect for media to encourage the diversity of India. सर, इन्सानियत का एक ओर उदाहरण. अब थोड़ा जमती यो के नाम का उदगार ना करे तो बेहतर| - आपका सपोर्टर ArvindKejriwal AamAadmiParty This type of news can't moderate the controversies by muslim communities. ॐ शान्ति DChaurasia2312 republic RanaAyyub sudhirchaudhary RubikaLiyaquat ajitanjum AcharyaPramodk asadowaisi mkatju AMISHDEVGAN

अरे ये सब एक चोंचले है जामाता जिहाद को छिपाने को ले के इससे पहले कहा थे ये जब जब ये लोग पे उंगली उठती है तब तब ये आ जाते है इस तरह का उदहारण देने को aajtak ZeeNews ABPNews AMISHDEVGAN sudhirchaudhary tumlog ko ye news nhi dikhta hai kiya? Krishna_Sagar17 Ek hi pic kitni jagah ki dikhaoge. Bhai Asli India to yahi hai..😊

एक बात समझ में नहीं आई, ये सारे भाईचारे की खबरे अचानक क्यों अाने लगी। वो भी तबलीग़ जमात वाले मामले के बाद। कभी किसी ने सुना है क्या। किसी हिन्दू ने मुस्लिम को कंधा दिया हो। Kyu ankhe nhi khulti andh bhakto ki अरे मुस्लमान तो हमेशा लोगो मदत करता आया है और करता रहेगा मरते दम तक जो जलते है वो जलो चुचे वो भी दिखा जाहिल_जमात

लॉक डाउन के दौरान इसी तरह की ये 3rd कहानी देख रहा हूँ, आखिर साबित क्या करना चाहते हो? Insaniat !! humanity can not defined by religion अपने आस पास ये एक -दो हिंदु को PR के लिये बचा के रखते हैं. 😐 Kabhi kabhi achhi news bhi de deta hai bbc To Coronavarious यहां से फैला है जमतियो में 😠 इस महामारी COVID19 से उपजी स्थिति ने एक बात तो साबित कर दी है कि जिसे 'सब धर्म कहते हो वो सिर्फ एक धंधा है' कड़वा हैं पर 💯 प्रतिशत सत्य है 👇 सफेदपोश नेता, पाखंडी चंदाचौर गिरोह, पुंजीपतियो उद्योगपतियो के साथ मिलकर आमजनता को धर्म, जाति के नाम पर बांटकर लूट रहे हैं

samajwadipravi एक शब्द सिर्फ़- इंसानियत 🙏🏼🙏🏼 Follow me Super hero Sailyut तो क्या जमतियो की आलोचना बन्द कर दे या नोट पे थूक लगा कर लोगो को धमकाने वाले पे कुछ न बोले It is the real India तुमको हिंदू कंधा देकर ब्रिटेन छोड़ आए तों ? कमाल है इंसानियत इंसानियत को कंधा देती है , हिन्दू मुसलमान नहीं, आप एक उदाहरण दिखला रहे हैं , यहाँ हर हिन्दू किसी भी धर्म का हो उसे कंधा देने मे पीछे नहीं हटता | लेकिन वो ढिंढोरा नहीं पीटता है |

“मैं जिस हिंदुस्तान को ढूँढ रहा था...वो यहीं मिल गया.”!!💓 New India🇮🇳 जहां पूरी दुनिया कोरोना जैसे महामारी से जूझ रही है वहां हमारे देश में पत्तलकर BJP IT सेल की सदस्यता ग्रहण कर देश मे जबरदस्त नफरत फैला रहे हैं… FakeSushantSinha ये सभी छपाक के लिये किया गया है।

बड़ी सफलताः देश की इस कंपनी ने तैयार की कोरोना वायरस की एंटीबॉडी किट - Coronavirus AajTakपूरी दुनिया कोरोना संकट से जूझ रही है. इस महामारी की वजह से हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. वहीं कई लोगों की जान भी जा चुकी है. इस Aapki news TV par kuch aur hoti hai aur Twitter par kuch aur.. एक बात तो पक्की है की सबसे पहले अगर कोई कोरोना का टीका बनाएगा तो वो भारत ही बनाएगा क्योंकि दुनिया कोरोना के आगे घुटने टेक चुकी है औऱ विश्वगुरू भारत से ही दुनिया के तमाम देश कोरोना की दवा मांग रहे हैं, वर्तमान में कोरोना से लड़ने की किसी के पास असरदार दवा नहीं है।

शाहरुख की कॉल ने बदली इस क्रिकेटर की जिंदगी, टीम को बनाया था IPL चैंपियनमनविंदर बिस्ला को उस मैच का रोमांच और उसके बाद ड्रेसिंग रूम में हुई घटनाएं आज भी याद हैं। उन्होंने बताया कि टूर्नामेंट के दौरान वे कई बार टीम से अंदर बाहर हुए थे, इसलिए उन्हें फाइनल में प्लेइंग इलेवन में शामिल होने का भरोसा भी नहीं था।

कोरोना वायरस: इस नई रणनीति के तहत होगा इस महामारी के मरीज़ों का इलाजमरीज़ों और अस्पतालों को अलग-अलग श्रेणियों में बांटकर किया जाता है इलाज.

लॉकडाउन में गुड न्यूज, इस वेबसाइट ने लॉन्च की टू डेज डिलीवरी सर्विसऐसे में लोगों को घर से बाहर निकलने की कोई जरूरत नहीं है। इसी बीच शॉपक्लूज (ShopClues) ने टू डेज डिलीवरी सेवा पेश की है जिसके ShopClues bewkoof bna rhe.. koi offer nhi hai Customers tak daily essentials, packaged food aur immunity boosters jaisi items ko provide ki jaaney ki anumati mili hui hai. Hum yeh products Delhi aur Gurugram tak 2 din mein pohoncha rahe hai. Kripya neeche di gayi link to follow kar order place karey:

इस शहर में ऑड-ईवन के आधार पर लगेगी मंडी, कोरोना को लेकर प्रशासन की पहलमुझे किसानों की आवाज बुलंद करने के लिए 1 लाख फ़ोलोवर 30 जून तक करना है । आपका सहयोग चाहिए ! रिट्वीट & फॉलो करे Still their would be crowd,it will not solved the situation. If Mandi MN bhi 5-10 kg ke packet teyaar kiyein jaaein or app ke through vendors tak bhejein jaein then only we can maintain social distancing 21daylockdown

शाहिद आफरीदी ने चुनी दुनिया की बेस्ट प्लेइंग XI, इस भारतीय को मिली जगह - Sports AajTakपाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद आफरीदी ने वर्ल्ड क्रिकेट के एक से बढ़कर एक धुरंधर खिलाड़ियों को चुनकर अपनी ऑल टाइम प्लेइंग इलेवन Yuvraj कुछ ढंग की न्यूज़ सुनाओ रे।।😂🤣😂🤣 Ye shahid afridi kaun h🤔🤔

राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र कोरोना वायरस: दुनिया भर में 65.6 लाख से ज़्यादा संक्रमित, 3.87 लाख लोगों की मौत - BBC Hindi मोदी सरकार पर सिब्बल का वार, कहा- आत्मनिर्भर भारत अभियान एक और जुमला रेलमंत्री पीयूष गोयल ने आरपीएफ जवान को पुरस्कृत करने का ऐलान किया, भोपाल स्टेशन पर भूखी बच्ची को चलती ट्रेन में पहुंचाया था दूध जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? कोरोना अपडेटः जॉर्ज फ़्लॉयड को कोरोना संक्रमण भी हुआ था - BBC Hindi मास्क नहीं होने पर चालान काटा, विरोध करने पर पुलिस ने युवक की गर्दन को घुटने से दबाया और पीटा, दो लोग पैर पकड़े रहे BJP नेता सोनाली फोगाट ने अफसर को जड़ा थप्पड़, बरसाई चप्पल, वीडियो वायरल शामली: एक को गिरफ्तार करने गई पुलिस ने 35 मुस्लिम घरों में तोड़फोड़ व मारपीट की पुरी के जगन्नाथ मंदिर में देवस्नान के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, पुजारियों ने मास्क भी नहीं पहना - देखें VIDEO हथिनी की मौत: गिरफ़्तार अभियुक्त ने कहा- विस्फोटक नारियल में था