Great Green Wall From Gujarat To Haryana, 1400 Km Long And 5 Km Wide Will Be Built, Porbandar To Panipat, 26 Million Hectares Of Land Will Pollution Free - देश न्यूज़

Great Green Wall From Gujarat To Haryana, 1400 Km Long And 5 Km Wide Will Be Built

पर्यावरण बचाने के लिए गुजरात से हरियाणा तक 1400 किमी लंबी और 5 किमी चौड़ी ग्रीन वॉल बनेगी

पहल / पर्यावरण बचाने के लिए गुजरात से हरियाणा तक 1400 किमी लंबी और 5 किमी चौड़ी ग्रीन वॉल बनेगी

10-10-2019 07:52:00

पहल / पर्यावरण बचाने के लिए गुजरात से हरियाणा तक 1400 किमी लंबी और 5 किमी चौड़ी ग्रीन वॉल बनेगी

ग्रीन वॉल का मकसद बढ़ते रेगिस्तान को रोकना है, प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार की मंजूरी मिलना अभी बाकी इस प्रोजेक्ट से करीब 2.6 करोड़ हेक्टयेर जमीन को प्रदूषण मुक्त किया जा सकेगा पोरबंदर से पानीपत तक बनने वाली इस ग्रीन बेल्ट से वन क्षेत्र में सुधार होगा | Great green Wall from Gujarat to Haryana, 1400 km long and 5 km wide will be built , 26 million hectares of land will pollution free

Xनक्शा सिर्फ समझने के लिए है।ग्रीन वॉल का मकसद बढ़ते रेगिस्तान को रोकना है, प्रोजेक्ट पर केंद्र सरकार की मंजूरी मिलना अभी बाकीइस प्रोजेक्ट से करीब 2.6 करोड़ हेक्टयेर जमीन को प्रदूषण मुक्त किया जा सकेगापोरबंदर से पानीपत तक बनने वाली इस ग्रीन बेल्ट से वन क्षेत्र में सुधार होगा

इसराइल और यूएई की दोस्ती के मायने क्या हैं? ईरान की राह मुश्किल BJP के अविश्वास प्रस्ताव पर कांग्रेस का 'नहले पे दहला', CM अशोक गहलोत खुद लाएंगे विश्वास प्रस्ताव, 10 बड़ी बातें 'मोसाद और KGB को भी ले आओ': सुशांत केस में CBI जांच पर शिवसेना नेता संजय राउत का विवादित बयान

Dainik BhaskarOct 10, 2019, 09:10 AM ISTनई दिल्ली. गुजरात से राजस्थान होते हुए दिल्ली-हरियाणा की सीमा तक 1400 किलोमीटर लंबी और 5 किमी चौड़ी ग्रीन वॉल बनेगी। केंद्र सरकार देश में पर्यावरण बचाने के लिए और हरित क्षेत्र को बढ़ाने के लिए इस पर विचार कर रही है। अफ्रीका में भी जलवायु परिवर्तन और बढ़ते रेगिस्तान से छुटकारा पाने के लिए इसे तैयार किया जा रहा है। 'इसे ग्रेट ग्रीन वॉल ऑफ सहारा' भी कहा जाता है। हालांकि, केंद्र सरकार की ओर से अभी इस योजना की शुरुआती चरण में चर्चा शुरू की गई है। अगर इस प्रोजेक्ट को मंजूर मिल जाती है तो भारत में बढ़ते प्रदूषण को रोकने का यह प्रयास बहुत ही कारगर साबित हो सकता है। 

 पोरबंदर से पानीपत तक बनने वाली इस ग्रीन बेल्ट से बढ़ते वन क्षेत्र में भी सुधार होगा। इसके अलावा गुजरात, राजस्थान, हरियाणा से लेकर दिल्ली तक फैली हुई पर्वतमाला पर घटती हरियाली का संकट भी कम किया जा सकेगा। भारत ने 2030 तक इस प्रोजेक्ट को पूरा करने का लक्ष्य रखा है। इस प्रोजेक्ट से करीब 2.6 करोड़ हेक्टयेर जमीन को प्रदूषण मुक्त किया जा सकेगा।

 वॉल का विचार यूएन में हैपश्चिम भारत और पाकिस्तान के रण (रेतीले इलाके) से दिल्ली तक उड़कर आने वाली धूल को इस ग्रीन वॉल से रोका जा सकेगा। केंद्र सरकार के एक अधिकारी के अनुसार, भारत में वनों की घटती संख्या और बढ़ते रण को रोकने के लिए यह विचार हाल ही में ही संयुक्त राष्ट्र की कॉन्फ्रेंस में रखा गया। 

 तीन राज्यों को फायदा होगाइसरो ने 2016 में एक नक्शा जारी किया था। उस नक्शे के अनुसार गुजरात, राजस्थान और दिल्ली जैसे राज्य और केंद्र शासित राज्यों में जहां 50% से भी ज्यादा जमीन हरित क्षेत्र से बाहर है। इसलिए इन जगहों पर रेगिस्तान के बढ़ने की आशंका है।

 अफ्रीका में सेनेगल से जिबूती तक ग्रीन वॉल और पढो: Dainik Bhaskar »

अब चिकन में भी कोरोना: चीन ने कहा- ब्राजील से आए चिकन में कोरोनावायरस मिला, कुछ दिन पहले इक्वाडोर के झींगा ...

बीजिंग के फूड मार्केट में जून में संक्रमण के मामले सामने आए थे, तब से देश में फूड प्रोडक्ट्स में भी कोरोना की जांच शुरू कर दी गई,जून में चीन की राजधानी बीजिंग के शिनफैडी सीफूड मार्केट में संक्रमण के मामले सामने आए थे China Coronavirus Xinfadi Seafood Market Latest News Updates: Brazilian Chicken Found Infected For COVID-19 In Beijing Shanghai

This is real excelent project gove must execute in 5 years in mission mode execution should be given mr gadkari or mr piyush Let people HELP in this .. All kids, people, school college goers, all people So we can earn respect for ourselves GodMorningThursday

गुजरात के पोरबंदर से दिल्ली तक होगा 'ग्रीन वॉल' का निर्माण, 1400 किलोमीटर होगी लंबाईकेंद्र सरकार ने देश में पर्यावरण को बचाने के लिए और हरित क्षेत्र को बढ़ाने के लिए 1400 किलोमीटर लंबी 'ग्रीन वॉल' तैयार करने PMOIndia औऱ महाराष्ट्र के आरा में जो 2000 पेड़ों का क़त्ल कर दिया गया उसकी जिम्मेदारी किसकी है

green wall of india: गुजरात से दिल्ली तक बनेगी 'ग्रीन वॉल ऑफ इंडिया', 1400 किलोमीटर लंबाई और 5 km होगी चौड़ाई - green wall of india will develop from gujarat to delhi border | Navbharat TimesIndia News: गुजरात से लेकर दिल्ली-हरियाणा सीमा तक 'ग्रीन वॉल ऑफ इंडिया' को विकसित किया जाएगा। इसकी लंबाई 1,400 किलोमीटर होगी, जबकि यह 5 किलोमीटर चौड़ी होगी। अफ्रीका में क्लाइमेट चेंज और बढ़ते रेगिस्तान से निपटने के लिए हरित पट्टी को तैयार किया गया है। इसे 'ग्रेट ग्रीन वॉल ऑफ सहारा' भी कहा जाता है। मेने पिछले सालों में एक चुनावी भाषण में ये भी सुना था के मुम्बई से दिल्ली तक के धोरीमार्ग के दोनों ओर 5 5 किमी के उद्योगों की स्थापना की जाएगी

पुणे टेस्ट से पहले कोच का बड़ा बयान, कहा-पिच की ओर देखते तक नहींटीम इंडिया (Team India) के गेंदबाजी कोच भरत अरुण (Bharat Arun) ने कहा है कि जब टीम विदेशी दौरे पर जाती है, तब भी पिच पर ज्यादा ध्यान नहीं देती. | sports News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

बारिश से बर्बादः कर्ज से दबे दो किसानों ने दे दी जानक्षेत्र के तहसीलदार राघवेन्द्र शर्मा ने कहा कि किसान ने फसल नष्ट होने तथा कर्ज की वजह से फांसी लगाई या अन्य कोई और कारण था, इसकी जांच करवाई जा रही है।

हरियाणा: पुलिस बूथ से 100 मीटर दूर ATM से बदमाशों ने उड़ाए 32 लाख कैशहरियाणा के पलवल में अज्ञात बदमाशों ने एक एटीएम से 32 लाख रुपये से ज्यादा की नकदी लूट ली. पलवल में नेशनल हाइवे पर बने पुलिस बूथ से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित श्रीराम कॉलेज के बाहर लगे आंध्र बैंक एटीएम को अज्ञात बदमाशों ने लूट लिया. TanseemHaider Police booth se 100 m TanseemHaider Adha Amt SHO ko pahuch gya hoga. TanseemHaider Berojgari hai Bhai.

जर्मनी के श्वेसनाइगर ने फुटबॉल से लिया संन्यास, अब राष्ट्रीय कोचिंग टीम से जुड़ेंगेजर्मनी के 2014 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे बस्टियन श्वेसनाइगर ने 35 साल की उम्र में सभी तरह के फुटबॉल से संन्यास ले