Amarindersingh, Punjabcongress, Captain Amrinder Singh, Revolt İn Punjab Congress, Punjab Congress Tussle, Clp Meeting İn Punjab, Harish Rawat, Harish Rawat Punjab İncharge, Navjot Sidhu, Siswan Farm House, Congress Clp Meeting Today, Punjab Cm

Amarindersingh, Punjabcongress

पंजाब में सिद्धू Vs अमरिंदर LIVE: कैप्टन 4.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, इस्तीफे की घोषणा के साथ राज्यपाल से विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं

पंजाब में सिद्धू Vs अमरिंदर LIVE: कैप्टन 4.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं; 5 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक #AmarinderSingh #PunjabCongress @INCPunjab

18-09-2021 13:38:00

पंजाब में सिद्धू Vs अमरिंदर LIVE: कैप्टन 4.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे, इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं; 5 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक AmarinderSingh PunjabCongress INCPunjab

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू की लड़ाई के बीच अब ये लगभग तय हो गया है कि कैप्टन को CM की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी। कैप्टन 4.30 बजे राजभवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं। सूत्रों का कहना है कि वे शाम 5 बजे होने वाली विधायक दल की बैठक से पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं और राज्यपाल से विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि हाईकमान का रुख देख कैप्टन के करीब... | captain amrinder singh revolt in punjab congress punjab congress tussle CLP meeting in punjab

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिद्धू की लड़ाई के बीच अब ये लगभग तय हो गया है कि कैप्टन को CM की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी। कैप्टन 4.30 बजे राजभवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले हैं। सूत्रों का कहना है कि वे शाम 5 बजे होने वाली विधायक दल की बैठक से पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं और राज्यपाल से विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि हाईकमान का रुख देख कैप्टन के करीबियों ने भी उनसे दूरी बना ली है।

पाकिस्तान को विराट कोहली की टीम क्या हरा पाने में सक्षम है? - BBC News हिंदी तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन का अमेरिका समेत 10 देशों के ख़िलाफ़ बड़ा फ़ैसला - BBC News हिंदी कांग्रेस की सदस्यता के नए नियम: शराब और ड्रग्स से दूर रहना होगा, सार्वजनिक रूप से पार्टी की नीतियों की आलोचना नहीं कर सकेंगे

चंडीगढ़ में कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर पर उनके गुट के विधायकों की बैठक जारी है। सूत्रों के मुताबिक इस मीटिंग में सिर्फ 10-12 विधायक शामिल हुए हैं, इनमें 4 मंत्री भी बताए जा रहे हैं।इससे पहले कैप्टन ने कांग्रेस से वरिष्ठ नेता कमलनाथ और मनीष तिवारी से बात कर अपने इरादे जाहिर कर दिए थे। सूत्रों के मुताबिक कैप्टन ने आज ही पूरी कलह खत्म करने को कहा है। साथ ही धमकी दी है कि उन्हें इस तरह CM पद से हटाया गया तो वे पार्टी भी छोड़ देंगे। उन्होंने ये संदेश पार्टी हाईकमान तक पहुंचाने के लिए भी कह दिया था।

40 विधायकों ने हाईकमान से की थी कैप्टन की शिकायतकैप्टन से नाखुश 40 विधायकों की चिट्ठी के बाद कांग्रेस हाईकमान ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया था। उन्होंने शनिवार शाम 5 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाने की घोषणा कर दी। पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद शुक्रवार आधी रात को यह जानकारी शेयर की थी। विधायक दल की मीटिंग के लिए अजय माकन और हरीश चौधरी ऑब्जर्वर बनाए गए हैं और दोनों नेता चंडीगढ़ पहुंच चुके हैं। headtopics.com

सिद्धू गुट ने कैप्टन के कांग्रेसी होने पर ही सवाल उठाएसियासी उठापटक के बीच पंजाब कांग्रेस के प्रधान नवजोत सिद्धू के रणनीतिक सलाहकार पूर्व DGP मुहम्मद मुस्तफा ने कहा है कि पंजाब के विधायकों के पास साढ़े चार साल बाद कांग्रेसी CM चुनने का मौका है। यानी मुस्तफा ने साफ तौर पर अमरिंदर सिंह के कांग्रेसी होने को ही नकार दिया है। मुस्तफा ने कहा कि 2017 में पंजाब ने कांग्रेस को 80 विधायक दिए। इसके बावजूद आज तक कांग्रेसी CM नहीं मिला। करीब साढ़े चार साल में कैप्टन ने पंजाब और पंजाबियत के दर्द को दिल से नहीं समझा। ऐसे में अब 80 में से 79 विधायकों के पास सम्मान पाने और जश्न मनाने का मौका आया है।

सिद्धू और अमरिंदर सिंह भले ही सार्वजनिक मंचों पर साथ दिखाई दिए हों, लेकिन उनके बीच विवाद काफी पुराना है।सिद्धू और कैप्टन के बीच विवाद क्या है?पंजाब के पॉलिटिकल एनालिस्ट कहते हैं कि दोनों के बीच वैचारिक मतभेद हैं। दोनों एक-दूसरे को फूटी आंख नहीं सुहाते। दोनों के ही रिश्ते तल्ख रहे हैं। सिद्धू 2004 से 2014 तक अमृतसर से सांसद रहे। इस दौरान 2002-2007 तक अमरिंदर के मुख्यमंत्री के कार्यकाल के दौरान सिद्धू उनके कटु आलोचक रहे थे।

2017 के चुनावों में 117 सीटों वाली विधानसभा में कांग्रेस ने 77 सीटें जीती थीं और इस तरह भारी बहुमत के साथ कैप्टन CM बने। तब चर्चा चल रही थी कि सिद्धू को डिप्टी CM बनाया जा सकता है, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। इसके बजाय सिद्धू को नगरीय निकाय विभाग का कैबिनेट मंत्री बनाया गया।

इसके बाद भी दोनों के बीच की तल्खी दूर नहीं हुई। कभी टीवी शो में जज की भूमिका को लेकर तो कभी विभागीय फैसलों को लेकर सिद्धू मुख्यमंत्री के निशाने पर ही रहे। तब कैप्टन ने सिद्धू का विभाग भी बदल दिया। उन्हें बिजली महकमा दे दिया, जो सिद्धू ने स्वीकार नहीं किया और घर बैठ गए। headtopics.com

पाकिस्तान और अमेरिका के बीच एक समझौते की चर्चा गर्म - BBC Hindi शादी के 9वें दिन ही बीवी को मार डाला, करवा चौथ के पहले दिल्ली में रिश्तों का कत्ल डाबर के विज्ञापन पर तहलका: समलैंगिक जोड़ा मना रहा करवाचौथ, लोग बोले- ये हमारी संस्कृति के खिलाफ

कुछ महीने पहले सिद्धू ने बेअदबी मामले को लेकर ट्वीट करना शुरू किया और कैप्टन पर बादल परिवार के सदस्यों को बचाने के आरोप लगाए। जब उन्हें कैप्टन विरोधियों का साथ मिला तो वे और सक्रिय हो गए। फिर हाईकमान ने दखल करते हुए सुनील जाखड़ को हटाकर सिद्धू को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया।

अगले साल चुनाव हैं, इसलिए विवाद खत्म करने की कोशिश होगीनवजोत सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने के बाद से ही कांग्रेस में खींचतान बढ़ गई थी। खासतौर से कैप्टन के विरोधी गुट ने दूसरी बार मोर्चा खोल दिया है, जबकि अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में कांग्रेस चाहेगी कि जल्द से जल्द इस मामले को सुलझा लिया जाए। हालांकि कैप्टन के खिलाफ बगावत का हर दांव अभी तक फेल रहा है। ऐसे में अब सिद्धू खेमा पूरा जोर लगाएगा कि आज की बैठक में ही कैप्टन को कुर्सी से हटाने का फैसला हो जाए।

बड़ा सवाल- कैप्टन हटे तो किसे मिलेगी कमान?बागी ग्रुप अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह पर भारी पड़ा और उन्हें कुर्सी छोड़नी पड़ी तो पंजाब कांग्रेस के सामने बड़ा सवाल ये भी होगा कि कमान किसे सौंपी जाए। हालांकि बागी ग्रुप की अगुवाई कर रहे सुखजिंदर रंधावा भी CM बनने की इच्छा रखते हैं, लेकिन ऐसा करने पर कैप्टन ग्रुप के विधायक नाराज हो जाएंगे

इसके अलावा सोशल मीडिया पर नवजोत सिद्धू को CM बनाने की मांग हो रही है, हालांकि वो पहले ही संगठन के प्रधान हैं। फिर उनको लेकर कैप्टन ग्रुप की नाराजगी भी रहेगी।पंजाब में अभी मुख्यमंत्री और पार्टी प्रधान (सिद्धू) दोनों ही सिख चेहरे हैं। इससे हिंदू और सिखों के तालमेल का सियासी गणित गड़बड़ाया हुआ है। ऐसे में चर्चा है कि क्या किसी हिंदू चेहरे को 5 महीने के लिए CM की कुर्सी दी जा सकती है? ऐसी स्थिति में सुनील जाखड़ का नाम सामने आ रहा है। headtopics.com

पूर्व प्रधान लाल सिंह भी इन दिनों कैप्टन के करीबी बने हुए हैं। उधर सांसद प्रताप सिंह बाजवा भी लंबे समय से कुर्सी पाने की कोशिश कर रहे हैं। इनके अलावा राजिंदर कौर भट्‌ठल पर भी नजरें टिकी हैं जो पहले ही CM रह चुकी हैं। और पढो: Dainik Bhaskar »

झूठ के सहारे सावरकर का महिमामंडन क्यों? | Arfa Khanum SHerwani | Savarakar | The Wire Video LIVE

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि विनयाक दामोदर सावरकर के 'दया याचिका' दायर करने को एक ख़ास वर्ग ने ग़लत तरीक़े से फैलाया. उन्होंने दावा किया कि सावरकर न...

प्रधानमंत्री मोदी के तोहफों की नीलामी, नीरज चोपड़ा के भाले की 1.5 करोड़ रुपये की बोलीप्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन के मौके पर उनको मिले उपहारों की नीलामी की गई। नीरज चोपड़ा के भाले की बोली 1.5 करोड़ की लगी तो वहीं लवलीना के बॉक्सिंग ग्लव्स की नीलामी 1.9 करोड़ में हुई। उनको तो आदत है नीलाम करने की आ गया भटकाव का एक और तरीक़ा

पंजाब की कैप्‍टन सरकार का नया कदम, विधायकों के बेटों के बाद अब मंत्री के दामाद को नौकरी देने की तैयारीपंजाब के कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार अब नया कदम उठाने की तैयारी में है। राज्‍य सरकार कांग्रेस विधायकों के बेटों काे नौकरी देने के बाद अब मंत्री के दामाद को सरकारी नौकरी देने की तैयारी में है। इस पर विवाद छिड़ने की संभावना है। गइ भैंस पानी में। पूरी कांग्रेस पार्टी नाथी बन गयी है क्या अगर पंजाब सरकार ऐसा कर रही है तो ग़लत है और इसे रोकना चाहिए। परन्तु जब राज्य सभा की सीट बाँटी गई थी और कुछ लोग राज्यसभा पहुँच गए, उस पर आपको क्या कहना है ।।।

सौरव गांगुली ने दी विराट कोहली के टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने की घोषणा पर प्रतिक्रियासौरव गांगुली ने कहा विराट कोहली भारतीय क्रिकेट की असली धरोहर हैं और वह टीम के काफी अच्छे से आगे लेकर आए हैं। वह क्रिकेट का तीनों ही फार्मेट में सबसे सफल कप्तान हैं। उन्होंने यह फैसला भविष्य की योजना ध्यान में रखते हुए लिया है। India captan Rohit sharma is best captan

मंथन: पीएम मोदी सभी मंत्रालयों के सचिवों के साथ आज करेंगे बैठक, कामकाज की होगी समीक्षामंथन: पीएम मोदी सभी मंत्रालयों के सचिवों के साथ आज करेंगे बैठक, कामकाज की होगी समीक्षा PMModi Meeting ReviewMeeting

हिंदुत्व के खिलाफ खौफनाक विषवमन, इन कुत्सित प्रयासों की खुलकर निंदा की जाएबुद्धिजीवियों का चोला ओढ़े चरमपंथी भले ही हिंदुत्व को हिंदू धर्म से अलग बताते हों परंतु उनके मुंह से हिंदू धर्म के प्रति कभी कोई अच्छी बात नहीं निकलती। वामपंथी सहयोग से आज हिंदू घृणा भारत से लेकर पश्चिम तक शिक्षण संस्थाओं एवं अकादमिक जगत में आम हो चुकी है। VikasSaraswat BJP4India INCIndia

भास्कर LIVE अपडेट्स: जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों की फायरिंग में रेल पुलिसकर्मी की मौतजम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों ने एक रेल पुलिसकर्मी को गोली मार कर हत्या कर दी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि वानपोह के स्टेनफोर्ड स्कूल के सामने आतंकियों ने रेलवे में कांस्टेबल बंटू शर्मा के ऊपर फायरिंग की। गोली लगने के बाद घायल अवस्था में बंटू को अस्पतला ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। अंनतनाग के जीएमसी डॉक्टर कबाल सोफी ने बताया कि अस्पताल लाए जाने से पहले ही शर्मा की मौत हो चुकी... | Modi Birthday, Virat Kohli T-20 Captaincy, Breaking News Headlines Today, Pictures, Videos and More From Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर), Coronavirus Vaccine News Today