पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार - BBC Hindi

पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार

26-09-2021 17:04:00

पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने रविवार को अपने कैबिनेट का पहला विस्तार किया. चंडीगढ़ के राजभवन में आयोजित शपथग्रहण समारोह में कई मंत्रियों ने शपथ ली.

8:18रूस ने कहा, तालिबान को लेकर पाकिस्तान के साथ काम जारीGetty ImagesCopyright: Getty Imagesरूस, चीन, पाकिस्तान और अमेरिका सामूहिक तौर पर यह प्रयास कर रहे हैं कि अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान की मौजूदा सरकार ने जो वादे किये हैं, वह उन्हें पूरा किया जा सके. ख़ासतौर पर चरमपंथ से इतर एक समावेशी सरकार के निर्माण के वादे को.

शनिवार को फिर बढ़े दाम, डेढ़ साल में पेट्रोल 36 रुपये और डीज़ल 26.58 रुपये महंगा हुआ - BBC Hindi विराट कोहली पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच और कप्तानी छोड़ने पर बोले - BBC Hindi 'शराब का सेवन नहीं, खादी धारण जरूरी' : कांग्रेस ने रखी पार्टी सदस्य बनने के लिए शर्तें

रूस के विदेश मंत्री सर्गेइ लवरोफ़ ने शनिवार को कहा कि रूस, चीन, पाकिस्तान और अमेरिका से किए वादे तालिबान पूरे करे. रूसी विदेश मंत्री ने कहा कि इसे सुनिश्चित करने के लिए साथ मिलकर प्रयास कर रहे हैं.सर्गेइ लवरोफ़ ने कहा कि चारों देश लगातार एक-दूसरे के संपर्क में हैं.

उन्होंने बताया कि रूस, चीन और पाकिस्तान के प्रतिनिधियों ने हाल ही में तालिबान और ‘धर्मनिरपेक्ष अधिकारियों’ के प्रतनिधियों से बातचीत करने के लिए कतर और फिर अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल की यात्रा भी की है.पूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई और अब्दुल्ला अब्दुल्ला तालिबान के साथ वार्ता परिषद में पूर्व अपदस्थ सरकार का नेतृत्व कर रहे थे. headtopics.com

लवरोफ़ ने कहा कि तालिबान की अंतरिम सरकार"पूरे अफ़ग़ान समाज के जातीय-धार्मिक और राजनीतिक पक्षों का प्रतिनिधित्व नहीं करती है, इसलिए उनसे बातचीत की जा रही है. उनसे लगातार बात जारी है."तालिबान ने अपने इस दूसरे शासन में एक समावेशी सरकार का वादा किया है. उन्होंने वादा किया है इस बार उनका शासन 1996 से 2001 के बीच के शासन की तुलना में बहुत अलग होगा. इस बार उनका शासन अधिक उदार होगा, जिसमें महिलाओं के अधिकारों का सम्मान भी निहित होगा.

तालिबान ने अफ़ग़ानिस्तान में सत्ता संभालने के बाद यह भी वादा किया है कि 20 साल के युद्ध के बाद वह देश को स्थिरता प्रदान करना चाहते हैं. और आतंकवाद के बढ़ावे के लिए अपनी ज़मीन का इस्तेमाल नहीं होने देंगे.लेकिन हाल के दिनों में कुछ ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जिससे पता चलता है कि वे अधिक दमनकारी नीतियों के साथर लौटे हैं. ख़ासकर महिलाओं के प्रति उनकी नीतियां अब भी उदार नहीं हैं.

लवरोफ़ ने कहा,"सबसे महत्वपूर्ण यह सुनिश्चित करना है कि जो वादे उन्होंने सार्वजनिक रूप से किए हैं, उन्हें पूरा किया जाए और हमारे लिए यह सर्वोच्च प्राथमिकता है."Getty ImagesCopyright: Getty Imagesएक संवाददाता सम्मेलन में और बाद में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने भाषण में लवरोफ़ ने अफ़ग़ानिस्तान से जल्दबाज़ी में सेना बुलाने सहित कई मुद्दों पर बाइडन प्रशासन की आलोचना की.

उन्होंने कहा कि अमेरिका और नाटो ने परिणामों पर विचार किए बिना ही वापसी का फ़ैसला कर लिया.उन्होंने कहा कि विदेशी सेना ने अफ़ग़ानिस्तान में भारी मात्रा में हथियार छोड़े हैं, उन्होंने इसे लेकर कोई विचार नहीं किया.अपने संबोधन में लवरोफ़ ने अमेरिका और उसके पश्चिमी सहयोगियों पर मौजूदा समय की समस्याओं को हल करने की संयुक्त राष्ट्र की भूमिका को कम करने और उसे दरकिनार करने का आरोप लगाया. उन्होंने अमेरिका और उसके सहयोगी देशों पर अपने हितों को बढ़ावा देने का भी आरोप लगाया. headtopics.com

दो रोमांचक मुक़ाबले के साथ शुरू हुआ वर्ल्ड टी20 महाकुंभ, अगला मैच भारत vs पाकिस्तान - BBC News हिंदी यूपी में दलितों के बाद सबसे अधिक नाइंसाफी मुसलमानों के साथ हुई : असदुद्दीन ओवैसी मोदी का मिशन वैक्सीनेशन: PM से मीटिंग के बाद पूनावाला बोले- मोदी की वजह से 100 करोड़ डोज का टारगेट पूरा हुआ

उदाहरण के तौर पर लवरोफ़ ने कहा कि जर्मनी और फ्रांस ने हाल ही में बहुपक्षवाद के लिए एक गठबंधन के निर्माण की घोषणा की है. लेकिन संयुक्त राष्ट्र की तुलना में क्या कुछ और भी बहुपक्षीय हो सकता है?अमेरिका भी संयुक्त राष्ट्र को दरकिनार कर रहा है.लवरोफ़ से संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेश की चेतावनी पर रूस की प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया था. जिसमें उन्होंने अमेरिका और चीन के संदर्भ में एक और संभावित शीत युद्ध को लेकर आशंका ज़ाहिर की थी.

अपने जवाब में लवरोफ़ ने कहा कि चीन और अमेरिका के बीच संबंधों में तनाव दिखता है.उन्होंने बढ़ते तनाव को लेकर चिंता भी ज़ाहिर की. उन्होंने बाइडन प्रशासन की कुछ हालिया नीतियों जैसे हिंद-प्रशांत क्षेत्र की रणनीति जिसका उद्देश्य चीन के विकास को रोकना है, का जिक्र किया. इसके अलावा उन्होंने दक्षिण चीन सागर विवाद और हाल ही में अमेरिका-ब्रिटेन सौदे का भी ज़िक्र किया. ऑस्ट्रेलिया के साथ परमाणु ऊर्जा से चलने वाली पनडुब्बियां के समझौते को भी उन्होंने रेखांकित किया.

लवरोफ़ ने कहा किबड़ी शक्तियों के बीच"सम्मानजनक" संबंध होने चाहिए. उन्होंने जोर देते हुए कहा कि रूस सुनिश्चित करना चाहता है कि ये संबंध कभी भी परमाणु युद्ध में नहीं बदलें. और पढो: BBC News Hindi »

कामयाबी: सब मेरी शादी कराना चाहते थे, पर मुझे कुछ बड़ा करना था और अब बन गई हूं एंटरप्रेन्योर से इंस्टाग्राम इंफ्लुएंसर

मुझे लगता है मेरा जन्म ही शादी के लिए हुआ था। 12-13 साल की हुई कि घर वालों से लोग बोलने लगे लड़की की शादी नहीं करोगे, इतनी बड़ी हो गई है। गांव जाती तो शादी, गली में निकलती तो शादी, किसी के पास बैठ जाती तो शादी...उफ्फ! हर जगह शादी पुराण सुनकर मैं थक गई थी। मुझे लगता कि क्या मेरी जिंदगी सिर्फ शादी के लिए ही है? मुझे कुछ बड़ा करना था पर क्या! यह नहीं समझ पा रही थी। ये शब्द हैं एंटरप्रेन्योर से इंस्टा... | नेहा नागर बचपन से शादी पुराण से परेशान थीं। सब उनकी शादी के पीछे पड़े थे, लेकिन उन्हें कुछ बड़ा करना था और फिर बन गईं बिजनेसवुमन से इंस्टाग्राम इंफ्लुएंसर

अमेठी का बरसाती गैंग पंजाब मे?रघू , चन्नी विरजू- भुलई को तो जौहरी ने मार दिया था ?

पंजाब में विरोध के बावजूद मंत्री बनाए गए राणा गुरजीत सिंहयह पत्र पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मोहिंदर सिंह कायपी, विधायक नवतेज सिंह चीमा, बलविंदर सिंह धालीवाल, बावा हेनरी, राज कुमार, शाम चौरसी, पवन आदिया और सुखपाल सिंह खैरा ने लिखा है।

Punjab Cabinet Expansion: पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के मंत्रिमंडल का रविवार को शपथग्रहण, 7 नए चेहरे शामिल, देखें लिस्ट में किनके नामरविवार को पंजाब में सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के मंत्रिमंडल का विस्तार हो रहा है। कहा जा रहा है कि 15 मंत्री शपथ लेंगे। पुराने मंत्रियों पर विचार करते समय उनके काम, उनकी छवि जैसी चीजों पर गौर किया गया। 👍

पंजाब में कैबिनेट विस्तारः मिलिए चन्नी की नई टीम के नए चेहरों सेपंजाब में कैबिनेट विस्तारः ब्रह्म महिंद्रा-अरुणा चौधरी और राणा गुरजीत सिंह ने ली थपथ, मिलिए चन्नी की नई टीम के नए चेहरों से

IPL: पंजाब किंग्स की SRH पर रोमांचक जीत, प्लेऑफ की रेस में कायमIPL2021 के 14वें सीजन के 37वें मुकाबले में पंजाब किंग्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 5 रन से हरा दिया है. इस जीत के साथ पंजाब की प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीद जिंदा हैं! पूरी खबर: Cricket Sports SunrisersHyderabad PunjabKings पहुचना तय है Reach the distination हर हर महादेव 🙏🙏🌹

Bigg Boss 15 में उमर रियाज को सपोर्ट करेंगी आरती सिंह, आसिम की तारीफ कीआरती से जब पूछा गया कि बिग बॉस के बाद उन्हें सबसे अच्छा कॉम्पलिमेंट क्या मिला था? जवाब में आरती ने कहा- जब लोगों ने मेरी मां को सराहा जैसे संस्कार उन्होंने अपने बच्चों को दिए उसके लिए. तब मुझे काफी प्राउड फील हुआ. मुझे महसूस हुआ कि मैंने अपने परिवार का मान रखा.

पंजाब Vs हैदराबाद: रोमांचक मुकाबले में पंजाब ने SRH को 5 रन से हराया, प्ले-ऑफ की रेस से बाहर होने वाली पहली टीम बनी हैदराबादIPL-2021 फेज-2 में शनिवार को दिन का दूसरा मुकाबला पंजाब किंग्स (PBKS) और सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के बीच खेला गया था, जिसे पंजाब ने अंतिम ओवर में 5 रन से जीतकर अपने नाम किया। मैच में SRH के सामने 126 रनों का टारगेट था, जिसके जवाब में टीम 120/7 का स्कोर ही बना सकी और मैच हार गई। मैच का लाइव स्कोर देखने के लिए यहां क्लिक करें | PBKS Vs SRH IPL 2021 LIVE Score Punjab Kings vs Sunrisers Hyderabad Today Match Latest News Update