निसर्ग तूफान का डर: मुंबई में धारा-144 लागू, 110 किलोमीटर दूर

निसर्ग तूफान का डर: मुंबई में धारा-144 लागू, 110 किलोमीटर दूर

03-06-2020 10:05:00

निसर्ग तूफान का डर: मुंबई में धारा-144 लागू, 110 किलोमीटर दूर

मौसम विभाग के अनुसार निसर्ग तूफ़ान की वजह से बुधवार को महाराष्ट्र के तटीय इलाक़ों में 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार तक हवाएं चल सकती हैं.

रडार के ज़रिए मिल रही तस्वीरों के अनुसार इसकी चौड़ाई बीते कुछ घंटों में बढ़ी है.@ndmaindiaयही वजह है कि हवाओं के बारे में जो अनुमान पहले लगाया गया था कि तूफ़ान की वजह से 85-95 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से हवाएं चलेंगी, उनकी रफ़्तार अब बढ़ती नज़र आ रही है.

VIDEO: भीगी सड़क पर फिसलने के निशान नहीं, कैसे पलटी विकास दुबे की कार? राहुल गांधी का ट्वीट - 'कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी', क्या विकास दुबे मुठभेड़ की ओर है इशारा...? VIDEO: आजतक की टीम से STF की बदसलूकी, कार से निकालकर फेंकी चाबी

तूफ़ान के मद्देनज़र एनडीआरएफ़ की कई टीमें महाराष्ट्र के अलग-अलग इलाक़ों में तैनात की गई हैं.इमेज कॉपीरइटPUNIT PARANJPE/AFP via Getty Imagesबीबीसी संवाददाता जाह्नवी मुले की आंखोदेखीमुबंई में बुधवार सुबह से ही बारिश हो रही है. हल्की बारिश के लिए मुंबई हमेशा ही तैयार रहती है लेकिन गुजरते वक्त के साथ-साथ जिस तरह से हवाएं रफ़्तार पकड़ रही हैं, जमा देने वाली ठंड का एहसास भी बढ़ रहा है.

हवा में नमी है और दोपहर के आने से पहले ही अंधेरे बढ़ता जा रहा है. मेरी खिड़की के बाहर तेज़ हवाएं पेड़ों को झकझोर रही हैं, मानो वे उन्हें गिरा ही देंगी. मुबंई शहर के सभी तट आम लोगों के लिए बंद कर दिए गए हैं और पुलिस की गश्ती जीप से लोगों को लाउडस्पीकर पर घरों में रहने के लिए हिदायत दे रहे हैं.

हम भी जहां तक मुमकिन हो सके, हर एहतियात बरत रहे हैं लेकिन इस बात की फिक्र भी सता रही है कि ये शहर पहले से कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहा है. निसर्ग तूफ़ान अभी भी 200 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से मुंबई की तरफ़ बढ़ रहा है. माना जा रहा है कि शहर का अलीबाग़ इलाके से ये पहली बार टकराएगा.

मुबंई से समंदर किनारे चलना शुरू करें तो अलीबाग़ पहुंचने के लिए आपको 50 किलोमीटर का सफ़र तय करना होगा और सड़क से जाएं तो 100 किलोमीटर तय करने होंगे. खूबसूरत तटों के लिए अलीबाग़ को बहुत से लोग पसंद करते हैं. मौसम ठीक रहे तो फेरी सर्विस से अलीबाग़ आसानी से पहुंचा जा सकता है.

पुराने किलों, बंदरगाह और मराठा नेवी के एडमिरल कान्होजी आंग्रे की गद्दी के लिए मशहूर रहे अलीबाग़ लोगों का पसंदीदा वीकेंड डेस्टिनेशन भी रहा है. आप में से कई लोगों ने अलीबाग़ को बॉलीवुड की फिल्मों में देखा होगा.इमेज कॉपीरइटREUTERS/Francis Mascarenhasनिसर्ग तूफ़ान: मुंबई में धारा-144 लागू

मुंबई शहर की ओर बढ़ते निसर्ग तूफ़ान को ध्यान में रखते हुए मुंबई पुलिस ने शहर में धारा-144 लागू कर दी है जो बुधवार रात से गुरुवार दोपहर तक के लिए लगायी गई है.पुलिस ने लोगों के समुद्र तट और पार्कों में जाने पर प्रतिबंध लगाया है.मौसम विभाग के ताज़ा अनुमान के मुताबिक़, निसर्ग तूफ़ान का सबसे अधिक असर मुंबई में बुधवार को दोपहर 12 बजे से शाम 7 बजे के बीच देखने को मिल सकता है.

विकास दुबे की कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गई.. एनकाउंटर पर बोले अखिलेश VIDEO: किस कार में बैठा था विकास दुबे? कैसे बदल गई गाड़ी? उठे सवाल कोरोना के बहाने रोकी गई मीडिया...और हो गया विकास दुबे का एनकाउंटर!

सावधानी के तौर पर भारतीय रेलवे ने मुंबई से छूटने वाली कई ट्रेनों का टाइम बदला है.साथ ही बुधवार को मुंबई पहुँच रहीं ट्रेनों को भी या तो रोका गया है या फिर उनके रूट बदल दिये गए हैं.इमेज कॉपीरइटANIकोरोना संकट के बीचबताया गया है कि एनडीआरएफ़ की आठ टीमें मुंबई में हैं, पाँच टीमें रायगढ़ में हैं, दो-दो टीमें पालघर, थाणे और रतनागिरी में भेजी गई हैं.

भारतीय वायु सेना के अनुसार, एनडीआरएफ़ की पाँच टीमों को विजयवाड़ा से भारतीय वायु सेना के विमान में एयरलिफ़्ट करके मुंबई लाया गया है.एनडीआरएफ़ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया है,"महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय क्षेत्रों में रहने वाले क़रीब 60 फ़ीसद (लगभग एक लाख) लोग अन्य स्थानों पर चले गए हैं. बाकी बचे हुए लोगों को राहत शिविरों में रखा गया है. हम कोशिश कर रहे हैं कि इन शिविरों में सोशल डिस्टेन्सिंग के नियमों का पालन हो."

इमेज कॉपीरइटANIभारतीय मौसम विभाग ने बुधवार सुबह 5 बजे जो बुलेटिन जारी किया था, उसके अनुसार तूफ़ान 11 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से उत्तरी महाराष्ट्र की तरफ बढ़ रहा है.बीती रात ढाई बजे तक यह तूफ़ान मुंबई से 250 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में था.समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार दो करोड़ की आबादी वाले मुंबई शहर में सड़कें खाली दिख रही हैं और कोविड-19 के प्रकोप से लड़ रहे इस शहर के लिए यह तूफ़ान एक बड़ी चुनौती बन कर सामने आया है.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक़ मुंबई के अस्थायी अस्पतालों में भर्ती 150 कोविड-19 के मरीज़ों को भी तूफ़ान से डर से शिफ़्ट किया गया है.इमेज कॉपीरइटHimanshu Bhatt/NurPhoto via Getty Imagesनिसर्ग तूफ़ानः मुंबई आने-जाने वाली ट्रेनों का रेलवे ने बदला समय और रूट

कोरोना वायरस से जूझ रहे मुंबई को अब साइक्लोन निसर्ग के ख़तरे का सामना करना पड़ रहा है.इसे देखते हुए मध्य रेलवे ने कई स्पेशल ट्रेनों का समय बदला है. ये ट्रेनें या तो आज मुंबई पहुंचने वाली थी या फिर आज वहां से रवाना होने वाली थी.मध्य रेलवे के अनुसार, गोरखपुर, दरभंगा, वाराणसी और कुछ दूसरी जगहों पर जाने वाली रेलगाड़ियों का समय बदला गया है.

@Central_Railwayपहले ये रेलगाड़ियां मुंबई से बुधवार सुबह रवाना होने वाली थीं.रेलवे ने बताया कि जो स्पेशल ट्रेनें बुधवार को मुबंई पहुंचने वाली थीं, उनका रूट और समय बदला गया है. और पढो: BBC News Hindi »

NisargaCyclone update: बागबां ने आग दी जब आशियाने को मेरे जिन पे तकिया था वही पत्ते हवा देने लगे! NisargaCyclone

दो दिन में महाराष्ट्र-गुजरात के तटीय इलाकों से टकरा सकता है चक्रवात 'निसर्ग'Weather Forecast Today, Cyclone Nisarga Tracker Live News Updates: मौसम विभाग के मुताबिक, जिस जगह दबाव से तूफान की स्थितियां बन रही हैं, वह अभी मुंबई से 700 किमी दूर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम और गुजरात के सूरत से 930 किमी दक्षिण पश्चिम की दूरी पर है।

अम्फान के बाद अब निसर्ग चक्रवात की आफत, महाराष्ट्र-गुजरात में अलर्टमहाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवात निसर्ग को लेकर अलर्ट जारी किया गया है. तूफान कल सुबह तक मुंबई पहुंच सकता है, ऐसे में समुद्र के पास के इलाके को खाली करवाया गया है. वैसे ही पहले से कम आफत है ?

मुंबई: निसर्ग और कोरोना की दोहरी चुनौती, वर्ली में शिफ्ट किए गए कोविड के मरीजकोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र के सामने चक्रवात निसर्ग की चुनौती आई है. इस बीच अस्पतालों में कई तरह की सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं, ताकि पानी भरने और बारिश की स्थिति से निपटा जा सके.

तेज हवाओं के साथ महाराष्ट्र से टकराएगा चक्रवाती तूफान 'निसर्ग', तस्वीरों में जानें अबतक का हालभारत इन दिनों कोरोना वायरस (Coronavirus in India) से जूझ रहा है। वहीं, महाराष्ट्र में इस महामारी की वजह से स्थिति भयावह बनी हुई है। एक तरफ देश पर कोरोना की मार, दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल और ओडिशा में चक्रवाती तूफान 'अम्फान' (Cyclone Amphan) ने जिंदगी को अस्तव्यस्त करके रख दिया। अब महाराष्ट्र और गुजरात में चक्रवाती तूफान (Nisarga Cyclone) की दस्तक ने लोगों की धड़कनें बढ़ा दी हैं। गृह मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, चक्रवाती तूफान 'निसर्ग' महाराष्ट्र के तट से बुधवार को टकराएगा। इस दौरान मुंबई और अन्य तटीय क्षेत्रों में 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी हवाएं चलेंगी और तेज बारिश होगी। इस आफत को देख दोनों ही राज्यों के साथ केंद्र सरकार ने चक्रवाती तूफान निसर्ग का मुकाबला करने के लिए हर मोर्चे पर तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है। आइए, तस्वीरों में अबतक का पूरा हाल जान लेते हैं।

निसर्ग: अलीबाग में लैंडफॉल से पहले बारिश, गेटवे ऑफ इंडिया के पास गिरे बैरिकेडमहाराष्ट्र में आज दोपहर चक्रवात निसर्ग टकराएगा. मुंबई में तूफान से पहले ही तेज बारिश और हवाएं चलना शुरू हो गई हैं. मौसम विभाग की ओर से लगातार चेतावनी जारी की जा रही है. सबसे तेज़ सबसे आगे आज तक ये चक्रवात का इंटरव्यू लेंगे दोपहर 2:09 पर कही मत जाइए देखते रहिये आज तक

निसर्ग: मुंबई में 129 साल के बाद आएगा चक्रवाती तूफ़ानमुंबई में 1618 में आए चक्रवाती तूफ़ान से क़रीब दो हज़ार लोग मारे गए थे. 😳😳😳🥺🥺🥺🥺🥺🥺 ye ho kya raha hai bechare mumbai walo ke sath इस साल ने सबको रुला दिया है जल्दी से यह साल जाए

विकास दुबे की मुठभेड़ में मौत, कानपुर लाते समय गाड़ी पलटने पर की थी भागने की कोशिशः उत्तर प्रदेश पुलिस विकास दुबेः गिरफ्तारी हुई या आत्मसमर्पण, अखिलेश-प्रियंका ने पूछे सवाल कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला, कहा- हर किसी को खरीदा नहीं जा सकता विकास दुबे गिरफ़्तार, उज्जैन के महाकाल मंदिर में पकड़ा गया सीएए के विरोध के दौरान गिरफ़्तार अखिल गोगोई की सेहत को लेकर चिंता, सात महीने से हैं बंद नहीं रहे शोले के सूरमा भोपाली, अभिनेता जगदीप का 81 की उम्र में निधन विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश यादव- 'कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है' विकास दुबे की गिरफ्तारी या आत्मसमर्पण, योगी सरकार करे साफ: अखिलेश VIDEO: एनकाउंटर में विकास दुबे के मारे जाने की खबर आज तक @aajtak