Nirbhaya, Tihadड, Nirbhaya, Supremecourt, Rape, Nirbhayaconvicts, तिहाड़ जेल, Tihar Jail, Nirbhaya Gang Rape Case, Death Warrant, निर्भया गैंगरेप केस, डेथ वारंट

Nirbhaya, Tihadड

निर्भया के दोषियों के वकील की अर्जी- तिहाड़ जेल पवन-अक्षय के दस्‍तावेज नहीं दे रहा

#Nirbhaya के दोषियों के वकील की अर्जी- #Tihadड जेल पवन-अक्षय के दस्‍तावेज नहीं दे रहा #nirbhaya #SupremeCourt #rape #NirbhayaConvicts

24.1.2020

Nirbhaya के दोषियों के वकील की अर्जी- Tihadड जेल पवन-अक्षय के दस्‍तावेज नहीं दे रहा nirbhaya SupremeCourt rape Nirbhaya Convicts

निर्भया गैंगरेप केस ( Nirbhaya Gang Rape Case) के दोषियों के वक़ील एपी सिंह ने पटियाला हाउस कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर कहा है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने अभी तक उन्हें दोषी पवन और अक्षय के दस्तावेज मुहैया नहीं कराए हैं. याचिका में कहा कि पवन, अक्षय और विनय दया याचिका भी दाखिल करना चाहते हैं, लेकिन दस्तावेज के न मिलने की वजह से वो दाखिल नहीं कर पा रहे हैं. यह भी कहा गया है कि पवन और अक्षय को सुप्रीम कोर्ट में क्‍यूरेटिव याचिका दाखिल करनी है. पटियाला हाउस कोर्ट शनिवार को मामले की सुनवाई कर सकता है.

Jan 24, 2020, 02:44 PM IST ट्रेंडिंग न्यूज़ निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Gang Rape Case) के दोषियों के वक़ील एपी सिंह ने पटियाला हाउस कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर कहा है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने अभी तक उन्हें दोषी पवन और अक्षय के दस्तावेज मुहैया नहीं कराए हैं. याचिका में कहा कि पवन, अक्षय और विनय दया याचिका भी दाखिल करना चाहते हैं, लेकिन दस्तावेज के न मिलने की वजह से वो दाखिल नहीं कर पा रहे हैं. यह भी कहा गया है कि पवन और अक्षय को सुप्रीम कोर्ट में क्‍यूरेटिव याचिका दाखिल करनी है. पटियाला हाउस कोर्ट शनिवार को मामले की सुनवाई कर सकता है. उधर, दोषियों के परिवारवालों को तिहाड़ जेल प्रशासन ने पत्र लिखा है. तिहाड़ प्रशासन की तरफ से पत्र में लिखा गया है कि दोषियों को 1 फ़रवरी की सुबह 6 बजे फांसी पर लटकाया जाएगा. उससे पहले अगर कोई परिवार का सदस्य या रिश्तेदार दोषियों से अंतिम मुलाकात करना चाहता है तो कर सकता है. तिहाड़ जेल के सूत्रों से यह जानकारी मिली है. दरअसल, फांसी पर लटकाए जाने का 'डेथ-वारंट' जारी होने के बाद से निर्भया के दोषी 'चुप्पी' साधे बैठे हैं. दरअसल, अभी तक चार में से किसी भी दोषी ने तिहाड़ प्रशासन द्वारा पूछे जाने के बाद भी यह नहीं बताया है कि उनकी अंतिम इच्छा आखिर क्या-क्या है? तिहाड़ जेल (दिल्ली जेल) के महानिदेशक संदीप गोयल ने गुरुवार को कहा,"अदालत से डेथ-वारंट जारी होने के बाद जो कानूनी प्रक्रिया अमल में लानी चाहिए हम वो सब अपना रहे हैं. इसी के तहत चारों मुजरिमों से तिहाड़ जेल प्रशासन ने उनकी अंतिम इच्छा भी कुछ दिन पहले पूछी थी. अभी तक चार में से किसी ने भी कोई जबाब नहीं दिया है." संदीप गोयल ने कहा,"जेल प्रशासन ने चारों मुजरिमों से पूछा था कि डेथ-वारंट अमल में लाए जाने से पहले वे किससे किस दिन किस वक्त जेल में मिलना चाहेंगे? संबंधित के नाम, पते और संपर्क-नंबर यदि कोई हो तो लिखित में जेल प्रशासन को सूचित कर दें. ताकि वक्त रहते अंतिम मिलाई कराने वालों को जेल तक लाने का समुचित इंतजाम किया जा सके." जेल महानिदेशक के मुताबिक,"नियमानुसार दूसरी बात यह पूछी गई थी चारों से कि क्या उन्हें अपनी कोई चल-अचल संपत्ति अपने किसी रिश्तेदार, विश्वासपात्र के नाम करनी है? अगर ऐसा है तो संबंधित शख्स/रिश्तेदार का नाम पता भी जेल प्रशासन को उपलब्ध करा दें. गुरुवार तक चार में से किसी भी मुजरिम ने फिलहाल दोनों ही सवालों का जबाब नहीं दिया है. जैसे ही उनका जबाब मिलेगा, जेल प्रशासन उसी हिसाब से इंतजाम शुरू कर देगा." तिहाड़ जेल के एक अन्य अधिकारी ने कहा,"चारों मुजरिमों ने चूंकि दोनों में से किसी भी सवाल का जवाब अभी तक लिखित रूप से नहीं सौंपा है. लिहाजा फिलहाल उनकी जेल में बाकी कैदियों की तरह ही सप्ताह में दो दिन परिवार वालों से मिलाई करा दी जा रही है. हां, फांसी की सजा अमल में लाए जाने वाले दिन से पहले उन्हें (दोषियों को) अंतिम बार किससे जेल में और कब मिलना है? यह फिलहाल लंबित ही है. हालांकि अगर फांसी लगने वाले दिन से पहले तक, समुचित समय के साथ मुजरिमों ने दोनों ही सवालों का जबाब नहीं दिया, तो जेल प्रशासन मान लेगा कि उन्हें कुछ नहीं कहना-सुनना है." Tags: और पढो: Zee News Hindi

'जावेद अख्तर की बुद्धि पर पड़ा पर्दा, बुद्धिजीवी कहलाने लायक नहीं'



दिल्ली दंगे: पुलिस की भूमिका की जाँच कैसे होगी?

दिल्ली हिंसाः मुस्तफाबाद में था अकेला हिंदू परिवार, मुस्लिमों ने हिफाजत कर पेश की मिसाल



दिल्ली हिंसाः अंकुर शर्मा बोले- मेरे भाई अंकित को मिले शहीद का दर्जा

शिवसेना पर फडणवीस का हमला, कहा- संविधान में धर्म के आधार पर आरक्षण का प्रावधान नहीं



जीडीपी विकास दर में गिरावट का सिलसिला जारी

सामने से फेंके जा रहे थे पेट्रोल बम, जान बचाने के लिए मां ने कलेजे के टुकड़े को छत से नीचे फेंका



ऐसे गद्दार वकीलों को भी दोड़ा दोड़ा कर मारने का समय आ गया है जिनके अंदर सिर्फ पैसा ही महत्वपूर्ण है मानवीय संवेदनाओं का कोई स्थान नहीं है ई ससुरा दस्तावेज का बत्ती बना के अपनी *** में देगा। Pehle to inke vakilo ko fanci do hramkhoro ko tamasha bna rkha in vakilo ke behn betiya nhi hai Jo kisi ki beti ka mjak bna rhe hai drindo ko bad Mei dekho pehle vakilo ko latkao syapa khtm

शर्म आनी चाहिए तुमको रेपिस्ट का वकील कैसे बन गया तू तेरे घर बहन बेटी नही ह क्या रे चादरमोद 😡😡😡 इन बलात्कारियों के वकील से ज्यादा इज्जत की कमाई किसी वेश्या की होती है । वो समाज के लिए तो खतरा नहीं होती । बहोत खेल हो गया अब इनका भी इनकाउंटर कर देना चाहिए, जितना निर्भया तड़पी थी उससे ज्यादा हमारा कानून दर्द उसकी आत्मा को दे रहा है

दस्तावेज से बलात्कारियों के वकील क्या अपनी बेटी का रिश्ता करेगा

कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच चीन के वुहान में स्थानीय लोगों के यात्रा करने पर प्रतिबंधकोरोनावायरस के प्रकोप के बीच चीन के वुहान में स्थानीय लोगों के यात्रा करने पर प्रतिबंध coronavirus China WuhanCoronavirus Wuhan

रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज की याचिका रद्द करने के ट्रिब्यूनल के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट की रोकअपीलेट ट्रिब्यूनल ने कहा था- टाटा सन्स को पब्लिक से प्राइवेट कंपनी में बदलना गैर-कानूनी था रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज ने फैसले से गैर-कानूनी शब्द हटाने की अपील की थी ट्रिब्यूनल ने फैसले में संशोधन से इनकार कर दिया था; टाटा सन्स ने इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी | Cyrus Mistry Tata | Cyrus Mistry Ratan Tata Latest News Updates Tata Sons Supreme Court News Updates Over NCLAT Decision Cyrus Mistry as Chairman

सीएए-एनआरसी पर हमारा रुख साफ, पीके और पवन वर्मा के बयानों पर मत जाइये: नीतीशसीएए-एनआरसी पर हमारा रुख साफ, पीके और पवन वर्मा के बयानों पर मत जाइये: नीतीश CAA NRC NitishKumar PrashantKishor PavanK_Varma NitishKumar PrashantKishor PavanK_Varma In dono ko party se kyun nahi nikaal dete ho

देवेंद्र फडणवीस के कार्यकाल में विपक्षी नेताओं के फोन टैपिंग के मामलों की होगी जांचमहाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आरोप लगाया कि देवेंद्र फडणवीस ने विपक्षी नेताओं के फोन टैप करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग किया।

UP DGP के चयन को लेकर हाई कोर्ट में दाखिल की गई याचिकाLet see🌚 अमित_शाह_चुनौती_स्वीकार_है अमित_शाह_चुनौती_स्वीकार_है अमित_शाह_चुनौती_स्वीकार_है अमित_शाह_चुनौती_स्वीकार_है अमित_शाह_चुनौती_स्वीकार_है Owaisi_Se_Debate_Karo Owaisi_Se_Debate_Karo Owaisi_Se_Debate_Karo Owaisi_Se_Debate_Karo Owaisi_Se_Debate_Karo Owaisi_Se_Debate_Karo क्यों किया है मीडिया को ए भी स्पष्ट करना चाहिए

पवन वर्मा की चिट्ठी से नीतीश खफा, कहा- किसी और पार्टी में जा सकते हैंनीतीश कुमार ने कहा कि अगर किसी के पास कोई मुद्दा है तो वह पार्टी या पार्टी की बैठकों में इस पर चर्चा कर सकता है, लेकिन इस तरह के सार्वजनिक बयान आश्चर्यजनक हैं. वह जा सकते हैं और किसी भी पार्टी में शामिल हो सकते हैं, जिसे वह पसंद करते हैं. सही है सर जी अब आपका भी दिन लदने वाला है। अब आपकी घुमावदार बातों में जनता फंसने वाली नहीं। ईशरतजहां के अब्बु भड़क गए।



दिल्ली हिंसा: AAP पार्षद ताहिर पर हुआ एक्शन, तरफदारी में उतरे विधायक अमानतुल्लाह खान

रविशंकर प्रसाद की दो टूक- CAA पर हम पीछे नहीं हटेंगे, ये नरेंद्र मोदी की सरकार है

राष्ट्रगान नहीं गा पाए कन्हैया कुमार, अंतिम दो लाइन में कर गए 'झोल'

Delhi Violence: सोनिया गांधी,ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ HC में याचिका, FIR दर्ज करने की मांग

घुसपैठियों की जानकारी दो और 5555 रुपया लो... औरंगाबाद में MNS ने लगाए पोस्टर

दिल्ली हिंसा: नरेंद्र मोदी पर क्या कह रहा है विदेशी मीडिया

दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

24 जनवरी 2020, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

Budget 2020: इंश्योरेंस सेक्टर में जान फूंकने को ही रही तैयारी, वित्त मंत्री दे सकती है ये तोहफा

अगली खबर

विदेश जाना चाहते हैं और ट्रैफिक रूल्‍स तोड़ते हैं तो पासपोर्ट-वीजा हो सकते हैं रद्द
'जावेद अख्तर की बुद्धि पर पड़ा पर्दा, बुद्धिजीवी कहलाने लायक नहीं' दिल्ली दंगे: पुलिस की भूमिका की जाँच कैसे होगी? दिल्ली हिंसाः मुस्तफाबाद में था अकेला हिंदू परिवार, मुस्लिमों ने हिफाजत कर पेश की मिसाल दिल्ली हिंसाः अंकुर शर्मा बोले- मेरे भाई अंकित को मिले शहीद का दर्जा शिवसेना पर फडणवीस का हमला, कहा- संविधान में धर्म के आधार पर आरक्षण का प्रावधान नहीं जीडीपी विकास दर में गिरावट का सिलसिला जारी सामने से फेंके जा रहे थे पेट्रोल बम, जान बचाने के लिए मां ने कलेजे के टुकड़े को छत से नीचे फेंका असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर कसा तंज- पहले राष्ट्रव्यापी NPR/NRC करवाइए फिर CAA का उपयोग करिए, यही तो क्रोनोलॉजी है क्या भारत में सुरक्षित महसूस करते हैं अदनान सामी? ये है एक्टर का जवाब दिल्ली दंगे: क्या सरकारें वाकई सबक लेंगी? हल्ला बोल: ताहिर हुसैन पर क्यों घूमी शक की सुई? महाराष्ट्र सरकार शिक्षण संस्थानों में मुसलमानों को देगी आरक्षण
दिल्ली हिंसा: AAP पार्षद ताहिर पर हुआ एक्शन, तरफदारी में उतरे विधायक अमानतुल्लाह खान रविशंकर प्रसाद की दो टूक- CAA पर हम पीछे नहीं हटेंगे, ये नरेंद्र मोदी की सरकार है राष्ट्रगान नहीं गा पाए कन्हैया कुमार, अंतिम दो लाइन में कर गए 'झोल' Delhi Violence: सोनिया गांधी,ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ HC में याचिका, FIR दर्ज करने की मांग घुसपैठियों की जानकारी दो और 5555 रुपया लो... औरंगाबाद में MNS ने लगाए पोस्टर दिल्ली हिंसा: नरेंद्र मोदी पर क्या कह रहा है विदेशी मीडिया दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग दिल्ली हिंसा पर सुनवाई करने वाले जस्टिस एस. मुरलीधर का तबादला दिल्ली हिंसा: AAP पार्षद का उछला नाम, क्या बोले संजय सिंह मुस्लिमों को उद्धव सरकार का तोहफा, सरकारी स्कूल-कॉलेज में मिलेगा 5% आरक्षण ताहिर हुसैन ने कहा- मैं तो दंगे रोक रहा था मनोज तिवारी का हमला- 'ताहिर हुसैन ने काफी पहले कर ली थी दिल्ली के दंगों के लिए तैयारी'