Mankaur, Man Kaur, Runner Man Kaur, Man Kaur Dies, Man Kaur Passes Away, Man Kaur 105, मनकौर, रनर मनकौर, एथलीट मनकौर, मनकौर की की डेथ, मनकौर की मौत, नहीं रहीं एथलीट मनकौर, Sports News İn Hindi, Other Sports News İn Hindi, Other Sports Hindi News

Mankaur, Man Kaur

निधन: नहीं रहीं 105 साल की एथलीट मनकौर, कैंसर से हारीं जिंदगी की रेस

देश की जानीत-मानी एथलीट मनकौर का 105 साल की उम्र में निधन हो गया।

01-08-2021 06:57:00

निधन: नहीं रहीं 105 साल की एथलीट मनकौर , कैंसर से हारीं जिंदगी की रेस ManKaur

देश की जानीत-मानी एथलीट मनकौर का 105 साल की उम्र में निधन हो गया।

ख़बर सुनेंजिस उम्र में लोग लाठी और खाट पकड़ लेते हैं, उस उम्र में ट्रैक पर पदकों का अंबार लगाने वालीं 105 साल की एथलीट मनकौर का दिल का दौरा पड़ने से शनिवार को निधन हो गया। उनके पुत्र 83 साल के गुरुदेव सिंह ने बताया कि वह डेराबस्सी आयुर्वेदिक अस्पताल में भर्ती थीं और दोपहर लगभग एक बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। वह 101 साल की उम्र में 2017 में विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स में विश्व चैंपियन बनीं। उन्होंने 1 मिनट 14.58 सेकंड का समय निकाला और इस प्रतियोगिता की सबसे उम्रदराज विजेता बनीं थीं। वह कहा करती थी जब तक जिंदगी है दौड़ूंगी और मेडल जीतूंगी। पिछले तीन माह से वह गॉल ब्लेडर के कैंसर से जूझ रही थीं। वह चंडीगढ़ की करिश्माई मां के रूप में विख्यात थीं।

नाकाबिल नवजोत सिंह सिद्धू को बतौर CM नहीं करूंगा कबूल : अमरिंदर सिंह सोनू सूद ने 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी की: आयकर विभाग - BBC News हिंदी कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से कहा- सिद्धू पाकिस्तान समर्थक, उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता

93 साल की उम्र में की थी शुरुआतमनकौर ने 93 साल की उम्र में अपने बेटे गुरुदेव सिंह के कहने पर कॅरिअर की शुरुआत की थी। पहला पदक चंडीगढ़ मास्टर्स एथलेटिक्स मीट में 2007 में जीता था। उसके बाद 2011 में नेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स में 100 और 200 मीटर में स्वर्ण पदक जीतकर शानदार शुरुआत की।

2017 में जीते थे चार गोल्डकौर ने 2011 में अमेरिका में हुई विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भी 100 और 200 मीटर का स्वर्ण जीता और श्रेष्ठ एथलीट चुनी गईं। वह तब सुर्खियों में आईं जब 2017 में ऑकलैंड में हुई 100 से अधिक आयुवर्ग की विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 100 मीटर का खिताब जीता। यही नहीं उन्होंने 200 मीटर, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो में भी खिताब जीते। उसके बाद वह लगातार कई स्पर्धाओं में खेलती रहीं और चैंपियन बनती रहीं। headtopics.com

पिछले साल मिला था नारी शक्ति पुरस्कारउनकी शानदार उपलब्धियों को देखते हुए उन्हें पिछले साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों नारी शक्ति पुरस्कार से नवाजा गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित थे। इस महान एथलीट ने प्रधानमंत्री को आशीर्वाद भी दिया था।

ऐसा है मनकौर का रिकॉर्ड2011 : में अमेरिका में 100 और 200 मीटर में जीते दो स्वर्ण,2012 : एशियाई मास्टर्स एथलेटिक्स में 100 मीटर में चैंपियन2013 : में कनाडा मास्टर्स एथलेटिक्स में जीते 5 स्वर्ण पदक, उसी साल विश्व सीनियर गेम्स में भी 5 स्वर्ण पर किया कब्जा

2016 : में अमेरिकन मास्टर्स में सौ मीटर में 1.21 मिनट का समय निकाला और 2017 में न्यूजीलैंड में समय को सुधारकर 1.17 कर दिया था।2018 : अमेरिका मास्टर्स गेम में विश्व रिकॉर्ड के साथ जीते चार स्वर्ण2019 : पोलैंड में हुई प्रतियोगिता में भी फिर लगाया स्वर्ण पदक का चौका

विस्तारजिस उम्र में लोग लाठी और खाट पकड़ लेते हैं, उस उम्र में ट्रैक पर पदकों का अंबार लगाने वालीं 105 साल की एथलीट मनकौर का दिल का दौरा पड़ने से शनिवार को निधन हो गया। उनके पुत्र 83 साल के गुरुदेव सिंह ने बताया कि वह डेराबस्सी आयुर्वेदिक अस्पताल में भर्ती थीं और दोपहर लगभग एक बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। वह 101 साल की उम्र में 2017 में विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स में विश्व चैंपियन बनीं। उन्होंने 1 मिनट 14.58 सेकंड का समय निकाला और इस प्रतियोगिता की सबसे उम्रदराज विजेता बनीं थीं। वह कहा करती थी जब तक जिंदगी है दौड़ूंगी और मेडल जीतूंगी। पिछले तीन माह से वह गॉल ब्लेडर के कैंसर से जूझ रही थीं। वह चंडीगढ़ की करिश्माई मां के रूप में विख्यात थीं। headtopics.com

कैप्टन अमरिंदर सिंह क्या पंजाब कांग्रेस के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन सकते हैं - BBC News हिंदी कानूनी ढांचे पर छलका CJI का दर्द: चीफ जस्टिस रमना बोले- देश में अब भी गुलामी के दौर की न्याय व्यवस्था, यह भारत के हिसाब से ठीक नहीं कैप्टन के इस्तीफे के बाद Punjab में कितनी बढ़ गईं Congress की मुश्किलें, समझिए

विज्ञापन93 साल की उम्र में की थी शुरुआतमनकौर ने 93 साल की उम्र में अपने बेटे गुरुदेव सिंह के कहने पर कॅरिअर की शुरुआत की थी। पहला पदक चंडीगढ़ मास्टर्स एथलेटिक्स मीट में 2007 में जीता था। उसके बाद 2011 में नेशनल मास्टर्स एथलेटिक्स में 100 और 200 मीटर में स्वर्ण पदक जीतकर शानदार शुरुआत की।

2017 में जीते थे चार गोल्डकौर ने 2011 में अमेरिका में हुई विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भी 100 और 200 मीटर का स्वर्ण जीता और श्रेष्ठ एथलीट चुनी गईं। वह तब सुर्खियों में आईं जब 2017 में ऑकलैंड में हुई 100 से अधिक आयुवर्ग की विश्व मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 100 मीटर का खिताब जीता। यही नहीं उन्होंने 200 मीटर, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो में भी खिताब जीते। उसके बाद वह लगातार कई स्पर्धाओं में खेलती रहीं और चैंपियन बनती रहीं।

पिछले साल मिला था नारी शक्ति पुरस्कारउनकी शानदार उपलब्धियों को देखते हुए उन्हें पिछले साल अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों नारी शक्ति पुरस्कार से नवाजा गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित थे। इस महान एथलीट ने प्रधानमंत्री को आशीर्वाद भी दिया था।

ऐसा है मनकौर का रिकॉर्ड2011 : में अमेरिका में 100 और 200 मीटर में जीते दो स्वर्ण,2012 : एशियाई मास्टर्स एथलेटिक्स में 100 मीटर में चैंपियन2013 : में कनाडा मास्टर्स एथलेटिक्स में जीते 5 स्वर्ण पदक, उसी साल विश्व सीनियर गेम्स में भी 5 स्वर्ण पर किया कब्जा headtopics.com

2016 : में अमेरिकन मास्टर्स में सौ मीटर में 1.21 मिनट का समय निकाला और 2017 में न्यूजीलैंड में समय को सुधारकर 1.17 कर दिया था।2018 : अमेरिका मास्टर्स गेम में विश्व रिकॉर्ड के साथ जीते चार स्वर्ण2019 : पोलैंड में हुई प्रतियोगिता में भी फिर लगाया स्वर्ण पदक का चौका

विज्ञापनआगे पढ़ेंविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

नोटबंदी का नहीं हुआ असर: NCRB की रिपोर्ट में खुलासा, महाराष्ट्र में एक साल में 83.61 करोड़ रुपए के फर्जी नोट बरामद हुए, देश में नकली करेंसी बरामदगी 190 प्रतिशत बढ़ी Live Captain Amrinder Singh Resignation News : कैप्‍टन अमरिंदर सिंह का सीएम पद से इस्‍तीफा, कहा- मेरा अपमान किया गया, खुले हैे सभी विकल्‍प पंजाब के बाद CG का नंबर!: मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को हटाए जाने के सख्त फैसले के बाद सबकी निगाहें छत्तीसगढ़ पर; यहां भी CM बदले जाने की है चर्चा और पढो: Amar Ujala »

अलका लांबा के बोल: पति की संपत्ति हड़पने वाली, बाजारू औरत और न जाने क्या-क्या सुनना पड़ा, पर पॉलिटिक्स में डटी रही

मैं महिला थी इसलिए सदन में बाजारू कहा गया, मैं महिला थी इसलिए पति की संपत्ति हड़पने वाली कहा गया, मैं सिंगल मदर हूं, इसलिए दुनिया के सामने मातृत्व का सबूत देना पड़ता है, पुरुषों से भरी राजनीति से तंग आई तो घर में खुद को सिकोड़ने की कोशिश भी की, लेकिन पार्टी ने मुझे घर में रहने नहीं दिया और फिर से कांग्रेस में सक्रिय हुई। पिछले 27 सालों से राजनीति में सक्रिय अलका लांबा ने ये बातें भास्कर वुमन से सा... | अलका लांबा राजनीति में एक बड़ा नाम हैं, लेकिन यहां तक पहुंचने का सफर कांटों से भरा रहा। आज बात अलका लांबा के निजी और राजनीतिक सफर की।

दुख:द, भावभीनी श्रद्धांजलि ॐ शाँति। Om shanti 🙏

वंदना कटारिया ओलंपिक की तैयारियों के चलते पिता के निधन पर नहीं पहुंच पाईं थीं गांवखेलों के महाकुंभ यानी ओलंपिक में भारतीय हॉकी की ओवरऑल यह 32वीं हैट्रिक है। इन 32 में से 7 हैट्रिक मेजर ध्यानचंद के नाम हैं। मेजर ध्यानचंद ने ओलंपिक में हॉकी में भारत की ओर से सबसे ज्यादा हैट्रिक लगाईं हैं।

दूसरे ओलिंपिक मेडल की दहलीज पर सिंधु: टोक्यो में सेमीफाइनल में पहुंचीं सिंधु; माता-पिता वॉलीबॉल प्लेयर, 9 साल की उम्र से गोपीचंद की एकेडमी में ट्रेनिंग शुरू कीरियो ओलिंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट बैडमिंटन प्लेयर पीवी सिंधु टोक्यो में भी मेडल जीतने से एक कदम दूर हैं। उन्होंने क्वार्टर फाइनल में जापान की अकाने यामागूची को हराकर सेमीफाइनल में एंट्री की है। अब उनकी नजर सिल्वर या गोल्ड मेडल पर होगी। अगर सेमीफाइनल में वे हार भी जाती हैं, तो उन्हें ब्रॉन्ज मेडल के लिए खेलना होगा। | Tokyo olympic 2020\r\nP. V. Sindhu Profile Tokyo Updates Rio medalist Sindhu steps away from medal in Tokyo; Can equal Wrestler Sushil Kumar record by winning a medal in Tokyo ✌️ आपको तो शर्म आना चाहिए देश की बेटियों पर कार्टून बनाकर कटाक्ष करते हो,😠ये बेटियां ही ओलंपिक में कमाल कर रही हैं, देश को गर्व है चानू जी,लवलीना जी और सिन्धु जी पर,🙏🙏🇮🇳🇮🇳 Congratulations

100 साल की उम्र में भी युवाओं की तरह दौड़ने वाली मान कौर नहीं रहीं, मोहाली में हुआ निधनदौड़ने में 100 साल की उम्र में भी युवाओं को मात देने वाली मान कौर का आज निधन हो गया. पंजाब के मोहाली स्थित हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था. जहां उन्होंने आज अंतिम सांस ली. दुःखद

मध्यप्रदेश: ऑनलाइन गेम खेलने की लत ने छीनी 13 साल के बच्चे की जिंदगी, 40 हजार गंवाने के बाद की आत्महत्यामध्यप्रदेश: ऑनलाइन गेम खेलने की लत ने छीनी 13 साल के बच्चे की जिंदगी, 40 हजार गंवाने के बाद की आत्महत्या MadhyaPradesh OnlineGame CrimeNews

पंजाब की सियासत : मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा ने शुरू की हिंदू चेहरे की तलाश, चुनाव अगले सालपंजाब की सियासत : मुख्यमंत्री पद के लिए भाजपा ने शुरू की हिंदू चेहरे की तलाश, चुनाव अगले साल Punjab BJP HinduCM BJP4India BJP4India ज्यादा मेहनत न करे पंजाब में तो ही सही है । BJP4India Shri Varun Gandhi ji can also be a Hindu face.

सीमा विवाद: एनआईए ने मिजोरम में बड़ी मात्रा में बरामद विस्फोटक मामले की शुरू की जांचआतंकवाद रोधी एजेंसी ने इस मामले की जांच बृहस्पतिवार को अपने हाथ में ली थी और केंद्रीय गृहमंत्रालय द्वारा इस मामले की governorswaraj kya ye aapka peace hai? 26 saal gaye paani me. BharadwajSpeaks governor saab k 26 saal ka.peace ranj laaya. Itna hasla mila maano Pakistan se POK khaali karana ho.