Punjabcm, Navjot Sidhu, Sunil Jakhar, Punjab Cm, Captain Amarinder Singh, नवजोत सिद्धू, सुनील जाखड़, पंजाब, मुख्यमंत्री का पद, कैप्टन अमरिंदर सिंह, राहुल गांधी, कांग्रेस

Punjabcm, Navjot Sidhu

नवजोत सिद्धू या सुनील जाखड़, अब किसके सिर सजेगा पंजाब के CM का ताज?

नवजोत सिद्धू या सुनील जाखड़, अब किसके सिर सजेगा पंजाब के CM का ताज? #PunjabCM

19-09-2021 04:13:00

नवजोत सिद्धू या सुनील जाखड़ , अब किसके सिर सजेगा पंजाब के CM का ताज? PunjabCM

पंजाब (Punjab) में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu)और अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) के बीच लंबे अरसे से चल रही कलह की परिणति में केप्टन अमरिंदर सिंह का मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे हो गया. पंजाब कांग्रेस में चला घमासान क्या अब समाप्त हो जाएगा? पंजाब सरकार का नेतृत्व अब किसके हाथ में जाएगा, यह एक बड़ा सवाल है जिसका जवाब कांग्रेस आलाकमान ही दे सकता है. सूत्रों के मुताबिक अमरिंदर सिंह की जगह लेने वालों में प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ ( Sunil Jakhar ), पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रमुख प्रताप सिंह बाजवा और बेअंत सिंह के पोते और सांसद रवनीत सिंह बिट्टू तो दावेदार हैं ही, नवजोत सिंह सिद्धू भी इस दौड़ में शामिल हैं.

नई दिल्ली:  यह भी पढ़ेंइस बीच पंजाब के कांग्रेस विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है. इस बैठक में 75 विधायक मौजूद हैं. बताया जाता है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह इस बैठक में शामिल नहीं हो रहे हैं. पार्टी द्वारा अमरिंदर सिंह और उनके प्रतिद्वंद्वी नवजोत सिंह सिद्धू के बीच सुलह कराने में कामयाब होने के हफ्तों बाद आज की बैठक पंजाब की कांग्रेस सरकार में नेतृत्व परिवर्तन का संकेत दे सकती है.    

यूपी में पुलिस ने 'चोरों को लूटा', चार पुलिसवाले गए जेल - BBC News हिंदी एनसीपी नेता नवाब मलिक ने NCB अधिकारी समीर वानखेड़े पर लगाए गंभीर आरोप - BBC Hindi भारत को टी-20 वर्ल्ड कप में कौन मान रहे हैं ख़िताब का प्रबल दावेदार - BBC News हिंदी

नवजोत सिंह सिद्धू और अमरिंदर सिंह के बीच विवाद समाप्त करने के लिए कांग्रेस आलाकमान ने पंजाब में जो शक्ति संतुलन का रास्ता अपनाया था उसके तहत नवजोत सिद्धू को प्रदेश कांग्रेस की बागडोर सौंप दी गई, लेकिन सुलह के लिए यह काफी नहीं हुआ और कलह घटने के बजाय बढ़ती गई. पंजाब कांग्रेस के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू काफी दिनों से तीखे तेवर अपनाए हुए हैं. उन्होंने पिछले माह अपने सलाहकारों से संबंधित विवादों को लेकर कांग्रेस हाईकमान को ही अल्‍टीमेटम दे डाला था. उन्होंने दो टूक कहा था कि यदि उन्‍हें फैसले लेने की आजादी नहीं दी गई तो वे किसी को नहीं बख्‍शेंगे. सिद्धू ने कहा था कि 'मैंने हाईकमान से फैसले लेने की इजाजत देने को कहा है. मैं सुनिश्चित करूंगा कि कांग्रेस राज्‍य में अगले दो दशक तक समृद्ध रहे. नहीं तो ईंट से ईंट बजा दूंगा.'  पंजाब में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं . 

अब चूंकि अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री का पद त्याग दिया है तो इस स्थिति में नवजोत सिंह सिद्धू मुख्यमंत्री पद की दावेदारी कर सकते हैं. दूसरी तरफ पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ हैं. वे भी कैप्टन अमरिंदर सिंह को सीएम पद से हटाने की मुहिम में शामिल रहे हैं. वे भी मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं. उन्होंने कांग्रेस विधायकों के दबाव के बीच पंजाब कांग्रेस इकाई में व्यवस्था बहाल करने के लिए निर्णायक कदम उठाने के लिए राहुल गांधी की सराहना की है.  headtopics.com

जाखड़ ने ट्वीट किया,"गॉर्डियन नॉट के इस पंजाबी वर्जन के लिए अलेक्जेंड्रिया के समाधान को अपनाने के लिए राहुल गांधी को बधाई. पंजाब कांग्रेस की गड़बड़ी को हल करने के इस साहसिक निर्णय ने न केवल कांग्रेस कार्यकर्ताओं को उत्साहित किया है, बल्कि अकालियों की रीढ़ को हिला दिया है." जाखड़ ने अपने ट्वीट में एक जटिल समस्या का वर्णन करने के लिए जिस उद्धरण का उपयोग किया वह द गॉर्डियन नॉट अलेक्जेंडर द ग्रेट के साथ जुड़े फ्रेजियन गोर्डियम की एक किंवदंती है. इसे अक्सर समस्या के दृष्टिकोण के लिए दृष्टिकोण ढूंढकर आसानी से हल की गई एक असाध्य समस्या के रूपक के रूप में उपयोग किया जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comनवजोत सिद्धू और सुनील जाखड़ के अलावा पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रमुख प्रताप सिंह बाजवा और बेअंत सिंह के पोते और सांसद रवनीत सिंह बिट्टू भी मुख्यमंत्री पद के दावेदार माने जा रहे हैं. कांग्रेस विधायक दल की बैठक में पंजाब के अगले मुख्यमंत्री का नाम तय होने की संभावना है.  Navjot SidhuSunil JakharPunjab CMटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

क्या कैप्टन अमरिंदर किसानों के साथ सरकार की ओर से मध्यस्थता करेंगे? देखें हल्ला बोल

कैप्टन का प्लान किसान! पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी सियासत को किसानों के रास्ते आगे बढ़ाने का मन बनाया है. कैप्टन ने अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान किया है लेकिन लिखा है कि अगर किसानों की समस्या का हल निकलता है तो वो बीजेपी के साथ गंठबंधन करेंगे. माना जा रहा है कि वो किसान समस्या को लेकर सरकार और किसानों के बीच मध्यस्थता करेंगे. कैप्टन ने अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है. साथ ही किसानों की समस्या का समाधान ढूंढने और बीजेपी के साथ गठबंधन की कवायद भी शुरु कर दी है. पंजाब के पूर्व सीएम ने ट्वीट किया कि अगर किसानों के हित में किसान आंदोलन का हल निकाला जाता है तो 2022 में पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए सिटिंग अरेंजमेंट को लेकर उम्मीद की जा सकती है. तो क्या बीजेपी कैप्टन अमरिंदर सिंह की मदद से किसान आंदोलन का हल ढूंढने की कोशिश कर रही है. क्या कैप्टन अमरिंदर किसानों के साथ सरकार की ओर से मध्यस्थता करेंगे. देखें हल्ला बोल का ये एपिसोड.

हम तो डूबेगें सनम तुमको लेकर डूबेगें Sunil jakhar Siddu sir, ko taj de digie vo dil ke ache hain dil se sochte hain Anybody but not Sidhu as Punjab CM, Sidhu aims only money and entertainment, being Minister,a very honoured position,he showed little respect for the chair, being regular part of Kapil Sharma Show, praising beauty of heroines with his shayri ignoring duties as Minister.

Anyone is acceptable. people were fed up with Captain way of working. Public wants results. Punjab needs good governance Sidhu because punjab needs anergic leader. Captain and badal mixgame harmful for सुनील जाखड़ Sunil ji ko bana chahiye If jhakar is made c m,it wil give sad sn upper hand in next elections,as all Sikhs mat take it as a broken promise by Congress after partition,a big risk

👑 but only for 3 months....

पार्टी में कलह के बाद पंजाब के 'कैप्टन' अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। दिन भर चली बैठकों के बाद उन्होंने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को इस्तीफा सौंपा।

Congress, do what you can! AAP is only hope for the people of Punjab now. They have prepared their mind to bring an honest and clear intention AAP govt in punjab in 2022. ऐसे ही ImranKhan और बाजवा की छाती से जा कर चिपका था। सिद्धू तो नहीं बन सकता है बाकी कोई भी बन जाये Appears one of them worked as double agent and stabbed Capt in his back. Saddened nationalist Capt could not match them. Capt during his visit to Canada instead of playing to gallery earned displeasure of anti national elements there. Capt has spine to say a spade a spade

Poshan_2_0_employees_extension Respected madam smritiirani ji We are eagerly waiting for poshan 2.0 guideline we are NNM staffs(BPMU & DPMU), in this covid situation this job is our only hope. So plz save us madam PMOIndia narendramodi SavePOSHANstaff SaveourJobs दोनो इस लायक नही जीनके पती सेकंड हैंड,जिनके नेता सेंकड हैंड,जीनकी ULLU MEDIA सेंकड हैंड,जीनकी प्रेमिका सेंकड हैंड जो खुद सेंकड हैंड,उनके नशीब मै सिल पैक कांहा!

बेशर्म लोग सत्ता की खिंचातानी में व्यस्त हैं और खुश हो रहे हैं और बात देश हित और देशभक्ति की करते हैं। 😎 दोस्तो एक बार video जरूर देखें और पसंद आए तो like share subscribe jarur करे बहुत मेहनत की है 🙏

पंजाब के CM अमरिंदर सिंह का इस्तीफा, दिखाए 'बागी' तेवर, कहा- मेरी बेइज्जती की गईमैंने सुबह सोनिया गांधी को बता दिया था कि मैं इस्तीफा दे रहा हूं : अमरिंदर सिंह Congress PunjabCM PunjabPolitics PunjabCongressCrisis AmarinderSingh Sidhu MLAS NavjotSinghSidhu Punjab PunjabCabinet INCIndia sherryontopp capt_amarinder CMOPb

Jammu: ऊधमपुर के नैनसू गांव में दो युवक नदी में बहे, पुलिस-एसडीआरएफ तलाश में जुटीस्थानीय पुलिस और एसडीआरएफ की टीमों ने घटनास्थल पर पहुंचकर तलाशी अभियान छेड़ दिया है। फिलहाल अभी तक नदी में बहे दोनों युवकों की तलाशी जारी है। दिलीप कुमार और वरुण कुमार नामक दोनों युवक बडयाली पंचायत के रहने वाले बताये जा रहे हैं।

पंजाब कांग्रेस में घमासान: चुनाव से चार माह पहले कांग्रेस के असरदार सरदार ने छोड़ा ‘हाथ’ पंजाब कांग्रेस में घमासान: चुनाव से चार माह पहले कांग्रेस के असरदार सरदार ने छोड़ा ‘हाथ’ Punjab Politics Risk INCIndia AmrinderSingh CongressCrisis RahulGandhi AmbikaSoni kcvenugopalmp INCIndia RahulGandhi kcvenugopalmp A Hindu Sunil Jhakhar should be elected as the Chief Minister of Punjab to get rid communal and gurudwara politics of Punjab and give it secular, liberal, tolerant, multicultural, inclusive and peaceful state. Shame for democracy and secularism, no Hindu has been CM of Punjab. INCIndia RahulGandhi kcvenugopalmp पिद्दु की कुर्सी भूख ने पंजाब कांग्रेस को लगभग खत्म कर दिया आप लोग ये चुनाव के बाद देख लीजियेगा

राजनाथ सिंह बोले- बंटवारे के वक्त बरती जाती थोड़ी सावधानी तो करतारपुर भारत में होतारक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक कार्यक्रम में कहा कि आज करतारपुर साहिब पाकिस्तान में नहीं भारत में होता, यदि बंटवारे के वक्त थोड़ी सावधानी बरती गई होती। उन्होंने कहा कि अतीत में सिख समुदाय को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा है। करतारपुर भारत का नही हुआ तो नेहरू गाँधी पर fir कर दीजिए कोर्ट के चक्कर कटवाये! परंतु 15 लाख प्रति व्यक्ति के खाते में नही आये कला धन नही है,2 करोड़ प्रतिवर्ष (14 करोड)रोजगार नही दिया, 100 स्मार्ट सिटी, अच्छे दिन,30₹पेट्रोल,₹300गैस सिलेंडर,किसान की आय दुगनी कहा है ? Natak na karo kaam karo. Tumhara yeh natak har election me nhi chalega

बंटवारे के समय बरती जाती सावधानी तो भारत में होता करतारपुर साहिब: राजनाथ सिंहकेंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम में कहा कि करतारपुर साहिब पाकिस्तान में नहीं, बल्कि भारत में हो सकता था, यदि थोड़ी सी सावधानी बरती जाती. उन्होंने कहा कि विभाजन के समय सिखों को काफी नुकसान उठाना पड़ा. अगर बंटवारे के बाद थोड़ी सी सावधानी बरती जाती तो बंटवारे की जड़ RSS हमेशा के लिए समाप्त हो जाती...🤔 तू पैदा होता तो सयाद ऐसा होता लेकिन आपके पूर्वज तो थे RSS वो अपना ज्ञान किऊ नही दिए उन्होंने तो 565 को इकठ्ठा कर दिया आप तो 2 को नही कर पाए।pok:LOC