नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव की 'लाल टोपी' को क्यों बताया रेड अलर्ट - BBC News हिंदी

उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव की 'लाल टोपी' को क्यों बताया रेड अलर्ट

07-12-2021 17:26:00

उत्तर प्रदेश: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव की 'लाल टोपी' को क्यों बताया रेड अलर्ट

समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव बीजेपी को यूपी की सत्ता से बाहर करने का दावा कर रहे हैं. क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी भी समाजवादी पार्टी से ही मुख्य मुक़ाबला मान रहे हैं, पढ़िए.

'वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र सिंह को भी लगता है कि बीजेपी ये मान चुकी है इस बार अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी से सीधा मुक़ाबला होगा.राजेंद्र सिंह कहते हैं, "अगर आप लगातार देख रहे हों तो समझ पाएंगे कि (मुख्यमंत्री) योगी आदित्यनाथ हर जगह अखिलेश यादव और उनके गठबंधन पर हमला कर रहे हैं. ऐसा लगता है कि बीजेपी ने मान लिया है कि इन्हीं के साथ मुक़ाबला होना है."

SAvIND: एल्गार पर थर्ड अंपायर के फ़ैसले से नाराज़ हुए कोहली, पंत और अश्विन, क्या कहा? - BBC Hindi

राजेंद्र सिंह ये भी कहते हैं कि उन्हें लगता है कि बीजेपी को समाजवादी पार्टी पर हमला बोलने में फ़ायदा भी नज़र आता है. इससे उनके 'समर्थकों के एकजुट होने की संभावना बढ़ती है.'वो कहते हैं, "पहले समाजवादी का जो आधार रहा है, उनमें अल्पसंख्यक समुदाय यानी मुसलमान अहम रहे हैं. मुझे लगता है कि इसी वजह से (बीजेपी के नेता) कैराना और मुजफ़्फ़रनगर दंगे के मामले उठाते हैं. शायद उन्हें लगता है कि इससे हिंदू वोट साथ आएंगे. "

राजेंद्र सिंह ये भी कहते हैं कि किसान आंदोलन के अलावा समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के गठबंधन ने भी बीजेपी की चिंता बढ़ा दी है.वो कहते हैं, " इस गठबंधन के पक्ष में दो तीन फ़ैक्टर हैं. अब अजित सिंह दुनिया में नहीं हैं और इसे लेकर इस बार पश्चिमी यूपी में कुछ सहानुभूति है. अजित सिंह के अंतिम चुनाव (2019 लोकसभा चुनाव) मामूली वोटों से हारने को लेकर भी सहानुभूति है. फिर राष्ट्रीय लोकदल ने भाईचारा सम्मेलन बड़ी संख्या में किए हैं. इसमें जाट और मुसलमानों के अलावा जातियां भी आई हैं. " headtopics.com

वो कहते हैं कि ये दोनों दल प्रतीकों का इस्तेमाल भी कर रहे हैं. राम मनोहर लोहिया, चौधरी चरण सिंह के साथ बीआर आंबेडकर भी बात कर रहे हैं. इसका फ़ायदा भी मिल सकता है.2014, 2017 और 2019 के चुनावों में बीजेपी ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बड़ी कामयाबी हासिल की. राजेंद्र सिंह कहते हैं कि अगर समाजवादी पार्टी-राष्ट्रीय लोकदल गठबंधन की ताक़त बढ़ेगी तो बीजेपी की ही मुश्किल बढ़ेगी.

महात्मा गांधी को गाली देने वाले को जमानत नहीं: रायपुर की कोर्ट ने कहा- 25 जनवरी तक जेल में ही रहेगा कालीचरण

वो कहते हैं कि मेरठ में मंगलवार को हुई रैली कुछ हद तक लोगों के मूड का संकेत देती है.राजेंद्र सिंह ने कहा, " रैली में भीड़ अच्छी थी और लोग उत्साह में थे. भीड़ के दो पैमाने हैं. एक तो ये है कि भीड़ आप ले आओ भर के ट्रैक्टर ट्रॉलियों या बसों में और वो नीरस भीड़ हो. एक वो भीड़ होती है जो रेस्पॉन्स देती है. यहां नेताओं को ज़बरदस्त रेस्पॉन्स मिल रहा था. "

राजनीतिक विश्लेषकों की राय है कि ये संकेत और संदेश बीजेपी के आला नेताओं तक भी पहुंच रहे हैं और वो उसी आधार पर अपनी रणनीति बदल और बना रहे हैं.मायावती की ब्राह्मणों और मुसलमानों को साधने की कोशिशबीएसपी और कांग्रेसलेकिन, इस सियासी लड़ाई में उत्तर प्रदेश की दो अन्य प्रमुख पार्टियां बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस कहां हैं? समाजवादी पार्टी ने 2017 में कांग्रेस और 2019 में बहुजन समाज पार्टी के साथ गठजोड़ किया था, लेकिन दोनों ही बार गठबंधन के प्रयोग कामयाब नहीं हुए. चुनाव के बाद रास्ते अलग हो गए.

हाल में, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस ने बीजेपी के अलावा समाजवादी पार्टी पर भी तीखे हमले किए हैं और समाजवादी पार्टी ने भी दोनों दलों को निशाने पर लिया है. समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने तो हाल में दावा किया कि कांग्रेस आने वाले चुनाव में कोई सीट नहीं जीत सकेगी. headtopics.com

बड़ी डील की तैयारी: BPCL को खरीदने के लिए वेदांता रेस में, 90 हजार करोड़ की लगा सकती है बोली

इसके जवाब में मंगलवार को कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने कहा, " हो सकता है कि अखिलेश यादव ज्योतिषी हों जो उन्हें लगता है कि कांग्रेस को ज़ीरो सीट मिलेगी. देखते हैं कि क्या होता है?"वरिष्ठ पत्रकार के विक्रम राव को भी यूपी में फ़िलहाल कांग्रेस की चुनौती में ख़ास दम नहीं दिखता है. हालांकि, वो बहुजन समाज पार्टी को ख़ारिज करने को तैयार नहीं हैं.

राव कहते हैं, "रेस में जैसे फ़िसड्डी आते हैं, वैसे ही कांग्रेस है. बीएसपी को तीसरे नंबर पर रहना चाहिए. दो हफ़्ते बाद सही तस्वीर साफ़ हो पाएगी."2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने सात और बीएसपी ने 19 सीटें हासिल की थीं.वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र सिंह भी बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस की स्थिति मुश्किल में मान रहे हैं.

वो कहते हैं, "बीएसपी थोड़ा संकट में दिखती है. कांग्रेस के साथ कुछ लोगों की हमदर्दी ज़रूर है लेकिन उनके साथ वोट नहीं दिखाई दे रहे हैं. "राजनीतिक विश्लेषक ये भी कहते हैं कि उत्तर प्रदेश के चुनाव में अभी कुछ महीने का वक़्त बाकी है और राजनीति में स्थितियां बदलने के लिए कई बार इतना समय बहुत होता है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के मौजूदा रूख से साफ़ है कि विधानसभा चुनाव के लिए वो अपना मुख्य प्रतिद्वंद्वी शायद चुन चुके हैं.

ये भी पढ़ें

और पढो: BBC News Hindi »

सिद्धू से कितना नुक़सान ? चरणजीत सिंह चन्नी EXCLUSIVE, देखिए #DNAWeekendEdition LIVE Sudhir Chaudhary के साथ

गन्दे इंसान को सबकुछ गन्दा ही नजर आता है अखिलेश यादव की टोपी से आप का भयभीत होना जायज है मोदी जी क्योँकि ये आप का और बीजेपी का पश्चिम बंगाल से भी बुरा हाल करेगा उत्तर प्रदेश में... अब उत्तर प्रदेश की जनता केवल ''Peace'' चाहती है न कि साम्प्रदायिकता में चूर गुंडों का आतंक. सत्ता जाती दिखाई दे रही तो उल जलूल बकने लगे हैं

Kyunki unke paas batane k liye koi aor baat nahi hogi... Corona time kaise yaad rahega लाल टोपी वालो ने देश को बर्बाद कर दिया ! इंसानों से नफरत फैलाने के बाद अब रंगों से भी नफरत सिखा रहे हैं प्रधानमंत्री जी। लेकिन एक बात याद रखना इस बार उत्तर प्रदेश के लोग किसी भी झांसा राम के झांसे में नहीं आने वाले जाहिल जाहिल अंध भक्तों को कौन समझाए की लाल टोपी सुभाष चंद्र बोस के जैसे हजारों लाखों क्रांतिकारियों ने पहन कर देश को आजाद करवाया

अब यूपी के स्टेशन पर लाल ट्रेन आने वाली है ।आउटर पर खड़े रहो । Sar Lal topi red alert hai to Kali topi kya hai Ye Shobha nhi deta pm lo🙈 BJP waalon ko satta se bahar karo

UP विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव का समर्थन करेंगी ममता बनर्जी, अगले महीने PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भरेंगी हुंकारउत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) के समर्थन का इरादा जाहिर कर चुकी तृणमूल कांग्रेस अब अगले महीने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में पार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी के दौरे की तैयारी में जुटी है।

Bengal pattern verbal uncivilised attacks will yield similar results in UP.Just wait patiently.Nation feels ashamed at the use of such filthy language by a man sitting in PM chair. संतरों के लिए रेड अलर्ट हैं Rajasthan me Junior Engineer Civil wali exam me hue Farziwade ke bare me aap likhte kyu nhi ho... 3 time selection lene Ke liye bhi 100/109 cutoff kase chla gya... Jo padne wale students the Jo IES ka mains bhi de chuke hai unke bhi No 100 se niche the to selection kiska hua hai

रेड अलर्ट यानी खतरा मोदी को समझ में आ गया है भगवा रंग लाल टोपी को सुमानी समझ बैठा।रेड अलर्ट जारी हुआ। प्रियंका गांधी अखिलेश और जयंत की रैलियों में गजब की भीड उमड रही है। इस पर कई राज्यों की नजर टिकी हुई है। समय से पहले ही प्रधानमंत्री का रेड अलर्ट बोलना कहीं ना कहीं ये दिखाता है कि केंद्र सरकार के पास भी फीडबैक है इस बात का। आपको क्या लगता है?

R.s.s. मोहन भागवत जो संस्था है वह देश का खतरा है अखिलेश की टोपी अलर्ट नहीं बल्कि मोदी सरकार देश के लिए डेंजर है क्योंकि प्रधानमंत्री जी को ये मालूम है की लाल टोपी उनकी सरकार के लिए खतरा है इसी लाल टोपी वालों ने मोदी और योगी की नींद हराम कर दी है 😂

PM Modi in Gorakhpur: पीएम मोदी ने साधा अखिलेश पर निशाना, बोले- लाल टोपी वालों को सिर्फ लाल बत्ती से मतलब हैPM Modi in Gorakhpur: पीएम मोदी ने साधा अखिलेश पर निशाना, बोले- लाल टोपी वालों को सिर्फ लाल बत्ती से मतलब है PMModi Gorakhpur BJP SamajwadiParty

भाषण देने में अव्वल, रोज़गार देने में फिसड्डी अब यूपी मांगे अखिलेश yadavakhilesh Kuch bhi kehne ko nahi raha ab to yahi sahi ये सूतियाँ कुछ नहीं किया अब उलुल ज़लुल बातें कर रहा है सफेद दाढ़ी नफरत की प्रतीक बन चुकी है 😜🤣🤣 विकास यात्रा नगण्य है इसलिए जालीदार टोपी & लाल टोपी पर बयानों से जनता को भटकाया जा रहा है

पीएम की इस भाषा से 'पीएम' का उच्चारण उचित नहीं है l सही शब्द होगा कि बीजेपी नेता नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव की 'लाल टोपी'.........? उचित होगा कि मीडिया चैनल्स जब भी मोदी जी की चुनावी रैली हो तो 'पीएम' शब्द की गरिमा बचाते हुए 'बीजेपी नेता नरेंद्र मोदी' का उच्चारण करे l aajtak Didi o didi... Now Laal topi ... Iss baar BJP ko haar ki maar ... Yeh faltu jhumley se he chor haar jatey hai ...they deserve 24 he sota rehta Jo hai

अल्लाह के वास्ते चुनाव में BJP को हराने के लिए वोट करें मुसलमान... दोबारा सरकार आई तो हम दो शादी नहीं कर पाएंगे- सपा सांसद दाढ़ी घट गई लेकिन महंगाई और बेरोजगारी नहीं घटी और ना ही क्रोना की रफ्तार इस इसलिए महोदय टोपी से ध्यान हटाओ अपना Dulha seems to be doing Kanyadaan 😂

अखिलेश और जयंत का 'यूपी बदलो' का नारा मोदी-योगी के ख़िलाफ़ कितना चलेगा - BBC News हिंदीअखिलेश यादव और जयंत सिंह ने मेरठ की रैली में बड़ी भीड़ जुटाकर ताक़त दिखाई और कहा कि उत्तर प्रदेश में बदलाव आना तय है. वहीं गोरखपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समाजवादी पार्टी पर तीखा हमला किया. एक अच्छा काम बताओ जो इन दोनों ने यूपी के विकास और किसान के लिए किया हो एक ने केवल सैफई चमकाई और RLD जिसकी सरका उसी में मंत्री पद चाहिए बस। जनता ने सब को देखा है। टांय टांय फिस्स। 💯 कामयाब!! तय है बदलाव। बाइस में साईकिल।

Bhai unke liye to yhi h क्यों कि यह लाल टोपी इनके लिए खतरा बन गई है। लाल टोपी छोड़ो काली टोपी बाले बलात्कारी और बलात्कारियो के समर्थन मे रैलियाँ निकालने बाले भाजपाई सत्ता मे आने के बाद मासूम बच्चियों को अपना शिकार बनाएंगे और पोल खुलने के डर से बच्चियों को पेट्रोल डाल कर जलाएंगे बकि आतंकियों ने तो एसपी को भी नहीं छोड़ा

Ye aisa PM hai jo Desh pe musibat aate hi gayab ho jate hai aor Election aate hi apni bil se bahar nikal aate hai... Ab Toh Khud BJP Bol Rahi Hai Waha China Ghusa Bhi Hai Or Basa Bhi Hai Fenku Ji 🤬🤬 BJP_हटाओ_देश_बचायो NagalandFiring उत्तर प्रदेश हो या देश के लिए कौन रेड अलर्ट है? देश के लोग भी जनतें हैं? दुनिया को भी पता है?

Mujhe sanjh nahi ata ki mp to 18ghante kam karte hai to chunav rally karne ka time kahan se milta hai मोदी सर ने सही कहा है bjp की नींद उड़ा दी है ये लाल टोपी bjp के लिए खतरे की ही घंटी है। उन्हें मालूम है कि यदि अखिलेश 2022 में जीत गया तो 2024 में जनता bjp को मौका नहीं देगी Modi does not conduct himself like a mature political figure. It is immature and crass remarks

सुट बुट से सावधान

अपने सांसदों को मोदी ने चेताया, बोले- खुद को बदलिए नहीं तो हो जाएगा बदलावसंसद के शीतकालीन सत्र में यह भाजपा संसदीय दल की पहली बैठक थी। इस बैठक में पीएम मोदी सदन से गायब रहने वाले सांसदों पर खासे नाराज दिखे।

दोस्तो इस वीडियो को देखे क्या दाऊद इब्राहिम का टेलीफोन बिल भरते समाजवादी पार्टी का नेता धराया था.? क्या ISI के लिए जासूसी करते लाल टोपी वाला पकड़ा गया था.? क्या मुलायम सिंह यादव बिन बुलाए दोस्ती निभाने आतंकी देश पहुंच गए थे.? मोदीजी लल्लू न बनाएं.! जनता जानती है कि कौन पार्टी है जो आतंकियों का यार है.?

अभी से रेड अलर्ट दिखने लगा है विकास के नाम पे धोखेबाजों को अच्छा है तभी तो झोला उठा के भागने में टाइम नही लगेगा तो RSS की काली टोपी क्या है देश के लिए काला दिन, अंधकारपूर्ण भविष्य, घना अंधेरा...... yadavakhilesh ताकि जन जान सके प्रधानमंत्री होते भी वे आम नागरिक स्तर के बन प्रोटोकोल तोड़ भाषा धरते टोपी बाज

Pm Modi say right but he think wrong Akhilesh yadav red cap red alert for BJP in 2022 up election Bbc क्या आपने लाल टोपी वालों की गुंडागर्दी करते हुए वीडियो नहीं देखें हैं? सपा के कारनामों को उत्तरप्रदेश के निवासी अच्छी तरह जानते हैं👍 ये महोदय सिर्फ बक**दी ही कर सकते हैं,, पिछली बार स+र+ब का संधि विच्छेद 'शराब' बता रहे थे

भैंस जब पूँछ उठाये और मोदी जी जब अपना मुँह खोले तो समझ जाइए गोबर ही निकलेगा, बहुत बेशर्म प्रधान मंत्री है भाई ये

LIVE पीएम मोदी गोरखपुर दौरा: पीएम मोदी बोले- हमने यूरिया का गलत इस्तेमाल रोका, बंद पड़े कारखाने को फिर से खोलाPM Modi Gorakhpur visit प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के लोगों को 9600 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से बने एक एम्स (AIIMS) और एक उर्वरक संयंत्र सहित कई परियोजनाओं को समर्पित किया। narendramodi नालायक उसी काम को कामयाबी बताएगा जो काम ही ना हो ।

सही तो बोला है । बस बोलने में थोड़ी गलती कर गए लाल टोपी बीजेपी के लिए रेड अलर्ट है । पब्लिक के लिए नहीं।।।। Topi lal ho hara ho bullu ho nila ho pila ho safed ho ya kesariya ho matlab nahi topi pahna kaun hai ye zeyada zaruri hai aur us topi wale ki ahmiyat kya hai samne wale ke samne ye zaruri hai क्योकि 80%लाल टोपी वाले गुंडे होते है।ये इतने खतरनाक हैं कि पूर्वमुख्यमंत्री मायावती तक पर गलत इरादे से हमला कर चुके है।अभी एक लाल टोपी वाले नेता की वीडियो वायरल हो रही जिसमे वो एक पुलिस अधिकारी पर अपने सिर से हमला कर रहा।लोगो की जमीनें कब्जा करना इनके बाए हांथ का खेल होता ....

Are are aap galt samajh rahe ho ooh apne liyeh bola hai रेड अलर्ट ही तो काम करेगा इसलिए क्योंकि 2022 में बाबा जी का 2024 में आपका झोला उठने वाला है। Kiuki BJP ko Banabas jane padega. छत्रपति शिवाजी महाराज के लाल फेटे से मुगलो की भी फट जाया करती थी..

हल्द्वानी में होगी प्रधानमंत्री मोदी की पहली जनसभा, सीएम बोले-पीएम देंगे हजारों करोड़ की सौगातदेहरादून के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 24 दिसंबर को जनसभा हल्द्वानी में होगी। खटीमा में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यह स्पष्ट किया। साथ ही जनता को हल्द्वानी आने के लिए आमंत्रण भी दिया। हल्द्वानी में पीएम की यह पहली सभा होगी।

छत्रपती शिवाजी महाराजांबद्दल पंडित नेहरू आपल्या डिस्कवरी ऑफ इंडिया (भारताचा शोध) या ग्रंथात म्हणतात : 'छत्रपती शिवाजी प्रतिहल्ला करणाऱ्या हिंदू राष्ट्रवादाचे प्रतीक होते. जुन्या इतिहासातून त्यांनी प्रेरणा मिळविली. महाराज अत्यंत धैर्यशील आणि उत्कृष्ट नेतृत्वगुण असणारे नेते होते. 1 मोदी योगी अपने माथे का लाल चंदन भूल गए उनके दिमाग में सिर्फ दूसरों के माथे का लाल टोपी ही आ रहा है क्योंकी यह उनके 2022 और 2024 के लिए रेड अलर्ट है।

India ki bhahoth he gandi aur nikami sarkar ke liye red alert hai ye lal topi क्योंकि सड़कछाप टपोरी pm डरा हुआ है क्रांतिकारी बदलाव की बयार से Modi ke liye Akhilesh Red Alert -- ea baat 100% sahi hai . Modi ka ea Dar Aachchha laga ! बुद्धि भ्रस्ट हो गाई है बुड़ाऊं की 😁 Sari base rally me thi aam janta paresaan

इनकी छिछोरी जुमलेबाजी की वजह से ही बंगाल में भाजपा चुनाव हारी। याब ये योगी बाबा की नैया डुबाकर रहेंगे🤔 क्योंकि प्रधानमंत्री के जाने का वक्त आ गया है इसलिए मूर्खतापूर्ण बयान दे रहे हैं क्यों की डर गये है

Yh bhi jumla hai kya प्रधानमंत्री कहकर गरिमा न गिरावें। प्रचारमंत्री कहिए प्रचारमंत्री अभी से फटने लगी😁😆 Ulta chorr kutwal ko daante 😆😆😆 Bjp ke liye RedAlert ओर काली टोपी !? Kui ki sarkar savdhan ho jaye new government ane wali h Kyunki wo inhe haraane waale he inke ache din laane waale he