क्रिकेट विश्व कप 2019, आईसीसी क्रिकेट विश्व कप, महेंद्र सिंह धोनी, Ms Dhoni, Gloves, गलब्स, Army İnsignia, India Vs Australia, भारत Vs ऑस्ट्रेलिया, Bccı, Icc

क्रिकेट विश्व कप 2019, आईसीसी क्रिकेट विश्व कप

धोनी के साथ खड़ी है टीम इंडिया, क्या आज सेना के चिन्ह वाला ग्लव्स पहनेंगे माही?

धोनी के साथ खड़ी है टीम इंडिया, क्या आज सेना के चिन्ह वाला ग्लव्स पहनेंगे माही?

9.6.2019

धोनी के साथ खड़ी है टीम इंडिया, क्या आज सेना के चिन्ह वाला ग्लव्स पहनेंगे माही?

भारतीय टीम कैंप की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने कहा कि ऐसे में जबकि सेना का चिन्ह पहनने या नहीं पहनने का फैसला अब पूरी तरह धोनी पर आ गया है, साथियों ने कहा है कि अगर वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह चिन्ह पहनकर मैदान में उतरेंगे तो वे उनका साथ देंगे.

सूत्र ने कहा, 'फील्डिंग के दौरान कोई और सदस्य दस्ताने नहीं पहनता. ऐसे में टीम का हर सदस्य ऐसा नहीं कर रहा है. दूसरा, टीम का कोई और सदस्य सेना में मानद पद धारण नहीं करता और इसी कारण कोई और इस तरह का चिन्ह उपयोग में नहीं लाता. आईसीसी को अभी इन बातों का जवाब देना है. भारतीय टीम उसकी सभी दलीलों से संतुष्ट नहीं है.'

और पढो: Zee News Hindi

We all with MSD हाथों में जब धोनी की पर ने उस समय खिलाड़ी ने भी उसे पहना किया टीम का कोच कहा था की जानकारी में है या नहीं गलती किससे हुई यह जानकारी तो पता नहीं पर टीम इंडिया के खिलाड़ी धोनी ग्लव्स नहीं पहना था यह उनकी समझदारी होती है क्योंकि आप टीम इंडिया के कप्तान रह चुके हैं एक भारतीय है Yas भारत के कारण icc जैसी संस्था हैं, न कि icc के कारण भारत। सरकार को मामले में हस्तक्षेप करने की जरूरत है,icc को उसकी ओकात।

Pahanna chahiye par mujhe NAHI lagta bcci ye karne degi. Bcci ko desh k sourya se jyada cricket se MATLAB HAI. बलिदान बैच की जगह बलिदान टैटू लगवा लेना चाहिए और हर दर्शक को बलिदान की t-shirt शर्ट पहनना चाहिए फिर देखते हैं आईसीसी क्या करता है कृश मूवी में जादू धूप में काम करता था dhoni धूप और अंधेरे दोनों में काम करता है

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम मैदान पर ही नमाज पढ़ सकती हैं इस पर आईसीसी को कोई ऐतराज नही है लेकिन लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्रसिंहधोनी के दस्ताने पर लगे सेना के बलिदान चिन्ह पर ऐतराज है।बीसीसीआई और सभी भारतीय धोनी के साथ मजबूती से खड़े रहें ये चिन्ह हमारे लिये वर्ल्डकप से भी बड़ा सम्मान है msdhoni .. सूपर्ह्यूमन अपने आप को छुपाकर रखेगा तभी उसी पॉवर काम करती है ये सोच बदलनी होगी .. सबको पता होने के बाद भी सूपर्ह्यूमन उसी तरह काम करती है

We and all our Indian peoples with MSD 👍👍👍👍 ..... Proud of you Sir 🙏Jay Hind Jay Bharat 🙏 Ye phattu log hai..nahi phenega..paise Milne bnd ho jaaynge urban naxal se...

महेंद्र सिंह धोनी को मिला गिरिराज सिंह का साथ, बताया सच्चा देशभक्तभारत के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरुआती मैच के दौरान धोनी के दस्तानों पर कृपाण वाला चिन्ह बना हुआ था, जो कि सेना के प्रतीक चिन्ह जैसा लग रहा था. जय हो। विजय हो। विश्वविजय हो। भारत माता की जय। धोनी के साथ हर देश भक्त खड़ा है एक सच्चा देश भक्त ही सच्चे देशभक्त की कदर कर सकता है जय श्री राम girirajsinghbjp बाबू 🙏

jihadi aatankwadio ko pich par namaz padha jasaktahe, lekin bharatiya khiladi apni sena ki sanman nehi karsakte, धोनी के साथ सारा देश है। यह माइंड गेम भी हो सकता है धोनी के विरुद्ध आईसीसी का। इसलिए आईसीसी की बातो का ध्यान न रखते हुए धोनी अपना काम करें शांत मन से। मेरा मानना है कि आईसीसी भी इंडिया को वर्ल्ड कप विजेता अभी से मान लिया है।

pich ke upar namaz padhne sai icc ko ko kui probulam nehi mera desh ka bcci andha he agar pich par namaz padha jasaktahe to deshi ki sena ka sanman knu nehi kar sakte indian team Pahne ya na pahne usse jyada important match jitna hai. लेफ्टिनेंट कर्नल महेन्द्र सिंह धोनी को अपने बाजू पर 'बलिदान' का टैटू बनवा लेना चाहिए फिर देखते उसे ICC कैसे हटवाती है।

भाई बाल तो सेना के चिन्ह में कटवा सकता है

सेना ने धोनी के दस्तानों को लेकर जारी विवाद से खुद को अलग किया, कहा- यह निजी निर्णय महेंद्र सिंह धोनी के आईसीसी विश्व कप के दौरान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच के दौरान ‘बलिदान चिन्ह’ को लेकर उठे विवाद से भारतीय सेना ने खुद को अलग करते हुए इसे इस विकेटकीपर बल्लेबाज का ‘निजी निर्णय’ करार दिया है. जीओसी इन सी साउथ वेस्टर्न कमान लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मैथसन यहां भारतीय सैन्य अकादमी (आइएमए) में पासिंग आउट परेड का निरीक्षण करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘अपने दस्तानों पर बलिदान चिन्ह का उपयोग करना धोनी का निजी निर्णय है. इससे सेना का कोई लेना देना नहीं है’. उन्होंने कहा कि आइसीसी इस संबंध में निर्णय लेने के लिये स्वतंत्र है. बलिदान सेना की पैरोशूट रेजीमेंट की स्पेशल फोर्स का प्रतीक चिन्ह है. दर्द इतना क्यों

Mahendra Singh Dhoni। विनोद राय का बड़ा बयान, World Cup में बलिदान बैज के ग्लव्स पहनकर उतरेंगे Dhoniलंदन। अब यह प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है कि 9 जून को ओवल के मैदान में जब टीम इंडिया विश्व कप में अपना दूसरा मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलने मैदान पर उतरेगी तब क्या महेंद्र सिंह धोनी के दस्तानों पर वही पुराना चिन्ह होगा? या वे नए दस्तानों के साथ नजर आएंगे? शुक्रवार देर शाम यह साफ हो गया है कि धोनी अपने दस्ताने नहीं बदलेंगे। उनके दस्तानों पर भारतीय सेना का 'कृपाण' वाला चिन्ह कायम रहेगा।

कैसे बनते हैं धोनी के स्पेशल ग्लव्स, क्यों चढ़ाई जाती है चमड़े की मोटी परत?दस्ताने पर घमासान: SG कंपनी से बनकर गए थे धोनी के ग्लव्स, तीन सप्ताह पहले हुए थे डिलीवर WorldCup2019 MSDhoni BaalidanBatch

धोनी के ग्लव्स विवाद पर रोहित शर्मा बोले- देखते हैं कल क्या होता है?टीम इंडिया के उप कप्तान रोहित शर्मा को धोनी के ग्लव्स विवाद के बारे में कोई जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर वह कुछ नहीं कहना चाहते हैं. उनका फोकस गेम पर है. When God Sachin digs up mud from ball with nails, ICC says, digging up mud from ball with nails is called ball tempering but BCCI don't cared for ICC Dhoni is not wearing uniform I will support India if they boycott CWC19 BalidanBadge DhoniKeepTheGlove IndiaStandsWithDhoni बहुत बढ़िया! टीम इंडिया का पूरा ध्यान खेल है Ye bhi tau galat hi hai

धोनी के समर्थन में BCCI, कहा- ICC से अनुमति का किया है आग्रहWorld Cup 2019: महेंद्र सिंह धोनी के ग्लव्स पर लगे बलिदान चिह्न के विवाद में बीसीसीआई ने भारतीय विकेटकीपर का समर्थन किया है। सीओए के अध्यक्ष विनोद राय ने कहा कि हम आईसीसी से इसके लिए अनुमति लेंगे।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

09 जून 2019, रविवार समाचार

पिछली खबर

VIDEO: ट्रक में लगी आग और होने लगे सिलसिलेवार धमाके, थर्रा गया पूरा इलाका

अगली खबर

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए 'मिशन 250' में जुटी बीजेपी, इन दो रणनीतियों पर कर रही है काम-Navbharat Times
पिछली खबर अगली खबर