China, Nepal, Land, Dispute, Nepal China News, Nepal China Border Dispute, Pm Deuba, Kathmandu News, China News, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

China, Nepal

धोखेबाज ड्रैगन: चीन ने अब नेपाल की जमीन पर किया कब्जा, पीएम देउबा ने विवाद सुलझाने को बनाई कमेटी

चीन भले ही खुद को काठमांडो का सदाबहार दोस्त बताता हो मगर वह उसे भी धोखा देने से बाज नहीं आया। रिपोर्ट के मुताबिक चीन

16-09-2021 00:45:00

धोखेबाज ड्रैगन: चीन ने अब नेपाल की जमीन पर किया कब्जा, पीएम देउबा ने विवाद सुलझाने को बनाई कमेटी China Nepal Land Dispute

चीन भले ही खुद को काठमांडो का सदाबहार दोस्त बताता हो मगर वह उसे भी धोखा देने से बाज नहीं आया। रिपोर्ट के मुताबिक चीन

हालांकि नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली चीन की ओर से नेपाल की जमीन हड़पने की रिपोर्ट को खारिज करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेपाल का चीन के साथ कोई सीमा विवाद नहीं है।दरअसल, हाल ही में नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने चीन के साथ सीमा विवाद को सुलझाने के लिए पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी हुमला जिले के लिमि लेपचा से नामखा के हिल्सा तक नेपाल और चीन के बीच सीमा विवाद का अध्ययन करेगी।स्थानीय नागरिक लगातार यहां चीन की ओर से नेपाल की भूमि के अतिक्रमण का दावा कर रहे हैं।

महंगे पेट्रोल पर प्रियंका गांधी का तंज, हवाई चप्पल वालों का सड़क पर सफर भी मुश्किल Akshay Kumar की फिल्म के लिए एक बार फिर राम अवतार धारण करेंगे Arun Govil Congress नेता सैफुद्दीन ने संवाद को बताया Kashmir मसले का हल, Sudhanshu Trivedi ने द‍िया ये जवाब

नेपाल की सीमा के दो किलोमीटर भीतर बनाईं इमारतेंयह मामला उस समय प्रकाश में आया जब स्थानीय गांव परिषद के अध्यक्ष विष्णु बहादुर लामा क्षेत्र का दौरा करने गए। उन्होंने देखा कि चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) ने नेपाल की सीमा के करीब दो किलोमीटर भीतर नई इमारतें बनाई हैं।

सूचना मिलने पर हुमला के सहायक मुख्य जिला अधिकारी (सीडीओ) दलबहादुर हमाल ने मामले की जांच की। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में चीन की ओर से नेपाल की जमीन पर अतिक्रमण की पुष्टि की।अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पिलर संख्या 11,12 को भी बदलाइंटरनेशनल फोरम फॉर राइट्स एंड सिक्योरिटी (आईएफएफआरएएस) के मुताबिक नेपाल की जमीन पर अतिक्रमण की रिपोर्ट के बीच पूर्व मंत्री जीवन बहादुर शाही के नेतृत्व में 19 सदस्यों की टीम ने 11 दिनों तक क्षेत्र का निरीक्षण किया। headtopics.com

इस टीम में राजनेता, पत्रकार और सिविल सोसायटी के सदस्य थे। इस टीम ने पाया कि वहां चीन ने नेपाल की सीमा के भीतर कुछ इमारतें बनाई हैं और एकतरफा ढंग से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पिलर संख्या 11,12 को भी बदल दिया है।विस्तार ने नेपाल के हुमला जिले की जमीन पर पिछले साल कब्जा कर लिया। मजबूरन नेपाल सरकार ने बीजिंग के साथ सीमा मुद्दे को सुलझाने के लिए एक कमेटी का गठन किया है।

विज्ञापनहालांकि नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली चीन की ओर से नेपाल की जमीन हड़पने की रिपोर्ट को खारिज करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेपाल का चीन के साथ कोई सीमा विवाद नहीं है।दरअसल, हाल ही में नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने चीन के साथ सीमा विवाद को सुलझाने के लिए पांच सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। यह कमेटी हुमला जिले के लिमि लेपचा से नामखा के हिल्सा तक नेपाल और चीन के बीच सीमा विवाद का अध्ययन करेगी।स्थानीय नागरिक लगातार यहां चीन की ओर से नेपाल की भूमि के अतिक्रमण का दावा कर रहे हैं।

नेपाल की सीमा के दो किलोमीटर भीतर बनाईं इमारतेंयह मामला उस समय प्रकाश में आया जब स्थानीय गांव परिषद के अध्यक्ष विष्णु बहादुर लामा क्षेत्र का दौरा करने गए। उन्होंने देखा कि चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) ने नेपाल की सीमा के करीब दो किलोमीटर भीतर नई इमारतें बनाई हैं।

सूचना मिलने पर हुमला के सहायक मुख्य जिला अधिकारी (सीडीओ) दलबहादुर हमाल ने मामले की जांच की। उन्होंने अपनी रिपोर्ट में चीन की ओर से नेपाल की जमीन पर अतिक्रमण की पुष्टि की।अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पिलर संख्या 11,12 को भी बदलाइंटरनेशनल फोरम फॉर राइट्स एंड सिक्योरिटी (आईएफएफआरएएस) के मुताबिक नेपाल की जमीन पर अतिक्रमण की रिपोर्ट के बीच पूर्व मंत्री जीवन बहादुर शाही के नेतृत्व में 19 सदस्यों की टीम ने 11 दिनों तक क्षेत्र का निरीक्षण किया। headtopics.com

हाइपरसोनिक मिसाइल क्या हैं, जिन्हें लेकर चीन-अमेरिका कर रहे हैं दावे - BBC News हिंदी केरल में पिछले 24 घंटे में बारिश में आई कमी, मौसम विभाग का अब उत्‍तराखंड और वेस्‍ट यूपी को लेकर रेड अलर्ट पंजाब : दो लड़कियों को रौंदते निकल गई कार, CCTV फुटेज से पकड़ा गया आरोपी इंस्पेक्टर

इस टीम में राजनेता, पत्रकार और सिविल सोसायटी के सदस्य थे। इस टीम ने पाया कि वहां चीन ने नेपाल की सीमा के भीतर कुछ इमारतें बनाई हैं और एकतरफा ढंग से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पिलर संख्या 11,12 को भी बदल दिया है।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

India Today Conclave 2021: Taj Palace Hotel, New Delhi on 8th and 9th October

India Today Conclave 2021 - Check out the full details and schedule of India Today Conclave event to be held at Taj Palace Hotel, New Delhi on 8th and 9th October 2021.

जो बाइडेन की अध्यक्षता में 24 सितंबर को QUAD की मीटिंग, चीन को क्यों लगी मिर्ची?एक बार फिर चीन ने अपना विरोध जाहिर कर दिया है. चीन को हमेशा से ही दर्द रहा है कि उसे QUAD का हिस्सा नहीं बनाया गया. वहीं उसने पूरी दुनिया के सामने ये भी दिखाने की कोशिश है कि QUAD के जरिए उसके खिलाफ साजिश रची जाती है. अब जब फिर वो मीटिंग होने जा रही है तो चीन को मिर्ची लगी है.

Zomato के को-फाउंडर गौरव गुप्ता ने कंपनी को कहा अलविदा, जानें क्या है इसकी वजहऑनलाइन फूड डिलिवरी स्टार्टअप Zomato के को-फाउंडर गौरव गुप्ता ने कंपनी छोड़ दी है। उन्होंने Zomato के शेयरों की लिस्टिंग के बाद कंपनी को अलविदा कहा है। गुप्ता को वर्ष 2019 में कंपनी का को-फाउंडर नामित किया गया था। उस समय वह कंपनी के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर थे।

पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ने पत्रकारों पर हो रहे हमले को लेकर इस्लामाबाद पुलिस को लगाई फटकारपाकिस्तान में पत्रकारों पर हो रहे हमले को लेकर वहां की सुप्रीम कोर्ट ने इस्लामाबाद पुलिस को फटकार लगाई है। एक मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह टिप्पणी की। बता दें कि यहां पर पत्रकारों पर हमले की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं।

तिब्बत पर चीन की चाल: जिनपिंग ने तिब्बत में तैनात सैन्य बटालियन को सराहा, कहा- पांच साल में इस यूनिट ने बेहतरीन काम कियाचीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी उस बटालियन की तारीफ की है जो भारत से लगने वाली सीमा पर तैनात है। जिनपिंग ने एक लेटर में कहा कि इस बटालियन ने पांच साल में अपने काम को बेहतरीन तरीके से अंजाम दिया है। यह बटालियान तिब्बत और अरुणाचल के बीच किसी लोकेशन पर तैनात है। चीन के ऑफिशियल मीडिया ने इस बारे में जानकारी दी है। | Xi Jinping | Chinese President praised Tibet battalion bordering guard near Indian side

केंद्र से सुप्रीम कोर्ट ने कहा, कोरोना संक्रिमत के सुसाइड को भी कोविड मौत माना जाएकेंद्र ने अपने हलफनामे में कहा था कि भले ही रोगी की मृत्यु अस्पताल या फिर इन-पेशेंट सुविधा के तहत हुई हो. अगर कोई कोविड-19 मरीज, अस्पताल या इन-पेशेंट सुविधा में 30 दिनों से अधिक समय तक भर्ती रहता है और फिर उसकी मौत हो जाती है तो उसे भी कोविड-19 की मृत्यु के रूप में माना जाएगा.

अब जयराम दिल्ली तलब: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री को भाजपा हाईकमान ने बुलाया, चढ़ा सियासी पाराअब जयराम दिल्ली तलब: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री को भाजपा हाईकमान ने बुलाया, चढ़ा सियासी पारा JairamThakur jairamthakurbjp BJP4India INCIndia jairamthakurbjp BJP4India INCIndia Changing the CMs on the basis of non performance basis means no CM remains in BJP ruled states