Jharkhand, Judge Killed By Autorickshaw, Uttam Anand, झारखंड, उत्तम आनंद, जज को ऑटो ने मारी टक्कर

Jharkhand, Judge Killed By Autorickshaw

धनबाद में जिला जज उत्तम आनंद को ऑटो ने मारी टक्कर, मौके पर ही मौत वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बर

धनबाद में जिला जज उत्तम आनंद को ऑटो ने मारी टक्कर, मौके पर ही मौत

29-07-2021 09:22:00

धनबाद में जिला जज उत्तम आनंद को ऑटो ने मारी टक्कर, मौके पर ही मौत

\u091d\u093e\u0930\u0916\u0902\u0921 \u0915\u0947 \u0927\u0928\u092c\u093e\u0926 \u092e\u0947\u0902 \u0938\u0941\u092c\u0939 \u0915\u0940 \u0938\u0948\u0930 \u092a\u0930 \u0928\u093f\u0915\u0932\u0947 \u091c\u093c\u093f\u0932\u093e \u0914\u0930 \u0938\u0924\u094d\u0930 \u0928\u094d\u092f\u093e\u092f\u093e\u0927\u0940\u0936 \u0909\u0924\u094d\u0924\u092e \u0906\u0928\u0902\u0926 \u0915\u0940 \u092c\u0941\u0927\u0935\u093e\u0930 \u0938\u0941\u092c\u0939 \u090f\u0915 \u0911\u091f\u094b \u0915\u0940 \u091f\u0915\u094d\u0915\u0930 \u092e\u0947\u0902 \u092e\u094c\u0924 \u0939\u094b \u0917\u0908. \u0936\u0941\u0930\u0941\u0906\u0924 \u092e\u0947\u0902 \u0932\u0917\u093e \u0915\u093f \u092f\u0947 \u090f\u0915 \u0939\u093e\u0926\u0938\u093e \u0939\u0948 \u0932\u0947\u0915\u093f\u0928 \u0918\u091f\u0928\u093e \u0915\u093e CCTV \u092b\u093c\u0941\u091f\u0947\u091c \u0938\u093e\u092e\u0928\u0947 \u0906\u0928\u0947 \u0915\u0947 \u092c\u093e\u0926 \u092e\u093e\u092e\u0932\u0947 \u0915\u094b \u0939\u0924\u094d\u092f\u093e \u0915\u0947 \u090f\u0902\u0917\u0932 \u0938\u0947 \u092d\u0940 \u0926\u0947\u0916\u093e \u091c\u093e \u0930\u0939\u093e \u0939\u0948. \u092b\u093c\u0941\u091f\u0947\u091c \u092e\u0947\u0902 \u0926\u0947\u0916\u093e \u091c\u093e \u0938\u0915\u0924\u093e \u0939\u0948 \u0915\u093f \u0938\u0921\u093c\u0915 \u0915\u0947 \u090f\u0915\u0926\u092e \u0915\u093f\u0928\u093e\u0930\u0947 \u0938\u0947 \u091c\u093e \u0930\u0939\u0947 \u091c\u091c \u0915\u094b \u0911\u091f\u094b \u0928\u0947 \u092a\u0940\u091b\u0947 \u0938\u0947 \u091f\u0915\u094d\u0915\u0930 \u092e\u093e\u0930 \u0926\u0940 \u0914\u0930 \u092b\u093c\u0930\u093e\u0930 \u0939\u094b \u0917\u092f\u093e.\r\n(\u091a\u0947\u0924\u093e\u0935\u0928\u0940: \u0935\u0940\u0921\u093f\u092f\u094b \u092e\u0947\u0902 \u0926\u093f\u0916\u093e\u090f \u0917\u090f \u091a\u093f\u0924\u094d\u0930 \u0935\u093f\u091a\u0932\u093f\u0924 \u0915\u0930\u0928\u0947 \u0935\u093e\u0932\u0947 \u0939\u0948\u0902.)

 |धनबाद में जिला जज उत्तम आनंद को ऑटो ने मारी टक्कर, मौके पर ही मौतप्रकाशित: जुलाई 29, 2021 09:12 AM IST | अवधि: 4:04 Share और पढो: NDTVIndia »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

या तो यह बहुत ज्यादा ईमानदारी का सबब है या बहुत ज्यादा बेईमानी का साफ साफ दिखाई दे रहा है कि हत्या है मार दिया ढंगबघन वालों ने घटना झारखंड की है इसलिए ऐसी भयानक हत्या के बाद भी संविधान सुरक्षित है? ye gujrat model dhanbaad bhi pahonch gya ये टक्कर नही मारी हत्या की है। लेकिन वामपंथी मीडिया का चश्मा दूसरे किस्म का है। हरामखोरी की हद होती है

धनबाद में मॉर्निंग वॉक कर रहे जज को ऑटो ने मारी टक्कर, मौतधनबाद। झारखंड के धनबाद में मॉर्निंग वॉक कर रहे जिला और सत्र न्यायाधिश उत्तम आनंद को एक ऑटो ने टक्कर मार दी। इस घटना में जज की मौत हो गई।

झारखंड: धनबाद में ऑटो से टक्कर मारकर जज की हत्या, तीन संदिग्ध गिरफ्तार झारखंड : धनबाद में मार्निंग वॉक पर निकले जज की हत्या या मौत?, सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस कर रही जांच Jharkhand Dhanbad HemantSorenJMM HemantSorenJMM Loktantra ki hatya Congress chup

Jharkhand: गैंगस्टरों की जमानत ठुकराने वाले जज को ऑटो ने मारी टक्कर, हो गई मौत; 3 घंटे पहले ही चुराई गई थी गाड़ीजज उत्तम आनंद धनबाद शहर में गैंगस्टर अमन सिंह समेत 15 से ज्यादा माफियाओं का केस देख रहे थे और हाल ही में उन्होंने कई गैंगस्टर की जमानत याचिका ठुकराई थी. उनकी पत्नी ने अज्ञात के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है. जय हिन्द .. जस्टिस लोहया से प्रेरित है ।।।😡 हत्या की गई हैं

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : विपक्ष सरकार को काम नहीं करने दे रहा या सरकार विपक्ष का काम रोक रही वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बररवीश कुमार का प्राइम टाइम : विपक्ष सरकार को काम नहीं करने दे रहा या सरकार विपक्ष का काम रोक रही हिन्दी न्यूज़ वीडियो। एनडीटीवी खबर पर देखें समाचार वीडियो रवीश कुमार का प्राइम टाइम : विपक्ष सरकार को काम नहीं करने दे रहा या सरकार विपक्ष का काम रोक रही मंगलवार और बुधवार को लोकसभा और राज्यसभा में विपक्ष आक्रामक दिखा. मंगलवार को लोकसभा की कार्यवाही दस बार स्थगित करनी पड़ी और बुधवार को लोकसभा में पेपर फाड़ने की घटना हुई. राज्यसभा में भी विपक्ष इस बात को लेकर आक्रामक है कि सरकार स्थगन प्रस्ताव के तहत चर्चा कराए. अगर सरकार विपक्ष की मांग मान लेती और पेगासस जासूसी कांड पर चर्चा करा लेती तो विपक्ष को रोज़ रोज़ आक्रामक होने का मौका नहीं मिलता. स्थगन प्रस्ताव विपक्ष का अधिकार है. सरकार किसी भी मुद्दे पर चर्चा की बात तो करती है लेकिन किसी भी नियम के तहत चर्चा की बात नहीं करती है. जब सरकार पाक साफ है और बहुमत से लबालब है तो फिर किसी भी नियम के तहत चर्चा से पेगासस पर चर्चा से क्यों इंकार करती है. सरकार कहती है कि आईटी मंत्री का जवाब काफी है और उनके जवाब की कॉपी तृणमूल के सांसद ने फाड़ दी. डेरेक ओ ब्रायन ने आज आरोप लगाया कि राज्य सभा में जब विपक्ष ने आवाज उठाने की कोशिश की तो उसके प्रसारण को रोका गया. सरकार जनता की हक वाली बात ही नहीं कर रही है Ye kya ho raha tarikh pe tarikh Nyay kab milega ? ashokgehlot51 Sos_Sourabh GovindDotasra zeerajasthan_ 1stIndiaNews DainikBhaskar TheUpenYadav REET reet2018_नियुक्ति_दो REET2018_धरनाप्रदर्शन_बीकानेर REET2018_JOINING_DO

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : केंद्र क्यों नहीं रोक पाया मिजोरम-असम का टकराव वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बररवीश कुमार का प्राइम टाइम : केंद्र क्यों नहीं रोक पाया मिजोरम-असम का टकराव हिन्दी न्यूज़ वीडियो। एनडीटीवी खबर पर देखें समाचार वीडियो रवीश कुमार का प्राइम टाइम : केंद्र क्यों नहीं रोक पाया मिजोरम-असम का टकराव अप्रत्याशित, अकल्पनीय, अभूतपूर्व. इन विशेषणों का प्रयोग प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना की दूसरी लहर के बाद किया था. सोमवार को मिज़ोरम और असम के बीच जो हुआ है उसे भी अभूतपूर्व, अप्रत्याशित और अकल्पनीय कहा जाएगा. अकल्पनीय इस संदर्भ में कि ट्वीटर पर मिज़ोरम और असम के मुख्यमंत्री कई घंटों तक झगड़ते रहे और ज़मीन पर दोनों राज्यों की सीमा पर तनाव बढ़ता रहा. इस पूरी घटना पर न तो तब और न घटना के कई घंटे बाद प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने कोई ट्वीट किया है न ही असम के मारे गए पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी है. कई घंटे बीत जाने के बाद भी श्रद्धांजलि तो दूर दोनों राज्यों के बीच शांति की अपील तक नहीं आई थी. ऐसा कभी नहीं कि एक राज्य के मुख्यमंत्री दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री को ट्वीटर पर आकर ट्रोल करने लगें, झगड़ने लगें और कुछ देर के बाद एक मुख्यमंत्री गायब हो जाएं और एक मुख्यमंत्री देर रात तक अकेले ट्वीट करते रहें और गायब हो चुके मुख्यमंत्री को संबोधित करते रहें. क्योंकि यह क्यों लड़ाना जानते हैं मिलाना नहीं। आपने किसको शासन सत्ता दी ये चिंतन का बिषय है। इंसान की मानसिकता इसके कर्मों में झलकती है। कोई शिकच्छित ही शिक्षा को बढावा देगा और कोई रहमदिल ही कमजोर का दुख दर्द समझेगा। क्यूँ कि सर अगर केंद्र ही टकराव रोक देगा तो टकराव कराएगा कोन राजनीति बाबू भैया राजनीति

UP के बाराबंकी में भीषण सड़क हादसा: डबल डेकर बस में ट्रेलर ने टक्कर मारी, 18 लोगों की मौत; सभी हरियाणा से बिहार जा रहे थेउत्तर प्रदेश के बाराबंकी में मंगलवार देर रात बड़ा हादसा हो गया। यहां लखनऊ-अयोध्या हाइवे पर सड़क किनारे खड़ी बस को तेज रफ्तार ट्रेलर ने टक्कर मार दी। हादसे में बस में सवार और उसके नीचे सो रहे यात्री चपेट में आ गए। टक्‍कर इतनी जबरदस्‍त थी क‍ि हादसे में 18 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में एक महिला और बाकी पुरुष हैं। जबक‍ि 23 से ज्यादा लोग घायल हैं। गंभीर घायलों को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया है। बस हर... | Barabanki (UP) Road Accident Latest Updates। Trailer Collides With Bus 18 People Killed In Barabanki Uttar Pradesh:खराब खड़ी बस में ट्रेलर ने मारी टक्‍कर, 18 यात्र‍ियों की दर्दनाक मौत, कई लोग बुरी तरह घायल Uppolice 🙏🙏🙏 Uppolice दुःखद Uppolice गज़ब का देश और गज़ब की सरकार एंव यहाँ के रहने वाले न कोई नियम न कोई कानून मानने और मनाने वाले सब ऐसे ही सरकार कोई हाइवे बनाई कि दलाल पहुंच गए उसके किनारे शहर बसाने कम से कम 100 200 मीटर हाइवे के पास आवासीय नही हो सुरक्षा के हिसाब से पर आँख में पट्टी बाँधे भाग रहे है और सरकार भी