Deshtak, Deshtak, Nirmala Sitharaman, Fm Nirmala Sitharaman, Fm Sitharaman, Fm Sitharaman, Press Conference, Sitharaman Press Conference, Sitharaman Pc Today, Sitharaman Pc On Economy, Fm Pc On Economy, Nirmala Sitharaman Fm, Press Conference Nirmala Sitharaman, Finance Minister Nirmala Sitharaman

Deshtak, Deshtak

देश तक: मुकाबले के लिए देश तैयार, नहीं सताएगी मंदी!

पीएम मोदी ने पेरिस में कहा- अब नए सफर की ओर निकल चुका है भारत #DeshTak @MinakshiKandwal पूरा कार्यक्रम:

23.8.2019

पीएम मोदी ने पेरिस में कहा- अब नए सफर की ओर निकल चुका है भारत DeshTak MinakshiKandwal पूरा कार्यक्रम:

मंदी भारत में भी दस्तक देने लगी है. मंदी से मुकाबले के लिए सरकार कई बड़े कदम उठाने जा रही है. जिसमें आरबीआई के रेपो रेट को बैंको के ब्याज दर से जोड़ा जाएगा. इससे रेपो रेट घटने के साथ ही बैंक ब्याज दर कम कर देंगे. जिससे उपभोक्ताओं को फायदा होगा क्योंकि होम लोन और कार लोन की ईएमआई भी कम हो जाएगी. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि मंदी की वजह से पूरी दुनिया में उथल-पुथल मचा हुआ है लेकिन बाकी देशों की तुलना में भारत की माली हालत मजबूत है. देखें देशतक का ये खास एपिसोड.

और पढो: आज तक

पारले के बाद अब ब्रिटानिया, बिस्किट कंपनियों को क्यों झेलनी पड़ रही है मंदी की मार?पारले (Parle) के बाद देश की मशहूर बिस्किट कंपनी ब्रिटानिया (Britannia) संकट में है. कंपनी ने अपने बिस्किट के दाम बढ़ाने का ऐलान किया है. आखिर बिस्किट कंपनियों को क्यों मंदी की मार झेलनी पड़ रही है... | knowledge News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

Parle के बाद ब्रिटानिया पर मंदी की मार, महंगे होंगे बिस्‍किट के दामआर्थिक सुस्‍ती के दौर से गुजर रहे एफएमसीजी सेक्‍टर की दिग्‍गज कंपनी ब्रिटानिया बिस्किट के दाम बढ़ाने जा रही है. इसके अलावा कंपनी खर्च में भी कटौती कर सकती है.

सेबी के अध्यक्ष ने कहा, आईपीओ के खराब प्रदर्शन के लिए मंदी भी जिम्मेदारगांधीनगर। बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के अध्यक्ष अजय त्यागी ने शुक्रवार को कहा कि हाल के दिनों में कई प्रारंभिक सार्वजनिक निर्गमों (आईपीओ) के खराब प्रदर्शन के लिए कई कारण जिम्मेदार हैं, जिनमें अर्थव्यवस्था की सामान्य मंदी प्रमुख है।

आरबीआई गवर्नर ने माना, अर्थव्यवस्था आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रही हैप्रमुख नीतिगत दर रेपो में पहली बार 0.35 प्रतिशत की चौंकाने वाली कटौती करते हुए रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि अर्थव्यवस्था को अधिक समर्थन की जरूरत है, इसलिए मेरा मानना है कि नीतिगत दर रेपो में 0.25 प्रतिशत की परंपरागत कटौती कम होगी.

मंदी का असर: पारले कर सकता है 10 हजार कर्मचारियों की छंटनी1929 में स्थापित पारले में लगभग एक लाख लोग काम करते हैं. कंपनी के कैटेगरी हेड मयंक शाह ने कहा कि 2017 में जीएसटी लागू होने के बाद से कंपनी के सबसे ज्यादा बिकने वाले 5 रुपये के बिस्किट पर असर पड़ा है. हर हर मोदी ये चाय 'पारले जी' को भी ले डूबी 10 हजार लोगो नौकरी से निकाला

मंदी की मार से बचाएंगे पीएम मोदी, सरकार जल्द कर सकती है बड़े ऐलानभोपाल। देश की अर्थव्यवस्था जो इन दिनों मंदी की दौर से गुजर रही है। उसको पटरी पर लाने के लिए मोदी सरकार जल्द ही कुछ बड़े ऐलान कर सकती है।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

23 अगस्त 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

चौथे दिन रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा सोने का भाव, कीमत 39 हजार से पांच रुपये कम

अगली खबर

हल्ला बोल: क्या कांग्रेस नेताओं को भी PM मोदी पसंद हैं?