Mannkibaat, Pm Modi Ki Mann Ki Baa, पीएम मोदी की मन की बात

Mannkibaat, Pm Modi Ki Mann Ki Baa

दूसरी पारी की पहली 'मन की बात' में बोले PM मोदी- लोकतंत्र के अधिकार का मजा क्या है वो तब पता चलता है जब कोई उन्हें को छीन ले

दूसरी पारी की पहली 'मन की बात' में बोले PM मोदी- लोकतंत्र के अधिकार का मजा क्या है वो तब पता चलता है जब कोई उन्हें को छीन ले #MannKiBaat

30.6.2019

दूसरी पारी की पहली 'मन की बात' में बोले PM मोदी- लोकतंत्र के अधिकार का मजा क्या है वो तब पता चलता है जब कोई उन्हें को छीन ले MannKiBaat

पीएम मोदी ने दूसरा कार्यकाल संभालने के बाद पहली बार मन की बात को संबोधित किया है. फरवरी महीने में आखिरी बार मन की बात के बाद लोकसभा चुनाव को देखते हुए ट्विटर पर उनके कार्यालय की ओर से कहा गया था कि स्वस्थ लोकतांत्रिक परंपराओं को ध्यान में रखते हुए इस प्रोग्राम को कुछ समय के लिए रोक रहे हैं. बता दें साल 2014 में सरकार बनाने के बाद अपने पहले कार्यकाल में मोदी ने अपनी मासिक ‘मन की बात के जरिए 53 बार राष्ट्र को संबोधित किया है.

PM Narendra Modi: In the 2019 General elections, India witnessed 61 crore voters exercising their franchise. It was the largest democratic election ever held in the world. In a remote area of Arunachal Pradesh, just for one voter, a booth was set up. (file pic) #MannKiBaatpic.twitter.com/60XfFEU2V5

उन्होंने कहा, 'जब देश में आपातकाल लगाया गया, तब उसका विरोध सिर्फ राजनीतिक दायरे तक सीमित नहीं था. दिन-रात जब समय पर खाना खाते हैं तब भूख क्या होती है, इसका पता नहीं होता है, वैसे ही सामान्य जीवन में लोकतंत्र के अधिकार का मजा क्या है वो तब पता चलता है जब कोई लोकतांत्रिक अधिकारों को छीन ले. लोकतंत्र के अधिकार का मजा क्या है वो तब पता चलता है जब कोई लोकतांत्रिक अधिकारों को छीन ले.

— ANI (@ANI) June 30, 2019टिप्पणियांपीएम मोदी ने साथ ही कहा, 'भारत में 2019 के लोकसभा चुनाव में 61 करोड़ से ज्यादा लोगों ने वोट दिया. यह संख्या हमें बहुत ही सामान्य लग सकती है, लेकिन अगर दुनिया के हिसाब से देखें और चीन को छोड़ दिया जाए तो भारत में दुनिया के किसी भी देश की आबादी से ज्यादा लोगों ने मतदान किया है.'

और पढो: NDTVIndia
ताज़ा खबर
अभी नवीनतम समाचार

अब कोई कह सकता है कि अच्छे दिन नहीं आए हर दरवाजे के बाहर अच्छे दिन खड़े हुए हैं जो जितना चाहे अपनी शक्ति समर्थ के अनुसार ग्रहण करें Stop killing Muslims in India, Muslims are being killed in the name of Ram MannKiBaat loktantr ke adhikar Bata rahe the ya use chin lene ki dhamii derahe the Or vo b dhokha deke , vaise chheenana tanashahi h , loktantra nahi

ऐसा जो पहली पारी में हुआ उससे ज़्यादा अब होनेवाला है क्या श्री राम बचायें . Sab taiyar rahiye, ye ek warning hai? Jab tabrez ansari ko marne ka maza apke chahete logo ko ata hai, Aap ko to feeling ho rahi hogi

दिल्ली में सशस्त्र लूट की वारदात विफल, पुलिस ने एक को दबोचादिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में लूट की वारदातों को विफल करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है. दिल्ली ने अक्षरधाम के खेलगांव रेजिडेंसियल कॉम्प्लेक्स इलाके से पुलिस ने हथियार के साथ लूट की वारदातों को अंजाम देने की फिराक में बैठे मोहम्मद रेहान को गिरफ्तार कर लिया है. शुक्रवार को गिरफ्तारी के पहले पुलिस और आरोपी के बीच गोलीबारी हुई. आरोपी मोहम्मद रेहान अपने साथियों के साथ दिल्ली में सशस्त्र लूट की वारदातों को अंजाम देने की साजिश रच रहा था. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. कोई बड़ी खबर नहीं है ये। ये तो बदनामी के डर से उन्होंने अपनी ड्यूटी निभाई है। खबर तो तब होगी जब इनके नाक के नीचे क्राईम हो और ये पकड़ ना पाएं।

Jammu News: ‘गद्दारों’ की पहचान के लिए संसद में अनुच्छेद 370 व 35ए पर मतदान हो : एमएस बिट्टा - for the identification of 'ghadars', vote on article 370 and 35 a in the parliament, ms bitta | Navbharat Timesजम्मू न्यूज़: जम्मू, 28 जून (भाषा) ‘ऑल इंडिया टेरिज्ज़म फ्रंट (एआईएटीएफ) के अध्यक्ष एम एस बिट्टा ने संविधान के अनुच्छेद 370 और 35ए को रद्द करने के लिए संसद में मतदान कराने की मांग करते हुए कहा कि इससे राष्ट्र को ‘गद्दारों’ की पहचान करने में मदद मिलेगी। बिट्टा ने कहा कि कश्मीर से ये दोनों अनुच्छेद रद्द होने के बाद समूचे देश के लोगों को घाटी को फिर से जन्नत बनाने के लिए वहां ज़मीन खरीदनी चाहिए। उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘ संसद का सत्र चल रहा है और सरकार को यह जानने के लिए मतदान कराना चाहिए कि संविधान के अनुच्छेद Article 370 and 35a are very sensitive articles of Indian constitution.They should be handled very carefully. Sahi Khel gye guru बिट्टा साहब ने बिल्कुल सही फरमाया ।

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

बिहार: डॉक्टरों की रिपोर्ट में दावा- सरकार की उदासीनता की वजह से गई बच्चों की जानेंबिहार में एक्यूट इंसेफ्लाइटिस की वजह से अब तक 150 से अधिक बच्चों की जानें जा चुकी हैं. इसमें सबसे अधिक संख्या मुजफ्फरपुर से है. इन बच्चों की मौत पर डॉक्टरों की एक स्वतंत्र ने जांच रिपोर्ट तैयार की है. इसमें प्रशासन की विफलता और राज्य सरकार की उदासीनता को मौत का कारण माना गया है. सरकार को गिरना होगा गिरी हुई सरकार को गिराना होगा।। अब जनता को भी उदासीन होजाना चाहिए ताकि सरकार की भी जान चली जाए !! बीजेपी को समर्थन वापस लेना चाहिए

अरब सागर में चीन-पाकिस्तान की बढ़ती सांठगांठ से रॉ हुआ चौकन्ना, शिकंजा कसने के लिए उठाया यह कदमअरब सागर में चीन और पाकिस्तान की सांठसांठ के बढ़ते प्रभाव पर शिकंजा कसने की कोशिश में भारत की वैदेशिक खुफिया एजेंसी रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ) समुद्री खुफिया तंत्र को मजबूत बना रही है. एजेंसी अरब सागर क्षेत्र को लेकर ज्यादा चौकस है. आठ महीने महले मालदीव के तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामी के कार्यकाल में मालदीव की राजधानी माले पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) का विदेशी केंद्र बन गया था. रॉ की एक गोपनीय रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि भारतीय एजेंसी ने रणनीति द्वीपीय देश मालदीव में आईएसआई के डिजाइन को नाकाम कर दिया. इंडिया में सब तरफ ड्रोन का इस्तेमाल ज्यादा करना चाहिए

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

विराट ब्रिगेड की नई जर्सी का 'पेट्रोल कनेक्शन'भारतीय टीम के खिलाड़ी रविवार को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ मैच में नई जर्सी में नज़र आएंगे.

दिल्ली में गर्मी का सितम जारी, सिसोदिया ने बढ़ाई स्कूलों की छुट्टियांदिल्ली में भीषण गर्मी को देखते हुए स्कूलों की छुट्टियां एक सप्ताह के लिए बढ़ा दी गई हैं. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट किया कि दिल्ली में गर्म मौसम को देखते हुए स्कूलों में 8वीं क्लास तक के लिए गर्मी की छुट्टियां एक सप्ताह के लिए बढ़ाई जा रही हैं. 8वीं तक के बच्चों के स्कूल अब 8 जुलाई से खुलेंगे. बाकी क्लास के लिए स्कूल अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार खुलेंगे.

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

30 जून 2019, रविवार समाचार

पिछली खबर

गर्मी में देश बना आग की भट्ठी, इन 5 शहरों में कंबल ओढ़कर सो रहे लोग - lifestyle AajTak

अगली खबर

उत्तर कोरिया की धरती पर कदम रखने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने डोनाल्ड ट्रंप, किम जोंग-उन से की मुलाकात
गर्मी में देश बना आग की भट्ठी, इन 5 शहरों में कंबल ओढ़कर सो रहे लोग - lifestyle AajTak उत्तर कोरिया की धरती पर कदम रखने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बने डोनाल्ड ट्रंप, किम जोंग-उन से की मुलाकात