Singapore, Lawyer, Vikramtiwari, Indian, Death, Singapore News, Singapore Bar, Vikram Tiwari, Lawyer Vikram Tiwari, सिंगापुर, सिंगापुर बार, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Singapore, Lawyer

दुर्भाग्य: सिंगापुर बार में मरणोपरांत वकील बने भारतीय मूल के विक्रम, आवेदन पर सुनवाई से नौ दिन पहले ही मौत

कहते हैं मौत आने का कोई समय नहीं होता। ऐसा ही मामला एक सिंगापुर से आया है, यहां पहली बार भारतीय मूल के किसी वकील को मरणोपरांत

20-09-2021 23:15:00

दुर्भाग्य: सिंगापुर बार में मरणोपरांत वकील बने भारतीय मूल के विक्रम, आवेदन पर सुनवाई से नौ दिन पहले ही मौत Singapore Lawyer VikramTiwari Indian Death

कहते हैं मौत आने का कोई समय नहीं होता। ऐसा ही मामला एक सिंगापुर से आया है, यहां पहली बार भारतीय मूल के किसी वकील को मरणोपरांत

स्थानीय मीडिया के मुताबिक सिंगापुर बार में दाखिले के उनके आवेदन पर इस साल नौ जून को सुनवाई होने थी लेकिन नौ दिन पहले ही 28 साल की उम्र में विक्रम कुमार तिवारी का निधन हो गया।खबरों की अनुसार, सोमवार को न्यायमूर्ति चू हान टेक के एक फैसले में तिवारी को सिंगापुर बार में शामिल किया गया। तिवारी ने शेफील्ड विश्वविद्यालय से 2018 में स्नातक की डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की और बाद में पार्ट ए और पार्ट बी बार परीक्षा उत्तीर्ण की। उन्होंने 16 मार्च 2021 को बार में दाखिले के लिए आवेदन दिया था।

सुब्रमण्यम स्वामी बोले, चीन के हाथ जाती लद्दाख-अरुणाचल की ज़मीन, मोदी सरकार चुप - BBC Hindi 'आर्यन खान मामले में ऐसी कोई चीज नहीं कि बेल से इनकार किया जा सके' : NDTV से मशहूर वकील प्रशांत भूषण सूडान में तख़्तापलट: प्रधानमंत्री हिरासत में, टीवी चैनल पर सेना का क़ब्ज़ा - BBC News हिंदी

उनके आवेदन पर 9 जून, 2021 को उनकी सुनवाई के लिए निर्धारित किया गया था। सुनवाई से नौ दिन पहले तिवारी की दिल का दौरा से मृत्यु हो गई। खबर के मुताबिक, विक्रम के रिश्तेदार और वकील रमेश तिवारी ने मरणोपरांत उन्हें बार में शामिल कराने का प्रयास किया। इस प्रकार का आवेदन पहले कभी नहीं आया था इसलिए न्यायाधीश चू ने रमेश विक्रम तिवारी को दलीलें तैयार करने का समय प्रदान किया।

चूंकि इस तरह के का आवेदन के लिए पहले कभी नहीं किया गया था, न्यायमूर्ति चू ने रमेश तिवारी के लिए दलीलें तैयार करने के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी और पुष्टि की कि आवेदन के लिए कोई कानूनी बाधा नहीं है।वहीं न्यायमूर्ति चू ने सोमवार को अपने फैसले में पाया कि महत्वपूर्ण प्रश्नों का अनुकूल उत्तर दिया गया था और आवेदन देने के लिए अदालत के विवेक का प्रयोग किया और उन्हें मरणोपरांत सिंगापुर बार में शामिल कर लिया। headtopics.com

विस्तार सिंगापुर बार में शामिल किया गया है।विज्ञापनस्थानीय मीडिया के मुताबिक सिंगापुर बार में दाखिले के उनके आवेदन पर इस साल नौ जून को सुनवाई होने थी लेकिन नौ दिन पहले ही 28 साल की उम्र में विक्रम कुमार तिवारी का निधन हो गया।खबरों की अनुसार, सोमवार को न्यायमूर्ति चू हान टेक के एक फैसले में तिवारी को सिंगापुर बार में शामिल किया गया। तिवारी ने शेफील्ड विश्वविद्यालय से 2018 में स्नातक की डिग्री के साथ स्नातक की उपाधि प्राप्त की और बाद में पार्ट ए और पार्ट बी बार परीक्षा उत्तीर्ण की। उन्होंने 16 मार्च 2021 को बार में दाखिले के लिए आवेदन दिया था।

उनके आवेदन पर 9 जून, 2021 को उनकी सुनवाई के लिए निर्धारित किया गया था। सुनवाई से नौ दिन पहले तिवारी की दिल का दौरा से मृत्यु हो गई। खबर के मुताबिक, विक्रम के रिश्तेदार और वकील रमेश तिवारी ने मरणोपरांत उन्हें बार में शामिल कराने का प्रयास किया। इस प्रकार का आवेदन पहले कभी नहीं आया था इसलिए न्यायाधीश चू ने रमेश विक्रम तिवारी को दलीलें तैयार करने का समय प्रदान किया।

चूंकि इस तरह के का आवेदन के लिए पहले कभी नहीं किया गया था, न्यायमूर्ति चू ने रमेश तिवारी के लिए दलीलें तैयार करने के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी और पुष्टि की कि आवेदन के लिए कोई कानूनी बाधा नहीं है।वहीं न्यायमूर्ति चू ने सोमवार को अपने फैसले में पाया कि महत्वपूर्ण प्रश्नों का अनुकूल उत्तर दिया गया था और आवेदन देने के लिए अदालत के विवेक का प्रयोग किया और उन्हें मरणोपरांत सिंगापुर बार में शामिल कर लिया।

और पढो: Amar Ujala »

भास्कर एक्सप्लेनर: IPL की 2 नई टीमों का ऐलान आज, अडानी से लेकर मेनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक तक दावेदारों में, जानें कितना बदलेगा IPL?

IPL की दो नई टीमों का ऐलान थोड़ी देर में होगा। इसके साथ ही 2022 के IPL में कुल 10 टीमें एक-दूसरे के खिलाफ खेलती हुई दिखाई देंगी। ऐसा पहली बार नहीं होगा जब IPL में 10 टीमें होंगी, इससे पहले 2011 में हुए IPL के तीसरे सीजन भी 10 टीमें थीं। उस वक्त कोच्ची टस्कर केरला और पुणे वॉरियर्स नाम की फ्रेंचाईजी IPL का हिस्सा बनी थीं। इस बार की नई टीमें किस शहर की होंगी और इनका मालिक कौन होगा, ये आज तय हो जाएगा। | BCCI Will announce two new team of IPL today, Know all about It,how much IPL will change after this?\r\nनई टीमें कौन से शहर की हो सकती है? नई टीमों के लिए कौन-कौन से दावेदार मैदान में हैं? BCCI को नई टीमों के लिए कितनी बोली लगने की उम्मीद है?

गुजरातः महिला से कई बार बलात्कार के आरोप में एक फोटोग्राफर, वकील और डॉक्टर गिरफ़्तारघटना आणंद की है, जहां एक महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि बीते डेढ़ साल में तीनों आरोपियों ने साज़िशन कई बार उनका बलात्कार किया, जबरन उनकी निजी तस्वीरें खींची और उन्हें लीक करने की धमकी दी. Freind gujrath Mey jo hothia vo modi ji key dream role Kia new vision hothia hey es bath ke truth thinks modi ji apni pm beney say pheley Desh ke her city Mey gumker an theke bethey hey ok गुजरात मे तो रामराज्य है।।।।। BJP4Gujarat

Shooting Report: डायरेक्टर श्रेयस तलपड़े रिटर्न्स, इस बार कहानी सरकारी नौकरी वाले अनोखे परिवार कीShooting Report: डायरेक्टर श्रेयस तलपड़े रिटर्न्स, इस बार कहानी सरकारी नौकरी वाले अनोखे परिवार की shreyastalpade1 shreyastalpade shreyastalpademovie sarcarkisevamei shreyastalpade1 वेरी गुड shreyastalpade1 Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITC4Assam AITC4Delhi AITC4Bihar AITC4Jharkhand AITC4Tripura AITC4UP AITC4Gujarat AITCofficial AITC_Parliament BanglarGorboMB

2019 में दूसरी बार अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष बने थे महंत नरेन्द्र गिरिनई दिल्ली। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि का प्रयागराज में सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में निधन हो गया। शुरुआती जांच में पुलिस जहां महंत गिरि की मौत को आत्महत्या का मामला मान रही है, वहीं उनके शिष्य का कहना है कि ‍महंत की हत्या हुई है।

दिल्ली दंगे: दिल्ली पुलिस बार-बार कोर्ट के सामने शर्मसार क्यों हो रही है? - BBC News हिंदीकेंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के मुताबिक़, दिल्ली पुलिस ने दंगों के दौरान सराहनीय काम किया है, फिर अदालत में क्यों फंस रही है पुलिस? Isliye ki usne sharmnak kam hi kiya hai Khud apraadhi Hai police Q ki riot me police ne hi hone di🙏 क्यो के हक़ीक़त को झूठ ओर झूट को हक़ीक़त बताने की नाकाम कोशिश कर रही थी दिल्ली पुलिस।

तालिबान शासन के बाद ISKP ने पहली बार उस पर हमले का किया दावा - BBC Hindiअफ़गानिस्तान में इस्लामिक स्टेट की शाखा खुरासान प्रांत (ISKP) ने दावा किया है कि तालिबान के नियंत्रण के बाद उसने तालिबान को निशाना बनाकर पहली बार हमले किए हैं.

धांधली के आरोपों के बीच एक बार फिर जीत की ओर पुतिन की पार्टी - BBC Hindiरूस के संसदीय चुनावों में पुतिन की पार्टी एक बार फिर बड़ी जीत हासिल करने की ओर है. हालाँकि इस बार पार्टी के वोट प्रतिशत में थोड़ी कमी आई है. ये तो पहले से तय नतीजा था,जो अंदर से होता है वह जल्दी दिखता नहीं है।नतीजा कुछ अलग हो कहा ही नहीं जा सकता था। बस कॉपी करने जैसा है जो दिखा भी। हम तो सोचते थे कि हमारे यहां ही धांधली होती है। भारत में नही लीख सकते ऐसा क्यू? सबके कर्मो का लीखा चीठ्ठा नोटबंदी के वक्त मोदी जी के जेब मे है टँक्स चोरो का कोई दूध का धूला नही है ईस देश मे सब टँक्स चोर है भरने वाले टँक्स गरीब जनता उनके हाल खराब है.