दुर्दशा: 1123 किलो प्याज बेचने वाले किसान के हाथ में आए सिर्फ 13 रुपये, जानिए पूरा मामला

स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और पूर्व लोकसभा सांसद राजू शेट्टी ने कावड़े की रसीद को ट्वीट करते हुए लिखा, 'कोई महज

Farmers, Onionprice

03-12-2021 18:14:00

दुर्दशा: 1123 किलो प्याज बेचने वाले किसान के हाथ में आए सिर्फ 13 रुपये, जानिए पूरा मामला Farmers Onionprice Solapur

स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और पूर्व लोकसभा सांसद राजू शेट्टी ने कावड़े की रसीद को ट्वीट करते हुए लिखा, 'कोई महज

प्याज की बिक्री में नुकसान- फोटो : iStockख़बर सुनेंख़बर सुनेंआपको भले ही प्याज अभी महंगा मिल रहा हो, लेकिन किसानों को इसकी कितनी कम कीमत मिल रही है, इसका अंदाजा महाराष्ट्र में सोलापुर के एक मामले से लगाया जा सकता है। आप शायद यकीन नहीं करेंगे कि सोलापुर में 1123 किलो प्याज बेचने वाले किसान के हाथ में सिर्फ 13 रुपये आए। कमीशन एजेंट ने का कहना है कि खराब फसल की वजह से किसान को इतनी कमकीमत दी गई।

सोलापुर स्थित कमीशन एजेंट की ओर से दिए गए बिक्री रसीद के मुताबिक, किसान बप्पू कावड़े ने 1123 किलो प्याज बेची जिसके बदले उन्हें सिर्फ 1665.50 रुपये मिले। मजदूर खर्च, तौल शुल्क और परिवहन पर 1651.98 रुपये खर्च हो गए। इस तरह किसान को सिर्फ 13 रुपये का मुनाफा हुआ। कावड़े के खर्च में प्याज उत्पादन की लागत भी है।

राजू शेट्टी ने उठाया मामला 13 रुपये से क्या करे? इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता। किसान ने प्याज के 24 बैग खेत से कमीशन एजेंट की दुकान में ले जाकर बेचे और इससे 13 रुपये की आमदनी हुई। वह कैसे उत्पादन लागत चुकाएगा, जिसमें फसल के लिए मिट्टी तैयार करना, बीज खरीद, खाद और सिंचाई खर्च शामिल है। कावड़े ने 1512 रुपये परिवहन शुल्क चुकाने के लिए कमाई कर ली, वरना यह भी उसे अपनी जेब से देना पड़ता। headtopics.com

कावड़े से प्याज खरीदने वाले कमीशन एजेंट रुद्रेश पाटिल ने कहा कि फसल की गुणवत्ता बहुत खराब थी, इसलिए मैंने कम कीमत पर प्याज खरीदी। प्याज गीली थी और पिछले कुछ दिनों में बेमौसम बारिश की वजह से खराब हो गई थी। इसी वजह से इतनी कम कीमत मिली।विस्तारआपको भले ही प्याज अभी महंगा मिल रहा हो, लेकिन किसानों को इसकी कितनी कम कीमत मिल रही है, इसका अंदाजा महाराष्ट्र में सोलापुर के एक मामले से लगाया जा सकता है। आप शायद यकीन नहीं करेंगे कि सोलापुर में 1123 किलो प्याज बेचने वाले किसान के हाथ में सिर्फ 13 रुपये आए। कमीशन एजेंट ने का कहना है कि खराब फसल की वजह से किसान को इतनी कमकीमत दी गई।

विज्ञापनसोलापुर स्थित कमीशन एजेंट की ओर से दिए गए बिक्री रसीद के मुताबिक, किसान बप्पू कावड़े ने 1123 किलो प्याज बेची जिसके बदले उन्हें सिर्फ 1665.50 रुपये मिले। मजदूर खर्च, तौल शुल्क और परिवहन पर 1651.98 रुपये खर्च हो गए। इस तरह किसान को सिर्फ 13 रुपये का मुनाफा हुआ। कावड़े के खर्च में प्याज उत्पादन की लागत भी है।

राजू शेट्टी ने उठाया मामला 13 रुपये से क्या करे? इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता। किसान ने प्याज के 24 बैग खेत से कमीशन एजेंट की दुकान में ले जाकर बेचे और इससे 13 रुपये की आमदनी हुई। वह कैसे उत्पादन लागत चुकाएगा, जिसमें फसल के लिए मिट्टी तैयार करना, बीज खरीद, खाद और सिंचाई खर्च शामिल है। कावड़े ने 1512 रुपये परिवहन शुल्क चुकाने के लिए कमाई कर ली, वरना यह भी उसे अपनी जेब से देना पड़ता।

कावड़े से प्याज खरीदने वाले कमीशन एजेंट रुद्रेश पाटिल ने कहा कि फसल की गुणवत्ता बहुत खराब थी, इसलिए मैंने कम कीमत पर प्याज खरीदी। प्याज गीली थी और पिछले कुछ दिनों में बेमौसम बारिश की वजह से खराब हो गई थी। इसी वजह से इतनी कम कीमत मिली।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें। headtopics.com

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

अपनी मां की वजह से साधना गुप्ता के करीब आये थे Mulayam Singh, जानें कैसे शुरू हुई ये कहानी

मुलायम सिंह यादव अपनी बीमार मां का इलाज करा रहे थे. एक नर्स मुलायम सिंह की मां मूर्ति देवी को गलत इंजेक्शन लगाने जा रही थी. वहां मौजूद एक महिला ने गलत इंजेक्शन लगाने से रोक दिया. बताते हैं कि तभी से एक नई शुरुआत मुलायम सिंह की जिंदगी में हुई. वो शुरुआत थी साधना गुप्ता से रिश्ते की, जिसे साल 2003 में जाकर मुलायम सिंह ने नाम दिया. साधना गुप्ता को अपनी पत्नी का दर्जा दिया. बात 1980 के दशक की है. यूपी के औरैया जिले के बिधूना के रहने वाले कमलापति की 23 साल की बेटी साधना नर्सिंग की ट्रेनिंग कर रही थी. लेकिन वो राजनीति में कुछ करना चाहती थी. यही ललक इस लड़की को राजनीतिक कार्यक्रमों में लेकर चली गई और वहीं पर बताया जाता है मुलायम सिंह यादव ने पहली बार साधना गुप्ता को देखा. देखें लखनऊ की लड़ाई.

और करो कृषि कानूनों का विरोध। ये होते ही है इसी लायक क्यों पागल बनाते हो 1 रुपए किलो भी बेचता तो ज्यादा होते

नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय के समाने धरना दे रहे 600 किसानों के ख़िलाफ़ प्राथमिकी दर्ज81 गांव के किसान अधिग्रहित जमीन की बढ़ी हुई दर से मुआवज़ा देने सहित विभिन्न मांगों को लेकर पिछले 93 दिनों से नोएडा प्राधिकरण कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन कर रहे हैं. उन्होंने विरोध में कार्यालय के सभी द्वारों पर मवेशी बांध दिए हैं.

दिल्ली: फार्म हाउस के बाहर 1 करोड़ रुपये के ड्रग्स बरामद, किसान नेता गिरफ्तारदिल्ली के घिटोरनी इलाके में एक फार्म हाउस के बाहर से ड्रग्स बरामद किए गए हैं. यहां एक मिनी ट्रक से तकरीबन 1 करोड़ रुपए की ड्रग बरामद हुई है. इसके साथ दो आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है. पुलिस को जानकारी मिली है कि ड्रग्स की सप्लाई करने वाला कोई और नहीं, बल्कि एक किसान नेता रंजीत रैना है. arvindojha फार्म हाउस के मालिक का नाम क्या है ? arvindojha कोई बात नही। arvindojha किसान नेता का एक और चेहरा जनता के बीच आ गया। फार्म हाउस से ड्रग्स की सप्लाई चल रही है।जिसे दिल्ली पुलिस ने प्रभावित कर दिया है।😀

घबराएं नहीं, भारत में ओमिक्रॉन के मामले सामने आने के बाद केंद्र की अपील : 5 बातेंपिछले कुछ दिनों से दुनिया भर में हड़कंप मचा रहे कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने आख‍िरकार भारत में भी दस्‍तक दे ही दी. कर्नाटक में इसके दो मरीज सामने आए हैं. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने गुरुवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी. दोनों में से एक मरीज की उम्र 66 साल है जबकि दूसरे की 46 साल. दोनों में ही फिलहाल कोई गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे. क्या हर एक छोटे बड़े शहरों में ऑमिक्रॉन की जांच हो सकती है? क्या सिर्फ वायरल लोड से इसका पता चल जाएगा या जीनोम सिक्वेंसिंग आवश्यक है? 11 और 20 नवम्बर को आए थे... तो इन्हें भारत में ही हुआ है... PMOIndia केन्द्र सरकार को लापरवाही से बचना चाहिए। ऐसा पहली बार नहीं हो रहा, सरकार को सबक लेना चाहिए था।

Bitcoin के हिमायती अल साल्वाडोर के राष्ट्रपति की अमेरिका को नसीहत, बंद करें पैसे छापनाराष्‍ट्रपति बुकेले जहां फेडरल रिजर्व के दृष्‍टिकोण पर अपनी टिप्‍पणी दे रहे हैं, वही एक हफ्ते पहले ही उन्‍होंने बिटकॉइन में गिरावट का फायदा भी उठाया था। Who gave NANA permission to crash into an asteroid? 🤣

एन. रघुरामन का कॉलम: ओमिक्रॉन के विरुद्ध खुद के और समाज के बचाव के लिए ‘स्लाइडिंग स्केल’ कारगर उपाय हैकोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट के बारे में इस हफ्ते की शुरुआत में आई नई जानकारी से साफ हो गया कि ये देश बचाव की तैयारी करते, उससे पहले ही खतरा विकराल हो गया। अब साबित हो चुका है कि दक्षिण अफ्रीकी सरकार की चेतावनी (24 नवंबर) से पहले ओमिक्रॉन के शुरुआती मामले उससे काफी दूर न्यूजीलैंड (19 नवंबर), जापान, फ्रांस में मिले। इसने दुनिया को फिर से सामान्य होने की उम्मीद और बुरे से बुरा आने के डर के बीच बीच धके... | 'Sliding scale' is effective way to defend yourself and society against Omicron nraghuraman बढ़िया जानकारी देने के लिए धन्यवाद nraghuraman जी 🙏 nraghuraman Namaste, This is Hariom Bhadrey from your childhood hometown Nagpur. Need your mobile no. Thanks

Jammu Kashmir Weather : बनने लगे बारिश-बर्फबारी के आसार, कश्मीर के तापमान में गिरावटवहीं जम्मू संभाग में भी न्यूनतम तापमान दस डिग्री सेल्सियस से नीचे लुढ़क चुका है। अभी तापमान गिरने का सिलसिला जारी है।जम्मू में बनिहाल सबसे ठंडा चल रहा है। रात का तापमान 1.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।