Electionresults, Loksabhaelectionresults 2019, Resultswithamarujala, Results 2019, Lok Sabha Election 2019, Lok Sabha Chunav 2019, Results With Amarujala, Lok Sabha Election Result 2019, Mahasangram, Uttar Pradesh, लोकसभा चुनाव 2019, लोकसभा चुनाव परिणाम 2019, महासंग्राम, उत्तर प्रदेश

Electionresults, Loksabhaelectionresults 2019

दिल्ली का रास्ता तो यूपी से ही जाएगा, यहां से मिले हैं देश को 9 प्रधानमंत्री

यूपी इसलिए भी खास हो गया है कि दो दशक बाद सपा-बसपा फिर एक साथ मैदान में हैं।

23.5.2019

इस बार भी यूपी ने भाजपा को स्पष्ट जनादेश दिया तो दिल्ली में उसकी बहुमत की सरकार बनेगी। BJP4UP BJP4India INCIndia Mayawati samajwadiparty ElectionResults LokSabhaElectionResults2019 ResultsWithAmarUjala Results2019

यूपी इसलिए भी खास हो गया है कि दो दशक बाद सपा-बसपा फिर एक साथ मैदान में हैं।

देश का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश। 80 लोकसभा सीट। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्वाचन क्षेत्र यहीं हैं। कहा जाता है कि दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर जाता है। इस बार भी यूपी ने भाजपा को स्पष्ट जनादेश दिया तो दिल्ली में उसकी बहुमत की सरकार बनेगी।

यूपी की सियासी अहमियत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वर्ष 2014 में मोदी को भाजपा ने पीएम पद का दावेदार बनाया तो उनके लिए वाराणसी सीट चुनी गई। इसी सीट से सांसद निर्वाचित होकर उन्होंने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। वर्ष 2014 में भाजपा को 80 में 71 सीटें मिली थीं। दो सीटें उसके सहयोगी अपना दल ने जीती थीं। यूपी से इस विराट जानदेश ने ही दिल्ली में भाजपा को अकेले पूर्ण बहुमत हासिल करने का रास्ता साफ किया था। फिर सभी की नजरें यूपी पर हैं।

उत्तर प्रदेश की सियासी ताकत है कि उसने देश के पहले पीएम पंडित जवाहर लाल नेहरू से लेकर मौजूदा पीएम नरेंद्र मोदी तक कुल 8 प्रधानमंत्री दिए हैं। इसमें नेहरू व मोदी के अलावा लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी, चौधरी चरण सिंह, राजीव गांधी, विश्वनाथ प्रताप सिंह और चंद्रशेखर थे।

और पढो: Amar Ujala
ताज़ा खबर
अभी नवीनतम समाचार

BJP4UP BJP4India INCIndia Mayawati samajwadiparty सुप्रभात! UP में जनता ने जात- पात पर समर्थन न करके राष्ट्र हित में मोदी जी के नाम पर भाजपा को वोट कर खुल कर समर्थन किया है।

यूपी: घोसी से गठबंधन उम्मीदवार अतुल राय को गिरफ्तारी से नहीं मिला अंतरिम संरक्षणजस्टिस इंदिरा बनर्जी और जस्टिस संजीव खन्ना की अवकाश पीठ ने सुनवाई के दौरान कहा, ''यह रद्द करने वाला मामला नहीं है.'' घोसी सीट उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में है.

ओमप्रकाश राजभर यूपी मंत्रिमंडल से बर्खास्‍त, CM योगी ने राज्‍यपाल से की सिफारिशलगातार बागी तेवर अख्तियार करने वाले यूपी के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को मंत्रिमंडल से बर्खास्‍त कर दिया गया है. सीएम योगी ने राज्‍यपाल से बर्खास्‍त करने की सिफारिश की थी. Safai abhiyan suru 😂😂 Aage aage dekho hota hai kya 😂😂 बागी बक्से नहीं जाएंगे सफ़ाई अभियान सुरु करो भाईरल को बाहर का रास्ता देखाओ

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

लोकसभा चुनाव 2019: यूपी में कहीं बढ़ा तो कहीं घट गया वोट प्रतिशत-Navbharat TimesLucknow Political News: कुछ इलाके ऐसे भी रहे जहां वोट प्रतिशत पिछली बार के मुकाबले घट गया। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकसभा सीट वाराणसी शामिल रही जहां इस बार 58.05 प्रतिशत वोट पड़े। ​इसके अलावा चंदौली में भी यही हालात रहे।

...तो यूपी के जातिगत अंकगणित पर भारी पड़ेगा 'साइलेंट वोटर' को योजनाओं का लाभ!– News18 हिंदीअगर एग्जिट पोल के अनुमान को सही माने तो 2014 और 2017 के बाद 2019 में एक बार फिर यूपी में जातिगत फैक्टर ध्वस्त होता नजर आ रहा है. एग्जिट पोल के मुताबिक जातियों के अंकगणित पर आधारित सपा-बसपा-रालोद गठबंधन को यूपी में उतनी सफलता मिलती नहीं दिख रही है. पॉलिटिकल पंडित भी इस बात का आंकलन करने में जुटे हैं कि 'साइलेंट वोटर' इस चुनाव में किधर गया? Is Narendra Modi beneficiary schemes over powered SP BSP Alliance caste equation UPAT इनलोगो ने अपने जातिओ को अपनी बपौती समझ रखा है. जबकि हकीकत ये है अब ये नया भारत है जात पात से ऊपर उठ के वोट कर रहा है. इनलोगो को अपनी राजनीती सोच बदलने की जरूरत है जात पात नही सिर्फ हिन्दुत्व ही बड़ा मुद्दा था और हिंदुत्व ही जीतेगा

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां

अगर दिल्ली में ‘हाथ’ और ‘झाड़ू’ मिलकर चुनाव लड़ते तो क्या होता?इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल ने बीजेपी के लिए कम से कम छह सीटों पर जीत का अनुमान जताया है. वहीं नॉर्थ ईस्ट दिल्ली सीट पर पोल के मुताबिक कांटे की टक्कर है. KumarKunalmedia बुआ बबुआ कैसा हुआ वैसा हाल होता KumarKunalmedia Wahi hota jo up main SP or BSP ka hoga KumarKunalmedia Both will sink together instead separately

यदि ऐसा नहीं होता तो दिल्ली की सभी सीटों पर हमारी होती जीत: केजरीवाल– News18 हिंदीनई दिल्ली निर्वाचन क्षेत्र में सबसे कम मतदान रिकॉर्ड किया गया था. यहां सबसे ज्यादा वीवीआईपी मतदाता हैं. इसके बाद भी दिल्ली के सभी सात निर्वाचन क्षेत्रों में सबसे कम मतदान 56.86 प्रतिशत दर्ज किया. लेकिन पुरुषों की तुलना में महिलाओं ने बेहतर मतदान किया. आंकड़ों के मुताबिक, 57.21 फीसदी महिला मतदाताओं ने वोट डाले, जबकि 56.58 फीसदी पुरुषों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. बिकाऊ आदमी के पास हार मानने के अलावा कोई और रास्ता नही हैं । ये तो बिना पेंदी का लोटा है रोने लगेगा मार भी खायेगा पर करेगा उल्टा ही सीधा बोलना मुस्लमोके वोट भाजपाको गये... हमको पता है घूमानेकी जरूरत नही....

देर से दिल्ली आएगा मॉनसून, पर बरसेगा खूब-Navbharat TimesDelhi Samachar: इस बार जुलाई से सितंबर तक दिल्ली में अच्छी बारिश होगी, हालांकि मॉनसून देरी से दिल्ली पहुंचेगा। दिल्ली पहुंचते-पहुंचते अल नीनो का असर खत्म हो जाएगा। पिछले साल मॉनसून दिल्ली में सामान्य से कुछ कम रहा था, लेकिन इस बार अच्छी बारिश की संभावना है।

आज तक @aajtakयूपी के मऊ से पीएम narendramodi लाइव. ATLivestream narendramodi किसी भी ईमेल के साथ दुनियां का पहला attachment मार्च 1992 में अमेरिकी नागरिक द्वारा भेजा गया था। और तो और भारत में तो पब्लिक इंटरनेट सर्विस की शुरुआत ही 1995 में शुरू हुई थी .तो 1987-88 में कैसे ईमेल भेज दिया चौकीदार साहब ने? झूठ नहीं कहते लोग, 'कि चौकीदार ही चोर है।' नोटा narendramodi पीएम जी ने1987-88 नहीं 1997-98 कहा है यह तो थोड़ी बोलने की मिसटेक है थोड़ा मिडिया का कमाल है

ABP न्यूज़ हिंदी @abpnewshindiयूपी के मऊ से पीएम मोदी LIVE मोदी जी गालियों की बात करेगें या देश मे इस समय बेतहाशा बढ़ रही दालो की कीमतो पर कुछ कहेगे। देश के भ्रष्टाचारी पार्टियां लाख कोशिश कर लें लेकिन 23 मई को बीजेपी का विजय पताका लहरायेगा। What's joke modi government...? सरकार गरीबो के हित मे लगी है 😂😂😂😂

ABP न्यूज़ हिंदी @abpnewshindiयूपी के मऊ से पीएम मोदी LIVE We have not ro see his rally who did not comply with his prevouse promissed.

यूपी-बंगाल-ओडिशा केंद्रित रही मोदी की रैलियां, 140 में से 60 तीन राज्यों मेंबीते चुनाव से पहले पीएम पद का उम्मीदवार बनने वाले मोदी ने तब 15 सितंबर 2013 से 10 मई 2014 तक 437 रैलियों को संबोधित किया था। narendramodi BJP4India PMModi Election2019 LokSabhaElections2019

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

23 मई 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

पाकिस्तान : बच्ची की मौत को लेकर आक्रोश

अगली खबर

आज तय होगा कांग्रेस और आप का राजनीतिक भविष्य, जनाधार बढ़ा तो विधानसभा का रास्ता होगा आसान
पाकिस्तान : बच्ची की मौत को लेकर आक्रोश आज तय होगा कांग्रेस और आप का राजनीतिक भविष्य, जनाधार बढ़ा तो विधानसभा का रास्ता होगा आसान