Afghanistan, Taliban, Kabul, Afghanistan Latest News, Protest Against Taliban İn Kandahar, Taliban, Afghanistan News, Kandahar, Protest, Taliban Rule İn Afghanistan 2021, Kandahar Cantonment, People Against Order To Vacate House, Protest Against Taliban İn Afghanistan, Protest Against Taliban İn Kabul, Protest Against Taliban, कंधार में तालिबान, तालिबान का विरोध, गरीबों से घर खाली करने कहा, तालिबान का फरमान, World News İn Hindi, World News İn Hindi, World Hindi News

Afghanistan, Taliban

दहशतगर्दों के नए फरमान: खाली कंधार छावनी में खुद रहेंगे तालिबानी, गरीबों से कहा-घर छोड़ो, सैकड़ों ने किया प्रदर्शन

अफगानिस्तान के कंधार में लंबे समय से खाली सैन्य छावनी में रहने वाले गरीब अफगान घरों से निकालने के आदेश से स्तब्ध हैं।

17-09-2021 04:10:00

दहशतगर्दों के नए फरमान: खाली कंधार छावनी में खुद रहेंगे तालिबानी, गरीबों से कहा-घर छोड़ो, सैकड़ों ने किया प्रदर्शन Afghanistan Taliban Kabul POTUS PMOIndia

अफगानिस्तान के कंधार में लंबे समय से खाली सैन्य छावनी में रहने वाले गरीब अफगान घरों से निकालने के आदेश से स्तब्ध हैं।

प्रदर्शन के बाद तालिबान कार्यकर्ता परिसर में आए और कई प्रदर्शनकारियों को वहां से जाने को मजबूर किया। प्रदर्शनकारी फिलहाल कहां हैं, इसकी जानकारी किसी को नहीं है। तालिबान ने 2,500 परिवारों को घर व सारा सामान छोड़कर जाने को कहा है ताकि लड़ाके वहां रह सकें।

महंगे पेट्रोल पर प्रियंका गांधी का तंज, हवाई चप्पल वालों का सड़क पर सफर भी मुश्किल यूपी के शाहजहांपुर जिले के कोर्ट परिसर में वकील की गोली मारकर हत्या पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेता की गोली लगने से मौत, राजनीतिक विवाद तेज - BBC Hindi

परिसर के निवासी इमरान ने कहा, अपने साथ केवल कपड़े लेकर जल्द से जल्द यहां से जाने को कहा गया है। परिसर 2001 से खाली पड़ा था, जब तालिबान पर अमेरिका के नेतृत्व में आक्रमण किया गया था तब वहां रह रहे अफगान सैनिकों ने कंधार हवाई अड्डे पर स्थित केंद्रों में डेरा डाल लिया था। कुछ वर्षों से परिसर में विस्थापित अफगान रहने लगे। उन्होंने वहां की जमीनें खरीदीं और अपने घर बनाए।

अफगान बच्चों पर हिंसा...सुरक्षा बड़ी चिंता : यूएनतालिबान के कब्जे के बाद से अफगानिस्तान में बच्चों पर हिंसा बढ़ी है। संयुक्त राष्ट्र में बच्चों और सशस्त्र संघर्ष के लिए विशेष प्रतिनिधि वर्जीनिया गाम्बा के हवाले से इंटरनेशनल फोरम फाॅर राइट्स एंड सिक्योरिटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि अफगानिस्तान बच्चों के लिए सबसे खतरनाक जगहों में से एक है। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन की रिपोर्ट ने भी कहा, इस साल एक जनवरी से 30 जून के बीच बच्चों के हताहत होने की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज हुई है। इस दौरान मारे गए सभी नागरिकों में से लगभग 32 प्रतिशत बच्चे थे। इनमें से 20 प्रतिशत लड़के और 12 प्रतिशत लड़कियां थीं। headtopics.com

तालिबान के साथ राजनीतिक समाधान के लिए शुरू वार्ता के विशेष प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद ने अफगानिस्तान से अमेरिका व नाटो सैनिकों के देश छोड़ने के बाद पहली बार सार्वजनिक बयान दिया है।उन्होंने कहा, यदि राष्ट्रपति अशरफ गनी अचानक देश छोड़कर भागे न होते तो हालात कुछ और होते। तालिबान के साथ अंतिम समय में बनी सहमति पर गनी के भागने से पानी फिर गया। फाइनेंशियल टाइम्स को दिए साक्षात्कार में खलीलजाद ने कहा कि सियासी समाधान के लिए तालिबान से चल रही वार्ता में कट्टरपंथियों को काबुल से अलग रखने और राजनीतिक हस्तांतरण पर बातचीत हो रही थी।

इस योजना के तहत गनी को कतर में किसी समझौते पर पहुंचने तक पद पर बने रहना था। योजना के तहत तालिबान के काबुल में दरवाजे तक पहुंचने पर भी उन्हें भागना नहीं था। लेकिन 15 अगस्त को गनी के भागने से सुरक्षा व्यवस्था में खालीपन आ गया।विस्तार इस तालिबानी आदेश के खिलाफ सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन कर कहा, उन्हें नहीं पता कि अब वे कहां जाएंगे।

विज्ञापनप्रदर्शन के बाद तालिबान कार्यकर्ता परिसर में आए और कई प्रदर्शनकारियों को वहां से जाने को मजबूर किया। प्रदर्शनकारी फिलहाल कहां हैं, इसकी जानकारी किसी को नहीं है। तालिबान ने 2,500 परिवारों को घर व सारा सामान छोड़कर जाने को कहा है ताकि लड़ाके वहां रह सकें।

परिसर के निवासी इमरान ने कहा, अपने साथ केवल कपड़े लेकर जल्द से जल्द यहां से जाने को कहा गया है। परिसर 2001 से खाली पड़ा था, जब तालिबान पर अमेरिका के नेतृत्व में आक्रमण किया गया था तब वहां रह रहे अफगान सैनिकों ने कंधार हवाई अड्डे पर स्थित केंद्रों में डेरा डाल लिया था। कुछ वर्षों से परिसर में विस्थापित अफगान रहने लगे। उन्होंने वहां की जमीनें खरीदीं और अपने घर बनाए। headtopics.com

पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म - BBC News हिंदी पंजाब : दो लड़कियों को रौंदते निकल गई कार, CCTV फुटेज से पकड़ा गया आरोपी इंस्पेक्टर अब यात्री के चेहरे की पहचान कर बैंक अकाउंट से कट जाएगा मेट्रो का किराया

अफगान बच्चों पर हिंसा...सुरक्षा बड़ी चिंता : यूएनतालिबान के कब्जे के बाद से अफगानिस्तान में बच्चों पर हिंसा बढ़ी है। संयुक्त राष्ट्र में बच्चों और सशस्त्र संघर्ष के लिए विशेष प्रतिनिधि वर्जीनिया गाम्बा के हवाले से इंटरनेशनल फोरम फाॅर राइट्स एंड सिक्योरिटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि अफगानिस्तान बच्चों के लिए सबसे खतरनाक जगहों में से एक है। अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन की रिपोर्ट ने भी कहा, इस साल एक जनवरी से 30 जून के बीच बच्चों के हताहत होने की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज हुई है। इस दौरान मारे गए सभी नागरिकों में से लगभग 32 प्रतिशत बच्चे थे। इनमें से 20 प्रतिशत लड़के और 12 प्रतिशत लड़कियां थीं।

गनी के भागने से बड़ी योजना पर पानी फिरा : खलीलजादतालिबान के साथ राजनीतिक समाधान के लिए शुरू वार्ता के विशेष प्रतिनिधि जलमय खलीलजाद ने अफगानिस्तान से अमेरिका व नाटो सैनिकों के देश छोड़ने के बाद पहली बार सार्वजनिक बयान दिया है।उन्होंने कहा, यदि राष्ट्रपति अशरफ गनी अचानक देश छोड़कर भागे न होते तो हालात कुछ और होते। तालिबान के साथ अंतिम समय में बनी सहमति पर गनी के भागने से पानी फिर गया। फाइनेंशियल टाइम्स को दिए साक्षात्कार में खलीलजाद ने कहा कि सियासी समाधान के लिए तालिबान से चल रही वार्ता में कट्टरपंथियों को काबुल से अलग रखने और राजनीतिक हस्तांतरण पर बातचीत हो रही थी।

इस योजना के तहत गनी को कतर में किसी समझौते पर पहुंचने तक पद पर बने रहना था। योजना के तहत तालिबान के काबुल में दरवाजे तक पहुंचने पर भी उन्हें भागना नहीं था। लेकिन 15 अगस्त को गनी के भागने से सुरक्षा व्यवस्था में खालीपन आ गया। और पढो: Amar Ujala »

निहंगों की पुलिस को चुनौती: लखबीर मर्डर केस में किसी और की गिरफ्तारी की बात न करें, नहीं तो सरेंडर कर चुके साथियों को भी छुड़वा लाएंगे

सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर बैठे निहंग जत्थेबंदियों ने यहां 2 दिन पहले हुई लखबीर सिंह की हत्या के मामले में हरियाणा पुलिस को चुनौती दी है। शनिवार रात को भगवंत सिंह और गोबिंदप्रीत सिंह के सरेंडर के बाद निहंगों ने साफ कहा है कि अब वे अपने किसी और साथी का सरेंडर नहीं करवाएंगे। निहंगों ने सोनीपत पुलिस-प्रशासन को चेतावनी दी है कि अब अगर किसी और निहंग को गिरफ्तार करने की बात की गई तो वे अपने उन चारों साथि... | सोनीपत के सिंघु बॉर्डर पर बैठी निहंग जत्थेबंदियों ने यहां 2 दिन पहले हुई लखबीर सिंह की हत्या के मामले में हरियाणा पुलिस को चुनौती दे दी है। शनिवार रात को दो निहंगों भगवंत सिंह और गोविंदप्रीत सिंह के सरेंडर के बाद निहंगों ने स्पष्ट कर दिया कि अब वह अपने किसी और साथी का सरेंडर नहीं करवाएंगे।

मध्य प्रदेश में 20 सितंबर से खुलेंगे 1 से 5वीं तक के स्कूल, ये हैं गाइडलाइंसमध्य प्रदेश में कक्षा 8, 10 और 12 के लिए छात्रावास और बोर्डिंग स्कूलों को 100% क्षमता के साथ फिर से खोला जाएगा जबकि कक्षा 11 को 50% क्षमता के साथ फिर से खोला जाएगा.

NCRB 2020: लॉकडाउन के दौरान क्राइम ग्राफ में गिरावट, कोरोना नियमों के उल्लंघन में वृद्धिफेक करेंसी के मामलों पर अगर नजर डाली जाए तो साल 2020 के दौरान नकली भारतीय मुद्रा नोटों (FICN) के तहत 92,17,80,480 मूल्य के कुल 8,34,947 नोट जब्त किए गए, जबकि वर्ष 2019 में ₹ 25,39,09,130 ​​मूल्य के 2,87,404 नोट जब्त किए गए थे.

राजपथ के पास PM निवास बनाने के लिए रक्षा मंत्रालय ने खाली किए 700 दफ्तरमंत्रालय के करीब 7,000 अधिकारियों के नए कार्यालय अब मध्य दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग और चाणक्यपुरी के पास अफ्रीका एवेन्यू में स्थित होंगे. बड़े बड़े महल और किले बनाने वाले चले गए। कइयों को आज भी लोग कोसते हैं। लोकतंत्र में गरीब जनता के पैसे से महल बनाने वाले ये अकेले हैं। थू थू! FAKIRI HAI SAB MAIN ये वो सब करेंगे जिससे जमींदारी युग लौट आए,,,जिसके खत्म किए जाने पर इन्हें सबसे ज्यादा ऐतराज था,, KaleAngrejBhajpai 17सितंबर_बेरोजगार_दिवस_है KisanMajdoorEktaZindabaad

IPL के लिए कड़ा बायो-बबल: खिलाड़ियों के पहुंचने से पहले UAE के 14 होटलों के 750 से ज्यादा स्टाफ का कोरोना टेस्ट हुआ; पूरे टूर्नामेंट में 30 हजार टेस्ट होंगेIPL के दूसरे फेज को कोरोना से बचाने के लिए BCCI कड़ी मशक्कत कर रहा है। लीग के दौरान इमरजेंसी मेडिकल सर्विस, स्पोर्ट्स मेडिसिन सपोर्ट, स्पेशलिस्ट टेली कंसल्टेशन, डॉक्टर ऑन कॉल, एंबुलेंस, एयर एंबुलेंस जैसी सर्विसेस के लिए UAE के VPS हेल्थकेयर को पार्टनर बनाया है। | IPL Phase 2 2021 UAE More than 750 staff from 14 hotels were tested before the players arrived; 100-member medical team will assist, there will be 2000 tests daily; Air ambulance will also be available

Indian Railway: पटना से गया और वाराणसी के बीच आज से चलेंगी ये ट्रेनें, देखें शेड्यूलRailway Train List Updates: इन ट्रेनों के परिचालन से पटना से गया और पटना से वाराणसी के बीच सफर करने वाले यात्रियों के साथ पटना, आरा, बक्सर, गया, दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन और वाराणसी से आगे जाने वाली मेल एक्सप्रेस ट्रेनें पकड़ने में भी सहूलियत होगी.

भारत में महामारी के दौरान भी लाखों घरों से बेदखल किए गए | DW | 15.09.2021कोरोना महामारी के दौरान पूरे भारत में ढाई लाख लोगों को उनके घरों से बेदखल किया गया. अधिकार कार्यकर्ताओं का कहना है कि और तेजी से आर्थिक विकास के लिए अधिकारियों की नजर परियोजनाओं के लिए लाखों आवास को उखाड़ने पर है.