तैयारी: टीकाकरण से लेकर ऑक्सीजन मुहैया कराने तक, ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली पुलिस ने बनाया एक्शन प्लान

कोरोना के नए वैरिएंट को देखते हुए दिल्ली पुलिस पुरी तरह से सजग हो गई है। दिल्ली पुलिस ने अपने कर्मियों और उनके परिवार

Delhipolice, Covıd 19

05-12-2021 12:48:00

तैयारी: टीकाकरण से लेकर ऑक्सीजन मुहैया कराने तक, ओमिक्रॉन के बढ़ते खतरे के बीच दिल्ली पुलिस ने बनाया एक्शन प्लान DelhiPolice COVID19 Coronavirus OmicronVariant OmicronAlert

कोरोना के नए वैरिएंट को देखते हुए दिल्ली पुलिस पुरी तरह से सजग हो गई है। दिल्ली पुलिस ने अपने कर्मियों और उनके परिवार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्लीPublished by:Updated Sun, 05 Dec 2021 02:25 PM ISTसारकोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे से निपटने के लिए दिल्ली पुलिस ने टीकाकरण से लेकर ऑक्सीजन मुहैया कराने तक का एक्शन प्लान बनाया है।दिल्ली का एक पुलिसकर्मी।- फोटो : PTI

Exclusive Interview: जेल से बाहर आये आज़म ख़ान के बेटे अब्दुल्लाह, कहा ज़ालिम सत्ता का होगा अंत

ख़बर सुनेंख़बर सुनेंकोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए दिल्ली पुलिस पुरी तरह से सजग हो गई है। दिल्ली पुलिस ने अपने कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों को कोरोना वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के लिए कहा है। इसके साथ ही इंस्पेक्टर-रैंक के अधिकारियों की अध्यक्षता में कोरोना स्वास्थ्य निगरानी कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने और ऑक्सीजन सिलेंडर और जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

इस संबंध में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा ने कहा, 'हमने अपने कर्मचारियों को मास्क पहनने, स्वच्छता बनाए रखने, छूने वाली वस्तुओं को कम करने और नियमित रूप से सैनिटाइजर का उपयोग करने के लिए कहा है। पुलिस थानों की खिड़कियां वेंटिलेशन के लिए खुली रखी जा रही हैं। उन्हें यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा गया है कि पुलिस थानों में भीड़ न हो। दिल्ली पुलिस द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक, उसके 95 प्रतिशत से अधिक कर्मचारियों को टीका लगाया गया है। कुल 77,809 सदस्यों में से 74,289 को 2 दिसंबर तक टीका लगाया गया है, जबकि 1,636 को स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों के कारण चिकित्सकीय रूप से छूट दी गई है। headtopics.com

बीते दो दिसंबर को जारी आदेश के मुताबिक, स्पेशल सीपी (वेलफेयर) शालिनी सिंह ने सभी 15 जिलों की पुलिस और अन्य इकाइयों को अपने संबंधित कोरोना नोडल अधिकारियों के माध्यम से कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संबंधिक किसी भी आपात स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार रहने का निर्देश दिया। निर्देश में पुलिस बल को कोरोना देखभाल केंद्रों की तैयारी, ऑक्सीजन सिलेंडर और कॉन्सेंट्रेटर, जीवन रक्षक दवाओं, अस्पताल के बिस्तर, एम्बुलेंस, सैनिटाइजर, मास्क, दस्ताने, पीपीई किट और अन्य आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

प्रचार प्रक्रिया में बदलाव चुनाव प्रक्रिया बदलना है, पर क्या चुनाव आयोग को ऐसा करने का हक़ है

आदेश के मुताबिक, डीसीपी को कुछ पुलिस कर्मियों को टीकाकरण से दी गई चिकित्सा छूट की समीक्षा करने और डॉक्टरों से परामर्श करने के बाद टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने का काम सौंपा गया है। पुलिस कर्मियों और उनके परिवारों को उचित चिकित्सा सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए डीसीपी नोडल अधिकारी होने चाहिए और निरीक्षक या उससे ऊपर के स्तर का एक अधिकारी अस्पताल में भर्ती पुलिस कर्मियों का दौरा करेगा और आवश्यक सहायता सुनिश्चित करेगा।

विभाग ने निर्देश दिया कि अस्पतालों के नोडल अधिकारी और डीसीपी, जो पुलिस के नोडल अधिकारी हैं, विभाग की आधिकारिक ई-मेल आईडी पर सभी संपर्क जानकारी तुरंत साझा करें। इसके अलावा, डीसीपी को यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि पुलिस कर्मियों के अस्पताल में भर्ती होने का डेटा हर दिन सुबह 8 बजे तक विभाग को ई-मेल कर दिया जाए। बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला मामला सामने आया है। तंजानिया से आए एक युवक में मामले की पुष्टि हुई है। कुल मिलाकर भारत में ओमिक्रॉन का यह पांचवां केस है।

विस्तारकोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए दिल्ली पुलिस पुरी तरह से सजग हो गई है। दिल्ली पुलिस ने अपने कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों को कोरोना वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के लिए कहा है। इसके साथ ही इंस्पेक्टर-रैंक के अधिकारियों की अध्यक्षता में कोरोना स्वास्थ्य निगरानी कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने और ऑक्सीजन सिलेंडर और जीवन रक्षक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। headtopics.com

UP में कांग्रेस का CM उम्मीदवार कौन? प्रियंका गांधी बोलीं- मेरे सिवा कोई और चेहरा दिखता है क्या?

विज्ञापनइस संबंध में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा ने कहा, 'हमने अपने कर्मचारियों को मास्क पहनने, स्वच्छता बनाए रखने, छूने वाली वस्तुओं को कम करने और नियमित रूप से सैनिटाइजर का उपयोग करने के लिए कहा है। पुलिस थानों की खिड़कियां वेंटिलेशन के लिए खुली रखी जा रही हैं। उन्हें यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा गया है कि पुलिस थानों में भीड़ न हो। दिल्ली पुलिस द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक, उसके 95 प्रतिशत से अधिक कर्मचारियों को टीका लगाया गया है। कुल 77,809 सदस्यों में से 74,289 को 2 दिसंबर तक टीका लगाया गया है, जबकि 1,636 को स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों के कारण चिकित्सकीय रूप से छूट दी गई है।

बीते दो दिसंबर को जारी आदेश के मुताबिक, स्पेशल सीपी (वेलफेयर) शालिनी सिंह ने सभी 15 जिलों की पुलिस और अन्य इकाइयों को अपने संबंधित कोरोना नोडल अधिकारियों के माध्यम से कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संबंधिक किसी भी आपात स्थिति का सामना करने के लिए पूरी तरह से तैयार रहने का निर्देश दिया। निर्देश में पुलिस बल को कोरोना देखभाल केंद्रों की तैयारी, ऑक्सीजन सिलेंडर और कॉन्सेंट्रेटर, जीवन रक्षक दवाओं, अस्पताल के बिस्तर, एम्बुलेंस, सैनिटाइजर, मास्क, दस्ताने, पीपीई किट और अन्य आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

आदेश के मुताबिक, डीसीपी को कुछ पुलिस कर्मियों को टीकाकरण से दी गई चिकित्सा छूट की समीक्षा करने और डॉक्टरों से परामर्श करने के बाद टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने का काम सौंपा गया है। पुलिस कर्मियों और उनके परिवारों को उचित चिकित्सा सुविधाएं सुनिश्चित करने के लिए डीसीपी नोडल अधिकारी होने चाहिए और निरीक्षक या उससे ऊपर के स्तर का एक अधिकारी अस्पताल में भर्ती पुलिस कर्मियों का दौरा करेगा और आवश्यक सहायता सुनिश्चित करेगा।

विभाग ने निर्देश दिया कि अस्पतालों के नोडल अधिकारी और डीसीपी, जो पुलिस के नोडल अधिकारी हैं, विभाग की आधिकारिक ई-मेल आईडी पर सभी संपर्क जानकारी तुरंत साझा करें। इसके अलावा, डीसीपी को यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि पुलिस कर्मियों के अस्पताल में भर्ती होने का डेटा हर दिन सुबह 8 बजे तक विभाग को ई-मेल कर दिया जाए। बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ओमिक्रॉन का पहला मामला सामने आया है। तंजानिया से आए एक युवक में मामले की पुष्टि हुई है। कुल मिलाकर भारत में ओमिक्रॉन का यह पांचवां केस है। headtopics.com

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

Cricket Aajtak LIVE| विराट कोहली के बाद टेस्ट टीम का कप्तान कौन ? #ViratKohli #NikhilNaz #RahulRawat #VikrantGupta

पुलिस की डिक्शनरी से उर्दू हटाएगी शिवराज सरकार, मंत्री बोले- नहीं चलेंगे मुगल काल के लफ्ज़ब्रिटिश काल से ही पुलिस के द्वारा उर्दू और फ़ारसी शब्द का प्रयोग किया जाता है। मध्यप्रदेश सरकार के इस आदेश के बाद करीब 350 उर्दू और फ़ारसी शब्द पुलिस की डिकशनरी से गायब हो जाएंगे।

दिल्ली के अस्पताल में ओमिक्रॉन वैरिएंट के 12 संदिग्ध मामले, टेस्ट रिपोर्ट अब तक नहीं आईंएलएनजेपी अस्पताल के चिकित्सा निदेशक सुरेश कुमार ने बताया कि भर्ती लोगों में से चार यूके और चार फ्रांस से हैं. कुछ लोग तंजानिया से हैं, वहीं एक व्यक्ति बेल्जियम से है. केवल एक व्यक्ति को ही बुखार है. Bina test report ke NDTV ne sirf patient dekh kar confirm kiya variant Where’s Kejriwal? दुकद

आज 300 से ऊपर ट्रेनें हैं कैंसिल, घर से लिस्‍ट देखकर निकलें अपनी यात्रा के लिएIndian Railways ने शनिवार को 310 ट्रेनों को कैंसिल दिया है। इनमें 03096 AZ-KWAE MEMU PGR SPL 03428 KIUL-JMP PGR SPECIAL 05364 KGM-MB SPL EXP 08427 ANGL- PURI SPECIAL 09444 MVI - WKR SPECIAL 13308 GANGASUTLEJ EXPRESS शामिल हैं।

चक्रवात: ओडिशा-आंध्र के लिए राहत, ‘जवाद’ से अधिक तबाही होने के आसार नहींचक्रवात: ओडिशा-आंध्र के लिए राहत, ‘जवाद’ से अधिक तबाही होने के आसार नहीं odisha andhrapradesh jawad jawadcyclone cyclonejawad

अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन पेगासस के ज़रिये हैक किए गए: रिपोर्टसमाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, इज़रायली कंपनी एनएसओ के पेगासस स्पायवेयर के ज़रिये युगांडा स्थित या युगांडा से संबंधित मामले देख रहे अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन में सेंधमारी की गई है. इस घटना को एनएसओ के माध्यम से अमेरिकी अधिकारियों पर की गई सबसे बड़ी हैकिंग बताया जा रहा है. America's Frankenstein.

ओमिक्रॉन की दिल्ली में भी दस्तक, तंज़ानिया से लौटा था व्यक्ति - BBC News हिंदीभारत में यह ओमिक्रॉन वेरिएंट का पाँचवाँ मामला है. इससे पहले बेंगलुरु में दो, मुंबई में एक और गुजरात में ओमिक्रॉन वेरिएंट का एक मामला सामने आ चुका है. अच्छा-अच्छा पाकिस्तान से नहीं लौटा था वरना भारत में ओमीक्रोन फैलाने का श्रेय पाकिस्तान को ही जाता जैसे दूषित हवा फैलाने का श्रेय पाकिस्तान को गया है Ye jitne bhi jihadi, tabligi omicron ki bimari lekar aaye Hain in sab par uapa lagana chahiye. Banning flight from countries which are sources of omicron virus is also a form of social distancing to contain the spread of infection. Government need not listen to WHO as they have failed to ban the flights from China which led to Pandemic