Tejashwiyadav, Biharrjd, Berozgarralla, Bihar, Tejashwi Yadav, Lalu Yadav, Berozgar Rally By Rjd, Garib Rally By Lalu Yadav, Bihar By Polls

Tejashwiyadav, Biharrjd

तेजस्वी करेंगे सबसे बड़ा 'बेरोजगार रैला', लालू यादव ने 26 साल पहले की थी पहली 'गरीब रैली'; दिए थे ऐसे-ऐसे नारे

तेजस्वी करेंगे सबसे बड़ा 'बेरोजगार रैला', लालू यादव ने 26 साल पहले की थी पहली 'गरीब रैली'; दिए थे ऐसे-ऐसे नारे #TejashwiYadav #BiharRJD #BerozgarRalla

28-10-2021 05:35:00

तेजस्वी करेंगे सबसे बड़ा 'बेरोजगार रैला', लालू यादव ने 26 साल पहले की थी पहली 'गरीब रैली'; दिए थे ऐसे-ऐसे नारे TejashwiYadav BiharRJD BerozgarRalla

लालू ने रैली को गरीब नाम देकर समाज के गरीब तबके को यह संदेश देने की कोशिश की थी कि वही उनके हितैषी हैं. इसके अगले ही साल 1996 में उन्होंने रैली की जगह रैला शब्द का इस्तेमाल करते हुए गरीब रैला का आयोजन किया था. लालू ने तभी सबसे पहले रैला शब्द का इस्तेमाल अपने कोर वोटरों को जोड़ने के लिए और अधिक से अधिक संख्या में उनके पटना पहुंचने के लिए किया था.

नई दिल्ली: बिहार विधान सभा (Bihar Assembly) में नेता विपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने राज्य में दो सीटों पर होने वाले उप चुनाव से पहले ये ऐलान किया है कि वो जल्द ही बिहार में देश का सबसे बड़ा 'बेरोजगार रैला' करने जा रहे हैं. उन्होंने खुद ट्विटर पर लिखकर इसका ऐलान किया है. उन्होंने लिखा है,"जल्दी ही बिहार में करेंगे देश का सबसे बड़ा “बेरोजगार रैला”

किसानों की एक और मांग के सामने झुकी सरकार, अब पराली जलाना क्राइम नहीं, मंत्री बोले- 'घर लौटें किसान' कृषि मंत्री तोमर MSP पर बोले और किसानों से भी की अपील - BBC Hindi भारत सरकार ने एलन मस्क की इंटरनेट कंपनी पर रोक लगाई - BBC Hindi

यह भी पढ़ेंउनके नेतृत्व में यह पहली बड़ी रैली होगी. तेजस्वी बेरोजगारी का मुद्दा उठाकर सर्वसमाज के युवाओं के बीच अपनी पैठ गहरी करना चाहते हैं. इसके साथ ही वो इस मुद्दे के जरिए राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दोनों पर एक तीर से एकसाथ निशाना साधना चाहते हैं. पीएम मोदी ने 2014 के चुनाव में ही हर साल दो करोड़ लोगों को नौकरी देने का वादा किया था जबकि नीतीश ने पिछले विधान सभा चुनाव में 19 लाख नौकरियों का वादा किया था, जो अब तक सच नहीं हो सका है.

'झूठ बोले, मतदाता काटे!' उप चुनाव में तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर बोला हमला, देखें VIDEOउनके पिता लालू यादव 1990 के दशक से ही ऐसी रैलियां और रैला करते आ रहे हैं. 1995 में अपनी सरकार के पांच साल पूरे होने पर लालू यादव ने सबसे पहले गरीब रैली की थी और समाज के गरीब तबके तक अपनी पहुंच बनाई थी. लालू ने रैली को गरीब नाम देकर समाज के गरीब तबके को यह संदेश देने की कोशिश की थी कि वही उनके हितैषी हैं. headtopics.com

इसके अगले ही साल 1996 में उन्होंने रैली की जगह रैला शब्द का इस्तेमाल करते हुए 'गरीब रैला' का आयोजन किया था. लालू ने तभी सबसे पहले रैला शब्द का इस्तेमाल अपने कोर वोटरों को जोड़ने के लिए और अधिक से अधिक संख्या में उनके पटना पहुंचने के लिए किया था.

'हम काहे गोली मारेंगे, तुम अपने मर जाओगे', तारापुर में लालू यादव का नीतीश कुमार पर पलटवारइसके बाद लालू ने 1997 में 'महागरीब रैला', 2003 में 'लाठी रैली', 2007 में 'चेतावनी रैली', 2012 में 'परिवर्तन रैली' और 2017 में 'भाजपा भगाओ, देश बचाओ रैली' की थी.

1995 में लालू यादव ने जो पहली रैली की थी, उसमें  किस्म-किस्म के नारे लगाए गए थे ताकि समाज के वंचित वर्ग तक उनका संवाद हो और उनके बीच  पैठ बनाई जा सके. उनमें से कुछ इस तरह हैं-वीडियो: बिहार में सियासी पारा गर्म, लालू और नीतीश ने उप चुनाव जीतने में झोंक दी पूरी ताकतListen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Bihartejashwi yadavLalu YadavBerozgar Rally by RJDGarib Rally by Lalu yadavटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

वारदात: तेज हो गई समीर-नवाब की तकरार, क्या है स्कूल सर्टिफिकेट की सच्चाई?

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुंबई के जोनल हेड समीर वानखेड़े के बर्थ सर्टिफिकेट और मैरिज सर्टिफिकेट के बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक कथित रूप से उनके ये दो नए सर्टिफिकेट लेकर आए हैं. नवाब मलिक के मुताबिक समीर दादर के सेंट पॉल हाईस्कूल से प्राथमिक शिक्षा ली थी. इस सर्टिफिकेट में समीर वानखेड़े का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. यहां ये भी लिखा है कि छात्र की जाति और उपजाति तभी बताई जाए जब वो पिछड़े वर्ग, या अनुसूचचित जाति-जनजाति से आए. जबकि धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. इसके बाद समीर वडाला के सेंट जॉसेफ हाईस्कूल में पढने गए. यहां के स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट में समीर का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. और धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. दरअसल नवाब मलिक समीर वानखेड़े को मुसलमान साबित करने के लिए इसलिए जुटे हैं क्योंकि अगर उनकी बात सही साबित हो गई तो समीर वानखेड़े के नौकरी खतरे में पड़ जाएगी. देखें वीडियो.

Bihar ko lootane ke liye inhe gaddi kaise bhi chahiye, no more jungleraj! बिहार में कब अच्छे नेता आएँगे?किसी को भी यह स्टेट पूरा statuswan बना देता है भले ही वो डिज़र्विंग ना हो। SG AshwiniVaishnaw PMOIndia RailMinIndia narendramodi 2.6Years hone ko hai,abhi tak exam date v final nhi huaa hai? NTPC ka exam huaa v to result ka kuchh aata pata nahi hai,na hi CBT-2 ka date final huaa hai. ntpcResult railway_group_d_exam_date

क्या भारत के कुछ नेता गरिबो को बनाय रखना ही चहता है Ab waise to ise naukri milegi nahi. Netagiri hoti nahi. Theek hi hai. चलिये अब एसे समझे की कि 75 = 290 और 340 = 1090 अब इसका क्या अब ये तो उललू बनाने वाली बात हुई ना 🤣 की एसा वैसा 😄🤑😆😜😝😝😁जय ढोंगीवा उर्फ झोलाछाप 😁😝😜😜😜😜😆🤑🤑😄😄😄🤣🤣🤑😆😜😝😂😂😅🤪🤪🤪

Hahahahaha Lalloo kiya tha garib rally khud ke ghar mein chara bharne ke liye.. Ab bete ki badi hai.. Aise dhongi garib ke hitaisiyon se bach kar rahe.. 'Ye apne ghar ke logo ko amir banane ke liye Garib Rally karte hain' TejYadav14 yadavtejashwi laluprasadrjd 👍 किसान लोकतांत्रिक आवाज उठा रहा है कि उसकी समस्याओं पर सरकार गोर करें। ऐसा लगता है की षडयंत्रकारी शक्तियां किसान को बदनाम करने में लगे हैं जो आग में घी का काम कर रहा है। सरकार संवेदनशील हो और समस्या का इसका तुरन्त हल निकाले। जय किसान

Lalu was also proven employment granting during his regime !!! He was pushed back Bihar 50 at least years now Tejaswi is trying matter of obsn a new scam Karne se kya fayda...uske jagah nokari de do.. apne party me shamil kr lo...₹20K to ₹30K tankhawa de do..garib itne me hi khush ho jyga...par ye sb bakarchodi and Chutiyapa mat failao..

Toyota की इस कार ने फुल टैंक में 1360 किलोमीटर की माइलेज देकर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्डपहले दिन सफर की शुरुआत करते हुए वेन और बॉब ने एक ही दिन में 473 मील (लगभग 761 किलोमीटर) की दूरी तय की। अगले दिन जोड़ी ने 372 मील (599 किलोमीटर) की ईको-इन्फ्यूज्ड ड्राइविंग को कवर किया। Mileage is distance travelled per litre/ kg. You need to fire your social media team.

तेज रफ़्तर तेजस्वी सरकार ❤❤❤

बदली गई गोरखपुर की सूरत, योगी सरकार में गोरक्षनगरी को मिली एक लाख करोड़ की परियोजनाएंकरीब साढ़े चार साल पहले योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने तो गोरखपुर में विकास की गंगा बहने लगी। 19 मार्च 2017 से 18 मार्च 2021 तक गोरखपुर के खाते में एक लाख करोड़ रुपये की परियोजनाएं आ चुकी हैैं। Saale tu to bika hua hai लोगो का खून चूस के कितनी भी परियोजनाओं को ले आओ लेकिन असली तलवे चाटुकार की योजना सबसे बड़ा बिकाऊ में प्रथम स्थान प्राप्त करेगा । जूतो से मारना चहोये इन के दलालो को

अमेरिका की HHS बिल्डिंग में बम की सूचना के बाद मचा हड़कंपअमेरिका की HHS बिल्डिंग में बम मिलने की धमकी से हड़कंप मच गया है. कहा गया है कि Humphrey building में बम होने की सूचना मिली है. मौके पर पलिस पहुंच चुकी है और पूरी बिल्डिंग को खाली करवा दिया गया है. अभी के लिए बम नहीं मिला है लेकिन आगे की जांच की जा रही है.

समीर वानखेड़े: आर्यन ख़ान की गिरफ़्तारी से लेकर ‘हिंदू-मुसलमान’ की पहचान तक - BBC News हिंदीमहाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक के एक दावे के बाद एनसीबी के मुंबई डिवीज़न के डायरेक्टर समीर वानखेड़े की धार्मिक पहचान को लेकर चर्चाएं ज़ोरों पर हैं. जिनके औलादों की कृत्य जेल जाने वाली है वो दूसरे पर उंगली ही उठाएंगे Vasooli karne wala chor naam badalkar kaam karta hai कहीं ऐसा तो नहीं कि विश्वविख्यात दाऊद ही इसका असली बाप?

टीवी एक्ट्रेस काम्या पंजाबी की राजनीति में एंट्री, कांग्रेस पार्टी की ज्वॉइनटीवी एक्ट्रेस काम्या पंजाबी ने एक्टिंग के बाद राजनीति में अपनी नई पारी शुरू कर दी है। काम्या पंजाबी ने कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन कर ली है। मुंबई कांग्रेस प्रेजिडेंट भाई जगताप, वर्किंग प्रेजिडेंट चरण सिंह सापरा और यूथ लीडर सूरज सिंह ठाकुर ने काम्या का पार्टी में स्वागत किया।

BJP में बागियों की थाह लेने पहुंचे विजय बहुगुणा, मुख्यमंत्री धामी से की मुलाकातदेहरादून। उत्तराखंड भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा। पार्टी में बगावतियों की थाह लेने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा अचानक देहरादून पहुंचे। देहरादून आकर वे भाजपा के राज्य संगठन महामंत्री से मिले और उसके बाद वे पार्टी में असंतुष्ट बताए जा रहे विधायक उमेश शर्मा काऊ और कैबिनेट मंत्री हरक सिंह से मिले। आज सुबह उन्होंने बताया कि पार्टी में बगावत संबंधी खबरें निराधार हैं।