तालिबान और अफ़ग़ान बलों में तेज़ हुई जंग, तीन शहरों में गहराया संकट - BBC News हिंदी

तालिबान और अफ़ग़ान बलों में तेज़ हुई जंग, तीन शहरों में गहराया संकट

01-08-2021 17:22:00

तालिबान और अफ़ग़ान बलों में तेज़ हुई जंग, तीन शहरों में गहराया संकट

चरमपंथियों ने आम परिवारों के घरों में पनाह ली है, जिससे उन्हें हटाना मुश्किल हो जाएगा. आगे और लंबी ख़ूनी लड़ाई होती दिख रही है. रविवार को तालिबान ने कंधार हवाई अड्डे पर रॉकेट दागा.

किरमानीका विश्लेषणतालिबान का पूरा फ़ोकस अब अफ़ग़ानिस्तान के शहरों पर है. स्थितियां बदल रही हैं लेकिन हेलमंद प्रांत की राजधानी लश्कर गाह, जहाँ कई अमेरिकी और ब्रिटिश सैनिकों ने अपनी जान गंवाई, अभी सबसे कमज़ोर स्थिति में लग रही है. तालिबान समर्थक सोशल मीडिया अकाउंट्स से ऐसे वीडियो अपलोड किए गए हैं जिनमें उनके लड़ाके शहर के बीचों-बीच दिख रहे हैं.

राहुल और प्रियंका के पास अनुभव नहीं है: अमरिंदर सिंह - BBC News हिंदी सऊदी अरब के किंग सलमान यूएन महासभा में ईरान पर जमकर बोले - BBC News हिंदी ग्लोबल कोविड समिट में PM मोदी ने दिया विश्व संदेश- 150 से ज्यादा देशों की भारत ने मदद की

अफ़ग़ान विशेष बलों को उन्हें पीछे खदेड़ने में मदद के लिए भेजा जा रहा है, लेकिन एक स्थानीय निवासी ने हमें बताया कि अगर ऐसा होता भी है, तो भी तालिबान का आगे बढ़ना उनकी ताक़त को मज़बूती से दिखाता है.समझा जाता है कि चरमपंथियों ने आम परिवारों के घरों में पनाह ली है, जिससे उन्हें हटाना मुश्किल हो जाएगा. आगे और लंबी ख़ूनी लड़ाई होती दिख रही है.

इमेज स्रोत,Getty Imagesरविवार को कंधार हवाई अड्डे पर उड़ानें निलंबित कर दी गईं क्योंकि तड़के परिसर में तालिबान के रॉकेट हमले हुए थे. इससे रनवे को कुछ नुक़सान हुआ.कंधार के एक सांसद ने शनिवार को बीबीसी को बताया कि शहर के तालिबान के कब्ज़े में आने का गंभीर ख़तरा है. हज़ारों लोग पहले ही विस्थापित हो चुके हैं और एक मानवीय आपदा का संकट मंडरा रहा है. headtopics.com

गुल अहमद कामिन ने कहा कि स्थितियां घंटे दर घंटे ख़राब होती जा रही हैं और शहर के भीतर लड़ाई 20 वर्षों में सबसे गंभीर है.अहमद कामिन ने कहा कि तालिबान अब कंधार को एक प्रमुख केंद्र बिंदु के रूप में देखता है. एक ऐसा शहर जिसे वो अपनी अस्थायी राजधानी बनाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि अगर ये चला गया, तो क्षेत्र के पाँच या छह अन्य प्रांत भी हाथ से निकल जाएंगे.

उन्होंने कहा कि तालिबानी लड़ाके शहर के कई हिस्सों में हैं और अगर चरमपंथी पूरी तरह अंदर घुस गए तो बड़ी नागरिक आबादी होने की वजह से सरकारी बल भारी हथियारों का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे.आर्थिक रूप से अहम हेरात शहर में अफ़ग़ान विशेष बलों को तैनात किया गया है और रविवार को स्थिति अधिक स्थिर दिखाई दी.

अफ़ग़ान सैनिक, वरिष्ठ सिपहसालार और तालिबान-विरोधी कमांडर इस्माइल ख़ान के साथ लड़ रहे हैं, जिन्होंने चरमपंथियों से निपटने के लिए नागरिकों को एकजुट किया है.शहर के बाहर स्थित तालिबान के ठिकानों पर भी हवाई हमले किए गए हैं.हवाई अड्डे के नज़दीक स्थित एक यूएन कैंपस के बाहर शुक्रवार को एक गार्ड की हत्या कर दी गई थी, जिसे संयुक्त राष्ट्र ने जानबूझकर किया गया तालिबानी हमला बताया.

इमेज स्रोत,Getty Images'इस्लामिक अमीरात'अफ़ग़ानिस्तान के लिए यूरोपीय संघ के विशेष दूत टॉमस निकलासन ने कहा कि उनका मानना ​​है कि संघर्ष और भी बुरा रूप ले सकता है.उन्होंने कहा कि उन्हें डर है, तालिबान का सोचने का तरीक़ा अब "कुछ ऐसा है, जैसा अतीत में था - उनका इस्लामी अमीरात...फिर से स्थापित करना." headtopics.com

सिद्धू ने शेयर की थी फोटो, विपक्ष ने सुनाई खरी-खोटी तो CM चन्नी बोले- क्या हुआ जो गरीब जेट में बैठ गया वॉशिंगटन पहुंचे PM मोदी, क्वाड देशों के पहले सम्मेलन में होंगे शामिल, जो बाइडेन से करेंगे द्विपक्षीय बात- 10 अहम बातें मोदी का अमेरिका दौरा: प्रधानमंत्री सुबह 3.30 बजे वॉशिंगटन पहुंचे, भारतीय समुदाय ने किया स्वागत; आज कमला हैरिस से होगी मुलाकात

और ब्रिटिश सशस्त्र बलों के पूर्व प्रमुख, जनरल डेविड रिचर्ड्स ने चेतावनी दी कि अंतरराष्ट्रीय सेना की वापसी से अफ़ग़ान सेना का मनोबल गिर सकता है. इससे तालिबान का नियंत्रण बढ़ सकता है और नए सिरे से अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद का ख़तरा पैदा हो सकता है.मानवीय सहायता देने वाले संगठनों ने भी आने वाले महीनों में एक बड़े संकट की चेतावनी दी है. तालिबान के जारी हमलों के बीच खाने, पानी और अन्य ज़रूरी सेवाओं की कमी हो रही है और शिविरों में विस्थापितों की भीड़भाड़ बढ़ती जा रही है.

नवंबर 2001 में अमेरिकी सैनिकों और उनके नेटो और क्षेत्रीय सहयोगियों ने तालिबान को सत्ता से बेदख़ल कर दिया था.इस समूह ने अमेरिका में 11 सितंबर 2001 में हुए हमलों से जुड़े ओसामा बिन लादेन और अल-क़ायदा के अन्य लोगों को पनाह दी थी.लेकिन निरंतर अंतरराष्ट्रीय उपस्थिति, अफ़ग़ान सरकारी बलों के लिए अरबों डॉलर के सहयोग और प्रशिक्षण के बावजूद तालिबान फिर से संगठित हो गया और धीरे-धीरे ताक़त हासिल कर ली.

फ़रवरी 2020 में, तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिका के सहयोगी, अंतरराष्ट्रीय सुरक्षाबलों की वापसी को लेकर तालिबान से समझौते पर राज़ी हुए. इस साल, राष्ट्रपति जो बाइडेन ने घोषणा की कि सितंबर तक सेना की वापसी होगी. और पढो: BBC News Hindi »

Delhi में बड़े Terror Module का पर्दाफाश, जांच एजेंसियों ने 6 को दबोचा, देखें स्पेशल रिपोर्ट

दिल्ली में पाकिस्तान की बड़ी साजिश का खुलासा करते हुए एजेंसी ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक इस पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करने वाले 6 लोगों में से दो ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग हासिल की थी. जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान द्वारा पोषित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में जांच एजेंसियों ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया है. पकड़े गए संदिग्ध भारत में इस आतंकी मॉड्यूल को ऑपरेट कर रहे थे. इन सभी से लगातार पूछताछ की जा रही है. एजेंसी का दावा है कि पकड़े गए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

TALIBAN WITH PAKISTAN FIGHT AGINST AFGANISTAN यह कैसा युद्ध है, दुश्मन कहीं पर नहीं दिखाई देता मगर मशीन गन से गोलियां दाग़ रहें हैं धड़ाधड़,कितनी गोलियां और मिसाइलों की फिजुल खर्ची। e taliban nahi pakistani ladaku lagte hai,aur e saf hai ki pakistan afghanistan pe kabja krna chahta hai

अफ़ग़ानिस्तान के तीन प्रमुख शहरों में तालिबान लड़ाके और अफ़ग़ान सेना आमने-सामने - BBC Hindiअमेरिकी और विदेशी सैनिकों की वापसी की घोषणा के साथ ही तालिबान ने अफ़ग़ानिस्तान में अपना कब्ज़ा बढ़ाना शुरू कर दिया है.

जैश अब तालिबान के सहारे: पाक आतंकी तालिबान का फायदा उठाने की फिराक में, आतंकियों को रास नहीं आ रही जम्मू-कश्मीर में चुनावों में लोगों की भागीदारीपाकिस्तानी आतंकी संगठन अफगानिस्तान पर तालिबान की बढ़ती पकड़ का फायदा उठाने की फिराक में हैं। लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठन भारत को निशाना बनाने के लिए दोबारा आतंकियों की तैनाती करेंगे। एशियाई मामलों की रिपोर्टिंग करने वाले फ्रेंच न्यूज लेटर ‘एशियालिस्ट’ की रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। यह रिपोर्ट क्षेत्रीय विशेषज्ञ ओलिवीर गिलार्ड ने तैयार की है। | Pak terrorist trying to take advantage of Taliban, terrorists do not like showing participation of people in local elections Dainik Bhaskar सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव सियार की मौत आती है, तो वो शहर की तरफ भागता हैं| बाहर वालो से तो भारतीय सेना बखूबी निपट लेगी। लेकिन देश के अंदर वाले हरामखोरो से कैसे निपटे ? समझ तो गये होंगे आप 🙏

संकट: महाराष्ट्र में मिला जीका वायरस का पहला मामला, केरल में भी मिले दो और मरीजसंकट: महाराष्ट्र में मिला जीका वायरस का पहला मामला, केरल में भी मिले दो और मरीज Maharashtra Kerala ZikaVirus OfficeofUT OfficeofUT Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव OfficeofUT Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITC4Assam AITC4Delhi AITC4Bihar AITC4Jharkhand AITC4Tripura AITC4UP

रूस: अंतरिक्ष स्टेशन सेवा मॉड्यूल में दबाव में गिरावट, अंतरिक्ष में लगानी पड़ी इमरजेंसीरूस: हवाई रिसाव के कारण अंतरिक्ष स्टेशन सेवा मॉड्यूल के दबाव में गिरावट, नियंत्रण से बाहर किया गया Russia InternationSpaceStation Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव

टोक्यो ओलिंपिक LIVE: तीरंदाजी में अतनु दास और बॉक्सिंग में अमित पंघल प्री-क्वार्टर फाइनल में हारे; सेमी फाइनल में चीनी ताइपे की प्लेयर से भिड़ेंगी सिंधुटोक्यो ओलिंपिक में 9वें दिन वर्ल्ड नंबर-1 बॉक्सर अमित पंघल प्री- क्वार्टर फाइनल मुकाबला हार गए हैं। उन्हें कोलंबिया के युबेर्जेन रिवास ने 4-1 से हराया। अमित ने पहला राउंड आसानी से जीता, लेकिन दूसरे और तीसरे राउंड में वे अपने लय को कायम नहीं रख सके। वहीं, तीरंदाजी में भी अतनुदास को हार का सामना करना पड़ा। उन्हें जापान के ताकाहारू फुरुकावा ने 6-4 से हराया। | Tokyo Olympics 2021 Live Updates; Get the Latest Tokyo Olympics News Today and Hindi News Headlines on Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर) PVSindu का गोल्ड पक्का । ये पहले से fix हैं।

नए नियम: आज से टैक्स और बैंकिंग के नियमों में होंगे ये बदलाव, बैंक सेवाएं महंगीनए नियम: आज से टैक्स और बैंकिंग के नियमों में होंगे ये बदलाव, बैंक सेवाएं महंगी NewRules Taxandbankingrules 1stAugust ATMcharges RBI RBI RBI Modi time me bank and tex ke rule daily change ho rahe hai.esko khud hi nhi pta hai ki tex thik se lag rahe hai ya nhi . RBI Ye har baar tex ko increase hi karte hai.ya phir pehle janta ko dikhne ke liye tex ko increase krti hai phir vote lene ke lalch me tex ko kam kar deti hai.jisse ki janta ko lge ki BJP unka diyan rakh rahi hai.