Dunia Mere Aage, Sahitya, Assessment, Climax, Logic

Dunia Mere Aage, Sahitya

तर्क की पराकाष्ठा पर आकलन

तर्क की पराकाष्ठा पर आकलन in a new tab)

25-10-2021 00:04:00

तर्क की पराकाष्ठा पर आकलन in a new tab)

जीवन में जब भी कोई महत्त्वपूर्ण निर्णय लेने का समय आता है, बहुत जरूरी होता है कि हम तर्क से उसका आकलन करें, न कि भावनाओं में बह कर।

लोगों से मिलते हुए अपने जेहन में हमेशा रखिए कि किसी व्यक्ति से आप क्या सीख सकते हैं! अपनी परिकल्पनाओं को क्रियान्वित करते हुए अपने शब्दों, विचारों और क्रियाओं पर ध्यान दीजिए। आप दूसरों तक अपने विचार किस तरह प्रेषित कर रहे हैं, यह भी बहुत महत्त्वपूर्ण है। उन विचारों को दृढ़ता से रखिए। जब कोई निर्णय लेने का समय आए तो सारे तथ्यों को पहले खंगालिए। दूसरों की मदद के लिए हाथ बढ़ाइए। मगर दूसरों की मदद करते समय विचारपूर्वक कार्य कीजिए, भावनाओं को कुछ समय के लिए तिलांजलि दे दीजिए।

यूपीए के अस्तित्व के सवाल के बीच: राहुल गांधी से मिलने के बाद संजय राउत ने कहा- विपक्ष का केवल एक मोर्चा होना चाहिए Anil Menon बनेंगे नासा एस्ट्रोनॉट, हो सकते हैं चांद पर जाने वाले पहले भारतवंशी! UAE में अब सरकारी कर्मचारियों को पांच दिन से भी कम समय करना होगा काम

उन लोगों की मदद लीजिए, जो आपको तर्कपूर्ण विचार करने में मदद कर सकते हैं। गौर से देखिएगा, न केवल एक वर्ष में बावन सप्ताह होते हैं, बल्कि ताश के पत्ते भी बावन होते हैं और पियानो की कुंजियां भी बावन होती हैं। आप अपने जीवन को ताश के पत्तों के ढेर की तरह ढहा देना चाहते हैं या उन्हें सुरीला बनाना चाहते हैं, निर्णय आपका है। अंग्रेजी वर्णमाला में भी बावन अक्षर होते हैं। क्या यह गलत है? बिल्कुल केवल छब्बीस वर्ण होते हैं, लेकिन अगर छोटे और बड़े दोनों वर्णों को मिला दें तो बावन ही हुए! यह केवल तर्क करने का उदाहरण था। हर चीज को तार्किकता की दृष्टि पर टटोलिए। जीवन में कुछ भी बेमतलब नहीं होता। अगर आपसे कुछ पूछा जा रहा है और आपको वह बेमतलब लग रहा है तो जरूरी नहीं कि वास्तव में वह बेमतलब ही हो।

लगातार सीखते रहिए। अपना विस्तार कीजिए। विकास का एकमात्र मार्ग नया सीखते जाना है। ईसाई धर्म से जुड़े कई ग्रंथों का एक बड़ा संग्रह मिस्र के शहर में बना नाग हम्मादी पुस्तकालय है। यहां दार्शनिक और धार्मिक किताबों के बावन समुच्चय हैं। वर्ष 1945 में इसकी खोज में पता चला कि इन किताबों में ईसाई धर्म से जुड़ी कई ऐसी बातें हैं, जो बाइबल में भी नहीं हैं। तो अपने तर्क को तराशते रहिए। आपको हर विषय के कई नए पहलू पता चलते रहेंगे। अपने आप पर विश्वास कीजिए। विश्वास कीजिए कि आप ऐसे लोगों और वस्तुओं-स्थितियों को परख सकते हैं, जो आपकी राह को सुकर नहीं करते और उन्हें कैसे अपने मार्ग से परे किया जा सकता है। headtopics.com

जगह बनाइए, ताकि आप उन उपहारों को ले सकें, जो प्रकृति आपको देना चाहती है। यही सही समय है कि आप कुछ नई शुरुआत कर सकें। बीती ताहि बिसार दे, आगे की सुधि ले, उक्ति को हमेशा याद रखिए। इसका यह मतलब नहीं कि पुराने संबंधों को तिलांजलि दें, बल्कि इसका अर्थ है कि जो बीत गया, वह बीत गया, उसे बदला नहीं जा सकता, लेकिन नई शुरुआत के लिए तैयार रहिए, नई आजादी, नई खोज, नए कौतूहल, नई उत्सुकता को अपने जीवन में स्थान दीजिए। खुद को हर बंधन से मुक्त कीजिए। अपने माद्दे को पहचानिए और वह तुरंत कर गुजरिए, जो आप करना चाहते हैं। नए अवसर लंबी प्रतीक्षा नहीं करते। अपनी रचनात्मकता और खिलंदड़ेपन को जिंदा रखिए। अपने दिल की सुनिए और अनजाने का स्वागत कीजिए।

अगर आप किसी चीज को छोड़ना ही नहीं चाहेंगे, तो नए को अपनाएंगे कैसे? घर के पुराने सामान से शुरू कीजिए। जो आपके काम की नहीं, उन वस्तुओं को दूसरे किसी जरूरतमंद को दे दीजिए। जरूरतमंद मतलब गरीब ही नहीं, बल्कि कोई भी ऐसा, जिसके वह वस्तु काम आ सकती है। देने की भूमिका में तो आइए, देखिए आपको वह स्वतंत्रता मिल जाएगी, जिसकी आपको तलाश थी। थोड़ा सुकून में जी लीजिए, प्रक्रिया का आनंद लीजिए और अनजाने के प्रति अपने डर, चिंता और आशंका को छोड़ दीजिए। साहसिक यात्रा की तरह इस नए प्रवास का आनंद लीजिए, जो आपका अपने साथ है। संभावनाओं के द्वार खोलिए और नए अवसरों का स्वागत कीजिए, जो होगा, अच्छा ही होगा यह विश्वास रखिए। हम वैसे भी नहीं जानते कि हम कहां जाएंगे या आगे क्या होने वाला है, तो थोड़ा भरोसा रखिए और खुले मन से हर नई चीज को स्वीकार कीजिए।

और पढो: Jansatta »

इतिहास में पहली बार ट्रेन से चला प्याज: 220 टन लाल प्याज किसान व्यापारियों ने सीधे असम भेजा, 1836km का सफर करेगा

राजस्थान के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब यहां होने वाली प्याज को ट्रेन से किसी दूसरे राज्य में भेजा गया है। पहली बार अलवर की प्याज रेल से असम भेजा गया है। पूरे प्रदेश में इससे पहले कभी भी प्याज को मालगाड़ी से ट्रांसपोर्ट नहीं किया गया। किसान रेल के जरिए किसानों की उपज को भेजने की उत्तर पश्चिम रेलवे ने यह शुरुआत की है। | उत्तर पश्चिम रेलवे के क्षेत्र में किसान रेल की अलवर से शुरूआत, 220 टन प्याज अलवर से असम भेजी

लगातार पांचवें दिन बढ़ी पेट्रोल-डीज़ल की कीमत, राहुल गांधी बोले- टैक्स डकैती बढ़ती जा रही है - BBC Hindiराहुल गांधी ने रविवार को तेल की बढ़ती कीमतों के मुद्दे पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि पेट्रोल की कीमतों पर टैक्स डकैती बढ़ती जा रही है. परिधानमंत्री लूट केंद्र के सामने से गुजरने पर भी डर लगता है। इंडोनेशिया में धार्मिक क्रांती 26 October को राष्ट्रपति उप-राष्ट्रपति हिंदु धर्म अपनायेंगे,भारत खुश Where is Bindi? NoBindiNoBusiness

आजादी का अमृत महोत्सव : नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जन्मस्थली में सहेजी गई विरासत, पढ़ें विशेष रिपोर्टआजादी का अमृत महोत्सव : नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जन्मस्थली में सहेजी गई विरासत, पढ़ें विशेष रिपोर्ट AzadiKaAmritMahotsav Legacy Birthplace Netaji NetajiSubhasChandraBose SubhasChandraBose PMOIndia

'कृषि नीति पर पुनर्चिंतन की जरूरत' : किसान के फसल जलाने के VIDEO पर बोले वरुण गांधीवरूण गांधी ने शनिवार को एक किसान का वीडियो ट्वीट किया. जिसमें किसान ने 15 दिन तक भी धान की फसल नहीं खरीदे जाने पर उसमें आग लगा दी. आपका पत्ता साफ करने पर चिंतन और मंथन सब हो रहा है 😂 मोदी भक्त अब इन्हें गद्दार और देशद्रोही करार दे देंगे! इन का आवाज उठाने और किसान का साथ देने के लिए धन्यवाद! FarmersProtest_Martyrs PetrolDieselPriceHike lakhimpur_farmer_massacre कृषि नीति पर पुनर्चिंतन आज की सबसे बड़ी ज़रूरत है.

'रक्षा मंत्रालय की जमीन पर पाकिस्तान से आए प्रवासियों का है कब्जा'पिछली सुनवाई पर हाई कोर्ट ने ऐसे करीब 800 हिंदू प्रवासियों के लिए बिजली कनेक्शन की मांग वाली याचिका पर केंद्र, दिल्ली सरकार और टाटा पावर से जवाब मांगा था। बेंच ने गृह मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय, दिल्ली सरकार, नॉर्थ एमसीडी, दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी), टाटा पावर दिल्ली वितरण लिमिटेड (टीपीडीडीएल) और नॉर्थ दिल्ली के जिलाधिकारी को नोटिस जारी किए थे और उन्हें याचिका पर जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए थे।

'कटोरा' लेकर सऊदी अरब पहुंचे इमरान खान, दिवालियेपन की कगार पर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्थाPakistan: पाकिस्तान को जून 2018 में ग्रे सूची में डाला था। अक्टूबर 2018, 2019, 2020 और अप्रैल 2021 में हुए रिव्यू में भी पाक को राहत नहीं मिली थी। पाक एफएटीएफ की सिफारिशों पर काम करने में विफल रहा है। इसकी वजह इंटरनैशनल मॉनिटरिंग फंड (आईएमएफ), विश्व बैंक और यूरोपीय संघ से आर्थिक मदद मिलना मुश्किल है। ऑक्सीजन कहां से आया था भारत? भुकमरी में पाकिस्तान से आगे है भारत, संघ की पट्टी अपनी आँखों से हटाओ नज़र आ जाएगा Apne desh ki soacho. Pakke besharm ho tum log

स्वास्थ्य मंत्रालय की ऑनलाइन खरीददारी करने की सलाह पर व्यापारी संगठन नाराजकुछ दिनों पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से एक विज्ञापन के माध्यम से लोगों से कोविड से सुरक्षा के लिए बाजारों में न जाकर ऑनलाइन खरीददारी करने का आग्रह किया गया है. इसका व्यापारियों के संगठन चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (CTI) ने विरोध किया है. सीटीआई के चेयरमैन बृजेश गोयल और अध्यक्ष सुभाष खंडेलवाल ने कहा है कि एक तरफ तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  लोकल पर वोकल पर जोर देते हुए देश की जनता से ज्यादा से ज्यादा देशी  सामान खरीदने की अपील करते हैं तो वहीं दूसरी तरफ उसी सरकार का स्वास्थ्य मंत्रालय लोगों से घर बैठे ऑनलाइन खरीददारी करने का आग्रह करके प्रधानमंत्री के आत्मनिर्भर भारत के सपने के विपरीत जाकर लोगों को सलाह दे रहा है.