Iran, America, Saudi Arabia, Oil, Donald Trump

Iran, America

ड्रोन हमले के बाद अमेरिका सख्त, ईरान पर प्रतिबंधों का बढ़ाने का दिया निर्देश

सऊदी अरब में तेल संयंत्र पर ड्रोन हमले के बाद ईरान-अमेरिका में तनाव बढ़ा

18.9.2019

सऊदी अरब में तेल संयंत्र पर ड्रोन हमले के बाद ईरान-अमेरिका में तनाव बढ़ा

सऊदी अरब में तेल संयंत्र पर ड्रोन हमले के बाद अमेरिका ईरान पर सख्त रवैया अपना रहा है. अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान पर प्रतिबंधों को बढ़ाने का निर्देश दिया है.

पोम्पियो ने ट्वीट किया कि सऊदी अरब पर करीब 100 हमलों के पीछे ईरान का हाथ है, जबकि ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी और विदेश मंत्री मोहम्मद जावद जरीफ कूटनीति में शामिल होने का दिखावा करते हैं. पोम्पियो ने सऊदी के तेल ठिकानों पर हमला करने के यमन के हूती विद्रोहियों के दावे को भी खारिज कर दिया.

पोम्पियो ने कहा कि इसके कोई सबूत नहीं हैं कि सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमले यमन से किए गए. साथ ही पोम्पियो ने अन्य देशों से हमले के लिए ईरान की निंदा करने का आह्वान किया.

ईरान ने अमेरिका के दावे को खारिज कर दिया. ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मौसवी ने कहा कि अमेरिका ने बेबुनियाद आरोप लगाए हैं. इसके साथ ही ईरान के विदेश मंत्री जावद जरीफ ने अमेरिका पर तंज कसा है. उन्होंने ट्वीट किया कि ईरान पर अधिकतम दबाव बनाने में अमेरिका विफल रहा. अब अमेरिका का अधिकतम दबाव शातिर चाल में बदल गया है.

और पढो: आज तक

Globalisation to have interacted so many world confrontations now a days may proceed to saturations for right corrections of global relations to persist amidst Nations world over.Voluntary whims of Nations expressing their warring attitudes thereafter may be capped by any Forum. Ok SUPER MAN NAMO NAMO We should not be concerned about US and Iran. We should be worried about $400 bn Line of Credit loan to Iran by China. When will India think 2-3 decades ahead from present. 🤔🤔

जानिए किस मॉडल पर आधारित ड्रोन से सऊदी अरामको पर किया गया हमलासऊदी अरब की अरामको तेल कंपनी पर हमला ड्रोन से किया गया या किसी मिसाइल का इस्तेमाल किया गया इसको लेकर छानबीन की जा रही है।

अमेरिकी अधिकारियों का दावा- हूती नहीं, ईरान से हुआ अरामको प्लांट पर हमलाअमेरिकी रिटायर्ड कर्नल सैड्रिक लीगटन ने सीएनएन को बताया, इस तरह के हमले को कोई सरकार ही अंजाम दे सकती है न कि कोई विद्रोही गुट. इन बातों का सीधा मतलब है कि ये ड्रोन या तो ईरान ( Iran ) से भेजे गए थे या फिर इराक (Iraq) से. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी Matlb war conform Shia Sunni Musalman Ko ladana Chahta Hai America isliye Jisne zimmedari li usko Chhod Kar kis tarike se Jhoot ka propaganda kara kar yah sab se bada apne aap ko Kahane wala America kis tarike se do deshon ko aapas Mein Lagate Hain Dekh Lijiye

ड्रोन हमले पर बोले अमेरिकी उपराष्ट्रपति- सहयोगियों की रक्षा के लिए तैयारसऊदी अरब में तेल संयंत्र पर ड्रोन हमले को लेकर अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि वो अपने हितों और सहयोगियों की रक्षा करने के लिए तैयार हैं. सऊदी अरब में स्थ‍ित अरामको के संयंत्रों पर ड्रोन हमले से कई देशों की अर्थव्यवस्था चौपट हो सकती है भारत की अर्थव्यवस्था को भी बड़ा झटका लग सकता है

ONGC पर 2.05 करोड़ रुपये का जुर्माना, असम में पर्यावरण नियमों का किया था उल्लंघनप्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने यह आदेश असम में ओएनजीसी के छह कुओं में पर्यावरण नियमों के उल्लंघन मामले में जारी किया है। बोर्ड ने पांच सितंबर के आदेश में कहा , ' प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड , असम आपको सूचित करता है कि आपने (ओएनजीसी) पर्यावरण नियमों का उल्लंघन किया है।

जन्मदिन पर तिहाड़ से चिदंबरम का संदेश, भगवान इस देश का भला करेजेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि वह 74 साल के हो गए हैं लेकिन दिल से 74 साल के जवान महसूस कर रहे हैं और उनका उत्साह और बढ़ा है। भरष्टाचारीयोंऔर देश द्रोही यों की जमात से भारत को बचाए इस देश का भला तो उसी दिन हो जायेगा जिस दिन कर्रप्शन जैसी घातक बीमारी समाप्त हो जाएगी. 'Jitna Bura ho sakta tha Maine Kiya, ab Bhagwaan Accha tum Karo' !!! Saala BC 🤬🤬🤬

असम: तीन महिलाओं ने पुलिस पर लगाया मारपीट का आरोप, एक का हुआ गर्भपातएक अपहरण के मामले में पुलिस ने तीनों बहनों को पकड़ा था। उनके भाई पर एक परिवार ने अपनी बेटी को भगाने का आरोप लगाया था। sarbanandsonwal Koi SHAK NI ISMAIN sarbanandsonwal Oooh

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

18 सितम्बर 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

दिल्ली: अवैध कॉलोनियों में बीजेपी नेता करेंगे दौरा, इस खास रणनीति पर करेंगे काम

अगली खबर

सऊदी अरब पर हमला: अमरीका ने अपना तेल भंडार क्यों बचा रखा है
पिछली खबर अगली खबर