Coronavirusoutbreak, Who, Trump On Who, Trump On China, Trump Declaration On Who, Donald Trump Who Termination, Donald Trump Latest News, Donald Trump, Covid-19 İn Usa, Coronavirus İn Usa, America Ka Who Se Hatne Ka Elan, America News, America News İn Hindi, America Latest News, America Headlines, अमेरिका समाचार

Coronavirusoutbreak, Who

डोनाल्ड ट्रंप का ऐलान- WHO से अमेरिका ने तोड़े सारे संबंध, बताया चीन की 'कठपुतली'

.@realDonaldTrump ने WHO से US के हटने का किया ऐलान #CoronavirusOutbreak

30-05-2020 05:35:00

.realDonaldTrump ने WHO से US के हटने का किया ऐलान CoronavirusOutbreak

अमेरिका न्यूज़: Donald Trump WHO डोनाल्ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि WHO से अमेरिका (US ends who relations) ने अपने सारे संबंध तोड़ लिए हैं। ट्रंप ने संगठन को पूरी तरह से चीन (China) के नियंत्रण में बताया है। Coronavirus कोरोना महामारी (Covid-19 Outbreak) को लेकर ट्रंप ने इससे पहले भी WHO को कई बार घेरा था।

अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ से संबंध तोड़ने का किया ऐलानराष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मीडिया से बातचीत में की घोषणाट्रंप ने कहा कि संगठन पर पूरी तरह से चीन का कब्जा हैअमेरिका ने इससे पहले WHO को सालाना मदद रोकी थीवॉशिंगटनकोरोना का सबसे ज्यादा कहर झेल रहे अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से अपने सारे संबंध तोड़ लिए हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसका ऐलान किया है। ट्रंप ने कहा कि

स्पेशल रिपोर्ट: कांग्रेस के युवा नेताओं को रास नहीं आया पायलट पर एक्शन सचिन पायलट के समर्थन में उतरीं प्रिया दत्त, बोलीं- पार्टी से एक और दोस्त चला गया पायलट को पद से हटाने पर बोलीं अदिति सिंह- मुझे तो शादी के अगले दिन नोटिस थमा दिया

WHOपर पूरी तरह से चीन का कंट्रोल है। ऐसे में अमेरिका उससे अपना रिश्ता खत्म कर रहा है। ट्रंप ने आरोप लगाया कि WHO कोरोना वायरस को शुरुआती स्तर पर रोकने में नाकाम रहा। इस दौरान ट्रंप ने चीन को भी चौतरफा घेरा। कोरोना महामारी को लेकर ट्रंप ने इससे पहले भी WHO को कठघरे में खड़ा किया था।

टॉप कॉमेंटसही कदम अमेरिकी राष्ट्रपति का।skvअपना कॉमेंट लिखें'कोरोना के कहर के लिए चीन-WHO दोषी'ट्रंप ने WHO और चीन को दुनियाभर में कोरोना से हुई मौतों का जिम्मेदार ठहराया। ट्रंप ने कहा, 'सालाना सिर्फ 40 मिलियन डॉलर (4 करोड़ डॉलर) की मदद देने के बावजूद चीन का WHO पर पूरी तरह नियंत्रण है। दूसरी ओर अमेरिका इसके मुकाबले सालाना 45 करोड़ डॉलर की मदद दे रहा था। चूंकि वे जरूरी सुधार करने में नाकाम रहे हैं, इसलिए आज से हम WHO से अपना संबंध खत्म करने जा रहे हैं।'

पढ़ें:ट्रंप ने ट्वीट किया China, एक शब्द में यूं मिला जवाबइस दौरान ट्रंप ने कहा कि WHO को रोके गए फंड को अब दुनिया के दूसरे स्वास्थ्य संगठनों की मदद में इस्तेमाल किया जाएगा। ट्रंप ने इस दौरान चीन के खिलाफ लिए गए कई फैसलों का सिलसिलेवार तरीके से ऐलान किया।

"सालाना सिर्फ 4 करोड़ डॉलर की मदद देने के बावजूद चीन का WHO पर पूरी तरह नियंत्रण है। दूसरी ओर अमेरिका इसके मुकाबले सालाना 45 करोड़ डॉलर की मदद दे रहा था। वे जरूरी सुधार करने में नाकाम रहे हैं, इसलिए आज से हम WHO से अपना संबंध खत्म करने जा रहे हैं।"

-अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंपचीन के वुहान वायरस से 1 लाख अमेरिकी मरे: ट्रंपट्रंप ने कोरोना को चीन का वुहान वायरस करार देते हुए कहा, 'चीन ने वुहान वायरस को छिपाकर कोरोना को पूरी दुनिया में फैलने की इजाजत दी। इससे एक वैश्विक महामारी पैदा हुई, जिसने 1 लाख से ज्यादा अमेरिकी नागरिकों की जान ले ली। पूरी दुनिया में लाखों लोगों की इस वायरस से मौत हुई। चीनी अधिकारियों ने इन सबके बीच डब्ल्यूएचओ को अपने रिपोर्टिंग दायित्वों की अनदेखी की।'

पढ़ें:डोनाल्ड ट्रंप ने रोका WHO का फंड, कोरोना जंग में झटकाभारत-चीन विवाद: क्या मोदी के मूड पर ट्रंप ने बोला झूठ?भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर मध्यस्थता की पेशकश करने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को ऐसी बात कह डाली जिसने पूरी अंतरराष्ट्रीय बिरादरी में हलचल पैदा कर दी। ट्रंप ने कहा किया भारत-चीन विवाद को लेकर उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी से बात की है और वो अच्‍छे मूड में नहीं हैं। लेकिन ट्रंप के इस दावे पर सवाल खड़े हो रहे हैं। देखिए ये वीडियो रिपोर्ट।

पायलट कल दिल्ली में करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस, राजस्थान की नूराकुश्ती पर तोड़ेंगे चुप्पी पायलट को सीएम बनाने की दी थी सलाह, पार्टी से निलंबित किए गए संजय झा पायलट के करीबी विश्वेंद्र सिंह बोले- आज तो 20-20 था, कल से टेस्ट मैच चालू

चीनी निवेश पर नकेल, हांगकांग पर घेराट्रंप ने चीन के कुछ नागरिकों को प्रवेश न दिए जाने और अमेरिका में चीनी निवेश पर नकेल कसने की घोषणा की। ट्रंप ने इस दौरान चीन को हांगकांग के मुद्दे पर जमकर घेरा। ट्रंप ने कहा कि चीन की ओर से हांगकांग में लगाए गए प्रतिबंधों के जवाब में अब अमेरिका स्पेशल ट्रीटमेंट खत्म करेगा। ट्रंप ने कहा कि हम हांगकांग के लिए ट्रैवल अडवाइजरी में संशोधन करेंगे, क्योंकि चीन की तरफ से लगाए गए निगरानी और सुरक्षा उपकरणों से खतरा बढ़ा है।

पढ़ें:ट्रंप ने फिर की मोदी की तारीफ- सज्जन व्यक्ति, बहुत पसंद"चीन ने अपने एक देश दो सिस्टम के वादे को एक देश एक सिस्टम से बदल दिया है। इसलिए अब मैं अपने प्रशासन को निर्देश दे रहा हूं कि हांगकांग को अलग और स्पेशल ट्रीटमेंट देने वाली नीतिगत छूटों को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करें।"

-अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंपट्रंप बोले- हांगकांग पर वादे से मुकरा चीनहांगकांग के मुद्दे पर चीन को अपने वादे से मुकरने का आरोप लगाते हुए ट्रंप ने कहा, 'हांगकांग के खिलाफ चीनी सरकार का कदम शहर की प्राचीन और गर्व करने वाले स्टेटस को खत्म कर रहा है। यह हांगकांग के लोगों, चीन के लोगों और सच पूछिए तो दुनिया के लोगों के लिए एक त्रासदी है। चीन ने अपने एक देश दो सिस्टम के वादे को एक देश एक सिस्टम से बदल दिया है। इसलिए अब मैं अपने प्रशासन को निर्देश दे रहा हूं कि हांगकांग को अलग और स्पेशल ट्रीटमेंट देने वाली नीतिगत छूटों को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करें।'

कोरोना: ट्रंप ने WHO को दी धमकी, सुधर जाओअमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने धमकी दी है कि अगर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने अगले 30 दिनों में अपने अंदर वास्‍तविक सुधार का वादा नहीं किया तो अमेरिका WHO की फंडिंग से हमेशा के लिए हट जाएगा।पढ़ें:कोरोना से अमेरिका में 1 लाख से ज्यादा मौत, चीन पर फिर बरसे ट्रंप

अमेरिका ने WHO का सालाना फंड रोका थाट्रंप ने हाल ही में कोरोना वायरस संकट पर गैर जिम्मेदार तरीके से काम करने का आरोप लगाते हुए WHO को दी जाने वाली आर्थिक सहायता पर रोक लगा दी थी। ट्रंप ने कहा था कि जब तक कोरोना के प्रसार को कम करने को लेकर WHO की भूमिका की समीक्षा नहीं हो जाती, तब तक यह रोक जारी रहेगी।

ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका के करदाता डब्ल्यूएचओ को सालाना 40 से 50 करोड़ डॉलर देते हैं जबकि चीन सालाना तकरीबन 4 करोड़ डॉलर या उससे भी कम राशि देता है। ट्रंप ने WHO को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा था कि कोरोना के प्रकोप में अपना कर्तव्य निभाने में वह पूरी तरह नाकाम हुआ रहा।

राजस्थान का किला बचा लेगी कांग्रेस या पायलट की उड़ान अभी बाकी? देखें दंगल बंगाल में BJP MLA के सुसाइड मामले में CBI जांच की मांग, गृह मंत्री ने मांगी रिपोर्ट केपी ओली के बयान पर VHP का पलटवार, आलोक कुमार बोले- विदेशी ताकतों के दबाव में दिया बयान

Web Titledonald trump declares us terminating its relationship with who और पढो: NBT Hindi News »

realDonaldTrump Yeh huyi na mard ki baat realDonaldTrump Stay In realDonaldTrump वाह तारीफे काबिल बाला फैसला ट्रम्प है तो मुमकिन है realDonaldTrump Chaina ke arthik samajik bahiskar sabhi deso ko mill kar karna chahiye corona se usane dard sabhi deso ko diya janta mari sabka arth byavastha gar bar hua sabhi desh vikash me piche ho gaye chaina dhokha dekar apna vikash v dupliket mall bechata raha sabhi desh mill saja de

realDonaldTrump इसने शहर की तरफ़ भागना शुरू कर दिया है।

ट्रंप ने चीन को लेकर की दो बड़ी घोषणाएं, WHO से अमरीका को किया अलगअमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि WHO पूरी तरह से चीन के नियंत्रण में है जबकि वो अमरीका की तुलना में बहुत मामूली फंड देता है. चीन पर भी जमकर बरसे ट्रंप. इस ट्वीट को रिट्वीट कर के ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचाए और जल्द से जल्द CAA के प्रदर्शनकारियों को रिहा किया जाए ट्रम्प ने की घोसणा WHO की मा का भोसड़ा 👏 देर से आए दुरुस्त आए

चीन ने ठुकरा दिया US का ऑफर, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था...अमेरिका के इस प्रस्ताव पर पहली बार प्रतिक्रिया देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि दोनों देश मौजूदा सैन्य गतिरोध सुलझाने के लिए तीसरे पक्ष का ‘‘हस्तक्षेप’’ नहीं चाहते हैं।

टिकटॉक वीडियो ने कैसे दो साल से ग़ायब एक शख़्स को परिवार से मिलायातेलंगाना के रोद्दम वेन्कटेश्वरालु पंजाब पहुंच गए थे. एक टिकटॉक वीडियो ने उन्हें उनके परिवार से मिलवाया. वाह क्या मसाला है ।। कुछ भी कर लो इस बार टिक टोक नहीं बचेगा 🤣 भारत मे टिक टोक के विरुद्ध अभियान चला है अब ऐसे समाचार बनते रहेंगे । Ohhh

India China Border Standoff: चीन ने ट्रंप के मध्यस्थता के प्रस्ताव को ठुकराया, कहा- जरूरत नहींबाकी एशिया न्यूज़: India China Standoff: लद्दाख में चल रहे तनाव को लेकर ((India-China Relations)) चीन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( Donald Trump ) के मध्यस्थता प्रस्ताव ( Donald Trump Arbitration motion) को ठुकरा दिया है। चीनी विदेश मंत्रालय (Chinese Foreign ministry) ने कहा कि चीन और भारत के बीच मध्यस्थता के लिए किसी तीसरे पक्ष की आवश्यकता नहीं है।

विशेष: सीमा विवाद पर डोनाल्ड ट्रंप की पेशकश से चीन की बढ़ी परेशानीलद्दाख में भारत और चीन के बीच तनातनी बरकरार है. 5 मई से हीं हालात तनावपूर्ण हैं. इस तनातनी से अमेरिका तक की बेचैनी बढ़ गई है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बाद अमेरिका के रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बात की और मध्यस्थता का ऑफर दे दिया. भारत ने इस ऑफर को ठुकरा दिया और कहा कि वो मसला बातचीत से सुलझा लेगा. लेकिन जमीन पर दोनों सेनाएं आमने सामने हैं और हालात गंभीर बने हुए हैं. देखिए विशेष. Wangchuk66 ka video dikhao ye kya bekar clips chala rhe ho kunalkamra earthquake BoycottMadeInChina china Coronavirus AttackOnTitan lockdownextension mumbai india modi वह तो ठीक बात है पर आज जो डॉनल्ड ट्रंप साहब ने एक ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने सिर्फ चाइना लिख कर छोड़ दिया है ऐसा लग रहा है कि जैसे कुछ तूफान आने से पहले की शांति है Ye bat pure desh ko pat h Rahul Gandhi ko batye ...

डोनाल्ड ट्रंप की फैक्ट चेकिंग करने पर मार्क जुकरबर्ग ने की ट्विटर की आलोचनाडोनाल्ड ट्रंप की फैक्ट चेकिंग करने पर मार्क जुकरबर्ग ने की ट्विटर की आलोचना DonaldTrump TwitterFactCheck MarkZuckerberg

कांग्रेस के सचिन अब क्या बीजेपी के लिए 'बल्लेबाज़ी' करेंगे? WHO ने कहा- कोरोना अभी बद से बदतर होगा, वैक्सीन और इम्युनिटी से भी निराशा नेपाल के पीएम ओली अयोध्या और राम पर अपने ही देश में घिरे नेपाल के प्रधानमंत्री ओली का बेतुका बयान, बोले- भारत ने बनाई नकली अयोध्या राजस्थान: सचिन पायलट को कांग्रेस ने उपमुख्यमंत्री पद से हटाया योगी सरकार की 'ठोंको नीति' से इंसाफ़ मिलेगा या अपराध बढ़ेगा? कोरोना वायरस: महामारी रोकने के लिए दक्षिण अफ्रीका ने लगाई शराब पर पाबंदी - BBC Hindi कोरोना वायरस: अमरीका में एक दिन में 66,281 नए मामले, अकेले फ्लोरिडा में 15,300 पॉज़िटिव - BBC Hindi पद से हटाए जाने के बाद समर्थन में उतरे कई नेता, पायलट बोले- सबका आभार सचिन पायलट बोले- 25 MLA मेरे साथ बैठे हैं, 102 का गलत दावा कर रहे हैं अशोक गहलोत पायलट की बगावत पर संजय निरूपम बोले- सभी चले जाएंगे तो बचेगा कौन?